Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Forum Super Search
 ↓ 
×
HashTag:
Freq Contact:
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Blog Category:
Train Type:
Train:
Station:
Pic/Vid:   FmT Pic:   FmT Video:
Sort by: Date:     Word Count:     Popularity:     
Public:    Pvt: Monitor:    Topics:    

Search
  Go  

दूरी नही मंज़िल भारी, साथ हो जब मेट्रो हमारी - Mushfique Khalid

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat Jan 23 23:38:11 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Filters:

Page#    55 Blog Entries  next>>
Rail News
11418 views
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
Jan 07 (18:41)   प्रयागराज का सबसे लंबा पुल है दारागंज में बना आइजेट रेलवे ब्रिज, 109 साल पुराना हो चुका है यह पुल

Anupam Enosh Sarkar^~   19476 news posts
Entry# 4837058   News Entry# 432282         Tags   Past Edits
देश की आजादी के पूर्व 1912 में बंगाल नार्थ वेस्टर्न रेलवे द्वारा प्रयागराज-वाराणसी के बीच छोटी लाइन यानी मीटर गेज बिछाने का काम शुरू किया गया तभी प्रयागराज के दारागंज में गंगा नदी पर एक रेलवे पुल भी बनाया गया जिससे दोनों शहरों के बीच रेलवे यातायात सुचारू हो सके।
प्रयागराज, जेएनएन। आवागमन की सुविधा के लिए देश की आजादी के पूर्व प्रयागराज में नदियों पर कई पुल बनाए गए जिनसे सड़क और रेल यातायात होता है। सैकड़ों साल से चट्टान की तरह खड़े यह पुल आज भी यातायात की रीढ़ बने हुए हैं। इन्हीं में शामिल है दारागंज और झूंसी के बीच बना रेलवे का पुल। गंगा नदी पर बना यह पुल वर्तमान में भी प्रयागराज-वाराणसी के बीच रेल यातायात का
...
more...
संवाहक बना हुआ है।
सौ साल से वाराणसी-प्रयागराज के बीच रेल यातायात की कड़ी
देश की आजादी के पूर्व 1912 में बंगाल नार्थ वेस्टर्न रेलवे द्वारा प्रयागराज-वाराणसी के बीच छोटी लाइन यानी मीटर गेज बिछाने का काम शुरू किया गया, तभी प्रयागराज के दारागंज में गंगा नदी पर एक रेलवे पुल भी बनाया गया जिससे दोनों शहरों के बीच रेलवे यातायात सुचारू हो सके। तकरीबन 109 साल हो चुके लेकिन पुल अभी भी फौलाद की तरह खड़ा है व अपने मजबूत कांधों पर टे्रनों का आवागमन संभाले है।
एक मील से भी अधिक लंबा है गंगा नदी पर बना यह रेलवे पुल  
वर्तमान में पूर्वोत्तर रेलवे के प्रबंध क्षेत्र में आने वाला यह पुल 9380 फिट यानी एक मील से भी अधिक लंबा है। ठोस लोहे का बना यह पुल 45 पिलरों पर टिका हुआ है। जिनकी ऊंचाई धरातल से 60 फिट है और जमीन के नीचे तकरीबन 75 फिट तक गई हैं।
31 अक्टूबर 1912 को शुरू हुआ था पुल से टे्रनों का संचालन
पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार के मुताबिक उस समय आइजेट साहब रेलवे के चीफ इंजीनियर थे, उन्हीं के मार्गदर्शन में इस पुल का निर्माण हुआ था इसलिए पुल का नामकरण आइजेट ब्रिज हो गया। इस पुल से रेलवे यातायात 31 अक्टूबर 1912 को शुरू हुआ था। बताते हैं कि उस दौर में पुल के निर्माण पर 30 लाख रुपये व्यय हुए थे।
प्रयागराज-वाराणसी मार्ग पर बनेगा टू लेन का नया रेलवे पुल
वाराणसी से प्रयागराज के बीच टै्रक का दोहरीकरण किया जा रहा है। दारागंज का पुराना रेलवे पुल सिंगल है। ऐसे में गंगा नदी पर वाराणसी रूट पर नया रेलवे पुल बनाया जाएगा। हाल ही में दोहरे टै्रक के इस पुल के लिए मिट्टी परीक्षण का काम भी शुरू हो गया है। रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) के प्रोजेक्ट मैनेजर वीके अग्रवाल के मुताबिक यह पुल पुराने रेलवे पुल और शास्त्री पुल के बीच बनेगा। तकरीबन 17 सौ मीटर लंबे पुल को 25 मजबूत पिलर सहारा देंगे। निर्माण ढाई से तीन साल में पूरा कर लिया जाएगा।

1 Public Posts - Thu Jan 07, 2021

8116 views
Jan 07 (20:07)
Heerendra Yadav~   608 blog posts
Re# 4837058-2            Tags   Past Edits
bahut achhi khabar hai ye to..jaldi hi poora ald-bsb line double ho jayegi
Rail News
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
Dec 13 2020 (18:57)   झांसी-कानपुर: दिसंबर के अंतिम सप्ताह तक हो जाएगा दोहरीकरण का काम

Pankaj0915~   170 news posts
Entry# 4811807   News Entry# 428359         Tags   Past Edits
कानपुर देहात। पुखरायां रेलवे स्टेशन पर चल रहे दोहरीकरण कार्य की प्रगति देखने आए रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि दिसंबर के अंतिम सप्ताह तक दोहरीकरण का कार्य पूरा हो जाएगा।
झांसी से कानपुर के मध्य चल रहे रेलवे के दोहरीकरण का कार्य मलासा स्टेशन से चौरा स्टेशन तक एससीएल इंफोमेटेड लिमिटेड कपंनी कर रही है। झांसी मंडल से आए रेलवे के सीपीएल कमल कलरेजा, पीडी प्रियांक गुप्ता, सीनियर सेक्सन इजीनियर पुखरायां अरुण दीवगइया, ओएचई इजीनियर आदित्य सिंह, इलेक्ट्रिकल एक्सपर्ट राम नरायण आदि अधिकारियों ने दोहरीकरण कार्य का निरीक्षण किया। रेल अफसरों ने बताया कि कार्यदाई संस्था को दिसंबर के अंतिम सप्ताह तक पूरा कार्य करने के निर्देश दिए हैं। वैसे कार्यदाई संस्था इस तेजी से काम को कर रही है।
...
more...
अधिकारियों ने पुखरायां स्टेशन प्लेटफार्म नंबर 2 से लेकर मंडी मोड़ क्रॉसिंग गेट नंबर 205 के रेलवे लाइन व ओएचई दोहरीकरण का निरीक्षण किया।

Rail News
17698 views
Dec 13 2020 (20:04)
Heerendra Yadav~   608 blog posts
Re# 4811807-1            Tags   Past Edits
poora section double ho jayega dec tak ya sirf koi ek section ki baat ho rahi hai..

1 Public Posts - Sun Dec 13, 2020

16063 views
Dec 13 2020 (20:49)
Heerendra Yadav~   608 blog posts
Re# 4811807-3            Tags   Past Edits
ye jhs kanpur section paf bahut slow kaam chal raha hai..

1 Public Posts - Sun Dec 13, 2020
Rail News
IR Affairs
Sep 22 2020 (18:51)   44 Vande Bharat trains: Indian Railways floats revised tender for semi-high speed train sets; details

Rahul^   918 news posts
Entry# 4722632   News Entry# 419222         Tags   Past Edits
The pre-bid meeting is scheduled for 29 September 2020 and the opening date of the tender is 17 November 2020.

Indian Railways to introduce more Vande Bharat trains soon! The revised tender of 44 semi-high speed Vande Bharat train sets has been floated by Indian Railways. The revised tender is for 3-phase propulsion, control and other equipment along with bogies for as many as 44 Vande Bharat train sets. This tender, which has been uploaded on ireps.gov.in, is now a domestic tender. The revised tender is in line with the Modi
...
more...
government’s preference for ‘Make in India’ policy. In this tender, the minimum local content percentage has been revised to 75 per cent. Also, it is the first big tender under revised DPIIT norms of the Government of India’s Atma Nirbhar Bharat.

The pre-bid meeting is scheduled for 29 September 2020 and the opening date of the tender is 17 November 2020. Some of the main features of the revised tender are as follows:

The upcoming Train-18 or semi high speed trains will have Chair Car type coaches, specially designed for day travel. These trains will also offer many modern facilities such as mobile/laptop charging sockets, automatic plug doors with retractable footsteps, CCTVs, in-coach displays, speakers, GPS antenna, luggage racks with reading lamps, modular pantry equipment, etc. The country’s first Vande Bharat Express that was launched last year saw an expense of Rs 100 crore, of which Rs 35 crore alone was for the train’s propulsion system. Meanwhile, it is being said the present tender for 44 such kits would be worth over an amount of Rs 1,500 crore.

Last month, in the backdrop of rising tensions between India and China, a global tender was cancelled by the national transporter that it had earlier floated after it emerged that some candidates that had also submitted prices as part of the bids.

2 Public Posts - Tue Sep 22, 2020

2 Public Posts - Wed Sep 23, 2020

6 Public Posts - Sat Sep 26, 2020

5654 views
Sep 26 2020 (12:22)
Heerendra Yadav~   608 blog posts
Re# 4722632-11            Tags   Past Edits
Abhi allahabad aud manduadih k beech doubling ka kya status hai

7 Public Posts - Sat Sep 26, 2020
Rail News
18300 views
NR/Northern
Sep 18 2020 (19:09)   अब आधे घंटे में दिल्ली से चंडीगढ़ का सफर आप कर सकेंगे पूरे, मोदी सरकार जल्द चलाने जा रही यह नयी ट्रेन

Chetan~   930 news posts
Entry# 4719429   News Entry# 418832         Tags   Past Edits
1 compliments
Saste Nashe
Maglev train scheme : अगर कोई आपसे कहे कि आप दिल्ली से चंडीगढ़ केवल आधे घंटे में पहुंच जाएंगे वो भी ट्रेन के जरिए, तो आप जरूर चौकेंगे और उल्टा यह बात कहने वाले को ही आप खरी-खोटी सुना देंगे. लेकिन, दिल्ली से चंडीगढ़ का सफर करने वालों के लिए यह सपना जल्द ही साकार होने जा रहा है. मुंबई से अहमदाबाद तक के लिए बुलेट ट्रेन चलाने की योजना को अमलीजामा पहनाने में जुटी मोदी सरकार अब दिल्ली से चंडीगढ़ की यात्रा को सुगम बनाने के लिए मोदी सरकार ने मैग्लेव ट्रेन को चलाने की तरफ कदम बढ़ा दिए हैं.
सरकारी कंपनी भेल ने स्विस रैपिड एजी के साथ की साझेदारी
दरअसल,
...
more...
दिल्ली से चंडीगढ़ यात्रा को आसान बनाने के लिए सरकारी कंपनी भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल) ने स्विस रैपिड एजी के साथ साझेदारी की है. बीएचईएल ने इसकी जानकारी दी है. मैग्लेव दो शब्द मैग्नेटिक लेवीटेशन से मिलकर बना है, जिसका अर्थ चुंबकीय शक्ति से ट्रेन को हवा में ऊपर उठाकर चलाना होता है.
पीपीपी के जरिए चलाई जाएगी मैग्लेव ट्रेन
मैग्नेटिक लेवीटेशन के जरिए ट्रेन चलाने के लिए रेल मंत्रालय ने पीपीपी यानी पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के जरिए मैग्लेव ट्रेन सिस्टम की योजना बनाई है. मैग्लेव ट्रेन पटरी पर दौड़ने के बजाय हवा में रहती है. ट्रेन को मैग्नेटिक फील्‍ड की मदद से कंट्रोल किया जाता है. इसलिए उसका पटरी से कोई सीधा संपर्क नहीं होता. इस वजह से इसमें ऊर्जा की बहुत कम खपत होती है और यह आसानी से 500-800 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकती है.
देश के चार रूटों पर चलाई जाएगी मैग्लेव ट्रेन
सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार बंगलुरु-चेन्नई, हैदराबाद-चेन्नई, दिल्ली-चंडीगढ़ और नागपुर-मुंबई के बीच मैग्लेव ट्रेन चलाने की योजना बना रही है. दुनियाभर में मैग्लेव ट्रेन की तकनीक चुनिंदा देशों के पास ही है. ये देश जर्मनी, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया और यूएसए हैं. चीन में शंघाई शहर से शंघाई एयरपोर्ट के बीच मैग्लेव ट्रेन चलती है और ये ट्रैक महज 38 किलोमीटर का है.
कई देशों ने मैग्लेव ट्रेन चलाने का देखा सपना
मैग्लेव तकनीक से ट्रेन चलाने का सपना जर्मनी, यूके और यूएसए जैसे कई देशों ने देखा, लेकिन तकनीकी कुशलता के बावजूद इसकी लागत और बिजली की खपत को देखते हुए ये सफल नहीं रही. दुनियाभर में कॉमर्शियल तरीके से ये सिर्फ और सिर्फ तीन देशों चीन, दक्षिण कोरिया और जापान में ही चल रही है.
भारत में होगा मैग्लेव ट्रेनों का निर्माण
भेल ने कहा कि यह समझौता पीएम मोदी के 'मेक इन इंडिया' और 'आत्मनिर्भर भारत' अभियान को ध्यान में रखकर किया गया है. इस समझौते के बाद अब बीएचईएल स्विस रैपिड एजी के साथ मिल कर इस पर काम करेगी. इससे बीएचईएल दुनिया की अत्याधुनिक इंटरनेशनल टेक्‍नोलॉजी को भारत लाने में मदद मिलेगी और वह भारत में मैग्लेव ट्रेनों का निर्माण करेगी. बीएचईएल पिछले करीब 50 वर्षों से रेलवे के विकास में साझेदार है. कंपनी ने रेलवे को इलेक्ट्रिक और डीजल लोकोमोटिव की आपूर्ति की है.

Rail News
Sep 18 2020 (23:25)
Heerendra Yadav~   608 blog posts
Re# 4719429-1            Tags   Past Edits
Kaun sa nasha karke reporting karte ho bai...500-800 kmph....mazak chal raha hai kya

3 Public Posts - Fri Sep 18, 2020
Rail News
25230 views
Other News
NR/Northern
Sep 12 2020 (21:50)   प्रतापगढ़: पांच माह बाद टूटेगा प्रतापगढ़ जंक्शन का सन्नाटा

ChandanRishivanshi~   2 news posts
Entry# 4713997   News Entry# 418231         Tags   Past Edits
कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए मार्च में हुए लॉकडाउन के पांच महीने बाद रविवार को प्रतापगढ़ जंक्शन का सन्नाटा टूटेगा। मार्च के बाद पहली बार यात्री ट्रेन प्रतापगढ़ के रास्ते गुजरेगी। धनबाद-फिरोजपुर स्पेशल अप और डाउन रविवार को प्रतापगढ़ के रास्ते गुजरेंगी।
महामारी पर काबू पाने के लिए 24 मार्च से देश में लॉकडाउन कर दिया गया था। इससे ट्रेनों का संचालन भी ठप हो गया। स्टेशन पर सन्नाटा पसरा गया। हालांकि बीच में प्रवासियों को लेकर कुछ ट्रेनें आईं। इसके बाद से रेलवे स्टेशन पर वीरानगी छाई हुई थी। गिने-चुने रेल अफसर और कर्मचारी ही दिखाई
...
more...
पड़ते थे। स्टेशन के आसपास के दुकानदारों का व्यापार चौपट हो गया। बीच में कुछ ट्रेनों का संचालन जरूर शुरू हुआ, मगर उसमें प्रतापगढ़ से चलने वाली और यहां से गुजरने वाली एक भी ट्रेन शामिल नहीं थी। अब रेलवे ने धनबाद-फिरोजपुर स्पेशल के संचालन की घोषणा की है। यह ट्रेन 13 सितंबर को प्रतापगढ़ आएगी। इससे रेलवे का जहां हजारों रुपये की कमाई हुई है, वहीं वेंडर से लेकर आसपास के दुकानदार भी खुुश नजर आ रहे हैं। स्टेशन अधीक्षक त्रिभुवन मिश्र ने बताया कि धनबाद-फिरोजपुर स्पेशल ट्रेन सुबह 8 बजकर 55 मिनट पर प्रतापगढ़ पहुंचेगी। फिरोजपुर-धनबाद स्पेशल ट्रेन दोपहर दो बजे आएगी। यात्रियों को समय से दो घंटे पहले स्टेेशन पहुंचना होगा। नहीं जारी किया जाएगा प्लेटफार्म टिकट स्टेशन अधीक्षक त्रिभुवन मिश्र ने बताया कि कोरोना केेे देखते हुए सामाजिक दूरी का पालन कराया जाएगा। इसके बाद यात्रियों को ट्रेन में बैठाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कंफर्म टिकट वाले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। इसके बाद प्लेटफार्म पर जाने की अनुमति दी जाएगी। वेटिंग, जनरल टिकट के साथ ही प्लेटफार्म टिकट भी जारी नहीं किया जाएगा। इसलिए हर किसी को प्लेटफार्म पर नहीं जाने दिया जाएगा। आरक्षण वाले यात्री ही यात्रा कर सकेंगे। लॉकडाउन में बदल गई स्टेशन की सूरत लॉकडाउन में मॉडल रेलवे स्टेशन प्रतापगढ़ की सूरत बदल गई है। दो अतिरिक्त प्लेटफार्म का निर्माण जहां जोरों से चल रहा है, वहीं गड्ढों में तब्दील एक नंबर प्लेटफार्म की मरम्मत कराने के साथ ही टाइल्स लगा दी गई है। प्रतापगढ़ जंक्शन को मॉडल रेलवे स्टेशन का दर्जा मिला था। बीते चार साल से मरम्मत का कार्य चल रहा था। दो नए प्लेटफार्म, वाशिंग लाइन और तीन से पांच नंबर लाइन तक जाने के लिए फुटओवरब्रिज का निर्माण होना था। ट्रेनों के आवागमन के चलते काम में तेजी नहीं आ पा रही थी। लॉकडाउन में कार्यदायी संस्था ने गड्ढों में तब्दील प्लेटफार्म एक की मरम्मत करवा दी। टाइल्स लगा दिए गए हैं। प्रतापगढ़ से फाफामऊ के बीच विद्युतीकरण का कार्य करीब-करीब पूरा हो गया है, वहीं वाशिंग लाइन और प्लेटफार्म के साथ फुटओवरब्रिज का निर्माण तेज गति से चल रहा है। इससे स्टेशन की सूरत बदली-बदली नजर आ रही है। स्टेशन अधीक्षक त्रिभुवन मिश्र ने बताया कि स्वचालित सीढ़ी की मंजूरी मिल गई है। जल्द ही उसका भी निर्माण कार्य शुरू हो सकता है। रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म पर हुआ सौन्दर्यीकरण।- फोटो : PRATAPGARH रेलवे स्टेशन प्रवेश द्वार की दीवारों पर बनाये गये आकर्षक चित्र।- फोटो : PRATAPGARH

Rail News
10580 views
Sep 12 2020 (22:18)
Heerendra Yadav~   608 blog posts
Re# 4713997-1            Tags   Past Edits
Eloco chalenge ya dloco

3 Public Posts - Sat Sep 12, 2020

1 Public Posts - Sun Sep 13, 2020

1 Public Posts - Wed Sep 16, 2020
Page#    55 Blog Entries  next>>

COVID-19

ONLY COVID-19 Specials are running.
As Corona cases are increasing rapidly, Members are advised to TAKE extra CARE these days.
1. AVOID going outdoors even if lockdown is easing.
2. ALWAYS wear a MASK when OUTDOORS.
3. Wash hands frequently. Do NOT touch your face.


REMEMBER: PREVENTION is the ONLY Option. There is NO CURE.

Leading Polls

4850511 ★★★ 54hizmzm^~

Rail News

New Trains

Site Announcements

  • Entry# 4785432
    Nov 21 2020 (02:51AM)


    We are unifying the Bookmark scheme for Blogs & PNRs. Previously, we had different systems of "Followed Blogs", "PNR History", "My PNR Posts", "My PNR Post Predictions", "Stamp Alerts", etc. which were somewhat confusing. Hereafter: For PNRs: 1. You may add ANY PNR to your bookmarks through the "Add Bookmark" link in the...
  • Entry# 4680754
    Aug 03 2020 (10:10PM)


    In the next few days, we shall introduce a "Personal Gallery". This will consist of your own personal pics - no restrictions. You can upload any number of pics to your personal gallery - with with or without trains. This personal gallery will be part of your Member Profile. Thanks.
  • Entry# 4671643
    Jul 18 2020 (11:53PM)


    As our Topics & Quiz section gains popularity, the following change will be made to Quizzes. Starting tomorrow, we shall not reveal the names of people who answered correctly/incorrectly. You will still know how many answered the quiz and the percentage of wrong/right responses. But ONLY the person who answered will know...
  • Entry# 4669324
    Jul 15 2020 (10:01AM)


    Today, we are introducing a new Topic called NEWS-CRITIC. These days, everyday, we are bombarded with spam news, exaggerated news, misleading news, fake news, useless celebrity news, click bait with misleading headlines, etc. Also, much of the news is copied and rewritten from other news outlets, instead of being written first-hand. Everyone...
  • Entry# 4665139
    Jul 09 2020 (12:37AM)


    Over the last few days, there have been concerns expressed by many members that politics are being discussed. Well, with 90% of the trains NOT running over the last 3 months, there is not much rail-fanning happening!!! People have to discuss something. Mature political discussions are allowed in the Topics section,...
  • Entry# 4658593
    Jun 28 2020 (12:39PM)


    To help with the issue of mass tagging of members, we shall soon be expanding the RF Club feature to Pvt Clubs: . 1. Any member will be able to create a Pvt Club and invite other members to join. Joining of any Club is voluntary - members cannot be forced to join...
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy