Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Forum Super Search
 ↓ 
×
HashTag:
Freq Contact:
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Blog Category:
Train Type:
Train:
Station:
Pic/Vid:   FmT Pic:   FmT Video:
Sort by: Date:     Word Count:     Popularity:     
Public:    Pvt: Monitor:    Topics:    

Search
  Go  

ಮೈಸೂರು - ವಾರಣಾಸಿ ಎಕ್ಸ್‌ಪ್ರೆಸ್: ಕಾವೇರಿ ಮತ್ತು ಗಂಗಾ ನದಿಗಳ ಸಂಪರ್ಕ ಸೇತುವೆ - Vishwanath Joshi

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sun Mar 7 06:00:30 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Filters:

Page#    4 Blog Entries  
Rail News
14727 views
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
Feb 02 (07:44)   327 करोड़ से इलेक्ट्रिक ट्रेनें पकड़ेंगी रफ्तार

Anupam Enosh Sarkar^~   25033 news posts
Entry# 4864110   News Entry# 436431         Tags   Past Edits
बॉटमविज्ञापन327 करोड़ से इलेक्ट्रिक ट्रेनें पकड़ेंगी रफ्तारब्राडगेज पूरा होने के बाद से चल रही है डेमू ट्रेनगोंडा-बहराइच के बीच काम पूरा हुए तीन साल से अधिक बीत चुका समयफोटो- 38, 39प्रभंजन शुक्ला
बहराइच। आम बजट में वित्त मंत्री ने ब्राडगेज पूरा होने वाले इलाकों में इलेक्ट्रिक काम पूरा करने के लिए धनराशि आवंटित की है। उम्मीद है कि बहराइच-गोंडा के बीच तीन साल पहले पूरा हो चुके ब्राडगेज के बाद इलेक्ट्रिक ट्रेनें दौड़ाने का काम भी शुरू हो जाएगा। करीब 327 करोड़ रुपये की परियोजना को बजट मिलने से काम तेजी से पूरा भी हो सकेगा। हालांकि रेल अधिकारी इसके पूरा होने में समय लगने की संभावना जता रहे हैं।तराई के लोगों को सफर के लिए मीटरगेज की ट्रेनों का ही सहारा
...
more...
था। तेज रफ्तार के लिए करीब बीस साल पूर्व ब्राडगेज को हरी झंडी दी गई थी। जिसके तहत बहराइच-गोंडा के 60 किलोमीटर रेल लाइन का आमान परिवर्तन किया गया। करीब तीन साल पूर्व ही गोंडा-बहराइच रेल मार्ग पर डेमू ट्रेन चलाई गई। मगर कोरोना काल में वह भी बंद कर दी गई। अब आम बजट में वित्त मंत्री ने ब्राडगेज पूरा होने के बाद विद्युतीकरण पर अधिक जोर दिया है। बहराइच से गोंडा, बलरामपुर होते हुए गोरखपुर तक विद्युतीकरण के काम पर 327 करोड़ रुपये की परियोजना पहले से स्वीकृत है। माना जा रहा है कि बजट में विद्युतीकरण पर पैसा भेजा जाएगा। जिससे तराई के लोग भी इलेक्ट्रिक ट्रेनों का सफर कर सकेंगे। हालांकि रेल अधिकारी अभी इसमें समय लगने की संभावना जता रहे हैं। सहायक मंडल इंजीनियर आरबी प्रसाद का कहना है कि रेलवे बोर्ड द्वारा प्राथमिकता के आधार पर बजट जारी किया जाता है। ऐसे में अभी कुछ कह पाना असंभव होगा।

Rail News
5947 views
Feb 22 (10:34)
modinaresh001   5 blog posts
Re# 4864110-1            Tags   Past Edits
केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में हुए कई अहम फैसले, बहराइच-फरीदाबाद के बीच बनेगी ब्रॉड गेज रेलवे लाइन
Source -
click here

सीबीआई में जारी कलह के बीच सरकार ने बुधवार को अपना पक्ष
...
more...
रखा। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कैबिनेट की बैठक के बाद मीडिया से कहा कि सीबीआई में जो भी हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण है। कैबिनेट फैसले पर रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार ने एक अहम फैसला किया है। अब आशा वर्करों के लिए विजिट चार्ज 250 रुपये से बढ़ाकर 300 रुपये होगा। उन्होंने यह भी कहा कि बेनामी संपत्ति के मामले में अपील अथॉरिटी को मंजूरी दी गई है। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आज पीएम को पीस अवार्ड मिला हो जो कि गर्व की बात है। उल्लेखनीय बात यह है कि आर्थिक दिशा और दशा को गतिमान बनाने के लिए पीएम को यह पुरस्कार मिला है। उन्होंने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी ने भ्रष्टाचार पर प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय कैबिनेट बैठक में बहराइच से फरीदाबाद के बीच बड़ी लाइन को स्वीकृति दी गई है।
Rail News
23507 views
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
Feb 03 (07:49)   श्रावस्ती में अधूरा रह गया रेल का वादा

Anupam Enosh Sarkar^~   25033 news posts
Entry# 4865113   News Entry# 436642         Tags   Past Edits
श्रावस्ती। श्रावस्ती में रेल लाइन का सपना अभी साकार होने वाला नहीं है। जिले में रेल के लिए किया वादा पूरा होने की उम्मीद नहीं है। पिछले साल के बजट की ही तरह इस बार भी बजट में भी खलीलाबाद, बहराइच वाया भिनगा रेल लाइन को अमली जामा पहनाने के लिए पैसा नहीं मिला। इससे आम लोगों में नाराजगी है। बलरामपुर लोकसभा क्षेत्र से पहली बार सांसद चुने गए पूर्व प्रधानमंत्री भारतरत्न अटल बिहारी बाजपेयी ने बलरामपुर के तुलसीपुर से सिरसिया, नानपारा होते हुए लखीमपुर खीरी से पीलीभीत तक नई रेल लाइन बिछाने की मांग सदन में की थी। प्रधानमंत्री बनने के बाद अटल बिहारी बाजपेयी ने इंडोडच नेपाल लाइन बिछाने के लिए सर्वे भी करवाया था। हालांकि योजना को अमली जामा नहीं पहनाया जा सका। अटल जी के अलावा नाना जी देशमुख व एसआर किदवई ने भी रेल लाइन बिछवाने की मांग की थी।पूर्व सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री आरिफ...
more...
मोहम्मद खान ने भी बुढ़वल से कैसरगंज, जरवल, बहराइच व भिनगा होते हुए तुलसीपुर तक रेल लाइन बिछाने के लिए सदन में कई बार आवाज बुलंद की। हालांकि इस मामले में कोई सफलता नहीं मिल पाई। इसके बाद पूर्व सांसद डॉ. विनय कुमार पांडेय की मांग पर 10 मई 2013 को कांग्रेस की राष्ट्रीय सलाहकार परिषद की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बहराइच से गिलौला, इकौना भिनगा व बलरामपुर के लिए रेल लाइन निर्माण शुरू कराने का आश्वासन दिया था। इसके बाद 2014 में भिनगा में श्रावस्ती को रेल से जोड़ो संघर्ष समिति गठित हुई।इसके पदाधिकारियों ने भिनगा से लेकर दिल्ली के जंतर मंतर तक जिले को रेल लाइन से जोड़ने के लिए आंदोलन किया। सांसद दद्दन मिश्र के नेतृत्व में समिति के पदाधिकारियों ने बलरामपुर रेल लाइन का संचालन शुरू करने के लिए तत्कालीन रेलमंत्री को ज्ञापन सौंपा था। समिति के पदाधिकारियों ने कई बार दिल्ली में रेल मंत्री व रेल राज्य मंत्री से मिल कर रेल लाइन बिछाने की मांग की थी। इसी मांग के बाद बजट 2018 के केंद्रीय बजट में खलीलाबाद बहराइच वाया भिनगा को मंजूरी देते हुए रेल लाइन सर्वे सहित भूमि अधिग्रहण के लिए बजट जारी किया गया था। इसके बाद 2019 में रेल मंत्रालय ने श्रावस्ती व बहराइच के डीएम को पत्र लिख कर सेटेलाइट सर्वे के आधार पर चिह्नित भूमि का ग्राम पंचायत वार नक्शा मांगा था। जिससे भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया आरंभ हो सके। इस पत्र के बाद प्रशासन ने नक्शा उपलब्ध करवा दिया लेकिन रेल मंत्रालय की ओर से यह परियोजना अधर में ही लटकी रही। पूरा वर्ष बीत जाने के बाद भी न तो भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया प्रारंभ हुई, न ही इसके लिए भूमि का चयन ही किया गया। वहीं वर्ष 2020 व 2021 के बजट में इस परियोजना को तरजीह नहीं मिल सकी। खलीलाबाद बहराइच वाया भिनगा रेल लाइन के लिए बहराइच के आठ गांवों में कुल 242.50 एकड़, श्रावस्ती के 38 गांवों व दो नगरों में 535.50 एकड़ भूमि अधिग्रहित करने के लिए वर्ष 2019 में ही रेल मंत्रालय का पत्र डीएम को आया था। इसके लिए सारे नक्शे भी प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराए गए थे। लेकिन इसके बाद भी भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया अभी तक प्रारंभ नहीं हुई। श्रावस्ती के औरैया टिकई, तुरहनी बलराम, मोहरनिया, चौव्वा पुर पजावा, सोनवा, हुसैनपुर खुरहुरी, गिलौली, अकारा, नेवरिया, फतुहापुर, लखाही खास, खजुहा झुनझुनिया, नरायनपुर, जरकुशहा, पटना खरगौरा, गलकटवा, खैरीकला, पूरेखैरी, भिनगा खास, लक्षमनपुर इटवरिया, चकवा, रेहली विशुनपुर, बैरागीजोत, लखाही बेनीनगर, किशुनपुर रामनगर, पिपरहवा, बहादुरपुर, लक्ष्मनपुर गोड़पुरवा, गनेशपुर, सेमरी तरहर, एकघरवा, नारायनजोत, किड़िहौना, मनिकापुर कोडऱी, मझौवा सुमाल, इकौना, इकौना देहात, मोहम्मदपुर राजा, खरगौरा गनेश, राजगढ़ गुलहरिया से होते हुए रेल लाइन घुघुलपुर से बलरामपुर रेलवे स्टेशन को जोड़ेगी।जबकि बहराइच के नगरौर, अशोका, तुरैला, रेवली, इटोंझा, हटवा रायब, बरागुन्नू, मुसगढ़ा गांव जोड़े जाने थे। बलरामपुर के गांव दुलहिनपुर, जोरावरपुर, लालपुर जंगल, दुल्हापुर, फरेंदा, लुचुइया, गंगापुर, खरहरगड़ही, बहेरेकुइंया, हरबशपुर, रामपुर बनघुसरा, भवनियापुर, देवरिया, गनेशपुर, सेखुईया, चवईखुर्द, चवई बुजुर्ग, डोबाडाबर, विश्रामपुर, दारीचौरा, कपौवा शेरपुर, महमूदनगर, रैगांवा, बडहराकोट, पुरैनियाजाट, अमया देवरिया, जोगीवीर, सेखुईकस्बा, जुनैदपुर, लालगंज, मधपुर, हबीबपुर, चपरहिया, बक्सरिया, मिरजापुर, पिडरिया, पिपराराम, छितरपारा, पिडिय़ाखुर्द, मैनहा, ताराडीह, गोवर्धनपुर, बांकभवानी, मलमलिया, चिचुड़ी, सहंगिया, सेखुईकला, बंजरिया, बलुवा व जंगली का नक्शा उप मुख्य इंजीनियर गोरखपुर ने मांगा था। जिसे प्रशासन ने उपलब्ध करा दिया था। नई रेल लाइन (बड़ी लाइन) खलीलाबाद से शुरू होकर मेंहदावल, डुमरियागंज, उतरौला, श्रावस्ती, भिनगा और बहराइच तक बिछाई जानी थी। इसकी दूरी 240 किलोमीटर है। इस रेल लाइन को पूरा करने के लिए 2024-25 तक का लक्ष्य तय किया गया है। इसके लिए कैबिनेट ने वर्ष 2018 में ही 4940 करोड़ रुपये का बजट भी स्वीकृत कर दिया है। इसमें से दस करोड़ रुपये का बजट प्राप्त भी हो गए थे। इसके बाद 2020 व 2021 के बजट में इस परियोजना को आगे बढ़ाने का पैसा नहीं मिला।एडीएम योगानंद पांडेय ने बताया कि रेल मंत्रालय द्वारा सेटेलाइट सर्वे के आधार पर चिह्नित गाटा संख्या व ग्राम पंचायत का नक्शा मांगा गया था। जिसे पहले ही उपलब्ध कराया जा चुका है। इसके बाद की सारी प्रक्रियाएं रेल मंत्रालय को करनी थी।

Rail News
11606 views
Feb 17 (13:26)
modinaresh001   5 blog posts
Re# 4865113-1            Tags   Past Edits
बहराइच और खजुरा के बीच ब्रॉड गेज लाइन को कैबिनेट की मंजूरी
Cabinet approves broad gauge line between Bahraich UP & Khajura
Rail News
23674 views
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
Feb 05 (08:12)   गोंडा-बहराइच ट्रैक के विद्युतीकरण के लिए 28.50 करोड़

Anupam Enosh Sarkar^~   25033 news posts
Entry# 4867400   News Entry# 437184         Tags   Past Edits
गोंडा। केंद्रीय बजट में हुई घोषणा के अनुसार गोंडा-बहराइच रेलवे रूट का विद्युतीकरण किया जाएगा। इसके लिए बजट में 28.50 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। गोरखपुर-गोंडा वाया बलरामपुर रेलवे लाइन का विद्युतीकरण पहले से चल रहा है। इसमें दूसरे चरण में होने वाले आनंद नगर-सुभागपुर गोंडा के मध्य 170 किलोमीटर रेलवे रूट के लिए भी 116 करोड़ रुपये का बजट दिया गया है। बहराइच-गोंडा व बलरामपुर जिलों के करीब एक करोड़ लोगों के लिए यह बड़ी खुशखबरी है। बीते एक फरवरी को पेश हुए केंद्रीय बजट का आवंटन शुरू हो गया है। गोंडा-गोरखपुर वाया बलरामपुर के बीच दो फेज में विद्युतीकरण होना है। पहले चरण में गोरखुपर से आनंदनगर तक विद्युतीकरण किया जा रहा है, जबकि दूसरे फेज में आनंदनगर से बलरामपुर होते हुए सुभागपुर तक करीब 170 किलोमीटर का विद्युतीकरण किया जाना है।इसके लिए भारत सरकार ने 116 करोड़ रुपये आवंटित किए गये हैं। इसके अलावा गोंडा-बहराइच...
more...
रेल रूट करीब 60 किलोमीटर का भी विद्युतीकरण किया जाना है। यह लाइन अभी एक साल पहले ही ब्रॉडगेज में परिवर्तित की गई थी। लेकिन इस पर अभी ट्रेनों का संचालन शुरू नहीं हो पाया है। कोरोना काल के पहले तक इस पर एक पैसेंजर ट्रेन संचालित की गई थी उसे भी इस समय बंद कर दिया गया है। लेकिन अब नए सिरे से इस रेल रूट पर विद्युुतीकरण का कार्य होना है जिसके लिए 28 करोड़ 53 लाख रुपये का बजट आवंटित किया गया है। इसके लिए अक्तूबर 2021 तक का समय दिया गया है। भारत सरकार ने रेलवे लाइनों के विद्युतीकरण का कार्य 2023 तक पूरा करने का वादा किया है। इसके बाद देश में कोई लाइन बिना बिजली के नहीं रह जाएगी।
समयावधि में पूरी होगी परियोजना
रेलवे लाइनों के विद्युुतीकरण के लिए आवंटित बजट व समय का जो निर्देश रेलवे बोर्ड से प्राप्त हुआ है उसका अक्षरश: पालन कराया जाएगा। सभी काम समयावधि में पूरी होगी। पूर्वोत्तर रेलवे इसके लिए दृढ़ संकल्पित है।
-मोनिका अग्निहोत्री, डीआरएम पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल

Rail News
13644 views
Feb 17 (13:08)
modinaresh001   5 blog posts
Re# 4867400-1            Tags   Past Edits
बहराइच से फरीदाबाद के बीच ब्रॉड गेज रेलवे लाइन को कैबिनेट की मंजूरी, 5 हजार करोड़ होगा खर्च
नई दिल्ली। केंद्रीय कैबिनेट ने आशा वर्करों के विजिट चार्ज बढ़ाने, यूपी के बहराइच से हरियाणा के फरीदाबाद तक ब्रॉड गेज लाइन की मंजूरी, 4 इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ स्किल्स की स्थापना समेत कई फैसले किए। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को कैबिनेट बैठक में लिए गए अहम फैसलों की जानकारी दी। प्रसाद ने बताया कि यूपी के बहराइच से हरियाणा के फरीदाबाद के बीच ब्रॉडगेज रेलवे लाइन को मंजूरी दी गई है। इस प्रॉजेक्ट पर 4,939.78 करोड़ रुपये खर्च होंगे और यह 2024-25 में पूरा होगा। इसके अलावा आशा वर्करों के विजिट चार्ज को बढ़ाने का फैसला किया गया है। पहले आशा वर्करों
...
more...
को विजिट चार्ज 250 रुपये मिलते थे जो बढ़कर 300 रुपये प्रति विजिट हो गया है। इससे पहले सरकार ने आशा वर्करों के मानदेय में 1,000 रुपये की बढ़ोतरी की थी। कैबिनेट में लिए अन्य फैसलों में यूएन सस्टेनेबल डिवेलपमेंट गोल्स की निगरानी के लिए एक उच्च स्तरीय समिति के गठन, 6 नए एम्स के लिए एक पोस्ट ऑफ डायरेक्टर के सृजन और मलावी के साथ प्रत्यर्पण संधि शामिल हैं। प्रसाद ने बताया कि पीपीपी मॉडल पर इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ स्किल्स की कानपुर, भुवनेश्वर समेत 4 जगहों पर स्थापना होगी। इसके अलावा रायबरेली, गोरखपुर, भठिंडा, गुवाहाटी, बिलासपुर और देवघर में बन रहे 6 नए एम्स में से सभी के लिए एक पोस्ट ऑफ डायरेक्टर को सृजित करने का फैसला किया गया है। सरकार ने बेनामी ट्रांजैक्शंस के मामलों के लिए एडजुकेटिंग और अपीलेट अथॉरिटी के गठन का भी फैसला किया है। प्रसाद ने बताया कि बेनामी ट्रांजैक्शन ऐक्ट 1988 में बना था, उसके बाद से इस दिशा में कुछ खास नहीं हुआ था। कैबिनेट ने एडजुकेटिंग और अपीलेट अथॉरिटी के गठन का फैसला किया है जहां पर अपील की जा सकती है।

11752 views
Feb 17 (13:14)
modinaresh001   5 blog posts
Re# 4867400-2            Tags   Past Edits
बहराइच (यूपी) से फरीदाबाद (हरियाणा) के बीच ब्रॉड गेज रेलवे लाइन को कैबिनेट की मंजूरी, 5 हजार करोड़ होगा खर्च

source url: click here
Rail News
36968 views
Rail Budget
NER/North Eastern
Feb 05 (12:42)   4467 करोड़ रुपये से होगा पूर्वोत्तर रेलवे का विकास, वित्त मंत्रालय ने जारी किया बजट

Dr._Vaibhav.BST~   22 news posts
Entry# 4867580   News Entry# 437225         Tags   Past Edits
Select Language
पूर्वोत्तर रेलवे के लिए इस बार 4467 करोड़ रुपये का बजट जारी हुआ है। पिछले वर्ष की तुलना में 2021-22 के आम बजट में 40 फीसद अधिक धन आया है। नई रेल लाइन हो या पटरियों की मजबूती। दोहरीकरण हो या यात्री सुविधाएं सभी क्षेत्रों में प्रगति होगी।
गोरखपुर, जेएनएन। पूर्वोत्तर रेलवे के समग्र विकास के लिए वित्त मंत्रालय ने इस बार 4467 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। पिछले वर्ष की तुलना में 2021-22 के आम बजट में पूर्वोत्तर रेलवे के खाते में 40 फीसद अधिक धन आया
...
more...
है। नई रेल लाइन हो या पटरियों की मजबूती। दोहरीकरण हो या यात्री सुविधाएं। सभी क्षेत्रों में प्रगति होगी।  मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार पूर्वोत्तर रेलवे में स्वीकृत नई रेल लाइनों के लिए 604 करोड़ रुपये का आवंटन हुआ है। जिसमें ताड़ीघाट- गाजीपुर- मऊ के लिए 559 और बहराइच-श्रावस्ती-बलराम-खलीलाबाद नई रेललाइन के लिए 20 करोड़ रुपये मिला है। इन रेल लाइनों के तैयार हो जाने से पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकास को गति मिलेगी। आमान परिवर्तन के लिए 365 करोड़ रुपये मिला है। इस धन से इंदारा-दोहरीघाट, लखनऊ-पीलीभीत, शाहजहांपुर-पीलीभीत और नानपारा-नेपालगंज रोड का आमान परिवर्तन कार्य समय से पूरा हो जाएगा। कार्य पूरा हो जाने से इन रेलमार्गों पर भी बड़ी लाइन की एक्सप्रेस ट्रेनें चलने लगेंगी।  गोरखपुर विश्‍वविद्यालय में खुलेगा चौरी चौरा स्टडी सेंटर यह भी पढ़ें गोरखपुर- बाल्मीकिनगर व भटनी- औंडि़हार के दोहरीकरण के लिए मिला धन  इसके अलावा गोरखपुर कैंट-बाल्मीकि नगर, भटनी- औंडि़हार सहित पहले से स्वीकृत रेल लाइनों के दोहरीकरण तथा कुसम्ही- डोमिनगढ़ तीसरी रेललाइन के लिए 1786 करोड़ रुपये आवंटित हुआ है। इन रेलमार्गों के दोहरीकरण हो जाने से रेल यातायात और सुगम हो जाएगा। कर्मचारी कल्याण मद में 20.7 करोड़ तथा कर्मचारियों के प्रशिक्षण के लिए भी 2.6 करोड़ रुपये मिला है।  422.9 करोड़ से स्टेशनों पर लगाए जाएंगे लिफ्ट और एस्केलेटर   यात्री सुविधाओं को बेहतर करने के लिए बजट में अलग से धन आवंटित किया गया है। बजट में 422.9 करोड़ रुपये से रेलवे स्टेशनों पर लिफ्ट और एस्केलेटर आदि लगाने का प्रावधान किया गया है।  पर्यटकों को लुभाने के लिए क्षेत्रीय पहचान बनेंगे रेलवे स्टेशन  पर्यटकों को लुभाने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे के स्टेशन क्षेत्रीय पहचान बनेंगे। स्टेशनों का विकास क्षेत्रीय आधार पर किया जाएगा। धाॢमक आचार- विचार के अनुरूप विकसित किए जाएंगे। ताकि, स्टेशन पर पहुंचने वाले लोगों को क्षेत्र की मान्यताओं, परंपराओं और विशेषताओं का अहसास हो सके। भवन और दीवारों पर नजर पड़ते ही पता चल जाए कि किस महापुरुष की धरती पर हैं।  Chauri Chaura Shatabdi Mahotsav: पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, किसानों की जमीन पर कुदृष्टि नहीं डाल पाएगा कोई यह भी पढ़ें इन रेलमार्गों का होगा दोहरीकरण  गोरखपुर कैंट- बाल्मीकि नगर, गोरखपुर-नकहा जंगल, डोमिनगढ़-कुसम्ही तीसरी लाइन, छपरा-बलिया, गाजीपुर सिटी-औंडि़हार, माधोसिंह-प्रयागराज, फेफना-इंदारा, मऊ-शाहगंज, भटनी-औंडि़हार, औंडि़हार-जौनपुर, मल्हौर-डालीगंज, बुढ़वल-गोंडा तीसरी लाइन।  इन कार्यों के लिए भी मिला धन  रेलपथों के नवीनीकरण के लिए 250 करोड़।  नहीं रहेगी मोटराइज्ड ट्राई साइकिल के मरम्मत की चिंता, खुलेगा सर्विस सेंटर Gorakhpur News यह भी पढ़ें ओवरब्रिज और अंडरब्रिज निर्माण के लिए 152 करोड़।  समपारों के रख-रखाव व विकास के लिए 59.5 करोड़।   रेलवे के पुलों के सुदृढ़ीकरण कार्य के लिए 20 करोड़।  सिग्नल एवं दूर संचार के लिए 52.4 करोड़ रुपये।  विद्युत कार्य के लिए 13.99 करोड़ रुपये।  कंप्यूटरीकरण कार्य के लिए 3 करोड़।  रोलिंग स्टाक के लिए 18.8 करोड़।  एमएंडपी कार्य के लिए 22.8 करोड़। 
गोरखपुर, जेएनएन। पूर्वोत्तर रेलवे के समग्र विकास के लिए वित्त मंत्रालय ने इस बार 4467 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। पिछले वर्ष की तुलना में 2021-22 के आम बजट में पूर्वोत्तर रेलवे के खाते में 40 फीसद अधिक धन आया है। नई रेल लाइन हो या पटरियों की मजबूती। दोहरीकरण हो या यात्री सुविधाएं। सभी क्षेत्रों में प्रगति होगी। 
मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार पूर्वोत्तर रेलवे में स्वीकृत नई रेल लाइनों के लिए 604 करोड़ रुपये का आवंटन हुआ है। जिसमें ताड़ीघाट- गाजीपुर- मऊ के लिए 559 और बहराइच-श्रावस्ती-बलराम-खलीलाबाद नई रेललाइन के लिए 20 करोड़ रुपये मिला है। इन रेल लाइनों के तैयार हो जाने से पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकास को गति मिलेगी। आमान परिवर्तन के लिए 365 करोड़ रुपये मिला है। इस धन से इंदारा-दोहरीघाट, लखनऊ-पीलीभीत, शाहजहांपुर-पीलीभीत और नानपारा-नेपालगंज रोड का आमान परिवर्तन कार्य समय से पूरा हो जाएगा। कार्य पूरा हो जाने से इन रेलमार्गों पर भी बड़ी लाइन की एक्सप्रेस ट्रेनें चलने लगेंगी। 

गोरखपुर- बाल्मीकिनगर व भटनी- औंडि़हार के दोहरीकरण के लिए मिला धन 
इसके अलावा गोरखपुर कैंट-बाल्मीकि नगर, भटनी- औंडि़हार सहित पहले से स्वीकृत रेल लाइनों के दोहरीकरण तथा कुसम्ही- डोमिनगढ़ तीसरी रेललाइन के लिए 1786 करोड़ रुपये आवंटित हुआ है। इन रेलमार्गों के दोहरीकरण हो जाने से रेल यातायात और सुगम हो जाएगा। कर्मचारी कल्याण मद में 20.7 करोड़ तथा कर्मचारियों के प्रशिक्षण के लिए भी 2.6 करोड़ रुपये मिला है। 

422.9 करोड़ से स्टेशनों पर लगाए जाएंगे लिफ्ट और एस्केलेटर  
यात्री सुविधाओं को बेहतर करने के लिए बजट में अलग से धन आवंटित किया गया है। बजट में 422.9 करोड़ रुपये से रेलवे स्टेशनों पर लिफ्ट और एस्केलेटर आदि लगाने का प्रावधान किया गया है। 
पर्यटकों को लुभाने के लिए क्षेत्रीय पहचान बनेंगे रेलवे स्टेशन 
पर्यटकों को लुभाने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे के स्टेशन क्षेत्रीय पहचान बनेंगे। स्टेशनों का विकास क्षेत्रीय आधार पर किया जाएगा। धाॢमक आचार- विचार के अनुरूप विकसित किए जाएंगे। ताकि, स्टेशन पर पहुंचने वाले लोगों को क्षेत्र की मान्यताओं, परंपराओं और विशेषताओं का अहसास हो सके। भवन और दीवारों पर नजर पड़ते ही पता चल जाए कि किस महापुरुष की धरती पर हैं। 

इन रेलमार्गों का होगा दोहरीकरण 
गोरखपुर कैंट- बाल्मीकि नगर, गोरखपुर-नकहा जंगल, डोमिनगढ़-कुसम्ही तीसरी लाइन, छपरा-बलिया, गाजीपुर सिटी-औंडि़हार, माधोसिंह-प्रयागराज, फेफना-इंदारा, मऊ-शाहगंज, भटनी-औंडि़हार, औंडि़हार-जौनपुर, मल्हौर-डालीगंज, बुढ़वल-गोंडा तीसरी लाइन। 
इन कार्यों के लिए भी मिला धन 
रेलपथों के नवीनीकरण के लिए 250 करोड़। 

ओवरब्रिज और अंडरब्रिज निर्माण के लिए 152 करोड़। 
समपारों के रख-रखाव व विकास के लिए 59.5 करोड़।  
रेलवे के पुलों के सुदृढ़ीकरण कार्य के लिए 20 करोड़। 
सिग्नल एवं दूर संचार के लिए 52.4 करोड़ रुपये। 
विद्युत कार्य के लिए 13.99 करोड़ रुपये। 
कंप्यूटरीकरण कार्य के लिए 3 करोड़। 
रोलिंग स्टाक के लिए 18.8 करोड़। 
एमएंडपी कार्य के लिए 22.8 करोड़। 

लीज्ड परिसंपत्तियों के लिए 390 करोड़। 
अन्य विशेष कार्य के लिए 24.2 करोड़। 
रेलवे कारखानों के लिए 143.9 करोड़। 
यातायात सुविधाओं के लिए 114 करोड़।

Rail News
16625 views
Feb 17 (13:04)
modinaresh001   5 blog posts
Re# 4867580-1            Tags   Past Edits
source url: click here

बहराइच (यूपी) से फरीदाबाद (हरियाणा) के बीच ब्रॉड गेज रेलवे लाइन को कैबिनेट की मंजूरी, 5 हजार करोड़ होगा खर्च

केंद्रीय कैबिनेट ने आशा वर्करों के विजिट चार्ज बढ़ाने,
...
more...
यूपी के बहराइच से हरियाणा के फरीदाबाद तक ब्रॉड गेज लाइन की मंजूरी, 4 इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ स्किल्स की स्थापना समेत कई फैसले किए। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को कैबिनेट बैठक में लिए गए अहम फैसलों की जानकारी दी।

नई दिल्ली

केंद्रीय कैबिनेट ने आशा वर्करों के विजिट चार्ज बढ़ाने, यूपी के बहराइच से हरियाणा के फरीदाबाद तक ब्रॉड गेज लाइन की मंजूरी, 4 इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ स्किल्स की स्थापना समेत कई फैसले किए। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को कैबिनेट बैठक में लिए गए अहम फैसलों की जानकारी दी। प्रसाद ने बताया कि यूपी के बहराइच से हरियाणा के फरीदाबाद के बीच ब्रॉडगेज रेलवे लाइन को मंजूरी दी गई है। इस प्रॉजेक्ट पर 4,939.78 करोड़ रुपये खर्च होंगे और यह 2024-25 में पूरा होगा।


इसके अलावा आशा वर्करों के विजिट चार्ज को बढ़ाने का फैसला किया गया है। पहले आशा वर्करों को विजिट चार्ज 250 रुपये मिलते थे जो बढ़कर 300 रुपये प्रति विजिट हो गया है। इससे पहले सरकार ने आशा वर्करों के मानदेय में 1,000 रुपये की बढ़ोतरी की थी।

कैबिनेट में लिए अन्य फैसलों में यूएन सस्टेनेबल डिवेलपमेंट गोल्स की निगरानी के लिए एक उच्च स्तरीय समिति के गठन, 6 नए एम्स के लिए एक पोस्ट ऑफ डायरेक्टर के सृजन और मलावी के साथ प्रत्यर्पण संधि शामिल हैं। प्रसाद ने बताया कि पीपीपी मॉडल पर इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ स्किल्स की कानपुर, भुवनेश्वर समेत 4 जगहों पर स्थापना होगी। इसके अलावा रायबरेली, गोरखपुर, भठिंडा, गुवाहाटी, बिलासपुर और देवघर में बन रहे 6 नए एम्स में से सभी के लिए एक पोस्ट ऑफ डायरेक्टर को सृजित करने का फैसला किया गया है।

सरकार ने बेनामी ट्रांजैक्शंस के मामलों के लिए एडजुकेटिंग और अपीलेट अथॉरिटी के गठन का भी फैसला किया है। प्रसाद ने बताया कि बेनामी ट्रांजैक्शन ऐक्ट 1988 में बना था, उसके बाद से इस दिशा में कुछ खास नहीं हुआ था। कैबिनेट ने एडजुकेटिंग और अपीलेट अथॉरिटी के गठन का फैसला किया है जहां पर अपील की जा सकती है।

Adv: ऐमजॉन पर सैमसंग गैलेक्सी M02 की सेल, कीमत ₹6,999 से शुरू

1 Public Posts - Fri Feb 26, 2021
Page#    4 Blog Entries  

COVID-19

ONLY COVID-19 Specials are running.
As Corona cases are increasing rapidly, Members are advised to TAKE extra CARE these days.
1. AVOID going outdoors even if lockdown is easing.
2. ALWAYS wear a MASK when OUTDOORS.
3. Wash hands frequently. Do NOT touch your face.


REMEMBER: PREVENTION is the ONLY Option. There is NO CURE.

Leading Polls

1864093 ★★★ 126xxx
3911968 ★★ 21Sumit Pal~

Rail News

  • रेलवे स्टेशन की स्वचालित सीढ़ी बनीं शो-पीस
    News Entry# 442939
    by: Anupam Enosh Sarkar  Today (05:17)


    मुरादाबाद रेलवे स्टेशन की स्वचालित सीढ़ी एक साल से बंद है।
    मुरादाबाद: रेलवे स्टेशन की स्वचालित सीढ़ी एक साल से बंद...
  • महाप्रबंधक के आगमन को लेकर रेलवे प्रशासन कर रहा सघन तैयारी
    News Entry# 442938
    by: Anupam Enosh Sarkar  Today (05:09)


    मऊ । निज संवाददातापूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक के 12 मार्च को आगमन को लेकर रेलवे की ओर से कमर कस लिया गया है। रेलवे प्रशासन द्वारा ट्रैक से लेकर पटरियों तक की काफी गहनता के साथ साफ-सफाई किया जा रहा है। वहीं रेलवे स्टेशन के मुख्य गेट से लेकर प्रांगण तक...
  • आसनसोल झाझा के बीच चलेंगी सभी मेमू ट्रेनें
    News Entry# 442937
    by: Anupam Enosh Sarkar  Today (05:09)


    सिमुलतला | निज संवाददातासोमवार से आसनसोल रेल डिविजन में चलने वाली सभी पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा। वहीं सभी स्टॉफ शटल के रूप में चलने वाली ट्रेनें बन्द हो जाएगा । रेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना के कारण जो पैसेंजर ट्रेनें मशलन 63565—63566 आसनसोल झाझा मेमू...
  • मंत्री जी, होली पर ट्रेनें चलवा दीजिए
    News Entry# 442936
    by: Anupam Enosh Sarkar  Today (05:08)


    हरदोई। कार्यालय संवाददातादैनिक रेल यात्री यूनियन सण्डीला के पदाधिकारियों ने केंद्रीय रेल मंत्री को ज्ञापन भेजा है। इसमें होली के त्योहार के मद्देनजर लखनऊ-शाहजहांपुर मार्ग पर ट्रेनों की संख्या बढ़ाए जाने की मांग की है।यूनियन के अध्यक्ष अजहर अली अंसारी, सधीर नागपाल, रामकुमार भारती, मुईन खां, दीपक पाल, फरीदा, नसीर, विनोद,...
  • समस्तीपुर में खुली गुमटी पर पोकलेन से टकरायी जानकी एक्सप्रेस
    News Entry# 442935
    by: Anupam Enosh Sarkar  Today (05:07)


    रोसड़ा/हसनपुर (समस्तीपुर) | हिन्दुस्तान टीमसमस्तीपुर-खगड़िया रेलखंड के रुसेराघाट (रोसड़ा) व नयानगर रेलवे स्टेशन के बीच बखरी ढाला पर शनिवार सुबह सहरसा की ओर जा रही जानकी एक्सप्रेस एक पोकलेन मशीन टकरा गई। इससे पोकलेन मशीन के साथ-साथ ट्रेन का इंजन भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। वहीं पोकलेन का चालक गंभीर...

New Trains

Site Announcements

  • Entry# 4898771
    Yesterday (10:33PM)


    There are some changes coming to FMT. Many of the features of FMT, like station arrival, TT, speed, geo, passing times, station time, etc. are ALREADY available in OTHER railway apps. So all of these features will be REMOVED. We'll have ONLY BLOGGING - quick upload of pics/videos/audio, etc. You may attach...
  • Entry# 4785432
    Nov 21 2020 (02:51AM)


    We are unifying the Bookmark scheme for Blogs & PNRs. Previously, we had different systems of "Followed Blogs", "PNR History", "My PNR Posts", "My PNR Post Predictions", "Stamp Alerts", etc. which were somewhat confusing. Hereafter: For PNRs: 1. You may add ANY PNR to your bookmarks through the "Add Bookmark" link in the...
  • Entry# 4680754
    Aug 03 2020 (10:10PM)


    In the next few days, we shall introduce a "Personal Gallery". This will consist of your own personal pics - no restrictions. You can upload any number of pics to your personal gallery - with with or without trains. This personal gallery will be part of your Member Profile. Thanks.
  • Entry# 4671643
    Jul 18 2020 (11:53PM)


    As our Topics & Quiz section gains popularity, the following change will be made to Quizzes. Starting tomorrow, we shall not reveal the names of people who answered correctly/incorrectly. You will still know how many answered the quiz and the percentage of wrong/right responses. But ONLY the person who answered will know...
  • Entry# 4669324
    Jul 15 2020 (10:01AM)


    Today, we are introducing a new Topic called NEWS-CRITIC. These days, everyday, we are bombarded with spam news, exaggerated news, misleading news, fake news, useless celebrity news, click bait with misleading headlines, etc. Also, much of the news is copied and rewritten from other news outlets, instead of being written first-hand. Everyone...
  • Entry# 4665139
    Jul 09 2020 (12:37AM)


    Over the last few days, there have been concerns expressed by many members that politics are being discussed. Well, with 90% of the trains NOT running over the last 3 months, there is not much rail-fanning happening!!! People have to discuss something. Mature political discussions are allowed in the Topics section,...
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy