Disclaimer   
Search Trains
 ♦ 
×
DOJ:
Dep:
SunMonTueWedThuFriSat
Class:
2SSLCCEx3AFC2A1A3E
Type:
 

Train Details
Words:
LHB/ICF:
Pantry:
In-Coach Catering/Pantry Car
Loco:
Reversal:
Rake Reversal at Any Stn
Rake:
RSA:
With RSA
Inaug:
 to 
# Halts: to 
Trvl Time: to  (in hrs)
Distance: to  (in kms)
Speed: to  (in km/h)

Departure Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Dep Between:    
Dep PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Dep Stn

Arrival Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Arr Days:
SunMonTueWedThuFriSat
Arr Between:    
Arr PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Arr Stn

Search
2-month Availability Calendar
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Fri Sep 30, 2016 20:40:52 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Fri Sep 30, 2016 20:40:52 IST
PostPostPost Trn TipPost Trn TipPost Stn TipPost Stn TipAdvanced Search
What are the clear rules for carrying liquor (not for consumption inside train) on Indian Railways?  
4 Answers
Aug 01 2011 (2:00PM)
General

Entry# 402     
Kishor*^~
What are the clear rules for carrying liquor (not for consumption inside train) on Indian Railways?

वर्धा. चलती ट्रेन में शराब की पार्टियां होने से यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। खासतौर पर महिला यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। इसे रोकने के लिए रेलवे पुलिस को सख्त कार्रवाई करने की मांग की जा रही है।
नागपुर से मुंबई मार्ग की ट्रेन हमेशा रात के समय में निकलती है। जिस वजह से ट्रेन में बडे पैमाने पर देशी-विदेशी शराब का वितरण किया जाता है। पानी के बोतल में शराब मिलाकर सबके सामने पी जाती है।
पानी की बोतल में देशी शराब
...
more...
और वोडका मिलाने के बाद उस बोतल में पानी है या शराब, यह पहचान पाना काफी कठिन कार्य है। पानी में देशी शराब मिलाने पर उसकी बदबू आती है, लेकिन वोडका मिलाने पर बदबू नहीं आती।
इन दोनों शराब के अलावा कोई अन्य शराब पानी में मिलाई जाए तो पानी का रंग बदल जाता है। जिस कारण कुछ लोगों ने पानी की बोतल में देशी शराब अथवा वोडका मिलाकर चलती ट्रेन में पीना शुरू किया है।
नियमित सफर करने वाले सरेआम इसी तरीके से शराब पीते हैं। यह सभी आरक्षित डिब्बों में होता है। स्लीपर कोच, एसी, एसीथ्री टीयर ऐसे डिब्बों में प्रतिदिन चलनेवाले इन लोगों से महिला यात्रियों की सुरक्षा की समस्या निर्माण हो गई है।
स्लीपर कोच आरक्षित डिब्बे में सफर के दौरान बड़े पैमाने पर आरक्षण के बिना भी यात्री बैठते हैं। आरक्षित डिब्बों में टीसी ऐसे यात्रियों द्वारा बड़ी रक्कम लेते हैं। लेकिन यह व्यक्ति किस हालात में है, इससे उनका कोई वास्ता नहीं होता। ऐसे यात्री महिलाओं से छेड़छाड़ भी करते हैं।
लेकिन रात के समय में उनकी मदद के लिए कोई नहीं आता। जिस वजह से अकेले सफर करनेवाली महिलाओं की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। भविष्य में इस तरह की घटना रोकने के लिए रेल प्रशासन को सख्त कदम उठाकर कार्रवाई करने की मांग की जा रही है।

0 Followers
15914 views
Aug 01 2011 (11:45AM)
Blog Post# 213293-0     
Guest: 3bc9e591   Added by: Kishor*^~  Aug 01 2011 (2:00PM)
What are the clear rules for carrying liquor(not for consumption on train) on Indian railways?
1. is it allowed?
2. If yes then how much quantity?
3. Should the bottle be sealed or open?

15368 views
Aug 01 2011 (11:49AM)
Blog Post# 213293-1     
rangcharylutk*^~   Added by: moderator*^~  Aug 01 2011 (2:19PM)
@guest: Re# 213293-0
can carry 1 bottle
should be sealed one
should not consume in train or should not board in onsumed state.
if fellow passengers objects or reports or rpf caught it wl be
...
more...
very serious offence

15196 views
Aug 01 2011 (2:15PM)
Blog Post# 213293-10     
rangcharylutk*^~   Added by: moderator*^~  Aug 01 2011 (2:20PM)
@Kishor**: Re# 213293-9
Kishor jee ,, nice thing that u hv added in faq
in surat and other gujarat bound stations i hv seen rpf cheking bogies for liquor
where ever they doubt ,
but
...
more...
100% rule is there that not to consume in trains and not to carry in gujarat where probation is active except with doc certifiaate
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site