News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
IR Press Release:

Search
  Go  

Disclaimer   
 
Mon Dec 22, 2014 18:58:55 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsMembersLoginFeedback
Modify Search
Trains in the News    Stations in the News    show english news only
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 76798  
  
Jun 09 2012 (6:22PM)  मुख्य अभियंता करेंगे ट्रैक की जांच 9348855 (www.jagran.com)
back to top
Other NewsER/Eastern  -  

News Entry# 76798     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Ranjeet*^  4014 news posts  
भागलपुर, नगर संवाददाता : पूर्व रेलवे के मुख्य ट्रैक अभियंता परशुराम सिंह शनिवार को रेल लाइनों की जांच करेंगे। ट्रैक की जांच न्यू फरक्का से भागलपुर स्टेशन तक होगी। इसके बाद भागलपुर से लैलख ममलखा स्टेशन तक मोटर ट्रॉली से ट्रैकों का निरीक्षण करेंगे। मालदा मंडल के डीइएन (को-ऑर्डिनेशन) विनोद पासवान, सीनियर डीइएन-टू जेपी यादव, एइएन (साहिबगंज) बीसी पाल व पीडब्ल्यूआई (भागलपुर) आरके सिंह निरीक्षण के दौरान मुख्य अभियंता के साथ रहेंगे। इससे पूर्व वह भागलपुर स्टेशन पर आगामी 10 जून से शुरू होने वाली नॉन इंटरलॉकिंग (एनआई) कार्यो की तैयारी की समीक्षा करेंगे। एनआई का काम दो फेज में होगा। प्रथम फेज में पूर्व केबिन से पश्चिमी केबीन तक तथा दूसरे फेज में दो पार्ट में काम होंगे। प्रथम पार्ट में प्लेटफॉर्म संख्या एक, दो व तीन पर एनआई का काम होगा। इन प्लेटफॉर्मो से गाड़ियों का परिचालन नहीं होगा। प्लेटफॉर्म बंद रहेगा। इस दौरान सभी ट्रेनों का परिचालन...
Read more...
प्लेटफॉर्म संख्या चार, पांच व छह से होगा। वहीं दूसरे पार्ट में प्लेटफॉर्म संख्या चार, पांच व छह पर एनआई का काम होगा। इस दौरान इन प्लेटफॉर्मो को बंद कर दिया जाएगा। सभी गाड़ियां का परिचालन प्लेटफॉर्म संख्या एक, दो व तीन से किया जाएगा। एनआई का काम आगामी 25 तारीख तक चलेगा। काम पूरा होने के बाद मैनुअल की जगह भागलपुर स्टेशन पर कलर सिग्नल काम करने लगेगा। लीवर खींचने की समस्या खत्म हो जाएगी। केबिन की जगह पैनल रूम काम करेगा। उप स्टेशन प्रबंधक पैनल रूम से ही ट्रेन परिचालन सिस्टम पर काम करेंगे। रेल अधिकारियों ने बताया कि प्लेटफॉर्म संख्या दो को प्लेटफॉर्म संख्या एक से जोड़ा जाएगा। चार पांच दिनों में फुट ओवर ब्रिज (एफओबी) लगाने की योजना है।
Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site