Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Forum Super Search
 ↓ 
×
HashTag:
Freq Contact:
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Blog Category:
Train Type:
Train:
Station:
Pic/Vid:   FmT Pic:   FmT Video:
Sort by: Date:     Word Count:     Popularity:     
Public:    Pvt: Monitor:    Topics:    

Search
  Go  

Poorabiya Express: कोसी की शान से दिल्ली महान तक - Md Rashid Alam

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon Jan 18 23:23:11 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Filters:

Page#    353 Blog Entries  next>>
Rail News
12502 views
Dec 30 2020 (22:06)   रेलवे की वसूली जारी:रेगुलर चलने वाली ट्रेनों कों त्योहार विशेष ट्रेन बनाकर रेलवे वसूल रही 26% ज्यादा किराया

PankajMishra^~   121 news posts
Entry# 4828915   News Entry# 430988         Tags   Past Edits
पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़
20 रेगुलर ट्रेनों को त्योहार विशेष ट्रेन बनाकर चला रही है। इससे वह स्पेशल कमाई कर रही है, क्योंकि इन ट्रेनों का किराया रेगुलर ट्रेनों से 20 से 26 प्रतिशत तक ज्यादा है। दुर्गा पूजा, दिवाली, छठ और क्रिसमस जैसे बड़े त्योहारों का सीजन खत्म हो चुका है, फिर भी रेलवे ने इन्हें त्योहार विशेष ट्रेनें बनाकर 2 फरवरी 2021 तक विस्तारित कर दिया है।
मार्च में होली का त्योहार आएगा तो हो सकता है इन्हें फिर से विस्तार दे दिया जाए। इस तरह रेलवे की स्पेशल
...
more...
कमाई चलती रहेगी। कोरोना के कारण रेलवे ने इस बार अलग से त्योहार विशेष ट्रेनें चलाने की बजाय लाॅकडाउन के पहले जो ट्रेनें नियमित रूप से चलती थीं उन्हें ही त्योहार विशेष बना दिया है।
इन ट्रेनों का किराया तत्काल फेयर की तर्ज पर वसूला जा रहा है। यात्रियों को उम्मीद थी कि त्योहारों का सीजन खत्म होने के बाद इन ट्रेनों को रेगुलर बना दिया जाएगा, लेकिन रेलवे ने ऐसा नहीं किया। अब ये ट्रेनें जब तक त्योहार विशेष बनकर चलती रहेंगी तब तक यात्रियों को ज्यादा किराया चुकाना पड़ेगा।
स्पेशल फेयर के रूप में रेलवे वसूल रही तत्काल का किरायासूरत से हावड़ा जाने के लिए पहले 09205 पोरबंदर-हावड़ा रेगुलर ट्रेन से स्लीपर का 750 रुपए, थर्ड एसी का 1965 रुपए और सेकंड एसी का 2830 रुपए किराया लगता था। अब त्योहार विशेष के रूप में इसी ट्रेन के स्लीपर का 925 रुपए, थर्ड एसी का 2330 रुपए और सेकंड एसी का 3250 रुपए किराया देना पड़ रहा है।
इसी तरह अन्य त्योहार विशेष ट्रेनों के किराये में बढ़ोतरी की गई है। रेलवे ट्रेनों के अोरिजिनेटिंग और टर्मिनेटिंग स्टेशनों के बीच की दूरी के अंतर के हिसाब से यात्रियों से तत्काल फेयर वसूल रही है। यात्रियों को 20 से 26 प्रतिशत किराया अधिक चुकाना पड़ रहा है।
उधना-बनारस ट्रेन को फिर त्योहार विशेष बनाकर किया विस्तारितकोरोना से पहले सामान्य ट्रेन के रूप में साप्ताहिक चलने वाली 09057 उधना-बनारस (मंडुआडीह) ट्रेन अब त्योहार विशेष ट्रेन के रूप में फिर से विस्तारित कर दी गई है। यह फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन हर शुक्रवार को 20.35 बजे उधना से रवाना होगी और अगले दिन 21.00 बजे मंडुआडीह पहुंचेगी।
यह ट्रेन 1 से 29 जनवरी, 2021 तक चलेगी। कोरोना से पहले उधना से मंडुआडीह तक के लिए इस ट्रेन के स्लीपर का 585 रुपए, थर्ड एसी का 1565 रुपए और सेकंड एसी का 2260 रुपए किराया लगता था। अब त्योहार विशेष के रूप में इसके स्लीपर का किराया 785 रुपए, थर्ड एसी का किराया 1980 रुपए और सेकंड एसी का 2725 रुपए लिया जा रहा है। होली तक यह ट्रेन इसी तरह से विस्तारित होकर चलाई जा सकती है।
फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें कब तक चलेंगी कहना मुश्किललाॅकडाउन के बाद जब डिमांड बढ़ी तो लगभग सभी ट्रेनें रेगुलर चला दी गईं। इसके अलावा हमने स्पेशल और फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें भी चलाई हैं। ये ट्रेनें अभी कब तक फेस्टिवल स्पेशल बनकर चलेंगी इस बारे में कुछ कहना मुश्किल है। रेलवे बोर्ड के आदेश पर ही इन ट्रेनों को दोबारा रेगुलर चलाया जाएगा। फिलहाल अभी कुछ ही ट्रेनें फेस्टिवल स्पेशल बनकर चल रही हैं। इनका किराया फेस्टिवल स्पेशल के रूप में लिया जा रहा है।-सुमित ठाकुर, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, पश्चिम रेलवे
लाॅकडाउन से पहले ये ट्रेनें रेगुलर थीं अब त्योहार विशेष बनकर चल रहीं
09057/58 उधना-बनारस 09271/72 बांद्रा-पटना 02913/14 बांद्रा-सहरसा 02929/30 बांद्रा-जैसलमेर 09027/28 बांद्रा-जम्मूतवी 09017/18 बांद्रा-हरिद्वार 09424/23 गांधीधाम-तिरुनेलवेली 02905/06 ओखा-हावड़ा 09205/06 पोरबंदर-हावड़ा 02989/90 दादर-अजमेर 09707/08 बांद्रा-श्रीगंगानगर 02474 बांद्रा-बीकानेर 02490/89 दादर-बीकानेर 06501/02 अहमदाबाद-यशवंतपुर 06505/06 गांधीधाम-बेंगलुरू 06507/08 जोधपुर-बेंगलुरू 06209/10 अजमेर-मैसूर 06521/22 यशवंतपुर-जयपुर 06534/33 बेंगलुरू-जोधपुर 02755/56 राजकोट-सिकंदराबाद {इन ट्रेनों का किराया ज्यादा है।

