Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Tue May 23, 2017 04:58:21 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Tue May 23, 2017 04:58:21 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 287365
  
रेल भवन से मंत्री तो बस्ती स्टेशन से सांसद ने दिखाई हरी झण्डी, बस्ती से बन कर चलने वाली पहली ट्रेन के साक्षी बने हजारों लोग
टिनिच में इंजन का हुआ पूजन
नेताओं का उमड़ा हुजुम
38 स्टेशनों से गुजर कर 8 स्टेशनों पर ठहरेगी ट्रेन
एक
...
more...
दशक से संघर्ष करते रहे: लाल रवीन्द्र
मनवर-संगम एक्सप्रेस के साक्षी बने यात्री
बस्ती। निज संवाददाताबस्ती रेलवे स्टेशन से बुधवार शाम 5.15 बजे ‘मनवर संगम एक्सप्रेस’ इलाहाबाद के लिए रवाना हुई। रेल भवन से रेल मंत्री सुरेश प्रभु, रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने तो बस्ती रेलवे स्टेशन से सांसद हरीश द्विवेदी ने हरी झंडी दिखा कर ट्रेन को रवाना किया। बस्ती रेलवे स्टेशन से चलने वाली पहली ट्रेन के ऐतिहासिक पल के रेलवे के तमाम आलाधिकारी, भाजपा कार्यकर्ता व सैकड़ों यात्री साक्षी बने। बस्ती से इलाहाबाद के लिए ट्रेन के शुभारंभ को लेकर दो दिन से ही तैयारी शुरू कर दी गई थी। शाम को तीन बजे से ही रेलवे के अधिकारियों ने मंच पर पहुंचे और कार्यक्रम की औपचारिक शुरुआत की। सांसद हरीश द्विवेदी ने इस ट्रेन को जिले की एक महत्वपूर्ण उपलब्धि बताया। जनता की मांग पर मैंने कई बार प्रयास किया और रेल राज्यमंत्री को बस्ती लाकर उनसे ट्रेन की मांग की तो रेल मंत्री ने एक बड़ी सौगात बस्ती व आसपास के जिलों के यात्रियों को दी। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शाम 5.15 पर जैसे ही नई दिल्ली स्थित रेल भवन के कांफ्रेंस हाल में रेलमंत्री सुरेश प्रभु व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने हरी झण्डी दिखाई, ठीक उसी समय सांसद हरीश द्विवेदी ने मंच से वेबकैम के सामने हरी झंडी दिखाया और प्लेटफार्म नंबर एक पर खड़ी मनवर-संगम ट्रेन इलाहाबाद को रवाना हो गई।ये अधिकारी रहे मौजूद: मनवर-संगम एक्सप्रेस 14118/ 14117 के उद्घाटन अवसर पर पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव मिश्र, मण्डल रेल प्रबंधक आलोक सिंह, सीओएम अर्चना जोशी, सीनियर डीसीएम नीलिमा सिंह, सीनियर डीएसटी, अजय वर्मा, सीनियर डीएससी पंकज गंगवार, पीआरओ आलोक कुमार श्रीवास्तव, सफदर हुसैन, स्टेशन अधीक्षक जीसी श्रीवास्तव, स्टेशन मास्टर , अंजनी श्रीवास्तव, आई डब्ल्यू धीरेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे।ऐन वक्त से पहले बाधित हो गई वीडियो कांफ्रेंसिंग: रेलवे स्टेशन पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के लिए तीन बड़े एलसीडी लगी थी। ट्रेन को हरी झण्डी दिखाने के ठीक छह मिनट पहले प्लेटफार्म नम्बर एक पर ट्रेन के सामने लगा मानीटर का केबल शार्ट कर गया और धुंआ उठने लगा। वहां मौजूद रेलवे के अधिकारियों के चेहरे पर हवाईयां उड़ने लगीं। रेल भवन में हरी झंडी दिखाने के लिए मंत्री सुरेश प्रभु और मनोज सिन्हा पहुंच गए थे।
