Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Thu Jan 19, 2017 12:16:51 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Thu Jan 19, 2017 12:16:51 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 288576
  
Dec 14 2016 (10:24)  ये हाल है रेलवे का जनाब, यहां संसाधनों का अभाव उतना नहीं है जितना की अधिकारी और कर्मचारी रोना रोते हैं (epaper.livehindustan.com)
back to top
Other NewsNER/North Eastern  -  

News Entry# 288576     
   Tags   Past Edits
Dec 14 2016 (10:24AM)
Station Tag: Gundla Pochampally/GDPL added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Dec 14 2016 (10:24AM)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4748 news posts
ये हाल है रेलवे का जनाब, यहां संसाधनों का अभाव उतना नहीं है जितना की अधिकारी और कर्मचारी रोना रोते हैं। इन लापरवाहियों के बीच हम सुरक्षित सफर की उम्मीद करें भी तो कैसे। हम बात कर रहे हैं ट्रेनों के यातायात में सूचनाओं के आदान प्रदान के लिए उपयोग में लाये जाने वाले वेरी हाई फ्रिक्वेंसी यानि वीएचएफ सेट के बारे में। यहां लगभग कुल 127 गार्डो के मुकाबले 143 वीएचएफ सेट हैं।डीआरएम आलोक सिंह ने अपने निरीक्षण में डीजल लॉबी में वीएचएफ सेटों में बड़ी खामियां पकड़ी हैं। पता चला कि मौजूद वॉकी-टाकी सेटों में दो दर्जन से अधिक सेट खराब पड़े हुए हैं। उन्होंने इस संबंध में अधिकारियों से रिपोर्ट तलब की है। सूत्रों की मानें तो वॉकी-टाकी के अधोमानक होने का भी अंदेशा जताय जा रहा है। वहीं रखरखाव के अभाव में भी सेट काफी खराब हो जाते हैं। अपनी जिम्मेदारियों को ना समझना और सुरक्षा के...
more...
साथ खिलवाड़ करने वाले कर्मचारियों और अधिकारियों के खिलाफ रेलवे का ढुलमुल रवैया भी ऐसी लापरवाही को बढ़ावा दे रहा है। अभी भी है वीएचएफ सेटों की कमी : गोण्डा डीजल लाबी के सीनियर डीएमई एके दीक्षित ने बताया कि अभी भी गार्डो के मुकाबले वीएचएफ सेटों की कमीं है। उन्होंने कहा कि गार्ड वीएचएफ सेटों की देखभाल नहीं करते हैं जिससे वो जल्द ही खराब हो जाते हैं। गार्ड सीधे तौर पर ड्राईवरों के ऊपर ही डिपेंड होते हैं।
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site