Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Wed Mar 29, 2017 09:30:30 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Wed Mar 29, 2017 09:30:30 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 287647
  
Dec 04 2016 (19:58)  सोनभद्र में कोहरे के कारण वाहनों की रफ्तार हुई धीमीं, ट्रेनें घंटो लेट (m.livehindustan.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECR/East Central  -  

News Entry# 287647     
   Tags   Past Edits
Dec 04 2016 (7:58PM)
Station Tag: Chopan/CPU added by 《Happiness Unbounded》*^~/567740

Dec 04 2016 (7:58PM)
Station Tag: Singrauli/SGRL added by 《Happiness Unbounded》*^~/567740

Dec 04 2016 (7:58PM)
Train Tag: Tatanagar-Jammu Tawi Express/18101 added by 《Happiness Unbounded》*^~/567740

Dec 04 2016 (7:58PM)
Train Tag: Shaktipunj Express/11447 added by 《Happiness Unbounded》*^~/567740

Posted by: Miss You Dad*^~  3 news posts
प्रदेश सहित देश के अन्य हिस्सों में पड़ रहा कोहरा अब जिले में भी प्रवेश कर गया। गुरुवार की रात से ही उसने पूरे जिले को अपने आगोश में ले लिया। आलम यह था कि रात साढ़े 12 बजे के आसपास जहां दृश्यता पांच मीटर से भी कम रही वहीं शुक्रवार की सुबह 10 मीटर से कम ही रही। कोहरे के कारण वाराणसी-शक्तिनगर मार्ग पर वाहनों की रफ्तार थम सी गई। ट्रेनें भी घंटों विलंब से चली। नगरीय क्षेत्रों की सड़कों का भी कमोवेश यही हाल रहा।
जिले के चोपन, राबर्ट्सगंज और रेणुकूट स्टेशनों से होकर जम्मू-टाटा के बीच चलने वाली जम्मूतवी एक्सप्रेस 12 घंटे लेट रही। टाटा से जम्मू जाने वाली जम्मूतवी एक्सप्रेस तीन घंटा, हाबड़ा से जबलपुर जाने वाली शक्तिपुंज
...
more...
एक्सप्रेस चार घंटा व जबलपुर से हाबड़ा जाने वाली शक्तिपुंज एक्सप्रेस एक घंटा देर से चोपन से होकर गुजरी। बरेली से सिंगरौली जाने वाली त्रिवेणी एक्सप्रेस पांच घंटा, चुनार-बरवाडीह पैसेंजर चार घंटा विलंब से रहीं।
उधर, घने कोहरे के कारण दृश्यता का आलम यह था कि 10 मीटर दूरी पर खड़ा व्यक्ति भी नजर नहीं आ रहा था। इससे वाराणसी-शक्तिनगर राजमार्ग पर वाहन 20 से 30 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से ज्यादा चल नहीं पा रहे थे। शुक्रवार की सुबह कोहरे के कारण वाहनों को हेडलाइट जलाकर जाते देखा गया। जिले के चोपन, डाला, बीजपुर, ओबरा, बभनी, वैनी, गोविन्दपुर आदि इलाकों में भी सुबह आठ बजे तक घना कोहरा छाया रहा। सुबह 10 बजे के बाद कोहरा छंटना शुरू हो गया। लेकिन, 11 बजे तक इसका असर बना रहा। सुबह के समय जगह-जगह लोगों को ठंड से बचने के लिए अलाव का सहारा लेते देखा गया। स्कूली बच्चे भी सुबह के समय ठंड के कारण ठिठुरते हुए विद्यालय पहुंचे।
80 से 90 किमी दूरी तय करने में लगे छह से आठ घंटे
सोनभद्र। जिले के साथ ही अन्य जनपदों में भी गुरुवार की रात से घना कोहरा छाया रहा। कोहरे के कारण गुरुवार की रात लोगों को मिर्जापुर और वाराणसी से आने में छह से आठ घंटे तक लग गए। गुरुवार की रात 11 बजे के बाद से ही घना कोहरा छा गया। मिर्जापुर और वाराणसी राजमार्ग पर तो रात को दृश्यता लगभग पांच मीटर रही। जिसके कारण लोगों को कार आदि चलाने में भी दिक्कत हो रही थी। मिर्जापुर से गुरुवार की रात 12 बजे चले राबर्ट्सगंज निवासी मिथिलेश कुमार ने बताया कि कोहरा के आलम यह था कि चालक को गाड़ी चलाने में दिक्कत आ रही थी। रुक-रूक कर वाहन आगे बढ़ाना पड़ रहा था। सामने सड़क नजर ही नहीं आ रही थी। वे सुबह छह बजे राबर्ट्सगंज पहुंचे। वाराणसी से रात 11 बजे राबर्ट्सगंज के लिए निकले उरमौरा निवासी राधेश्याम ने बताया कि वाराणसी से राबर्ट्सगंज 90 किमी दूरी तय करने में आठ घंटा लग गया। वे सुबह सात बजे राबर्ट्सगंज पहुंचे। कोहरे के कारण सड़क ही नजर नहीं आ रही थी, जिसके कारण कही-कहीं तो वाहन खड़ा करना पड़ा।
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site