टिनिच संवाद के अनुसार मनवर-संगम एक्सप्रेस ट्रेन के प्रथम ठहराव पर पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील सिंह ने टिनिच स्टेशन पर इंजन का पूजन किया। प्रधान संघ के प्रदेश प्रवक्ता अमित सिंह ने ट्रेन के साथ आए सांसद हरीश द्विवेदी का स्वागत किया। इस दौरान महेश सिंह, रमाकान्त पाण्डेय, शिवपूजन सिंह, वरूण पाण्डेय, मनोज सिंह, अरविन्द सिंह, संतोष शुक्ल, लक्ष्मी नरायण गुप्ता, विन्दू यादव, लंकेश यादव, रामसिंह पटेल सहित तमाम लोगो ने सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन अमित शुक्ल ने किया। इस मौके पर दीनदयाल मिश्र, तेज बहादुर सिंह, शशिकान्त पाण्डेय, अमन शुक्ल, कलीमुल्लाह, रमेश चन्द्र, संतोष गुप्ता, सुरेन्द्र सिंह सहित तमाम लोग मौजूद रहे।
बस्ती रेलवे स्टेशन परिसर में लगी ट्रेन के शुभारंभ के अवसर पर आयोजित सभा को सम्बोधित करते सांसद हरीश द्विवेदी। ’ हिन्दुस्तान
बस्ती से इलाहाबाद ट्रेन के शुभारंभ अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष पवन कसौधन, विधायक संजय प्रताप जायसवाल, दादा विजयसेन सिंह, दयाशंकर मिश्र, प्रमोद चौधरी उर्फ गिल्लम, दयाराम चौधरी, पुष्कर मिश्र, प्रत्यूष विक्रम सिंह, आलोक पाण्डेय, अश्वनी उपाध्याय, राकेश श्रीवास्तव, अनिल सिंह, यशकांत सिंह, अमृत कुमार वर्मा, अजय सिंह गौतम, सत्येन्द्र पाण्डेय, गीता शुक्ला अभिनव उपाध्याय आदि मौजूद रहे।
मनवर-संगम एक्सप्रेस सोमवार, मंगलवार, बुधवार, शुक्रवार, शनिवार को 38 स्टेशनों से गुजरते हुए 8 स्टेशनों पर इसका ठहराव करेगी। दिन में 1.30 बजे बस्ती से चल कर टिनिच, गौर, मनकापुर, कटरा, अयोध्या, फैजाबाद, सुल्तानपुर व प्रतापगढ होते हुए इलाहबाद शाम 8:30 बजे इलाहाबाद पहुंचेगी।
बस्ती। इलाहाबाद तक ट्रेन चले, इसके लिए पिछले एक दशक से शहर के सिविल लाइन निवासी लाल रवीन्द्र बहादुर पाल संघर्ष करते रहे। मंत्री से अधिकारी तक हर माह वह एक पत्र लेकर पहुंच जाते थे। अखबारों के दफ्तार को पिछले एक दशक में कितनी बार उन्होंने चक्कर लगाया होगा, इसकी गिनती करना काफी कठिन है। जिला सहकारी बैंक में अधिकारी की नौकरी से सेवानिवृत्त होने वाले श्री पाल अपने सेवाकाल से ही इलाहाबाद तक की ट्रेन चलाने का तर्क देते रहे। छात्र, श्रद्धालु, अधिवक्ता, अधिकारी, कर्मचारी के लिए सहूलियत होगी जैसे तर्कों के साथ रेलमंत्री, सांसद, विधायक और बस्ती आने वाले जनप्रतिनिधियों के पास उनका एक पत्र जरूर पहुंच जाता था। एक दशक के संघर्ष बाद उनकी बहुप्रतिक्षित मांग पूरा हुई तो उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यह बस्ती के लिए बड़ी उपलब्धि है।
ट्रेन के संचलन ने आज पहली बार एहसास करा दिया कि वास्तव में गंगा, जमुना व सरस्वती का संगम हुआ है।-प्रेरणा शुक्ला, यात्री।बस्ती से पहली ट्रेन चलने पर अपार खुशी हो रही है। अब हम लोगों की इलाहाबाद तक की यात्र आसान हो गई है।-सभाजीत, यात्रीरेलमंत्री ने बस्ती व आसपास के जिलों के लोगों को एक अच्छी सौगात दिया है। इस व्यवस्था से हाईकोर्ट व विश्वविद्यालय पहुंचना आसान हो गया।-अब्दुल वाहिदमैं मनकापुर का रहने वाला हूं। गोरखपुर से जा रहा था, स्टेशन पर पता चला कि नई ट्रेन जा रही है। अब हम लोगों को अच्छी सुविधा मिल गई।-सर्वेश पाण्डेय, यात्री
मनवर-संगम एक्सप्रेस के पहले दिन यात्र करने वाले लोगों के मुंह से बस एक ही शब्द निकला कि आज मनोरमा नदी इलाहाबाद में गंगा-जमुना-सरस्वती संगम से मिलने जा रही है। यात्रियों ने सुखद अहसास करते हुए प्रसन्नता व्यक्त किया।
बस्ती रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर एक पर लगी एलसीडी पर वीडियो कान्फ्रेन्सिग के माध्यम से हरी झंडी दिखाते रेलमंत्री सुरेश प्रभु व रेलराज्य मंत्री मनोज सिन्हा।
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site