Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Mon Jan 23, 2017 12:13:32 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Mon Jan 23, 2017 12:13:32 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 288744
  
Dec 15 2016 (22:01)  लोग बैठें, इससे पहले पांच हजार किलोमीटर चले लखनऊ मेट्रो (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 288744     
   Tags   Past Edits
Dec 15 2016 (10:01PM)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4748 news posts
6आरडीएसओ दो सप्ताह के लिए मेट्रो को अपनी निगरानी में चलवाएगा 16ऑपरेटर को भी एक निश्चित दूरी तक चलानी होगी मेट्रो
कई परीक्षण होंगे 18
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, लखनऊ : मेट्रो के संचालन से पहले अधिकारियों को कम से कम पांच हजार किमी मेट्रो चलानी होगी। अनुसंधान अभिकल्प एवं मानक संगठन (आरडीएसओ) अपने स्तर से तमाम परीक्षण व दो सप्ताह
...
more...
तक अपनी निगरानी में मेट्रो चलवाने के बाद ही पूरी रिपोर्ट मेट्रो को देगा और लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन फिर यह रिपोर्ट क्लीयरेंस के लिए रेल संरक्षा आयुक्त को भेजेगा। इसके बाद स्वीकृति मिलते ही मेट्रो आम जनता के लिए चल सकेगी। हालांकि इसके लिए लखनऊ मेट्रो ने तेज गति से काम शुरू कर दिया है। आरडीएसओ ने कुछ परीक्षण भी करके ओके कर दिया है। 1लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि अधिकांश परीक्षण मेट्रो डिपो में हो चुके हैं। कोच बनाने वाली कंपनी एलस्टॉम व उसकी सहयोगी कंपनियों के विदेशी प्रतिनिधि मेट्रो का अपने स्तर से परीक्षण कर रहे हैं। अधिकांश परीक्षण में अपनी मेट्रो पास हो चुकी है। उन्होंने बताया कि मेट्रो के एलीवेटेड ट्रैक पर पांच से छह चक्कर नियमित रूप से लगाए जाएंगे। इससे किमी. का टारगेट आसानी से पूरा कर लिया जाएगा। उनके मुताबिक सभी ट्रेन ऑपरेटर व परिचालन से जुड़े कर्मियों को एक-एक बारीकी व मेट्रो किमी. का टारगेट पूरा करवाने के बाद ही दक्षता प्रमाण पत्र दिया जाएगा। 1उनके मुताबिक मार्च के दूसरे सप्ताह में रेल सुरक्षा आयुक्त को क्लीयरेंस के लिए लिखा जाएगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि आठ से दस दिन में सीआरएस के यहां से क्लीयरेंस मिल जाएगा और 26 मार्च को पब्लिक के लिए मेट्रो का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। प्रबंध निदेशक ने बताया कि एक टनल बोरिंग मशीन असेंबल हो रही है और जल्द ही दूसरी मशीन आ जाएगी। मवैया व दुर्गापुरी के बीच बन रहे स्पेशल स्पैन का काम जनवरी के अंतिम सप्ताह तक जाएगा। इस दौरान मेट्रो का ट्रायल सिर्फ मवैया से ट्रांसपोर्ट नगर के बीच ही होता रहेगा। 1प्राथमिक सेक्शन पर खर्च हुए तेरह सौ करोड़1नार्थ साउथ कारीडोर के प्राथमिक सेक्शन पर लखनऊ मेट्रो करीब तेरह सौ करोड़ रुपये खर्च कर चुका है। इसमें तीन सौ करोड़ रुपये केंद्र सरकार से मिला है और एक हजार करोड़ के आसपास राज्य सरकार की संस्थाओं द्वारा दिया गया है। निदेशक वित्त अजय कांत रस्तोगी ने बताया कि यूरोपियन इंवेस्टमेंट बैंक जल्द ही सात सौ करोड़ रुपये लोन के रूप में देगा। मेट्रो को 3502 करोड़ रुपये लोन के रूप में लेना है। उन्होंने बताया कि मेट्रो को लोन लेने के चार साल बाद से लोन देना होगा, वह भी बहुत ही कम ब्याज दर पर। 1छात्र बना रहे हैं स्टेशनों पर पेंटिंग 1एलएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने कृष्णा नगर स्टेशन पर एमिटी स्कूल के छात्रों से पेंटिंग बनवाई है। इस पेंटिंग में लखनऊ संस्कृति की झलक दिखती है। उन्होंने बताया कि विचार किया जा रहा है कि आगे स्टेशनो पर भी कुछ ऐसा किया जाए। 1बंद होंगे मेट्रो रूट पर टेंपो व बसें 1मेट्रो अधिकारियों की मंशा है कि मेट्रो संचालन शुरू होते ही फीडर सर्विस यानी बस की सुविधा मेट्रो स्टेशन तक मुहैया कराएगा। इसलिए इस रूट की टेंपो व बसों का संचालन बंद होना चाहिए। इससे प्रदूषण का स्तर कम होगा और लोगों को सड़कों पर जाम से छुटकारा मिल सकेगा।चारबाग में केकेसी की तरफ तेजी से चल रहा कार्य जागरण
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site