Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Sun Apr 30, 2017 22:48:33 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Sun Apr 30, 2017 22:48:33 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    283834 news entries  <<prev  next>>
  
Today (22:07)  तेजस ट्रेनः इसकी सुविधाएं पढ़कर आपका भी करेगा सफर करने का मन (www.livehindustan.com)
back to top
New/Special TrainsNR/Northern  -  

News Entry# 301221     
   Tags   Past Edits
Apr 30 2017 (22:07)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  5534 news posts
मुंबई और गोवा के बीच सफर कर रहे ट्रेन यात्री जल्दी ही सेलीब्रिटी शेफ द्वारा तैयार मेन्यू का खाना, चाय एवं कॉफी वेडिंग मशीन और हर सीट के साथ एलसीडी स्क्रीन जैसी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं। जून में इस रेल मार्ग पर अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस एक नई प्रीमियर ट्रेन सेवा शुरू की जाएगी।
20 डिब्बों वाले तेजस एक्सप्रेस में स्वचालित दरवाजे और पूरी तरह बंद गैंगवे (डिब्बों को जोड़ने वाला रास्ता) होंगे। यह भारतीय रेलवे की इस तरह की पहली ट्रेन होगी। इस समय स्वचालित दरवाजे केवल मेट्रो में ही हैं। मुंबई-गोवा मार्ग पर शुरू होने के बाद यह ट्रेन सेवा दिल्ली-चंडीगढ़ मार्ग पर भी शुरू की जा सकती है।
रेल
...
more...
मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि तेजस चूंकि एक नई प्रीमियर क्लास ट्रेन है, इसमें चाय, कॉफी वेडिंग मशीन, पत्रिका, स्नैक्स टेबल सहित कई सुविधाएं होंगी। इसके अलावा टेन में बायो वैकम शौचालयों, टॉयलेट इंगेजमेंट बोर्ड, हैंड ड्रायर, सेंसराइज्ड टैप, वाई फाई सहित कई विशिष्ट सुविधाएं भी होंगी।
अधिकारी ने कहा कि मनोरंजन के उद्देश्य से लगाई जाने वाली एलसीडी स्क्रीन का इस्तेमाल यात्रियों से संबंधित सूचना एवं सुरक्षा निर्देशों के प्रसार के लिए भी किया जाएगा। राजधानी और शताब्दी ट्रेनों की तरह ही कैटरिंग सेवा तेजस के किराए में शामिल होगी। इसमें एक्जिक्यूटिव क्लास एवं चेयर कार डिब्बे लगे होंगे।
  
Click here to enlarge image
संसू, गोंडा : गोंडा जंक्शन का निरीक्षण करने पहुंचे पूवरेत्तर मंडल के अपर मंडल रेल प्रबंधक मुकेश ने जीआरपी कोतवाली के पास सीढ़ी के नीचे खड़ी बाइकों पर गहरी नाराजगी जताई। उन्होंने इन बाइकों को स्टैंड पर खड़ा कराए जाने का निर्देश जीआरपी कोतवाल को दिया है। साथ ही जीआरपी कोतवाली में कैदियों के लिए बनाए गए बैरक की मरम्मत कराने का निर्देश दिया गया। 1शनिवार को एडीआरएम ने गोंडा जंक्शन पर बुकिंग हाल का निरीक्षण कर यात्री सुविधाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने यात्रियों के बैठने के लिए बेंच लगवाने का निर्देश दिया। साथ ही बुकिंग हाल में कर्मियों के लिए बने शौचालय का गेट बाहर से होने पर उन्होंने नाराजगी जताई। इसका गेट पूछताछ
...
more...
काउंटर के भीतर से बनाने का निर्देश दिया, जिससे कर्मियों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी का सामना न करना पड़े। इसके साथ ही उन्होंने निर्माणाधीन स्वचालित सीढ़ी के बाबत जानकारी ली। साथ ही अतिशीघ्र निर्माण कार्य पूरा करने को कहा है। आरक्षण दफ्तर में एसी को सही कराने व पेयजल की बेहतर सुविधा कराए जाने का निर्देश दिया। टैंपो ठहराव स्थल के समीप काऊ कैचर लगाने को कहा है। जंक्शन पर यात्री प्रतीक्षालय पर बने शौचालय के समीप गंदगी मिलने पर उन्होंने संबंधित संचालक पर दो हजार रुपये का जुर्माना लगाया। साथ ही उन्होंने जंक्शन पर साफ सफाई व अन्य सुविधाओं का जायजा लिया। साइकिल स्टैंड पर निर्धारित रेट सूची न लगाए जाने पर उन्होंने सुधार करने को कहा। डीसीएम अमित कुमार, एईन रवि प्रकाश, स्टेशन अधीक्षक एएन मिश्र, केपी पांडेय, कलीम, आरपीएफ इंस्पेक्टर एमके खान रहे।
  
Today (22:04)  ब्रिटेन से सामग्री लेकर चीन पहुंची ट्रेन (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 301219     
   Tags   Past Edits
Apr 30 2017 (22:04)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  5534 news posts
Click here to enlarge image
बीजिंग, एएफपी : ब्रिटेन से ह्विस्की और बच्चों का दूध लेकर 12,000 किलोमीटर का सफर तय करके मालगाड़ी शनिवार सुबह चीन के ईवू शहर पहुंची। इस ट्रेन ने दुनिया के दूसरे सबसे लंबे रेल रूट पर सफर तय किया। यह रेल रूट चीन को पश्चिमी यूरोप से जोड़ने वाली सिल्क रोड रूट की महात्वाकांक्षी परियोजना का हिस्सा है। दुनिया में सबसे ज्यादा व्यापार करने वाले चीन ने वन बेल्ट वन रोड (ओबीओआर) व्यापारिक रणनीति पर सन 2013 में काम शुरू किया था और महज चार साल में उसने 12,000 किलोमीटर का यह रेल रूट चालू कर दिया। इस विशाल रेल नेटवर्क को अरबों डॉलर लगाकर रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया।
  
Today (22:03)  Change in DEMU train schedule (www.thehindu.com)
back to top
Commentary/Human InterestSCR/South Central  -  

News Entry# 301218     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  128472 news posts
South Central Railway has introduce a change in the schedule of the Humnabad-Bidar DEMU train. As per revised schedule, the DEMU will start from Humnabad at 8.20 a.m., arrive at Nandagaon at 8.31 a.m., at Hallikhed at 8.49 a.m., Kanaji at 9.05 a.m., Khanapur Deccan Junction at 9.17 a.m.and reach Bidar at 9.40 a.m., said a release.
  
Today (22:01)  Express trains to be converted as superfast ones (www.thehindu.com)
back to top
New/Special TrainsSR/Southern  -  

News Entry# 301217     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  128472 news posts
The Southern Railway has announced that the Sriganganagar - Tiruchi - Sriganganagar Humsafar weekly express trains will be converted as superfast express trains.
Due to this conversion, the trains will be renumbered as follows: Train No.14715 Sriganganagar – Tiruchi Humsafar weekly express train will be renumbered as Train No.22497 with effect from August 8. Train No.14716 Tiruchi – Sriganganagar Humsafar weekly express train will be renumbered as Train No.22498 with effect from August 11.
The timings of Train No.22497 / 22498 Sriganganagar – Tiruchi – Sriganganagar Humsafar weekly superfast express trains will be
...
more...
as follows after conversion:
Train No.22497 Sriganganagar – Tiruchi Humsafar weekly superfast express train will leave Sriganganagar at 12.55 a.m. on Tuesdays and reach Tiruchi at 11.20 a.m. on Thursdays.
Train No.22498 Tiruchi– Sriganganagar Humsafar weekly superfast express train will leave Tiruchi at 4.45 a.m. on Fridays and reach Sriganganagar at 2.40 p.m. on Sundays.
Advance reservations for Train No.22498 Tiruchi – Sriganganagar Humsafar weekly superfast express is open, a Southern Railway press release said.
Special trains
The Tiruchi – Mayiladuthurai – Tiruchi express DEMU special trains have been extended up to May 26.
The trains will run except on Fridays from Tiruchi and Saturdays from Mayiladuthurai, a Southern Railway press release said.
The Mayiladuthurai-Tiruchi DEMU Special will leave at Mayiladuthurai at 12.15 p.m. and reach Tiruchi at 3 p.m.
The Tiruchi – Mayiladuthurai DEMU Special will leave Tiruchi at 3.45 p.m. and reach Mayiladuthurai at 7 p.m.
  