1 Public Posts - Wed Dec 30, 2020

Rail News
10826 views
Dec 30 2020 (22:24)
Ye duniya Mera desh humanity Mera dharam
Azeemabadi~   7131 blog posts
Re# 4828915-2            Tags   Past Edits
Ha yaar bahut mehanga par raha hai..hai mfp ers rapti sagar ne 950 ka tha ab 1205 ka sleeper hai...bag..normal train thi patna se uska bhi fare bahut zyada hai..
Rail News
New/Special Trains
Dec 18 2020 (16:14)   Historic India–Bangladesh rail line reopens for 1st time since 1965 Indo-Pak War

Req.directtrainbewee^~   61 news posts
Entry# 4816225   News Entry# 429007         Tags   Past Edits
After a gap of 55 years, the Haldibari–Chilahati train line that connected India and Bangladesh till 1965 was reopened yesterday to link the two countries once again. Originally part of the British-era Indian Railways, the historic route was relaunched to promote regional trade and tourism, and will connect West Bengal, Assam and Bangladesh.
The Haldibari railway station is in West Bengal’s northern Cooch Behar district (approx. 16 hours from Kolkata by road), while the Chilahati station lies in the Nilphamari district of Bangladesh. Both border stations were defunct until yesterday, till a goods train made the maiden journey. Passenger trains will soon be launched on this route.
The
...
more...
international rail link was inaugurated at a virtual summit hosted by Prime Minister Narendra Modi and his Bangladeshi counterpart Sheikh Hasina:
As a major step towards boosting people to people contact, Hon’ble Prime Minister of India & Hon’ble Prime Minister of Bangladesh inaugurated the reopened Railway link between Haldibari in India and Chilahati in Bangladesh during the PM level virtual bilateral summit today.1/2 pic.twitter.com/pFp0OPDoTN
— Ministry of Railways (@RailMinIndia) December 17, 2020
Why is this rail line important?
India originally had 7 rail links with the erstwhile East Pakistan, including the Haldibari–Chilahati line. The number dropped to 4 operational rail links by 2020, but the new route now raises it to 5. 
The cross-border route: orange is northern Bengal, green is Bangladesh. Credit: @RailMinIndia/Twitter
The Indian Railways has spent 82.72 crores to restore the old train tracks up to the Bangladesh border. The new link will widen access to the main ports, dry ports and land borders in both countries, leading to social development. Businesspeople and the common man are expected to profit from goods and passenger traffic. 
It should also boost tourism in India, as Bangladeshi visitors will be able to travel to iconic hill destinations like Darjeeling, Sikkim and the Dooars, or continue further onto Nepal and Bhutan.
Feature image credit: @RailMinIndia/Twitter

Rail News
11628 views
Dec 18 2020 (16:18)
Ye duniya Mera desh humanity Mera dharam
Azeemabadi~   7131 blog posts
Re# 4816225-1            Tags   Past Edits
Public train bhi chalegi...???

1 Public Posts - Fri Dec 18, 2020

8821 views
Dec 18 2020 (17:44)
Ye duniya Mera desh humanity Mera dharam
Azeemabadi~   7131 blog posts
Re# 4816225-3            Tags   Past Edits
Kiya aisa mumkin hai ya kabhi aisa hua hai ke koi Indian train pur Bangladesh cross kar ke north east india jaye...

1 Public Posts - Sat Dec 19, 2020
Rail News
11722 views
Commentary/Human Interest
NFR/Northeast Frontier
Dec 16 2020 (18:11)   भारत-बांग्लादेश के बीच रेल परिचालन का आज होगा शुभारंभ

Anupam Enosh Sarkar^~   18904 news posts
Entry# 4814481   News Entry# 428765         Tags   Past Edits
- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश के पीए शेख हसीना करेंगे वर्चुअल उद्घाटन
- 1965 के बाद दुबारा शुरू हो रहा रेल परिचालन, भारत के हल्दीबाड़ी से बांग्लादेश के चिलाहाटी तक चलेगी ट्रेन
- उत्तर बंगाल से कोलकाता की दूरी 40 प्रतिशत कम होगी, 14 घंटे के जगह 6 घंटे में पहुंच जाएंगे
जागरण संवाददाता, जलपाईगुड़ी: 1965 के
...
more...
बाद फिर से भारत-बांग्लादेश के बीच रेल परिचालन शुरू होने जा रहा है। 17 दिसंबर को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश के प्रधानमंत्री शेख हसीना वर्चुअल तरीके से हल्दीबाड़ी-चिलाहाटी रूट में रेल परिचालन का शुभारंभ करेंगे। प्राथमिक तौर पर बांग्लादेश के चिलाहाटी से मालगाड़ी भारत में प्रवेश करेगी। फिर आगामी दिनों में ट्रेन जलपाईगुड़ी के हल्दीबाड़ी से बांग्लादेश के चिलाहाटी होते हुए कोलकाता की तरफ जाएगी। दोनों देशों के बीच रेल चलाने का ट्रॉयल पहले ही हो चुका है। 1965 के बाद दुबारा भारत-बांग्लादेश के बीच रेल परिचालन शुरू होने की खबर से दोनों देशों के लोगों में खुशी का माहौल है।
कभी जलपाईगुड़ी स्टेशन से शुरू होकर बांग्लादेश होते हुए ट्रेन कोलकाता पहुंचती थी। यहां से विश्व कवि रवींद्रनाथ ठाकुर, नेातजी सुभाष चंद्र बोस दार्जिलिंग मेल में बैठकर कोलकाता से बांग्लादेश होते हुए पूरे उत्तर बंगाल का भ्रमण कर चुके हैं। 1965 में भारत-पाकिस्तान के बीच हुए तनाव के कारण ट्रेन परिचालन बंद हो गया। छिटमहल समझौते के बाद फिर दोनों देशों के बीच ट्रेन चलाने को लेकर सहमति बनी। हल्दीबाड़ी स्टेशन को अंतरराष्ट्रीय स्तर के स्टेशन का दर्जा देने के साथ-साथ सीमा तक 3.34 किलोमीटर तक रेल लाइन बिछाया गया। इस कार्य में करीब 33.50 करोड़ रुपये का खर्च हो चुका है। इसी प्रकार के सीमा के दूसरे पार चिलाहाटी स्टेशन को भी सजाया गया। बांग्लादेश रेल विभाग ने चिलाहाटी से हल्दीबाड़ी तक करीब 6.728 किलोमीटर रेल लाइन बिछाया। दोनों देशों के रेल सीमा पर कांटेदार तार का गेट भी बनाया गया है। दुबारा रेल परिचालन शुरू होने से उत्तर बंगाल और कोलकाता के बीच करीब 40 प्रतिशत की दूरी कम हो जाएगी। जहां 14 घंटे का समय लगता था, अब वहीं 6 घंटे में कोलकाता पहुंच जाएंगे।

6 Public Posts - Wed Dec 16, 2020

4464 views
Dec 16 2020 (22:06)
Ye duniya Mera desh humanity Mera dharam
Azeemabadi~   7131 blog posts
Re# 4814481-8            Tags   Past Edits
Bharat Bangladesh train to 1965 ke bad bhi chalu hai na...

1 Public Posts - Wed Dec 16, 2020
Rail News
20247 views
Other News
NR/Northern
Jun 26 2020 (10:43)   रेलवे ने सभी रेगुलर ट्रेनों को किया 12 अगस्त तक के लिए रद्द कर दिया है |

AdityaImmortal^~   310 news posts
Entry# 4657254   News Entry# 412400         Tags   Past Edits
भारतीय रेलवे ने गुरुवार को कहा कि वह 1 जुलाई से 12 अगस्त के बीच नियमित ट्रेनों के लिए बुक किए गए सभी टिकटों को वापस कर देगा क्योंकि देश में कोरोनोवायरस के मामले मार्च में एक महीने बाद सरकार ने शुरू कर दिए थे। रेलवे ने कहा कि मई और जून में केवल विशेष ट्रेनें चलेंगी।
कुछ आवश्यक कार्गो की आवाजाही के अलावा, रेल सेवाओं को मार्च के अंत में अचानक बंद कर दिया गया था, जिसमें लगभग सभी आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने वाले वायरस शामिल थे, जो रातों-रात करोड़ों के काम से बाहर हो गए।
इस
...
more...
महीने की शुरुआत में, रेलवे ने देश में चलने वाली विशेष यात्री ट्रेनों की संख्या 30 से बढ़ाकर 200 कर दी थी। इनमें 12 मई से राजधानी मार्गों पर चलने वाली 15 जोड़ी ट्रेनें और 1 जून से 100 जोड़ी ट्रेनें शामिल हैं।
कोरोनवायरस के मामलों में वृद्धि जारी है और जब सामान्य सेवाएं फिर से शुरू होंगी, तो अनिश्चितता होगी, अधिकारियों ने कहा कि वे नियमित ट्रेनों के लिए बुक किए गए सभी टिकटों को वापस करना चाहते थे। लॉकडाउन से पहले, रेलवे ने हर दिन लगभग 12,000 ट्रेनों का संचालन किया, जिससे 2 करोड़ लोगों का परिवहन हुआ।
अधिकारियों ने कहा कि सीमित विशेष उपनगरीय सेवाएं जो हाल ही में मुंबई में स्थानीय अधिकारियों द्वारा पहचानी जाने वाली आवश्यक सेवाओं के कर्मियों को चलाने के लिए शुरू हुईं।
यात्रा के लिए गृह मंत्रालय द्वारा जारी नियमों के तहत, सभी यात्रियों को थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरना पड़ता है और केवल उन लोगों को पाया जाता है जो ट्रेन में सवार होने की अनुमति देंगे।
ट्रेनों में चढ़ने पर, सभी यात्रियों को सामाजिक दूरी बनाए रखने और पूरे यात्रा में फेस मास्क पहनने के लिए कहा गया। सभी यात्रियों को हाथ के सैनिटाइजर का उपयोग करने की भी सलाह दी जाती है।
ट्रेन के अंदर कोई खानपान, बेड लिनन, कंबल या पर्दे उपलब्ध नहीं कराए जाएंगे। यात्रियों को सलाह दी जाती है कि यदि वे जरूरत हो तो अपनी खुद की बेडशीट ले जाएं। इस उद्देश्य के लिए एसी कोचों के अंदर तापमान को नियमित रूप से विनियमित किया जाएगा।
भारत ने गुरुवार को 16,922 नए मामले दर्ज किए, जिसमें देश में कुल मामलों को लगभग 15,000 मौतों के साथ 5 लाख तक ले जाया गया।
वह केवल संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्राजील और रूस से पीछे है, और चीन के पांच गुना, जिसकी एक समान आकार की आबादी है और जहां वायरस पिछले साल के अंत में उत्पन्न हुआ था।

Rail News
16587 views
Jun 26 2020 (12:22)
Ye duniya Mera desh humanity Mera dharam
Azeemabadi~   7131 blog posts
Re# 4657254-1            Tags   Past Edits
Is me ek specific line ye bhi daliye ke jo special chal rahi hai woh chalti rahegi
Rail News
154168 views
IR Affairs
NCR/North Central
Jun 11 2020 (00:12)   108 बरस की हुई पंजाब मेलः शुरू में अंग्रेज साहब ही करते थे सफर, 18 साल बाद आम जनता के लिए लगी अलग बोगियां

Rohittkarwal^~   207 news posts
Entry# 4648479   News Entry# 411133         Tags   Past Edits
जालंधर, जेएनएन। भारतीय रेलवे की सबसे पुरानी लंबी दूरी की ट्रेनों में से एक पंजाब मेल एक जून को 108 बरस की आयू पूरी कर चुकी है। हालांकि यह ट्रेन कोविड-19 की वजह से अपनी 108वीं वर्षगांठ पर नहीं चल पाई। पंजाब मेल का उद्घाटन 1 जून 1912 को हुआ था, तब इसे पंजाब लिमिटेड के नाम से जाना जाता था।
ब्रिटिश  अधिकारियों, सिविल सेवकों और उनके परिवारों को इंग्लैंड के साउथ हैम्पटेन बंदरगाह से बल्लार्ड पियर मोल स्टेशन मुंबई तक उनको जहाजों से लाया जाता था। फिर इस ट्रेन के द्वारा उनको मनमाड, भोपाल, झांसी, आगरा, मथुरा, दिल्ली, फिरोजपुर, लाहौर के रास्ते पेशावर रेलवे स्टेशन तक लाया जाता था। 1914 में यह ट्रेन विक्टोरिया टर्मिनस (वर्तमान नाम-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस) से
...
more...
प्रस्थान करने लगी। भारत-विभाजन के बाद इस ट्रेन का टर्मिनल स्टेशन फिरोजपुर केंट बनाया गया।
आजादी से पहले अंग्रेजों के जमाने में यह इटारसी, आगरा, दिल्ली, अमृतसर, लाहौर और पेशावर के बीच 2496 किलोमीटर का सफर तय करती थी। शुरू में इसे केवल गोरे अंग्रेज साहबों के लिए चलाया गया था। लेकिन, 1930 से इसमें आम जनता की खातिर थर्ड क्लास के डिब्बे भी लगाए जाने लगे।
आजादी से पहले अमृतसर तक दौड़ती थी
आजादी से दो साल पहले 1945 में पहली बार पंजाब मेल में वातानुकूलित बोगियों को जोड़ा गया। 1947 में स्वतंत्रता के बाद से यह ट्रेन मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (पूर्व नाम विक्टोरिया टर्मिनस) से पंजाब के फिरोजपुर के बीच चल रही है।  24 बोगियों वाली इस ट्रेन में एसी के साथ सामान्य और स्लीपर क्लास की बोगियां भी लगती हैं। अब इसका एक तरफ का सफर 1,930 किलोमीटर का है। अंग्रेजों के जमाने में यह इटारसी, आगरा, दिल्ली, अमृतसर, लाहौर और पेशावर के बीच 2496 किलोमीटर का सफर तय करती थी। शुरू में इसे केवल गोरे अंग्रेज साहबों के लिए चलाया गया था। लेकिन 1930 से इसमें आम जनता की खातिर थर्ड क्लास के डिब्बे भी लगाए जाने लगे।

4 Public Posts - Thu Jun 11, 2020

13945 views
Jun 11 2020 (18:45)
Ye duniya Mera desh humanity Mera dharam
Azeemabadi~   7131 blog posts
Re# 4648479-5            Tags   Past Edits
Not peshawar it was Rawalpindi..

3 Public Posts - Thu Jun 11, 2020

11062 views
Jun 11 2020 (22:04)
Ye duniya Mera desh humanity Mera dharam
Azeemabadi~   7131 blog posts
Re# 4648479-9            Tags   Past Edits
Us time par bhi mumbai Bhusawal srif 8 hrs me great .....aur Delhi Agra 3 hrs 20 m me

7 Public Posts - Fri Jun 12, 2020

6 Public Posts - Sat Jun 13, 2020

1 Public Posts - Thu Jun 25, 2020
Page#    353 Blog Entries  next>>

COVID-19

ONLY COVID-19 Specials are running.
As Corona cases are increasing rapidly, Members are advised to TAKE extra CARE these days.
1. AVOID going outdoors even if lockdown is easing.
2. ALWAYS wear a MASK when OUTDOORS.
3. Wash hands frequently. Do NOT touch your face.


REMEMBER: PREVENTION is the ONLY Option. There is NO CURE.

Leading Polls

Rail News

New Trains

Site Announcements

  • Entry# 4785432
    Nov 21 2020 (02:51AM)


    We are unifying the Bookmark scheme for Blogs & PNRs. Previously, we had different systems of "Followed Blogs", "PNR History", "My PNR Posts", "My PNR Post Predictions", "Stamp Alerts", etc. which were somewhat confusing. Hereafter: For PNRs: 1. You may add ANY PNR to your bookmarks through the "Add Bookmark" link in the...
  • Entry# 4680754
    Aug 03 2020 (10:10PM)


    In the next few days, we shall introduce a "Personal Gallery". This will consist of your own personal pics - no restrictions. You can upload any number of pics to your personal gallery - with with or without trains. This personal gallery will be part of your Member Profile. Thanks.
  • Entry# 4671643
    Jul 18 2020 (11:53PM)


    As our Topics & Quiz section gains popularity, the following change will be made to Quizzes. Starting tomorrow, we shall not reveal the names of people who answered correctly/incorrectly. You will still know how many answered the quiz and the percentage of wrong/right responses. But ONLY the person who answered will know...
  • Entry# 4669324
    Jul 15 2020 (10:01AM)


    Today, we are introducing a new Topic called NEWS-CRITIC. These days, everyday, we are bombarded with spam news, exaggerated news, misleading news, fake news, useless celebrity news, click bait with misleading headlines, etc. Also, much of the news is copied and rewritten from other news outlets, instead of being written first-hand. Everyone...
  • Entry# 4665139
    Jul 09 2020 (12:37AM)


    Over the last few days, there have been concerns expressed by many members that politics are being discussed. Well, with 90% of the trains NOT running over the last 3 months, there is not much rail-fanning happening!!! People have to discuss something. Mature political discussions are allowed in the Topics section,...
  • Entry# 4658593
    Jun 28 2020 (12:39PM)


    To help with the issue of mass tagging of members, we shall soon be expanding the RF Club feature to Pvt Clubs: . 1. Any member will be able to create a Pvt Club and invite other members to join. Joining of any Club is voluntary - members cannot be forced to join...
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy