Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Fri Feb 24, 2017 16:14:39 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Fri Feb 24, 2017 16:14:39 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 288494
  
Dec 13 2016 (11:59)  कोहरे की मार में ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने का दबाव नहीं (www.rashtriyasahara.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 288494   Blog Entry# 2089756     
   Tags   Past Edits
Dec 13 2016 (11:59AM)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by shuk RAILWAY is my first crush~/339802

Posted by: shuk RAILWAY is my first crush~  137 news posts
कोहरे की मार का सर्वाधिक असर ट्रेनों की रफ्तार पर पड़ा है। राजधानी, शताब्दी से लेकर मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें कई-कई घंटे लेट चल रही हैं। लेट-लतीफी के कारण दर्जनों ट्रेनें रद्द हो रही हैं। इसके बावजूद लोको पायलटों पर ट्रेन की रफ्तार को बढ़ाने के लेकर कोई दबाव नहीं है। लोको पायलट अपने विवेक पर ट्रेनों को चला रहे हैं। यात्री और ट्रेनों की सुरक्षा व संरक्षा को लेकर रेलवे कोई समझौता करने को तैयार नहीं हैं। बीते दिनों कानपुर के निकट पुखरायां में ट्रेन हादसे के बाद ट्रेनों की रफ्तार को लेकर रेलवे बोर्ड स्तर पर गंभीर र्चचा हुई थी। सुरक्षा और संरक्षा के नजरिये से ट्रेनों की रफ्तार को लेकर लोको पायलट को हिदायत भी दी गयी थीं। इसी बीच उत्तर भारत में कोहरे की मार शुरू हो गई है। इसका सीधा प्रभाव ट्रेनों की रफ्तार पर पड़ने लगा है। ट्रेनें लगातार लेट और रद्द हो रही हैं। रेलवे बोर्ड,...
more...
जोनल रेलवे और मंडल रेलवे का परिचालन विभाग ट्रेनों की समयबद्धता पर नजर रखे हुए हैं। लेकिन ट्रेनों की रफ्तार को लेकर लोको पायलट पर कोई दबाव नहीं है। लोको पायलट अपने विवेक से ही ट्रेनों को चला रहे हैं। भले ही ट्रेन की गति 15 से 20 किलोमीटर प्रतिघंटे ही हो। ट्रेनों की लेट-लतीफी के कारण स्टेशनों पर यात्रियों की भीड़ है। ट्रेनें लेट और रद्द होने से यात्री टिकट रद्द करा रहे हैं। ई-टिकट के अलावा यात्री आरक्षण केंद्रों से बुक टिकटों की धन वापसी के लिए स्टेशनों के करंट काउंटरों पर लाइन है। नोटबंदी को लेकर नकदी को लेकर टोटा है। रेलवे कोचों को जल्दी मेंनटेन करने की कवायद में जुटे हैं।

  
1007 views
Dec 13 2016 (15:49)
vikastejas103   10 blog posts
Re# 2089756-1            Tags   Past Edits
instead of adopting technical measures to tackle late running due to fog or whatsoever reason, railways has taken a back foot and nothing done to passengers who are suffering a lot, now LOCO PILOTS are made free to run trains at slow speeds.....
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site