Today (22:01)  12 हजार किमी तय कर चीन पहुंची ट्रेन (epaper.navbharattimes.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 301216     
   Tags   Past Edits
Apr 30 2017 (22:01)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  5534 news posts
चीन-नेपाल रेल प्रॉजेक्ट पर फैसला जल्द : नेपाल
‘झगड़े खत्म करने हैं तो चीन बंद करे CPEC’• पीटीआई, काठमांडू : नेपाल के उप प्रधानमंत्री कृष्ण बहादुर महारा ने कहा है कि नेपाल और चीन क्रॉस बॉर्डर रेल प्रॉजेक्ट समझौते पर जल्द ही दस्तख्त करेंगे। यह प्रॉजेक्ट काठमांडू और चीन के सीमावर्ती कस्बों केरुंग के बीच प्रस्तावित है। उपप्रधानमंत्री महारा, जो देश के वित्त मंत्री भी हैं, ने कहा कि दोनों देशों के बीच कनेक्टिवटी और व्यापारिक संपर्क बढ़ाना नेपाल की प्राथमिकता है। अपनी हाल की चीन यात्रा में नेपाल के प्रधानमंत्री प्रचंड ने चीन के शीर्ष नेतृत्व के सामने केरिंग-काठमांडू-पोखरा-लुंबिनी प्रॉजेक्ट को वन बेल्ट, वन रोड (ओआरओबी) का एक हिस्सा बनाने का प्रस्ताव दिया था।• भाषा, पेइचिंग : चीन को चीन-पाकिस्तान आर्थिक
...
more...
कॉरिडोर (सीपीईसी) जैसी परियोजनाएं स्थगित कर देनी चाहिए। चीन सरकार से संबद्ध एक शीर्ष स्कॉलर ने यह सुझाव देते हुए कहा कि अगर भारत समेत दूसरे देशों को ये आपत्तिजनक लगता है और यदि चीन को भारत से झगड़े खत्म करने हैं तो चीन को इसे स्थगित कर देना चाहिए। चीनी स्कॉलर और चाइनीज ऐकेडमी ऑफ सोशल साइंसेज के स्थायी समिति के सदस्य झांग युनलिंग ने कहा कि सरकार को इंटरनैशनल प्रॉजेक्ट्स जैसे वन बेल्ट, वन रोड (ओआरओबी) परियोजनाओं में सावधानी बरतनी चाहिए। गौरतलब है कि चीन पहली बार 14 मई में ओआरओबी शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा, जिसमें 28 नेता शामिल होंगे।
30
20
दिन शिपिंग के मुकाबले बचेंगे इससे
दिन लगे लंदन से चीन पहुंचने में• एजेंसियां, पेइचिंग : चीन को ब्रिटेन से सीधे जोड़ने वाली गुड्स ट्रेन (मालगाड़ी) ईस्ट विंड शनिवार को यिवू सिटी पहुंची। यह दुनिया के दूसरे सबसे लंबे रूट 12 हजार किमी का सफर 20 दिन में तय कर यहां पहुंची। दुनिया के शीर्ष व्यापारिक देशों ने 2013 में वन बेल्ट, वन रोड की स्ट्रेटिजी लॉन्च की थी।
इस ट्रेन ने लंदन से 10 अप्रैल को चीन के झेझियांग प्रोविंस की यिवु सिटी के लिए अपना सफर शुरू किया था। फ्रांस, बेल्जियम, जर्मनी, बेलारूस, रूस और कजाकिस्तान से होते हुए 20 दिन का सफर तय करने के बाद ट्रेन चीन पहुंची है। इसके जरिए होलसेल सेंटर के लिए व्हिस्की, बेबी मिल्क, फार्मेसी से जुड़े सामान और मशीनरी पहुंचाई गई है। ये नया रूट रूस के जाने-माने ट्रांस-साइबेरियन रेलवे से लंबा है, लेकिन रेकॉर्ड होल्डिंग चीन-मैड्रिड लिंक से 1000 किमी छोटा है, जो 2014 में खुला था।
  
Today (21:59)  यांत्रिक कारखाना के कबाड़ में लगी आग, बड़ा हादसा होते बचा (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNER/North Eastern  -  

News Entry# 301215     
   Tags   Past Edits
Apr 30 2017 (21:59)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Posted by: ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~  5534 news posts
जागरण संवाददाता, गोरखपुर : पूवरेत्तर रेलवे के यांत्रिक कारखाना में रखे कबाड़ में शनिवार दोपहर आग लग गई। कुछ ही देर में आग बड़े हिस्से में फैल गई जिसके चलते कारखाना में अफरा - तफरी मच गई। कबाड़ के पास फेंका गया कचरा जलने से पूरा परिसर धुंआ से भर गया। जिसकी वजह से बचाव कार्य में लगे सुरक्षाकर्मियों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा। यहां घंटो सांस लेना दूभर रहा। फायर ब्रिगेड की टीम ने तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया लेकिन देर रात कचरा से धुंआ उठता रहा। ऐहतियात के तौर पर फायर ब्रिगेड की टीम पूरी रात जमीं रही। 1पादरी बाजार संवाददाता के अनुसार यांत्रिक कारखाना में राजकीय पालीटेक्निक की तरफ के हिस्से में कबाड़ रखा गया है। शनिवार दोपहर दो बजे इसमें आग लग गई। धुंआ उठने पर कर्मचारियों की नजर पड़ी तो उन्होंने सूचना अधिकारियों के साथ ही 100...
more...
नंबर पर दी। 1आधे घंटे के भीतर मौके पर दमकल की तीन गाड़ियां पहुंच गई लेकिन तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। कबाड़ में रखे प्लास्टिक ,रबड़ और रैक्सीन जलने से पूरे परिसर में धुंआ भर गया। संयोग ठीक रहा कि समय रहते आग पर काबू पा लिया गया और बड़ा हादसा टल गया। नहीं तो यांत्रिक कारखाना स्थित बैटरी शाप ,पावर हाउस ,आरपीएफ आफिस रेलवे अस्पताल और कर्मचारियों के आवास भी आग की चपेट में आ जाते। देर शाम तक इस घटना को लेकर अधिकारियों में चिंता बनी रही।’>>तीन घंटे की मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड ने बुझाई आग 1’>>परिसर में धुआं भरने से सांस लेना हो गया था दूभरकारखाना में आग बुझाता फायरकर्मी- यांत्रिक कारखाना में रखे कचरे मे ंआग लगी थी। जिस पर पूरी तरह काबू पा लिया गया है। इसमें कोई क्षति नहीं हुई है। आग लगने के कारण का पता नहीं चल सका है इसकी जांच के लिए टीम गठित कर दी गई है। 1- डीके खरे, सचिव महाप्रबंधक, पूवरेत्तर रेलवे
  
Today (21:50)  RSPB retains title (www.thehindu.com)
News Entry# 301214     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  128472 news posts
ROHTAK: Defending champion Railways Sports Promotion Board (RSPB) retained the title after a comprehensive 3-1 win over Hockey Haryana in the final of the women’s National hockey championships ‘A’ Division here on Sunday.
Led by Rio Olympian Anuradha Devi and with almost half its side comprising of national team regulars, Railways was favourite to win the tournament and it did not disappoint. Dominating all the way through, Railways played an attacking game and went ahead in the third minute through Neha.
Haryana, though, fought back and levelled three minutes later through Reet but
...
more...
that was to be its only success on the day.
Coached by former India captains Pritam Siwach and Sita Mehta, Railways was far superior to its opponent and once the players got settled, it was all about keeping possession and scoring enough to stay ahead. Navneet Kaur added a second goal in the 25th minute and Neha doubled her individual score, converting a penalty corner in the 50th minute to wrap up the title and end as her team’s top scorer in the tournament.
The Indian team regulars will now get together for the upcoming series against New Zealand next month. In the play-off for third spot, Hockey Madhya Pradesh beat Association of Indian Universities (AIU) by an identical margin. Shivani Singh, Ritu Singh and Neeraj Rana struck the goals for the winner while Jyoti Gupta, the team’s top-scorer, scored the lone goal for AIU.
The results (final):
Railways 3 (Neha 2, Navneet Kaur) bt Haryana 1 (Reet); Third-fourth playoff: Madhya Pradesh 3 (Shivani Singh, Ritu Singh, Neeraj Rana) bt AIU 1 (Jyoti Gupta).
Post a Comment
  
Today (21:47)  Some way to go before the finish (www.thehindu.com)
back to top
Commentary/Human Interest

News Entry# 301213     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  128472 news posts
As past experience shows, implementation is key to opening up rail freight to private players
The Railway Ministry’s plans to allow private companies to run freight trains from their own private terminals may lead to faster evacuation of cargo, but the proposed move is faced with multiple challenges, said analysts.
“The move may be widely seen as ushering of fundamental reforms in the stodgy behemoth but past experience does not exactly paint a positive picture,” said Rohit Chaturvedi, managing partner Kitzo Management Advisory, a logistics strategy and operations consulting firm.
Poor
...
more...
past experience
“Even less ambitious initiatives like allowing Private Container Terminal Operators (CTOs), Multi Modal Logistics Parks or most recently Private Freight Terminals (PFTs) have not met with desired success,” said Mr. Chaturuvedi, formerly director of Crisil Risk & Infrastructure Advisory. “To be fair, PFT has shown a glimpse of railways’ readiness to take necessary steps in the right direction, but not sufficiently,” he added.
As per the plans, companies and manufacturers that transport bulk of their produce through the railway network would be allowed to set up their own private terminals from where their own trains would ply to delivery centres.
These private trains will run on Indian Railways’ tracks and the operations of the trains will remain with the railways. This is as per the provisions of the Special Freight Train Operations Scheme of the Ministry of Railways.
At a more fundamental level, the problems being faced by Indian Railways such as creaky signalling infrastructure and the tracks needing maintenance will largely remain the same. The problem is compounded on congested routes such as between Delhi and Mumbai, which are already facing immense pressure from both passenger and freight trains, analysts said.
“This is a good initiative and can help players with bulk movements such as coal, sugar, cement and fertilizers for faster movement of their cargo,” said Ganesh Rewanwar, director & CEO, Saanvad Ventures Pvt. Ltd. which runs freightbazaar, an e-transportation marketplace catering to the trucking industry. “It will also help in multi modal infrastructure development and speed up investment in infrastructure,” he added.
He said the impact may not be immediate since it would require some more time to build up infrastructure.
“The major challenge will be land acquisition and terminal utilisation. It is not expected to affect long-haul road transport in a major way. However, it will be a boost for the first-mile and last-mile logistics sector,” Mr. Rewanwar said.
The Railways, under the current Minister Suresh Prabhu, may be undergoing massive transformation, but scepticism still persists.
“The move is seen [as] positive for large corporates with heavy volume of cargo as freight movement by railway is suitable for long distance over 500 kms,” said Kamal Podar, managing director, Choice Group which is into financial services and management consulting in the infrastructure space. “However, so far we have seen limited success in private container train operations since it was introduced in 2006, due to lack of conducive policies,” he added.
“The railway traffic is caught between subsidised passenger traffic and premium tariff for cargo which is benefiting other modes of traffic like road and shipping,” he added.
Besides, the precedence given to passenger trains is expected to cause uncertainties in running freight trains in a scheduled manner. This may defeat the very purpose behind the partial opening up of the freight transport arm of the railways.
Apart from the convenience of transporting cargo through own trains, the economic viability of any such operation would remain a major question for private operators.
Going by past experience, most of the Container Terminal Operators have either burnt their fingers or not started operations in a meaningful manner. In fact, there have been instances where some licence-holders operateonly a few rakes merely to prevent their licence from being revoked.
Charges and changes
Analysts said the main cause of unprofitable operations may be attributed to the charges by Railways and ad-hoc changes in tariffs in some of the profitable cargo (heavy cargo and long distance haulage). Also lack of guarantee of timely delivery of the consignment has repulsed the EXIM cargo, they added.
For example, the railways command less than one third of total container volumes at JNPT, the largest container port in India located in Mumbai. JNPT attracts most of the cargo from long distances from North and West hinterland of India. This situation is unheard of in any other country with advances logistics system. Long distances must mean competitive advantages to railways over the road.
Analysts believe that the problems such as heavy detention charges, fixed haulage charges, whether the rake is full or empty, coupled with the lack of certainty on timely movement of rakes would affect the private rail operators in the same way as they affected the Container Terminal Operators.
Another concern that bogs potential private operators is the lack of clarity on whether they would be allowed to run their rakes on the proposed Dedicated Freight Corridors (DFCs) being set up in the country.
In addition, there is lack of clarity on the approval process for rakes and the design specifications. As per existing rules, the approval from the Research Designs & Standards Organisation (RDSO) of the Railways is required for running any non-standard rake. It is feared that the approval process could take a long time and bureaucratic hassles would jeopardise the genuine intent, said industry sources.
The absence of a credible dispute resolution mechanism has also been red flagged by analysts. The Railways, being both the operator and regulator, meant that the dispute resolution system in place may not be adequately effective, they said. However, it is expected that the proposed Rail Development Authority may address the issues of effective and efficient regulation as well as dispute resolution.
Finally, although the intent to allow private operators to run their own rakes is laudable, ambitious and bold, it has to be backed by proper implementation mechanism, according to consultants.
“If implemented properly, it can begin the virtuous circle by freeing up the resources of Indian Railways and providing focus on basic infrastructure such as modern signalling equipments and robust rail network,” Mr. Chaturvedi said. “The result will be more capacity augmentation from existing infrastructure and more cargo movement... [and] thus more resources for the railways,” he added.
  
