Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Sat Feb 25, 2017 01:08:33 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Sat Feb 25, 2017 01:08:33 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 288400
  
Dec 12 2016 (13:33)  इंग्लिशिया लाइन से स्टेशन उस पार को बनेगा पैदल पुल (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 288400     
   Tags   Past Edits
Dec 12 2016 (1:34PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Saurabh*^~/15807

Posted by: Saurabh*^~  3030 news posts
-नव वर्ष में बदला दिखेगा कैंट रेलवे स्टेशन
जागरण संवाददाता, वाराणसी : नए साल में कैंट रेलवे स्टेशन का नक्शा यात्री सुविधाओं के स्तर पर बदला नजर आएगा। दिसंबर अंत तक दो हजार यात्रियों को बैठने के लिए शेल्टर तैयार हो जाएगा। सकरुलेटिंग एरिया में नये रास्ते के साथ छावनी साइड में स्वचालित सीढ़ी की सुविधा मिलने लगेगी। इसके पास लिफ्ट मकर संक्रांति तक चालू हो जाएगी। इंग्लिशिया लाइन छोर पर स्थित आरक्षण केंद्र से छावनी की ओर से जाने के लिए फुट ओवर ब्रिज का निर्माण भी जनवरी में शुरू होएगा। यह सेकेंड इंट्री के पास स्थित आरक्षण केंद्र के पास उतरेगा। 1उत्तर रेलवे के जीएम एके पुठिया ने कैंट स्टेशन पर रविवार को परियोजनाओं की समीक्षा की और नए सिरे
...
more...
से इनकी डेट लाइन भी तय कर दी। उन्होंने प्रेसवार्ता में बताया कि एक पैदल पुल नए यात्री शेड से छावनी छोर तक होगा, जिससे बीच के प्लेटफार्मो पर उतरने को सीढ़ी होगी। पुल समेत विभिन्न कार्यो का जिम्मा राइट्स कंपनी को दिया गया है। जनवरी आरंभ से प्लेटफार्म संख्या छह-सात पर वाशेबल एप्रन व सुंदरीकरण, फरवरी से प्लेटफार्म संख्या एक व अप्रैल में आठ व नौ का कार्य शुरू करेगा। इन्हें क्रमश: एक-एक माह में पूरा करने का लक्ष्य है। प्लेटफार्म चार का काफी हिस्सा एफओबी के दायरे में आ रहा है। इस पर स्थित दफ्तरों को अन्य स्थानों पर शिफ्ट किया जाएगा। फारेनर टूरिस्ट लाउंज जनवरी अंत में फिनिशिंग पूरी होते ही चालू हो जाएगा।
कोहरे से जंग अभी मुश्किल1जीएम एके पुठिया ने कहा कि रेलवे कोहरे के दौरान ट्रेनों के सुचारू संचालन की दिशा में तकनीकी स्तर पर प्रयास कर रहा है। फिलहाल फाग सेफ्टी डिवाइस से सिग्नल के स्तर पर ही मदद मिल पा रही है। ट्रैक न दिखने से समस्या आ रही है। इससे गाड़ियां लेट हो रही हैं, ऐसे में लोगों से ट्रेनों की लोकेशन लेकर ही यात्र के लिए निकलने की सलाह दी जा रही है। इसकी आनलाइन सुविधा उपलब्ध है। डीआरएम एक लाहोटी, मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक आरपी चतुर्वेदी, वरिष्ठ स्टेशन प्रबंधक एके पांडेय आदि साथ थे।मीडिया से रूबरू उत्तर रेलवे के जीएम।6नव वर्ष में बदला दिखेगा कैंट रेलवे स्टेशन
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site