Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Mon Jan 23, 2017 02:11:03 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Mon Jan 23, 2017 02:11:03 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 289261
  
Dec 21 2016 (10:25)  अगले बजट में रेलवे किराया बढ़ने के संकेत दिए वित्त मंत्री ने,रेलवे की सुविधाओं के लिए देना होगा पैसा: जेटली (epaper.jagran.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 289261   Blog Entry# 2098326     
   Tags   Past Edits
Dec 21 2016 (10:25AM)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Dec 21 2016 (10:25AM)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  4748 news posts
616रेलवे सेवाओं की लोकलुभावन घोषणाएं अब नहीं होंगी 1
नया निदेशालय रखेगा सुधार की नींव
नई दिल्ली, प्रेट्र : केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि रेल यात्रियों को अच्छी सेवाओं के लिए पैसा चुकाना ही चाहिए। उन्होंने तर्को के सहारे रेलवे किराये में बढ़ोतरी के संकेत दिये हैं। अगला बजट आने से पहले वित्त मंत्री का यह बयान अहम माना जा रहा है। वह पहली बार संयुक्त बजट कुछ ही हफ्तों बाद संसद में पेश करेंगे। संयुक्त बजट में रेल बजट भी शामिल होगा। भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआइआइ) द्वारा रेलवे
...
more...
में लेखा संबंधी सुधारों पर आयोजित एक कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए जेटली ने कहा कि कई वर्षो से रेलवे बजट की सफलता उपभोक्ताओं को रियायतें देने और ट्रेन चलाने के मामले में लोकप्रिय घोषणाओं से आंकी जाती रही है। उन्होंने कहा कि रेलवे एक ऐसी लड़ाई में फंस गई जिसमें प्रदर्शन से ज्यादा लोकप्रियता अहम रही। किसी वाणिज्यिक संगठन का पहला सिद्धांत है कि उपभोक्ताओं को उसका भुगतान करना चाहिए जो सेवाएं वे प्राप्त कर रहे हैं।1वित्त मंत्री ने कहा कि जब तक रेलवे प्रदर्शन और आंतरिक प्रबंधन प्रणाली मजबूत नहीं करेगा तब तक वह यात्री व माल परिवहन के लिए अपने प्रतिस्पर्धी सेक्टरों जैसे हाईवे और एयरलाइनों से पिछड़ता रहेगा। जेटली ने कहा, ‘रेलवे की मुख्य कार्यक्षमता ट्रेनें चलाने और इससे जुड़ी सेवाएं देने की होनी चाहिए। हॉस्पीटैलिटी रेलवे के मुख्य कार्यो में नहीं रहना चाहिए। ऐसे में इन कार्यो को पूरी दुनिया में स्वीकार्य आउटसोर्सिग के सिद्धांत पर चलाना चाहिए। यही रेलवे के लिए तर्कसंगत होगा।’ पावर और हाईवे सेक्टरों का उदाहरण देते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि जैसे ही इन सेक्टरों में उपभोक्ताओं ने शुल्क अदा करना शुरू किया, उनका प्रदर्शन सुधर गया। पूरी दुनिया में सिर्फ वे सेवाएं ही सफल रही हैं जिन्हें वित्तीय सिद्धांत पर चलाया गया यानी जब सेवाएं लेने के लिए उपभोक्ताओं ने भुगतान करना शुरू किया। लेकिन हमारे यहां अनुशासनहीनता अपनाकर पूरा सिद्धांत उलट दिया गया। लोकलुभावन नीतियों के तहत उपभोक्ता सेवाएं के लिए शुल्क अदा नहीं कर रहे हैं। ऐसे सिद्धांत से कोई भी संगठन खुद के ही वजन और विरोधाभासों से ढहने लगते हैं।जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली : सरकार अगले ढाई साल में रेलवे की सूरत बदल देगी। इसके लिए रेलवे बोर्ड में ट्रांसफॉरमेशन डायरेक्ट्रेट यानी कायाकल्प निदेशालय का गठन किया जा रहा है। इसका काम रेलवे बोर्ड के मौजूदा सड़े-गले तंत्र की जगह बिलकुल नया ढांचा खड़ा करना है। इससे रेलवे को सही मायने में वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बनाया जा सकेगा। इससे शुरू में तो रेल सेवाएं महंगी होंगी, लेकिन आगे चलकर सड़क व हवाई क्षेत्र से प्रतिस्पर्धा के कारण कुछ सेवाएं सस्ती भी हो सकती हैं।1 रेलवे का मौजूदा रूप-स्वरूप सरकार की बर्दाश्त से बाहर हो गया है। इसलिए अब वह इसे जल्द से जल्द ठीक करना चाहती है। इसकी शुरुआत रेल बजट को आम बजट में शामिल करने के साथ हो गई थी। लेकिन रेलवे बोर्ड के पुनर्गठन का असली काम अभी बाकी है। ट्रांसफॉरमेशन डायरेक्ट्रेट के गठन से यह अड़चन भी समाप्त हो जाएगी। यह निदेशालय कहने को तो रेलवे बोर्ड के अधीन होगा। लेकिन इसकी भूमिका बोर्ड से भी ऊपर होगी। यह सीधे रेलमंत्री को रिपोर्ट करेगा। पिछले ढाई सालों में रेलवे में सुधार के लिए कई छोटे-छोटे कदम उठाए जा चुके हैं। इनमें रेल बजट में नई ट्रेनों का एलान, किराये-भाड़े में कमी-बेशी की परिपाटी का खात्मा, खास किराये पर हमसफर जैसी बेहतर ट्रेनों का संचालन और सोशल मीडिया के जरिये शिकायतों का समाधान वगैरह शामिल हैं। रेलमंत्री अब ठेका-टेंडर की फाइलें देखने के बजाय पॉलिसी बनाता और परियोजनाओं की मॉनीटरिंग करता है। जबकि रेलवे बोर्ड की भूमिका अन्य मंत्रलयों की तरह सचिवालय की हो गई है। लेकिन बोर्ड में असली उलटफेर होना अभी बाकी है जो डायरेक्ट्रेट ऑफ ट्रांसफॉरमेशन के गठन से होगा। इसकी प्रक्रिया प्रारंभ हो चुकी है।1इस डायरेक्ट्रेट में कंपनी की तरह एक मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) के अलावा आठ कार्यकारी निदेशक होंगे। ये सभी अलग-अलग क्षेत्रों के विशेषज्ञ होंगे। सीईओ के लिए ऐसे योग्य व्यक्ति की तलाश की जा रही है, जिसका सरकारी के साथ-साथ निजी क्षेत्र, खासकर विदेशी परिवहन क्षेत्र में कार्य का अनुभव हो।

  
1089 views
Dec 21 2016 (10:53)
Abhishek Jaiswal*^~   44140 blog posts   18268 correct pred (69% accurate)
Re# 2098326-1            Tags   Past Edits
Means railway is going to be more costlier then ever. lets see how much!! but if the punctuality and service improved. Fare hike can be manageable!!

  
Dec 21 2016 (10:56)
Guest: 2a1e6042   show all posts
Re# 2098326-2            Tags   Past Edits
Lootera railway ..nothing more ..i havent seen any change in service ..railway is providing ..
Trains are still late ..and ..will continue. Whatever fare they raise ...

  
1091 views
Dec 21 2016 (10:56)
☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~   11675 blog posts   3038 correct pred (65% accurate)
Re# 2098326-3            Tags   Past Edits
punctuality and service improved ? bhai is line ka jawab aap bhi jante ho :D ir congestion bada skta par spd nhi spcly north may

  
1088 views
Dec 21 2016 (11:37)
Abhishek Jaiswal*^~   44140 blog posts   18268 correct pred (69% accurate)
Re# 2098326-4            Tags   Past Edits
bhai uske aage but and if bhi lagaya hai maine :P :P
cngestion h to train na daale pehle infra pe kaam ho jane de,

  
1156 views
Dec 21 2016 (11:37)
Abhishek Jaiswal*^~   44140 blog posts   18268 correct pred (69% accurate)
Re# 2098326-5            Tags   Past Edits
aage aage dekha hot ba ka....

  
1196 views
Dec 21 2016 (11:43)
☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~   11675 blog posts   3038 correct pred (65% accurate)
Re# 2098326-6            Tags   Past Edits
bhai kuch nhi hoga bs fare bad jayega jaldi

  
1192 views
Dec 21 2016 (11:44)
Abhishek Jaiswal*^~   44140 blog posts   18268 correct pred (69% accurate)
Re# 2098326-7            Tags   Past Edits
ye fare badhta jaldi hai ghatata nhi hai...

  
1012 views
Dec 21 2016 (15:00)
For Better Managed Indian Railways~   1862 blog posts
Re# 2098326-8            Tags   Past Edits
Suvidhayein bhi to vasoole gaye Kiraye ke hisaab se dee jaani chahiye.
Suvidha aur flexi fare ke baare mein kya kahega IR, Kya paxs ko suvidhaayen vasoole gaye kiraye ke anurup dee jaa rahee hai hain?
Ex taraf Suvidha/PT jaisee policy ke tahat 400-500% tak yaani 4-5 fun adhik kiraya vasool ke loota jaa raha hai jina to Railway/ Cinema ke dalle bhi nahin vasool pate
Doosri
...
more...
taraf season ticket holders se 20-25% hi kiraya vasoola jaata hai.
Izzat paas mein to 5% kiraa bhi nahin vasoola jaata.
Raj(a)naitik khel mein, Voton ki jugat ke aage, Kisi cheez ki lagat aur nyay koi mayne nahin rakhte
Hadd ho gaye IR ki raj(a)naitikikaran ki, jo ek din IR ko le doobega.
Lagta hai azaadi ke baad, Angrezon ka job, inhee netaon ko mil gaya hai.

  
1016 views
Dec 21 2016 (15:05)
Àťhàŕvà070053^~   29760 blog posts   2432 correct pred (67% accurate)
Re# 2098326-9            Tags   Past Edits
Flexy fare.
Kafi nhi tha...
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site