Today (21:31)  मुंबई-गोवा की नई ट्रेन में टीवी और wi-fi, सेलिब्रिटी शेफ बनाएंगे खाना (m.aajtak.in)
back to top
New/Special TrainsCR/Central  -  

News Entry# 301212   Blog Entry# 2257442     
   Tags   Past Edits
Apr 30 2017 (21:31)
Station Tag: Karmali/KRMI added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Apr 30 2017 (21:31)
Station Tag: Mumbai Chhatrapati Shivaji Terminus/CSTM added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Apr 30 2017 (21:31)
Train Tag: Karmali - Mumbai CST Tejas Express/11210 added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Apr 30 2017 (21:31)
Train Tag: Mumbai CST - Karmali Tejas Express/11209 added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~/1366147

Posted by: ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~  51 news posts
मुंबई और गोवा के बीच सफर कर रहे ट्रेन यात्री जल्दी ही सेलीब्रिटी शेफ द्वारा तैयार मेन्यू का खाना, चाय एवं कॉफी वेडिंग मशीन और हर सीट के साथ एलसीडी स्क्रीन जैसी सुविधाओं का फायदा मिलगा. जून में इस रेल मार्ग पर अल्ट्रा मॉर्डन सुविधाओं से लैस तेजस एक्सप्रेस नाम की एक नयी प्रीमियर ट्रेन सेवा शुरू की जाएगी.
स्वचालित दरवाजे वाली पहली ट्रेन
20 डिब्बों वाले तेजस एक्सप्रेस में स्वचालित दरवाजे और पूरी तरह बंद गैंगवे (डिब्बों को जोड़ने वाला रास्ता) होंगे. इसी के साथ यह भारतीय रेलवे की इस तरह
...
more...
की पहली ट्रेन होगी. आपको बता दें कि इस समय स्वचालित दरवाजे केवल मेट्रो में ही हैं. मुंबई-गोवा मार्ग पर शुरू होने के बाद यह ट्रेन सेवा दिल्ली-चंडीगढ़ मार्ग पर भी शुरू की जा सकती है. रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि तेजस चूंकि एक नयी प्रीमियर क्लास ट्रेन है, इसमें चाय, कॉफी वेडिंग मशीन, मैग्जीन, स्नैक्स टेबल सहित कई सुविधाएं होंगी.
कैटरिंग सेवा टिकट में शामिल है
रेलवे अधिकारी ने कहा कि इसके अलावा ट्रेन में बायो वैक्यूम शौचालय, टॉयलेट इंगेजमेंट बोर्ड, हैंड ड्रायर, सेंसराइज्ड टैप, वाई फाई सहित कई मॉर्डन फैसिलिटी भी होंगी. मनोरंजन के उद्देश्य से लगायी जाने वाली एलसीडी स्क्रीन का इस्तेमाल पैसेंजर्स से संबंधित सूचना एवं सुरक्षा निर्देशों के प्रसार के लिए भी किया जाएगा. राजधानी और शताब्दी ट्रेनों की तरह ही कैटरिंग सेवा तेजस के किराये में शामिल होगी. इसमें एक्जिक्यूटिव क्लास (EC) और चेयर कार (CC) डिब्बे लगे होंगे.

  
168 views
Today (21:44)
Donate on Bharat Ke Veer^~   33451 blog posts   26373 correct pred (78% accurate)
Re# 2257442-1            Tags   Past Edits
Railway to think on 2S coaches too
They should also run 2S coaches trains like this, with deduction of ac price

  
117 views
Today (21:57)
⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐~   1432 blog posts   852 correct pred (62% accurate)
Re# 2257442-2            Tags   Past Edits
I dont think
Such premium train is needful of 2S Coaches
Page#    283834 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site