Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Tue Mar 28, 2017 06:36:21 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Tue Mar 28, 2017 06:36:21 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 287655
  
Dec 04 2016 (21:52)  कोहरे का कहर : राजधानी एक्स 20 घंटे विलंब (www.prabhatkhabar.com)
back to top
Other News

News Entry# 287655     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Yuva Rahul^~  108 news posts
पटना : बदलते मौसम में कोहरे के तेवर ने ट्रेन परिचालन पर ब्रेक लगा दिया है. शुक्रवार को दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरु से पटना और पाटलिपुत्र जंकशन आनेवाली ट्रेनें चार से 20 घंटे विलंब से पहुंची. इतना ही नहीं, मुगलसराय से पटना आनेवाली सभी एक्सप्रेस व सुपरफास्ट ट्रेनें 20 घंटा और मेमू पैसेंजर ट्रेनें दो से तीन घंटा विलंब से जंकशन पहुंचीं. ट्रेनों की लेटलतीफी में यात्री काफी परेशान हो रहे है. स्थिति यह थी कि ट्रेनों का ससमय परिचालन नहीं होने से पैंट्रीकार का सामान खत्म हो गया, जिससे यात्रियों को खान-पान में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.
15 घंटे विलंब से पहुंची संपूर्णक्रांति एक्सप्रेस
...
more...

पटना-दिल्ली-पटना रेलखंड की सबसे महत्वपूर्ण ट्रेन संपूर्णक्रांति और राजधानी एक्सप्रेस है. संपूर्णक्रांति एक्सप्रेस के परिचालन की निगरानी रेलमंडल और राजधानी एक्सप्रेस के परिचालन की निगरानी रेलवे बोर्ड करता है. इसके बावजूद शुक्रवार को संपूर्णक्रांति एक्सप्रेस 19 घंटे और राजधानी एक्सप्रेस करीब 20 घंटे विलंब से जंकशन पहुंची. इतना ही नहीं, दिल्ली से पटना होते हुए भागलपुर जानेवाली विक्रमशिला एक्सप्रेस 17 घंटे विलंब से जंकशन पहुंची. गुरुवार को पटना जंकशन पहुंचने वाली अमृतसर-हावड़ा एक्सप्रेस 19 घंटा विलंब से शुक्रवार को रात्रि 9:45 बजे पहुंची. वहीं, हावड़ा से इलाहाबाद जाने वाली कुंभ एक्सप्रेस 20 घंटे विलंब से पटना जंकशन आयी. अन्य ट्रेनों में अजिमाबाद एक्सप्रेस 11 घंटे, तूफान एक्सप्रेस 15 घंटे, मगध 12 घंटे, पूर्वा एक्स 13 घंटे, ब्रह्मपुत्र मेल 11 घंटे, महानंदा एक्स 20 घंटे, श्रमजीवी एक्स 5 घंटे 30 मिनट से पटना पहुंची.

लोगों को हो रही है परेशानी

कुम्हरार के रहने वाले शैलेश कुमार अपने परिवार के साथ शुक्रवार को पटना से दिल्ली जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस में टिकट लिया था, ताकि शनिवार की शाम होनेवाली शादी समारोह में आसानी से शामिल हो सकें. हालांकि, शुक्रवार को दिल्ली से पटना पहुंचनेवाली राजधानी एक्सप्रेस करीब 20 घंटे विलंब बजे पहुंची. इससे शुक्रवार शाम सात बजे पटना से दिल्ली जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस को 11 घंटे के लिए रिशिड्यूल हुई और अब उसके शनिवार की सुबह 6:00 बजे रवाना होने की संभावना है. राजधानी के रिशिड्यूल होने के बाद कुमार की परेशानी बढ़ गयी.

राजधानी का हाल भी बेहाल

उन्होंने बताया कि दिल्ली में शनिवार की शाम एक रिश्तेदार की बेटी की शादी है, जिसमें शामिल होना था. उन्होंने राजधानी के कोच संख्या बी-2 में टिकट ली थी. अब राजधानी एक्सप्रेस पहुंचने के समय पर यहीं से खुलेगी, तो शादी समारोह में शामिल होना नामुमकिन हो जायेगा. इसलिए टिकट रद्द कराना पड़ा. यह परेशानी अकेले उनकी नहीं, बल्कि दिल्ली से आने-जानेवाली तमाम ट्रेनों में सफर कर रहे यात्रियों की है. वहीं, दिल्ली से पटना आने वाली राजधानी एक्सप्रेस के कोच संख्या बी-4 के बर्थ संख्या 26 से मुजफ्फरपुर के रहनेवाले अजीत कुमार रात्रि 10:55 बजे ट्रेन जंकशन पहुंचे. उन्होंने बताया कि उन्हें जरूरी काम से घर आना था और शनिवार को लौट जाना था. शुक्रवार की सुबह दस बजे मुजफ्फरपुर पहुंच जाते, तो घर का काम निबट जाता. अब संभव नहीं है.

राजधानी एक्सप्रेस 11 घंटा किया गया रिशिड्यूल

दिल्ली से आने वाली राजधानी एक्स 20 घंटा, संपूर्णक्रांति एक्सप्रेस 19 घंटा, मगध एक्सप्रेस 12 घंटे विलंब से जंकशन पहुंची. ट्रेनों के विलंब परिचालन की वजह से दानापुर रेलमंडल प्रशासन को महत्वपूर्ण ट्रेनों की टाइमिंग रिशिड्यल करना पड़ा. शुक्रवार की शाम छह बजे खुलने वाली संपूर्णक्रांति शनिवार की सुबह 6:55 बजे और शाम 6:10 बजे खुलने वाली मगध एक्स शनिवार की अहले सुबह 5:00 बजे खुलने की घोषणा की गयी है. संघमित्रा एक्स शाम 7:45 बजे के बदले रात्रि 9:30 बजे पाटलिपुत्र जंकशन से खुली. दानापुर-नयी दिल्ली जनसधारण एक्स दिन के दो बजे खुलने के बदले रात्रि 8.00 बजे खुली.

ट्रेनों की हालत खराब

दिल्ली से पटना आनेवाली राजधानी, संपूर्णक्रांति, मगध, ब्रह्मपुत्र, तूफान, विक्रमशिला आदि एक्सप्रेस ट्रेनें 10 से 20 घंटे विलंब से चल रही हैं. इस स्थिति में पैंट्रीकार का खाना और पानी रास्ते में ही खत्म हो जा रहा है, जिससे रेल यात्रियों को खाना भी नहीं मिल रहा. किसी स्टेशन के आउटर पर ट्रेन रूकी, तो मजबूरन 100 रुपये किलो अमरूद खरीद पेट की बुझानी पड़ रही है. संपूर्णक्रांति एक्सप्रेस के यात्री संजीव ने बताया कि कानपुर के बाद ही पैंट्रीकार का खाना खत्म हो गया और स्टेशन के बदले आउटर पर घंटों ट्रेन रोकते हुए पटना तक आया. सिर्फ मुगलसराय स्टेशन पर ट्रेन रूकी, तो लोग फूड स्टॉल पर टूट पड़े.
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site