Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
 
Sat Jul 30, 2016 18:35:54 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Sat Jul 30, 2016 18:35:54 IST
Modify Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    18094 news entries  next>>
  
Yesterday (8:17AM)  Metro’s Purple Line services disrupted (www.thehindu.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsBMRC/Bangalore Metro  -  

News Entry# 275249     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  119763 news posts
Services resumed after a delay of 25 minutes at 6.25 a.m.
Namma Metro services on Purple Line were affected early in the morning on Thursday due to a technical snag. No trains operated between 6 a.m. to 6.25 a.m. There were no passengers on board the trains when the services started and services resumed after a delay of 25 minutes.
“There was a problem with the signaling system, which led to a halt on the entire line (Baiyappanahalli to Mysuru Road). This was rectified and trains started within 25 minutes,” said U.A. Vasanth
...
more...
Rao, Chief Public Relations Officer for Bangalore Metro Rail Corporation (BMRCL).
On Wednesday, Namma Metro saw its highest ridership so far with close to 1.97 lakh passengers taking the metro even as the strike by transport unions was called off in the evening.
Most trains are controlled by a central command room with loco pilots stationed in the trains given minor responsibilities.
Keywords: Namma Metro, BMRCL, Purple Line, services, disrupted
  
Jul 28 2016 (3:05PM)  गिट्‌टी पर गिरकर 50 मीटर तक घिसटी ट्रेन, ऐसे बची 1400 पैसेंजर्स की जान (www.bhaskar.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsSECR/South East Central  -  

News Entry# 275170   Blog Entry# 1944148     
   Tags   Past Edits
Jul 28 2016 (3:05PM)
Station Tag: Kumhari/KMI added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Jul 28 2016 (3:05PM)
Station Tag: Durg Junction/DURG added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Jul 28 2016 (3:05PM)
Station Tag: Raipur Junction/R added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Posted by: For Better Managed Indian Railways~  164 news posts
रायपुर (छत्तीसगढ़).बिलासपुर से अमृतसर जा रही छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस कुम्हारी रेलवे स्टेशन के पास ट्रैक चेंज करते समय हादसे का शिकार हो गई। इसमें इंजन सहित एक बोगी पटरी से उतर गई। तेज आवाज और झटके से सहमे ट्रेन के पैसेंजर जान बचाने के लिए कूद पड़े। बोगी में सवार करीब आधा दर्जन पैसेंजर्स मामूली रूप से जख्मी हो गए। जानिए क्या रही हादसे की वजह...
पायलट ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक
- छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस रायपुर से चलने के बाद कुम्हारी स्टेशन से पहले लूप लाइन में उसे रोका गया। क्योंकि मेन लाइन पर दुर्ग
...
more...
की ओर से कोई सुपरफास्ट ट्रेन रायपुर जा रही थी।
- उसको पास देने के लिए छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को रोका गया था। करीब पांच मिनट तक ट्रेन रुकी रही।
- लूप लाइन से मेन लाइन की ओर ट्रेन बढ़ी तो सिग्नल फेल हुआ और ट्रैक चेंजर टूटा होने से प्वाइंट को तोड़ते हुए गाड़ी बेपटरी हो गई।
- दो-दो रेलवे ट्रैक को सीधेतौर पर चपेट में लेते हुए स्लीपर को बीचो-बीच तोड़ते हुए गिट्‌टी पर गिर गई। 50 मीटर तक घसीटने के बाद पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगाया।
- ट्रेन लूप लाइन से जा रही थी इसलिए स्पीड काफी कम थी, जिससे बागी बोगियों को नुकसान नहीं हुआ।
ओएचई से पहले रुकी ट्रेन वरना फैल जाता करंट
- ट्रैक के जिस प्वाइंट पर ट्रेन बेपटरी होने के बाद रुकी उससे करीब 10 फीट की दूरी पर ही ओएचई का पोल था।
- अगर, इंजन हाइटेंशन तार के खंबे से टकराने से तार टूटकर बोगियों पर गिरता और करंट की चपेट में लेता।
- मौके पर ट्रेन में सवार करीब 1400 पैंसेजर की जान जोखिम में पड़ने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता था।
- अफसरों का कहना है कि जैसे ही ट्रेन वहां तक पहुंचती तो उसे कंट्रोल करना मुश्किल हो जाता और यह हादसा काफी विकराल हो जाता।
ड्राइवर का हुआ मेडिकल
- घटना के बाद चिकित्सकों की टीम ने ड्राइवर का मेडिकल किया। एल्कोहल आदि जांच के बाद डाक्टर्स इसकी रिपोर्ट रेलवे मुख्यालय को सौंपेंगे।
छूकर निकल गई मौत, चीखते रहे मासूम
- हादसे में पैसेंजर्स का सामना जिंदगी और मौत का सामना हुआ। पैसेंजर के कानों में अचानक तेज आवाज और आंखों के सामने धूल ही धूल दिखाई दी।
- पल भर में आवाज गूंज उठने लगी। दहशत के साए में जनरल कोच में सवार पैसेंजर अपनी जान बचाने चलती ट्रेन से कूद पड़े।

  
1067 views

Enter ChatRoom
You need to be logged in to enter ChatRooms. Please click here to sign up.
Jul 28 2016 (3:07PM)
For Better Managed Indian Railways~   323 blog posts
Re# 1944148-1            Tags   Past Edits
This feature shows the full history of past edits to this Blog Post.
pics

  
1019 views

Enter ChatRoom
You need to be logged in to enter ChatRooms. Please click here to sign up.
Jul 28 2016 (3:17PM)
Strong will power required to remove Red stains^~   70383 blog posts   5043 correct pred (78% accurate)
Re# 1944148-2            Tags   Past Edits
This feature shows the full history of past edits to this Blog Post.
seems like driver was under alcohol influence thats why he couldnot see that point is in wrong position...
  
Jul 28 2016 (2:45PM)  53% Suburban Train Deaths Happen In Mumbai: Government Auditor's Report (www.ndtv.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsCR/Central  -  

News Entry# 275168     
   Tags   Past Edits
Jul 28 2016 (2:45PM)
Station Tag: Mumbai Chhatrapati Shivaji Terminus/CSTM added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Posted by: For Better Managed Indian Railways~  164 news posts
NEW DELHI: More than 18 people die daily across various suburban networks in India while maneuvering to cross the suburban rail lines, with Mumbai topping the list.
A report on suburban railway by the government's auditor, the Comptroller and Auditor General or CAG tabled in parliament on Tuesday states that in a five-year period from January 2010 to December 2014, 33,445 people died on the country's suburban rail networks.
Of these, 19,868 deaths or 59 per cent occurred due to line crossing or trespassing. Of the total, 17,638 or 53 per
...
more...
cent took place in the Mumbai suburban section. Roughly, this amounts to 10 deaths daily. 4,880 deaths occurred as people fell of running trains in five years, of which 4,000 odd or 82 per cent were in the Mumbai section.
The other reasons for deaths in suburban train network are fall in platform gap (347), 1,319 due to hitting poles and 7,026 for other reasons. Worse, suburban networks lost Rs. 13,631 crore in five years from 2010-11 as the costs far exceeded the passenger earnings.
Railways paid Rs. 181 crore between 2010-11 to 2014-15 as compensation for accidental deaths. 9,798 cases were registered. 4335 were settled and 10,774 are pending.
Eight children perished at an unmanned railway crossing in Bhadohi in Uttar Pradesh when a bus couldn't clear a level crossing. The report says "railways could not achieve targets of vision 2020 document. As 70% of fatalities in railways mishaps took place at level crossings."
The suburban trains carry a phenomenal load. In 2011-12, as per the report, 4,300 million passengers travelled on suburban trains - almost 500 million more than non-suburban ones.
The report also underlines that the ever so popular suburban trains are losing clients. Passengers carried during 2014-15 fell by one per cent in comparison to the earlier year.
The report also says that despite railways' claim that there has been increase in suburban train services, passengers battling jam packed trains claim that the number of passengers travelling per rake was much higher than the carrying capacity.
  
Jul 28 2016 (11:09AM)  ट्रेन की चपेट में 100 भेड़ों समेत आया गड़ेरिया, मौत (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECR/East Central  -  

News Entry# 275133     
   Tags   Past Edits
Jul 28 2016 (11:09AM)
Station Tag: Taregna/TEA added by Pp*^~/36064

Posted by: Pp*^~  5619 news posts
पटना-गया रेलखंड के तारेगना व नदौल स्टेशन के बीच छोटकी मसौढ़ी हॉल्ट के पास बुधवार की शाम पूजा स्पेशल ट्रेन (063651 अप ) की चपेट में आने से गड़ेरिया समेत 100 की संख्या में भेड़ें कट गईं। भेड़ मालिक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। बुधवार की शाम छोटकी मसौढ़ी हॉल्ट के पास मसौढ़ी थाना के तरपुरा ग्रामवासी 65 बर्षीय हरिभजन भगत भेड़ों के साथ रेलवे लाइन पार कर रहा था। इसी बीच 063651 अप पूजा स्पेशल ट्रेन छोटकी मसौढ़ी हॉल्ट पर पहुंच गई। भेड़ों को बचाने गया हरभजन बट्रेन की इंजन में फंस गया। और नदौल स्टेशन तक घीसटता चला गया। पांच लाख रुपये मुआवजे की मांग को लेकर ग्रामीणों ने नदौल स्टेशन पर इंजन में फंसे शव को निकालने से मना कर दिया। समाचार लिखे जाने तक पूजा स्पेशल ट्रेन नदौल स्टेशन पर ही खड़ी थी।
  
Jul 28 2016 (8:42AM)  Railways Disaster Management Plans Not Comprehensive: National Auditor (www.huewire.com)
back to top
Major Accidents/Disruptions

News Entry# 275111     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: For Better Managed Indian Railways~  164 news posts
Auditor felt surveillance mechanism was also inadequate at vulnerable and crowded stations.
New Delhi: The Comptroller and Auditor General of India on Tuesday said the disaster management plans of Railways are “not comprehensive” and there are shortcomings in its safety plan.
Disaster management plans, though broadly framed in zonal railways and in divisions, are not comprehensive, lacked uniformity and also did not adhere to the provisions of the Disaster Management Act 2005, the CAG said in its latest report.
The
...
more...
CAG said safety inspections were not conducted on regular basis.
“There were no definite schedules of inspection with all divisions not being equally covered. Many of the shortcomings noticed during the previous safety audit (conducted by Railways) remained unattended,” said the report tabled in the parliament.
The CAG observed deficiencies in all zones in provision of Self-Propelled Accident Relief Trains (SPARTs), Accident Relief Trains (ARTs), Accident Relief Medical Vans (ARMVs) and equipment provided therein.
The national auditor said the ARTs and ARMVs were located in the yard which was not easily accessible.
It has also found that the Integrated Security System was not fully implemented over 202 vulnerable stations identified by the Railways even after more than four years.
Surveillance mechanism was also inadequate at vulnerable and crowded stations, it said.
Provision for recovery and relief during golden hour was not adequate as Accident Relief Trains never reached the accident site within that time, the report said.
The CAG said most of the Central and Divisional Hospitals in Railways did not prepare their Disaster Management Plans to address a situation like fire, explosion, flood and earthquake.
The status of progress of training imparted to frontline staff indicated that Indian Railways is not serious in developing their skills to deal with emergency, it noted.
The CAG further said Research, Designs and Standards Organisation (RDSO) did not identify vulnerable buildings, locations, rail infrastructure including bridges, sensitive locations etc required under Indian Railway Disaster Management Plan 2009
  
Jul 28 2016 (8:28AM)  Chhattisgarh Express derails near Raipur (www.thehindu.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsSECR/South East Central  -  

News Entry# 275105     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  119763 news posts
Passengers of Chhattisgarh Express (train No 18237) which runs between Bilaspur and Amritsar had a narrow escape on Wednesday when its engine and an SLR coach derailed near the Kumhari station.
Nobody was hurt in the incident.
“The locomotive and the SLR (seating-cum-luggage) coach of the Amritsar-bound Chhattisgarh Express derailed at around 4.55 pm near Kumhari station (13 km from Raipur station),” said Rahul Gautam, Divisional Railway Manager, Raipur Division.
Senior
...
more...
officials and engineering staff had rushed to the spot and the cause of derailment can be ascertained only after the investigation, he told PTI.
The movement of the trains on the track would resume soon, he said. PTI
  
Jul 27 2016 (9:36PM)  इंजन समेत ट्रैक से उतरा छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस का एक कोच, दर्जन भर यात्री घायल (www.bhaskar.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsSECR/South East Central  -  

News Entry# 275094   Blog Entry# 1943439     
   Tags   Past Edits
Jul 27 2016 (10:14PM)
Train Tag: Chhattisgarh Express/18237 added by RF Z*^~/367496

Jul 27 2016 (9:36PM)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Jul 27 2016 (9:36PM)
Station Tag: Durg Junction/DURG added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Jul 27 2016 (9:36PM)
Station Tag: Raipur Junction/R added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Posted by: For Better Managed Indian Railways~  164 news posts
रायपुर। बिलासपुर से से अमृतसर की ओर जा रही छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस का इंजन और एक कोच कुम्हारी के पास अचानक पटरी से उतर गया। हादसे में दर्जन भर यात्रियों को मामूली चोटें आई हैं। सूचना के बाद तत्काल राहत कार्य चलाया गया। करीब आधे घंटे बाद दूसरे इंजन के साथ ट्रेन रवाना कर दी गई। पटरी से उतरे इंजन और कोच को वहां से हटाने के दौरान करीब दो घंटे ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा। बड़ा हादसा टल गया...
- रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक रायपुर और दुर्ग स्टेशन के बीच कुम्हारी के पास अचानक ट्रेन का बैलेंस बिगड़ा और इंजन समेत उससे लगा पहला कोच ट्रैक से उतर गया।
-
...
more...
खारुन पुल पार करने और सामने ठीक स्टेशन का क्रॉसिंग प्वाइंट होने की वजह से ट्रेन की गति ज्यादा नहीं थी, इस वजह से बड़ा हादसा नहीं हुआ।
- घटना की जानकारी मिलते ही डीआरएम राहुल गौतम और एडीआरएम अरविंद कुमार मेश्राम मौके पर रवाना हो गए।
- और बीएमवाई (भिलाई मार्शलिंग यार्ड), चरोदा से कर्मचारियों को बुलाया गया।
- ट्रेन हादसे का असर डाउन लाइन की ट्रेनों पर नहीं हुआ, लेकिन अप दिशा की ट्रेनों को रायपुर, उरकुरा और मांढर में रोका गया और उन्हें डायवर्टेड लाइन से रवाना किया गया।
ऐसे हुई घटना
- बताया जा रहा है कि ट्रेन सही वक्त पर रायपुर पहुंची थी। यहां से रवाना होने के बाद ट्रेन सामान्य गति में चल रही थी।
- कुम्हारी स्टेशन के ठीक पहले यहां पर पटरियों में ज्यादा मोड़ होने के कारण ज्वाइंट पर पहले इंजन का पहिया टकराया, इसके ठीक बाद एसएलआर बोगी का पहिया इसमें अटका और ट्रेन झटका लेते हुए रुक गई।
- एसएलआर बोगी का पहिया जमीन पर धंस गया और इंजन का एक पहिया भी नीचे उतर गया।
- एसएलआर बोगी के आधे हिस्से को महिलाओं के लिए सुरक्षित रखा गया था। इस वजह से उसमें घटना के समय एक भी यात्री नहीं था।
- फिर भी ट्रेन में लगे झटके की वजह से करीब दर्जनभर यात्रियों को मामूली चोटें आईं।
- सीनियर डीसीएम आर सुदर्शन ने बताया कि हादसे की सही वजह जांच के बाद ही सामने आएगी।

  
1522 views

Enter ChatRoom
You need to be logged in to enter ChatRooms. Please click here to sign up.
Jul 27 2016 (9:44PM)
For Better Managed Indian Railways~   323 blog posts
Re# 1943439-1            Tags   Past Edits
Jul 27 2016 (9:49PM)
pics pic
pic

  
1511 views

Enter ChatRoom
You need to be logged in to enter ChatRooms. Please click here to sign up.
Jul 27 2016 (9:55PM)
® राहुल जैन ☺आम आदमी झाडू वाले™*^~   9365 blog posts   14918 correct pred (62% accurate)
Re# 1943439-2            Tags   Past Edits
This feature shows the full history of past edits to this Blog Post.
oh sad my fav train got derail thank god u saved
  
Jul 27 2016 (12:49PM)  Train hit sheeps during rail bridge crossing, 150 death - www.bhaskar.com (www.bhaskar.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECR/East Central  -  

News Entry# 275008     
   Tags   Past Edits
Jul 27 2016 (12:49PM)
Station Tag: Dauram Madhepura/DMH added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Posted by: For Better Managed Indian Railways~  164 news posts
पटना. बिहार के मधेपुरा जिले के भिरखी पुल के पास बुधवार को ट्रेन की चपेट में आने से 150 भेड़ों की जान चली गई। हादसे के बाद भेड़ों के शव ट्रैक से लेकर किनारे तक फैल गए। रेलकर्मी ट्रैक को साफ करने में लगे हैं।
खून से लाल हो गया रेलवे ट्रैक
सुबह 4.30 बजे जानकी एक्सप्रेस मधेपुरा के दौरम स्टेशन से गुजर रही थी, तभी भिर्खी रेल पुल के पश्चिम गोदाम के पीछे रेल ट्रैक पर काफी संख्या में भेड़ें आ गईं। ट्रेन भेंड़ों को रौंदती हुई निकल गई। ट्रेन के गुजर
...
more...
जाने पर पूरा ट्रैक खून से लाल हो गया। कटे हुए भेड़ों के शव ट्रैक पर फैले हुए थे।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक चरवाहे भेड़ों को रेलवे ट्रैक के पास खुले में छोड़ कर सो रहे थे। इसी दौरान ट्रेन वहां से होकर गुजरी और यह घटना घटी। घटना के बाद चरवाहे बाकी भेड़ों को ले कर भाग गए।
  
Jul 27 2016 (10:18AM)  This alert farmer helped prevent major rail mishap in Tamil Nadu - The New Indian Express (www.newindianexpress.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsSR/Southern  -  

News Entry# 274989     
   Tags   Past Edits
Jul 27 2016 (10:18AM)
Station Tag: Villupuram Junction/VM added by For Better Managed Indian Railways~/1546020

Posted by: For Better Managed Indian Railways~  164 news posts
VILLUPURAM : An alert farmer prevented a major rail mishap when he flagged down a passenger train that was closing in on a section of track that was hanging in the air after the overnight showers eroded the soil beneath it, near Mailam on Tuesday.
According to sources, shepherds and farmers from Nedi village used to cross the tracks daily, and at times, the cattle get run over by trains, crossing the route at high speed. Several farmers too have suffered injuries while attempting to save the animals. Following the request by farmers, the railway authorities decided to construct a subway for the villagers, and the work has been going on for a year now. On Tuesday morning, Jegan, a farmer,
...
more...
while visiting the construction site, noticed that the soil beneath the tracks had been washed away by rains, leaving the tracks and concrete sleepers unsupported. He alerted other villagers, who gathered at the spot.
At that time, the Villupuram-Tambaram passenger train started closing in on the damaged section. Fearing that it would derail, the villagers started signaling for it to stop. Noticing the huge crowd, the loco pilot stopped the train. He then took a picture of the tracks and sent it to the railway officials at Villupuram junction. Later, on the directions of the officials, he took the train through the damaged portion at a slow pace. Other trains were also asked to slow down at the spot. Then workers arrived and fixed the damage.
Railway officials and other villagers praised Jegan for his timely intervention, which probably saved many lives.
  
दिमाग पर ऐसे होता है ईयरफोन का असर•विकास पाठक, वाराणसी : भदोही में मानवरहित कैयरमऊ रेलवे क्रॉसिंग पर सोमवार सुबह टेंडर हार्ट्स स्कूल की वैन पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आ गई। हादसे में 8 बच्चों समेत नौ की मौत हो गई। ईयरफोन लगा होने के कारण ड्राइवर हातिम को ट्रेन और गेट मित्र की आवाज सुनाई नहीं दी। बच्चों से भरी स्कूल वैन लेकर जा रहा हातिम गाने सुनने में इतना मशरूफ था कि उसे न तो ट्रेन की आवाज सुनाई दी और न ही आस-पास के लोगों की चीखें। क्रॉसिंग के गेट पर तैनात रुपेश राय ने कई बार ड्राइवर हातिम को आवाज दी, लेकिन उसने नहीं सुना। वैन सवार बच्चे भी अंकल-अंकल चिल्लाते रहे, लेकिन हातिम को उनकी आवाज भी सुनाई नहीं दी। क्रॉसिंग के पास खड़े रामू और कैलाश के मुताबिक उन दोनों ने भी वैन को रोकने की कोशिश की, लेकिन तब तक बहुत देर हो...
more...
चुकी थी। उसके बाद जो नजारा था वो दिल को दहला देने वाला था।
दो साल पहले भी हुआ था हादसा
4 दिसम्बर 2014 को मऊ जिले में भी ऐसा ही हादसा हुआ था। उस समय महासो रेलवे क्रॉसिंग पर तमसा फास्ट पैसेंजर की चपेट में बच्चों से भरी स्कूली वैन आ गई थी। इसमें भी सात बच्चों की मौत हो गई थी।
भदोही में कैयरमऊ रेलवे क्रॉसिंग पर ट्रेन की चपेट में आई स्कूल वैन
ईयरफोन लगाए ड्राइवर ने नहीं सुनीं बच्चों की पुकार
बच्चे अंकल-अंकल चीखते रहे और मौत आ गई
हादसे का हुए शिकार
डीएम प्रकाश सिंधु के मुताबिक हादसे में श्वेता (12), अभिषेक (11), प्रद्युमन (13), आयुष (9), नैतिक (11), अनिकेत (11), अर्पित (10) और श्रेयांस (10) की मौत हो गई। तीन गंभीर घायलों अभिचंद मिश्रा (4), आयुष मिश्रा (7) और स्वाति (10) को बीएचयू ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया है।
कैयरमऊ और मेघपुर गांव में हर तरफ माहौल गमगीन हो गया।
फैशन नहीं, बीमारी है ईयरफोन
हंसी-खुशी गए, कफन में लौटे
कैयरमऊ के एक ही परिवार के चार बच्चों की हुई मौत
हेल्प लाइन नंबर : वाराणसी : 05422226778 मंडुआडीह : 9451212242 वाराणसी सिटी : 9794843973
माधो सिंह : 9935415449 इलाहाबाद सिटी : 9794843971
हादसे के बाद रेलवे पटरी के किनारे बच्चों की बिखरीं किताबें हादसे की कहानी बयान कर रहीं थीं।(इनसेट) नाराज लोगों ने स्कूल वैन को आग के हवाले कर दिया।•एनबीटी, वाराणसी : ईयरफोन लगाकर गाड़ी चलाना या जान जोखिम में डालकर सेल्फी लेना अब फैशन नहीं बीमारी की श्रेणी में आ गया है। नैशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल असोसिएशन के सचिव डॉ. सुनील मिश्रा के मुताबिक एंजायटी निरोसिस के चलते अकेलापन महसूस होना सबसे बड़ा कारण है। ऐसी अवस्था में जाने वालों को गाना सुनने, सेल्फी खींचने या अन्य ऐसे काम करने में सुखद अनुभव होता है। यहीं कारण है कि इसका प्रचलन बढ़ता जा रहा है। बीएचयू की मनोविज्ञानी प्रो.रीता कुमार की मानें, तो लोगों के सोशल इन्वॉयरमेंट से दूर होने के चलते अपने में जीने की कला ने बहुत कुछ बदल दिया है। गाना सुनने में खोए रहना भी इसी का हिस्सा है।
बनारस के जाने माने मनोरोग विशेषज्ञ डॉक्टर श्रीराम द्विवेदी का कहना है कि ईयरफोन लगाकर वाहन चलाना पहले तो फैशन था, उसके बाद लोगों की कमजोरी बना और अब यह बीमारी के रूप में सामने आया है। इस बीमारी के लिए वर्तमान माहौल ज्यादा जिम्मेदार है। घूमने-फिरने या मित्रों-परिवार संग समय बिताने की बजाए लोग सोशल मीडिया या फिर गाना सुनने में अपना ज्यादातर वक्त गुजार रहे हैं। उन्हें लगता है कि यही सबकुछ है। बाहर की दुनिया और सामाजिकता से अनजान रहना चाहते हैं।
•एनबीटी, वाराणसी :कैयरमऊ के रहने वाले रवींद्र मिश्रा के घर से रोज की तरह श्वेता(11), अनिकेत(8) अभिषेक (8) और नैतिक(6) वैन से टेंडर हार्ट्स स्कूल जाने के लिए निकले। वैन घर तय समय से एक घंटा पहले पहुंच गई। संजीव तैयार नहीं था इसलिए उसने मां से स्कूल न जाने की जिद की। लेकिन मां ने किसी तरह से उसे राजी किया और प्यार-दुलार कर स्कूल भेज दिया। जब इनके शव घर पहुंचे तो घरवालों के साथ ही गांववालों की भी छाती फटी रह गई। चार साल की अंशू दूसरे स्कूल में पढ़ती है। अब इस घर में वो एक मात्र बच्ची है।
दो गांवों के थे बच्चे : वैन कैयरमऊ और मेघपुर गांव के बच्चों को लेने रोज आती थी। सावन का पहला सोमवार था, तो लोग पूजामें व्यस्त थे। जैसे ही खबर मिली, सभी लोग अपने काम छोड़कर मौके पर भागे। जिनके बच्चे हादसे का शिकार हुए थे, वो तो गश खाकर गिर पड़े।
Page#    18094 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site