News Super Search
Posting Date From:
Posting Date To:
IR Press Release:

Full Site Search
Fri Mar 23, 2018 03:53:20 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Fri Mar 23, 2018 03:53:20 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    313536 news entries  <<prev  next>>
Today (00:10)  Railways has ongoing projects worth over Rs 4500 cr in Varanasi: Minister (
back to top
Commentary/Human Interest

News Entry# 332291     
   Past Edits
Mar 23 2018 (00:10)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Saurabh*^~/15807
Stations:  Varanasi Junction/BSB  
NEW DELHI: The Railways has ongoing projects worth over Rs 4,500 crore in Varanasi, the government informed Parliament today.
In a written reply in the Lok Sabha, Minister of State for Railways Rajen Gohain said while projects worth Rs 3938.78 crore were currently underway and will cater to areas near the city, projects worth Rs 616.91 crore were being implemented in the municipal limits of Varanasi.
These have been included in the budget, he said
Uttar Pradesh city of Varanasi is the Parliamentary constituency of Prime Minister Narendra Modi.
The minister listed the various projects being undertaken by the Railways, including a third line between Varanasi and Mughalsarai with a sub structure of two lines on the 16.72km Maliya Bridge. This is a new project included in budget 2017-18 and costs Rs 2005 crore, Gohain said.
Work on 17 foot-over-bridges across rail stations, worth Rs 14 crore, was in progress in the Varanasi division while earth ridge work and ballast supply were underway in the 122km Varanasi-Madhosingh-Allahabad stretch at a cost of Rs 750.56 crore.
A major thrust of the railways would be on remodelling of yards, construction of new platforms, beautification, augmentation of passenger amenities such as waiting halls and approach roads at a total cost of Rs 560 crore.
A sum of Rs 57 crore has also been earmarked for six stations - Amritsar, Haridwar, Raebareli, Varanasi, Kurukshetra and Delhi Safdurjung, which will be developed in association with the Ministry of Tourism, Gohain said.
Since the advent of the BJP-led NDA government at the Centre in May 2014, Uttar Pradesh has seen a growth of 593 per cent in its Railway budget allocation from an average of Rs 1,109 crore between 2009 and 2014 to a total outlay of Rs 7,685 crore in 2018-19.
back to top
Other NewsBMRC/Bangalore Metro  -  

News Entry# 332290     
   Past Edits
Mar 22 2018 (23:52)
Station Tag: KSR Bengaluru City Junction (Bangalore)/SBC added by SWR intrastate trains for Karnataka^~/36147
From now on, you don’t have to scramble and hurry to board a Metro train, you can look at your phone and plan your travel in advance. Namma Metro’s train timings are now available on Google Maps.
Details of the next train for the next couple of hours will be available. If a passenger uses a smartphone and is near the Metro station on any of the two lines (Green or Purple), he/she will get a Google notification about the next train.
When BM did a spot check on the availability
of the train timings on both the lines, it found the timings to be accurate.
If the passenger is in the vicinity of any Metro station, Google Maps will help him/her find the location of the Metro station and give the train timings.
Mahendra Jain, managing director of Bangalore Metro Rail Corporation Limited (BMRCL), told BM, “We got in touch with Google and asked them to have Google Maps integrated with Metro alignment and also incorporate the train timing. However, since our train timings are dynamic, depending upon peak-hour rush at different times on different days, we are not able to give the exact timetable.”
“So, Google has incorporated train timings from the existing timetable from BMRCL website on a pilot basis. We will continue to work with Google in making commuting easy without any cost to us or the commuters,” he added.
If you have Google Maps on a location-enabled devised, click on Maps and then click Train or Bus. This option will allow the passenger to see what is the next public transport service departing at what time from near their location. Scroll and you will see how the Metro station is marked with the letter ‘M’.
Clicking on ‘M’ will give you the station name and open the Namma Metro timetable. During the peak hours it shows, ‘every 5 min’ and during non-peak hours it shows ‘every 10 min’. The outlook of the entire timetable is also colour-coordinated with respect to the Green and Purple line.
Lokesh Raj, a commuter who traveled from Yelechanahalli (Green line to Purple line), said, “I took the 12 pm train and the timing was accurate. I got a regular Google notification and when I was near a well-known location, the location too popped up. It helped me slow down and plan my day.”
Yesterday (23:33)  बीच रास्ते फेल हुआ गंगा-गोमती का इंजन, हंगामा (
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 332289     
   Past Edits
Mar 22 2018 (23:33)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज ■☆*^~/206964

Mar 22 2018 (23:33)
Train Tag: Ganga Gomti Express/14215 added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज ■☆*^~/206964
Stations:  Allahabad Junction/ALD  
इलाहाबाद से लखनऊ जाने वाली गंगा गोमती एक्सप्रेस के डीजल इंजन में बुधवार को खराबी आ गई। फाफामऊ से आगे अटरामपुर स्टेशन पर इंजन की जांच की गई तो मालूम पड़ा कि वह फेल हो गया। यहां काफी देर तक ट्रेन के न चलने से यात्रियों ने खूब हंगामा मचाया। नाराज यात्रियों की रेलवे कर्मियों से बहस भी हुई। इस दौरान कुछ लोगों ने रेल संपत्ति को नुकसान पहुंचने के लिए पथराव का भी प्रयास किया। बाद में दूसरा इंजन आने के बाद ही यात्री शांत हुए। तकरीबन दो घंटे तक अटरामपुर रेलवे स्टेशन पर अफरातफरी मची रही।
इलाहाबाद से गंगा गोमती एक्सप्रेस बुधवार की सुबह जंक्शन से ही सवा घंटे की देरी से रवाना हुई। ट्रेन 7.55 बजे फाफामऊ से लखनऊ
के लिए बढ़ी। इसी बीच ट्रेन ड्राइवर को इंजन में कुछ गड़बड़ी महसूस हुई। किसी तरह ट्रेन को अटरामपुर रेलवे स्टेशन लाया गया। यहां जांच करने के बाद इंजन फेल घोषित कर दिया गया। काफी देर तक ट्रेन स्टेशन पर खड़ी रही। नौ बजे तक ट्रेन नहीं चली तो यात्रियों का धैर्य जवाब दे गया। नाराज यात्रियों ने स्टेशन पर हंगामा शुरू कर दिया। यहां यात्री अड़ गए कि ट्रेन चलाई जाए। हालांकि रेलकर्मियों ने यात्रियों को आश्वस्त किया कि लखनऊ मंडल में इसकी सूचना दे दी गई है।
शीघ्र ही यहां एक इंजन पहुंचने वाला है। इस दौरान कुछ यात्रियों ने पथराव करने का भी प्रयास किया। बाद में अन्य यात्रियों के हस्तक्षेप से मामला शांत हुआ। इस बीच थरवई में खड़ी एक मालगाड़ी का इंजन अटरामपुर रेलवे स्टेशन भेजा गया। प्रयाग जंक्शन से भी दो ड्राइवर मौके पर भेजे गए। सुबह 10.10 बजे ही गंगा गोमती एक्सप्रेस लखनऊ के लिए रवाना हो सकी। जो दिन में 2.30 बजे लखनऊ पहुंची। स्टेशन अधीक्षक अटरामपुर एसएन वर्मा ने बताया कि समय रहते कंट्रोल रूम सूचना भेज दिए जाने की वजह से दूसरा इंजन मौके पर आ गया था।
ट्रेन के जनरल कोच में महिला ने बेटी को दिया जन्म
बुलेट ट्रेन से पहले बढ़ जाएगी भारतीय रेल की स्पीड, दोगुनी हॉर्सपॉवर से दौड़ने को हो रही तैयार
चलती ट्रेन की जनरल बाेगी में गर्भवती काे हुई प्रसव पीड़ा फिर सैकड़ाे लाेगाें के बीच डिलीवरी
Yesterday (23:28)  140 किलोमीटर लंबे रेलखंड का ट्रायल शुरू (
back to top
IR AffairsNER/North Eastern  -  

News Entry# 332288     
   Past Edits
Mar 22 2018 (23:28)
Station Tag: Ballia/BUI added by Saurabh*^~/15807

Mar 22 2018 (23:28)
Station Tag: Ghazipur City/GCT added by Saurabh*^~/15807
Stations:  Ballia/BUI   Ghazipur City/GCT  
जासं, गाजीपुर : वाराणसी सिटी से बलिया के बीच तीन दिवसीय विद्युतीकरण कार्य का ट्रायल शुरू हो गया। सीआरएस (कमिश्नर आफ रेलवे सेफ्टी) एसके पांडेय ने बलिया से गाजीपुर के बीच गुरुवार को सभी विद्युत प्वाइंटों की जांच की। शुक्रवार को वाराणसी से गाजीपुर के बीच विद्युतीकरण, इलेक्ट्रानिक इंटरला¨कग एवं ट्रैक की जांच की जाएगी। सीआरएस की अनुमति के बाद ही ट्रैक पर ईएमयू का संचालन सुनिश्चित किया जाएगा।
सुबह सीआरएस सतीश पांडेय रेलयान में सवार होकर बलिया से चले और हर एक प्वाइंट की जांच किए। पीआरओ ने बताया सीआरएस द्वारा हरी झंडी मिलने के बाद ही इन मार्गों पर इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू किया जाएगा। रेलखंड के विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण
पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी सिटी स्टेशन से बलिया तक 140 किमी रेलखंड का विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है। मुख्य संरक्षा आयुक्त के 22 मार्च से 24 मार्च तक तीन दिवसीय निरीक्षण को लेकर औड़िहार स्टेशन पर तैयारियां पूरी कर ली गई है। स्टेशन अधीक्षक आरके ¨सह ने बताया कि शुक्रवार को साढ़े नौ बजे वाराणसी से सीआरएस निरीक्षण यान से चलेंगे। नौ बजकर 40 मिनट से 10 बजे तक सिटी स्टेशन पर निरीक्षण करेंगे। तत्पश्चात दोपहर एक बजे से डेढ़ बजे तक औड़िहार रेलवे जंक्शन के गेट नंबर 20/ का निरीक्षण करेंगे। बताया कि वाराणसी सिटी स्टेशन से बलिया के बीच परीक्षण तीन दिन तक चलेगा।
Yesterday (22:59)  शताब्दी एक्सप्रेस से पहले दिल्ली के लिए स्कैनिया (
back to top
Commentary/Human InterestNER/North Eastern  -  

News Entry# 332287     
   Past Edits
Mar 22 2018 (22:59)
Station Tag: Lucknow Junction NER/LJN added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज ■☆*^~/206964

Mar 22 2018 (22:59)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज ■☆*^~/206964
शताब्दी एक्सप्रेस से पहले दिल्ली के लिए स्कैनिया
प्रति सीट 1438 रुपये देना होगा किराया साढ़े सात घंटे में पूरा होगा सफर
चारबाग बस अड्डे से दोपहर ढाई बजे दिल्ली के लिए बस शुरू
Click here to enlarge image
संवाददाता, लखनऊ : अगर दिल्ली जाना जरूरी है और शताब्दी एक्सप्रेस में आरक्षण नहीं मिल पाया है तो परेशान न हों। रोडवेज की बस उपलब्ध है। परिवहन निगम प्रशासन ने लखनऊ से दिल्ली के बीच दोपहर ढाई बजे लग्जरी बस स्कैनिया की शुरुआत की है। चारबाग बस स्टेशन से छूटकर यह बस रात ग्यारह बजे दिल्ली के आनन्द विहार टर्मिनल पर पहुंचेगी। इसमें सफर करने के लिए यात्रियों को प्रति सीट 1438 रुपए किराए के रूप में देना होगा। 1यह बस रोज लखनऊ से दिल्ली के बीच चलेगी। दोनों ओर से एक-एक बस का संचालन किया जा रहा है। स्वर्ण शताब्दी एक्सप्रेस में अक्सर आरक्षण नहीं मिल पाता है। ऐसे में यह रोडवेज बस लोगों को खासी राहत देगी। परिवहन निगम प्रशासन ने स्कैनिया बस को ट्रेन से तकरीबन एक घंटे पहले यानी अपराह्न् ढाई बजे चारबाग बस स्टेशन से चलाना शुरू कर दिया है। ग्यारह बजे यह बस सेवा दिल्ली के आनन्द विहार टर्मिनल पर पहुंचेगी। दिल्ली से वापसी के दौरान भी इसी समय पर आनन्द विहार से टर्मिनल से यह बस लखनऊ के लिए रवाना होगी। 1इस बस में करीब साढ़े सात घंटे में लखनऊ से दिल्ली के बीच का सफर पूरा होगा। लखनऊ से दिल्ली के बीच की दूरी 585 किलोमीटर है। ये स्कैनिया बस चारबाग से वाया यमुना एक्सप्रेस-वे कानपुर, औरेया, इटावा, शिकोहाबाद, फरीदाबाद, नोबस सेवा का संचालन शुरू कर दिया गया है। इसके पीछे मंशा है कि जिन लोगों को शताब्दी में दोपहर के वक्त आरक्षण नहीं मिल पाया है। उन्हें इससे राहत मिलेगी। चारबाग बस स्टेशन से इसे चला दिया गया है। बस में सीट बुकिंग के लिए ऑनलाइन और टिकट काउंटर से भी उपलब्ध कराया जा रहा है।1विवेकानंद तिवारी, सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक
Page#    313536 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom

Go to Mobile site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.