Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Forum Super Search
 ↓ 
×
HashTag:
Freq Contact:
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Blog Category:
Train Type:
Train:
Station:
Pic/Vid:   FmT Pic:   FmT Video:
Sort by: Date:     Word Count:     Popularity:     
Public:    Pvt: Monitor:    Topics:    

Search
  Go  

Brindavan Express - ರೈಲು ಹೆಸರು ಬೃಂದಾವನ್ ,ಇದು ಯಾವಾಗಲೂ Number 1 - Vijay Baradwaj

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Mar 5 13:13:23 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Filters:

Page#    94 Blog Entries  next>>
Rail News
9156 views
Commentary/Human Interest
NR/Northern
Jan 28 (11:42)   बनिहाल-बारामूला रेल सेक्शन के विद्युतीकरण का काम शुरू, मार्च 2022 तक होगा पूरा

Anupam Enosh Sarkar^~   24811 news posts
Entry# 4858847   News Entry# 435351         Tags   Past Edits
पिछले कुछ दिनों मौसम अनुकूल होते ही अब सभी मोर्चों पर कार्य पूरी गति से चल रहा है। परियोजना की प्रगति पर रेलवे बोर्ड ने संतोष व्यक्त किया है। उन्होंने कहाकि इस रेल परियोजना के पूरे होने पर जम्मू एवं कश्मीर के लोगों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
जम्मू, दिनेश महाजन: बनिहाल से बारामुला तक 136 किलोमीटर रेलवे लाइन का कार्य पहले ही किया जा चुका है। अब इसके विद्युतीकरण का कार्य भी शुरू हो गया है। विद्युतिकरण के काम को अंजाम देने के लिए ट्रैफिक और सिग्नल प्लान को अनुमति दे दी गई है। रेलवे मंत्रालय के निर्देश पर बनिहाल बारामूला रेलवे सेक्शन की विद्युतिकरण का काम शुरू हो चुका है।
रेलवे
...
more...
बोर्ड की माने तो इस सेक्शन में विद्युतीकरण कार्य को मार्च 2022 तक पूरा कर लिए जाने का लक्ष्य है । रेलवे ट्रैक के विद्युतिकरण से इस सेक्शन में रेलगाड़ियां कम खर्च पर तेज गति से दाैड़ पाएंगी।
रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रियासी और रामबन जिलों में जनवरी माह की शुरूआत के दौरान खराब मौसम तथा बार बार होने वाले भूस्खलन, ट्रैक पर मलबा आने से, हिमपात और वर्षा के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और परियोजना स्थलों तक जाने वाले संपर्क मार्गों से सड़क संपर्क कट गया था। जिससे चलते काम की प्रगति पर असर पड़ा था। हालांकि रेलवे इंजीनियरों ने इस दौरान निर्माण स्थलों पर सभी सावधानियां बरती थी और निर्मााण कार्य को जारी रखा था।
पिछले कुछ दिनों मौसम अनुकूल होते ही अब सभी मोर्चों पर कार्य पूरी गति से चल रहा है। परियोजना की प्रगति पर रेलवे बोर्ड ने संतोष व्यक्त किया है। उन्होंने कहाकि इस रेल परियोजना के पूरे होने पर जम्मू एवं कश्मीर के लोगों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। उन्हें हर मौसम में उपलब्ध रहने वाला यातायात का एक सुगम माध्यम उपलब्ध हो जाएगा। विद्युतिकरण के काम को पूरा करने के लिए जरूरी सामान की खरीद के लिए रेलवे बोर्ड ने पहले से ही मंजूरी दे दी है।

1 Public Posts - Thu Jan 28, 2021

6553 views
Jan 28 (12:55)
visluc1991
vishalsharma~   583 blog posts
Re# 4858847-2            Tags   Past Edits
Great to know they have advanced the target by 3 months from earlier june 22 due to weekly monitoring by RM Piyush goyal
Rail News
17663 views
New Facilities/Technology
CR/Central
Jan 19 (13:35)   Indian Railways: आज से चलेगी नई टेक्नोलॉजी वाली राजधानी एक्सप्रेस, देखिए टाइमिंग और स्टॉपेज

AdittyaaSharma^~   21472 news posts
Entry# 4849920   News Entry# 434048         Tags   Past Edits
Indian Railways: आज से राजधानी एक्सप्रेस (Rajdhani Express) नई पुल-पुश टेक्नोलॉजी (Push Pull Technology) से चलेगी। ट्रेन हर दिन मुंबई से नई दिल्ली चलेगी। सेंट्रल रेलवे जोन ने एक बयान जारी कर कहा है कि छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस मुंबई-हजरत निजामुद्दीन राजधानी सुपरफास्ट स्पेशल की रफ्तार बढ़ाने का फैसला लिया है। इस रूट में ग्वालियर भी एक अतिरिक्त स्टॉपेज है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि राजधानी एक्सप्रेस की ज्यादा स्पीड और टाइमिंग का फायदा यात्रियों को होगा। वे पहले की तुलना में जल्द अपने गंतव्य तक पहुंचेंगे।
क्या है पुल पुश टेक्नोलॉजी?
यह
...
more...
भारतीय रेलवे की नई तकनीक है। इसमें ट्रेन के आगे और पीछे इंजन जुड़ा रहता है। दोनों इंजन एकसाथ काम करते हैं, जिसे ट्रेन की स्पीड बढ़ जाती है। इसमें घाट सेक्शन पर बदलने के लिए निकलना और जोड़ना नहीं पड़ता, जिससे काफी समय की बचत होती है।
राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन की टाइमिंग
ट्रेन छत्रपति शिवाजी टर्मिनस मुंबई से हर दिन दोपहर 4 बजे निकलती है। अगले दिन सुबह 9.55 बजे हजरत निजामुद्दीन, दिल्ली पहुंचती है। वापसी में यह दोपहर 4.55 बजे निजामुद्दीन से रवाना होकर अगले दिन सुबह 11.15 बजे मुंबई पहुंचती है।
क्या है ट्रेन का रूट?
भारतीय सेंट्रल रेलमार्ग 22221/22222 राजधानी एक्सप्रेस को लॉन्च 19 जनवरी 2019 को किया गया। शुरुवात में एक फर्स्ट एसी, तीन एसी-2 टियर, 8 एसी थ्री- टियर और एक पैंट्री कार के साथ सप्ताह में दो बार चलती थी। ट्रेन हर बुधवार और शनिवार 2.50 बजे कल्याण, नासिक रोड, जलगांव, भोपाल, झांसी और आगरा कैंट होते हुए अगले दिन हजरत निजामुद्दीन पहुंचती थी।
कैसे करें बुकिंग?
टिकट बुकिंग आरक्षण सेंटर्स और ऑनलाइन वेबसाइट www.irctc.co.in के माध्यम से किया जा सकता है। कंफर्म टिकट वाले यात्रियों को ही सफर करने की अनुमति होती है। ट्रेन के हाल्ट में जानकारी के लिए यात्री www.enquiry.indianrail.gov.in पर जा सकते हैं। साथ ही एनटीईएस मोबाइल ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं।

Rail News
13821 views
Jan 19 (14:07)
visluc1991
vishalsharma~   583 blog posts
Re# 4849920-1            Tags   Past Edits
Please add manmad stop also, it will became lifeline for shirdi travelers from north India.

2 Public Posts - Tue Jan 19, 2021

12298 views
Jan 19 (15:02)
visluc1991
vishalsharma~   583 blog posts
Re# 4849920-4            Tags   Past Edits
Ek minute ke halt se koi fark nahi padta or iska 25% traffic bhi bad jayega , delhi se bahut demand hai ek rajdhani ki shirdi ke liye kyuki log pareshan hu gaye hai us ghatiya karnataka main travel karke kyuki dusra option nahin hai

1 Public Posts - Tue Jan 19, 2021
Rail News
New Facilities/Technology
NR/Northern
Dec 29 2020 (17:48)   Now, Ghaziabad- Saharanpur line is fully doubled and electrified

GondiaSamnapurE~   167 news posts
Entry# 4827241   News Entry# 430718         Tags   Past Edits
The Chief Commissioner of Railway Safety Shailesh Kumar Pathak inspected the doubling and electrification works for the 28-km stretch between Deoband and Tapri on the Ghaziabad -Saharanpur line of Northern Railway’s (NR) Delhi division.
With the commissioning of this section, the entire Ghaziabad-Meerut-Saharanpur route has been doubled.The doubling will reduce the travel time as trains will no longer have to wait for a crossing.
Speed Trial
The
...
more...
CCRS conducted speed trial of up to 125 kmph done on the 28-km Deoband – Tapri section. Pathak conducted detailed safety inspections which included the quality of track, bridge and signalling works. He observed excellent riding quality at a speed of 125 kmph. 
He authorised track fitness at 110 kmph. For electric traction, the speed will be temporarily 75 kmph for a few days as some finishing works are in progress.

7 Public Posts - Tue Dec 29, 2020

1 Public Posts - Wed Dec 30, 2020

1 Public Posts - Sat Jan 16, 2021

13303 views
Jan 16 (22:10)
visluc1991
vishalsharma~   583 blog posts
Re# 4827241-10            Tags   Past Edits
30 days tak freight chalayege phir passenger train ku allow karege
Rail News
18955 views
Sep 14 2020 (20:10)   रेलवे लोकोमोटिव फैक्ट्री CLW ने बनाया 150 वां इंजन, आत्मनिर्भर भारत अभियान में बड़ी सफलता

Sandeep Sharma^~   1862 news posts
Entry# 4715571   News Entry# 418372         Tags   Past Edits
भारतीय रेलवे (Indian Railways) के चितरंजन लोकोमोटिव वर्कशॉप (CLW) ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है. कोरोना वायरस महामारी के चलते किए गए लॉकडाउन के बावजूद चितरंजन लोकोमोटिव वर्कशॉप ने वित्तीय वर्ष 2020-21 में अब तक 150 रेल इंजनों का उत्पादन पूरा कर लिया है.
भारतीय रेलवे (Indian Railways) के चितरंजन लोकोमोटिव वर्कशॉप (CLW) ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है. कोरोना वायरस महामारी के चलते किए गए लॉकडाउन के बावजूद चितरंजन लोकोमोटिव वर्कशॉप ने वित्तीय वर्ष 2020-21 में अब तक 150 रेल इंजनों का उत्पादन पूरा कर लिया है. चितरंजन लोकोमोटिव वर्कशॉप की दनकुनी स्थित यूनिट से 150 वें इंजन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया. वर्कशॉप से 8 सितम्बर को ही 100 वां इंजन बन कर निकला था. अप्रैल
...
more...
और मई में पूरी तरह से लॉकडाउन और जुलाई, अगस्त और सितंबर में आंशिक लॉकडाउन के बावजूद ये प्रोडक्शन किया गया है.
CLW को 70 साल हुए पूरे
भारतीय रेलवे के चितरंजन रेल इंजन कारखाने ने देश की सेवा करते हुए अपने 70 वर्ष पूरे कर लिए हैं. इस कारखाने ने स्टीम इंजन से शुरुआत कर डीजल और अब इलेक्ट्रिक इंजन को मिलाकर कुल 10,000 से ज्यादा रेलवे इंजन बनाने का काम पूरा किया जा चुका है.
इंजन उत्पादन का बनाया रिकॉर्ड
1948 से ये रेल फैक्ट्री लगातार इंजन बना रही है. वर्ष 2019-20 में कुल 431 इंजन का निर्माण कर CLW ने वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया है. चितरंजन लोकोमोटिव में डब्लूएपी 7 इंजन भी बनाया जा रहा है ये इंजन हेड ऑन जनरेशन तकनीक पर चलता है. इसके चलते इस इंजन में बिजली की खपत काफी कम हो जाती है. इस इंजन को राजधानी और शाताब्दी जैसी हाई स्पीड गाड़ियों में चलाया जा रहा है.
200 किलोमीटर प्रति घंटा तक कीस्पीड से चलने वाले इंजन बनाए
चितरंजन लोकोमोटिव वर्कशॉप में हाल ही में 200 किलोमीटर प्रति घंटा तक की स्पीड से चलने की क्षमता वाले इंजन डब्लूएपी 5 भी बनाया गया है. इस इंजन के जरिए पुश एंड पुल तकनीकी की मदद से भी ट्रेनों को चलाया जा रहा है.
ज़ी बिज़नेस LIVE TV यहां देखें
कई तरह के इंजन बनाए हैं
इस फैक्ट्री में 6000 एचपी से लेकर 9000 एचपी तक के इंजन को बनाया गया है. इस इंजन के जरिए माल गाड़ियों को चलाया जाता है. 9000 एचपी के इंजन को 100 किलोमीटर प्रति घंटा तक की स्पीड से चलाया जा चुका है.

Rail News
16961 views
Sep 14 2020 (20:21)
visluc1991
vishalsharma~   583 blog posts
Re# 4715571-1            Tags   Past Edits
Abhi 8 september ku tu 100 engine nikala tha or ek week main 50 engine kaise bana liye🤪🤪🤪

1 Public Posts - Mon Sep 14, 2020

11948 views
Sep 14 2020 (22:38)
visluc1991
vishalsharma~   583 blog posts
Re# 4715571-3            Tags   Past Edits
Ye news hi puri galat hai, news ye hai ki clw dankuni unit ne 2016 se apne total production ka 150 locomotive bana liya hai. Paper wale nashe main rehte hai
Rail News
11039 views
Aug 20 2020 (14:42)   पूर्व, पश्चिम के उद्योगों को दक्षिण भारत से जोड़ने को 4,000 किमी. के ढुलाई गलियारे बनाएगा रेलवे

Jayashree^   49741 news posts
Entry# 4691584   News Entry# 416728         Tags   Past Edits
रेलवे देश के पूर्वी और पश्चिमी हिस्सों के औद्योगिक क्षेत्रों को दक्षिण भारत से जोड़ने के लिए करीब 4,000 किलोमीटर के प्रतिबद्ध मालढुलाई गलियारों (डीएफसी) का निर्माण करेगा। इसमें देश के पूर्वी और पश्चिमी हिस्सों को दक्षिण भारत के साथ ओड़िशा और आंध्र प्रदेश के प्रमुख बंदरगाहों के जरिये जोड़ा जाएगा। इन गलियारों पर एक दस्तावेज से यह जानकारी मिली है।

प्रस्तावित डीएफसी रेलवे की अगली बड़ी बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का हिस्सा हैं इनमें....खड़गपुर (प. बंगाल) से विजयवाड़ा (आंध्र प्रदेश) को जोड़ने वाला 1,115 किलोमीटर का पूर्वी तटीय गलियारा, भुसावल-नागपुर-खड़गपुर-दानकुनी (कोलकाता
...
more...
के पास) मार्ग को जोड़ने वाला 1,673 किलोमीटर का पूर्व-पश्चिम गलियारा और 195 किलोमीटर का राजखर्सवान-कालीपहाड़ी-अंडल (प. बंगाल) को जोड़ने वाला गलियारा शामिल हैं।


तीसरा 975 किलोमीटर का उत्तर दक्षिण उप गलियारा है। यह विजयवाड़ा-नागपुर-इटारसी (मध्य प्रदेश) मार्ग को जोड़ेगा। डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लि़ (डीएफसीसीआईएल) जल्द इन गलियारों के सर्वे का काम शुरू करेगी। वह इस प्रक्रिया को एक साल में पूरा करेगी।

ये गलियारे ओड़िशा के पारादीप, धामरा, गोपालपुर बंदरगाहों तथा आंध्र प्रदेश में विशाखापत्तनम, गंगावरम, काकीनाडा, कृष्णापत्तनम और मछलीपत्तनम बंदरगाहों को संपर्क उपलब्ध कराएंगे। इनसे माल की ढुलाई तेज हो सकेगी और रेलवे नेटवर्क की क्षमता बढ़ सकेगी।

Rail News
6664 views
Aug 20 2020 (20:22)
visluc1991
vishalsharma~   583 blog posts
Re# 4691584-1            Tags   Past Edits
Ye railway ne kya kar diya, delhi chennai or mumbai kolkata dfc ku chota kyu kar diya😡😡😡
Page#    94 Blog Entries  next>>

COVID-19

ONLY COVID-19 Specials are running.
As Corona cases are increasing rapidly, Members are advised to TAKE extra CARE these days.
1. AVOID going outdoors even if lockdown is easing.
2. ALWAYS wear a MASK when OUTDOORS.
3. Wash hands frequently. Do NOT touch your face.


REMEMBER: PREVENTION is the ONLY Option. There is NO CURE.

Leading Polls

Rail News

New Trains

Site Announcements

  • Entry# 4785432
    Nov 21 2020 (02:51AM)


    We are unifying the Bookmark scheme for Blogs & PNRs. Previously, we had different systems of "Followed Blogs", "PNR History", "My PNR Posts", "My PNR Post Predictions", "Stamp Alerts", etc. which were somewhat confusing. Hereafter: For PNRs: 1. You may add ANY PNR to your bookmarks through the "Add Bookmark" link in the...
  • Entry# 4680754
    Aug 03 2020 (10:10PM)


    In the next few days, we shall introduce a "Personal Gallery". This will consist of your own personal pics - no restrictions. You can upload any number of pics to your personal gallery - with with or without trains. This personal gallery will be part of your Member Profile. Thanks.
  • Entry# 4671643
    Jul 18 2020 (11:53PM)


    As our Topics & Quiz section gains popularity, the following change will be made to Quizzes. Starting tomorrow, we shall not reveal the names of people who answered correctly/incorrectly. You will still know how many answered the quiz and the percentage of wrong/right responses. But ONLY the person who answered will know...
  • Entry# 4669324
    Jul 15 2020 (10:01AM)


    Today, we are introducing a new Topic called NEWS-CRITIC. These days, everyday, we are bombarded with spam news, exaggerated news, misleading news, fake news, useless celebrity news, click bait with misleading headlines, etc. Also, much of the news is copied and rewritten from other news outlets, instead of being written first-hand. Everyone...
  • Entry# 4665139
    Jul 09 2020 (12:37AM)


    Over the last few days, there have been concerns expressed by many members that politics are being discussed. Well, with 90% of the trains NOT running over the last 3 months, there is not much rail-fanning happening!!! People have to discuss something. Mature political discussions are allowed in the Topics section,...
  • Entry# 4658593
    Jun 28 2020 (12:39PM)


    To help with the issue of mass tagging of members, we shall soon be expanding the RF Club feature to Pvt Clubs: . 1. Any member will be able to create a Pvt Club and invite other members to join. Joining of any Club is voluntary - members cannot be forced to join...
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy