News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Tue Nov 21, 2017 02:51:18 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Tue Nov 21, 2017 02:51:18 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    304483 news entries  <<prev  next>>
  
Yesterday (20:26)  वाराणसी स्टेशन पर पानी के लिए तरसे यात्री, विक्रेताओं की चांदी (www.livehindustan.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 322986     
   Past Edits
Nov 20 2017 (20:26)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Varanasi Junction/BSB  
 
 
कैंट रेलवे स्टेशन पर सुविधाओं के प्रति लापरवाही से यात्रियों में गहरी नाराजगी है। यात्री पानी तक के लिए परेशान होते हैं। इसका लाभ स्टेशन के निजी वाटर वेंडिंग मशीन संचालक उठाते हैं। मंगलवार को भी यात्री पानी के लिए परेशान हुए। डिप्टी स्टेशन अधीक्षक (कामर्शियल) कार्यालय में इसकी शिकायत भी दर्ज कराई।
मंगलवार को दोपहर के पहले भी पानी नहीं आ रहा था। इससे यात्री वाटर वेंडिंग मशीन संचालकों से पानी खरीदने को मजबूर हुए या प्यासे ही यहां से रवाना हो गये। इस दौरान ट्रेनों में भी पानी नहीं भरा जा सका। शाम को भी यही हाल था। किसी भी प्लेटफार्म पर पानी नहीं था। इससे कार्यालयों में कर्मचारी भी परेशान हुए। शाम करीब पांच बजे इसकी सूचना प्रसारित की
...
more...
गई तो पानी भरवाया गया।
  
Yesterday (20:24)  वाराणसी स्टेशन पर तीन प्लेटफार्मों की हालत जर्जर, टूट चुके हैं स्लीपर (www.livehindustan.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 322985     
   Past Edits
Nov 20 2017 (20:24)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Varanasi Junction/BSB  
 
 
कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक ही नहीं अन्य प्लेटफॉर्मों की हालत भी बेहद खस्ता है। बीच-बीच में मरम्मत कार्य कराकर किसी तरह काम चलाया जा रहा है। प्लेटफॉर्म नंबर पांच, सात और आठ पर पटरियों में जगह-जगह जंग लग चुकी है तो स्लीपर टूट चुके हैं। बीच-बीच में तीन से चार क्लिप भी खुल चुके हैं। हालांकि प्लेटफॉर्मों पर ट्रेनों की रफ्तार बेहद धीमी रहती है, इस कारण हादसों की आशंका कम है।
प्लेटफॉर्म नंबर की हालत भी बहुत खस्ता थी। इसके बाद पुराने ट्रैक स्लीपर उखाड़कर इसपर नया काम कराया जा रहा है। यहां काम खत्म होने के बाद लखनऊ मंडल के अफसर अन्य प्लेटफॉर्मों के खराब हो चुके वाशिंग एप्रोन को बदलने के लिए काम शुरू कराएंगे।
...
more...

फोर्स ब्लॉक लेकर बदलनी पड़ रहीं पटरियां
पटरियों पर काम कराने के लिए ब्लॉक तक नहीं मिल पा रहा है। जबकि पिछले दिनों यहां आये सीआरबी अश्वनी लोहानी ने यात्री सुरक्षा और संरक्षा पर विशेष जोर देने की बात कही थी। जबकि यहां कैंट स्टेशन पर ट्रैफिक दबाव के चलते ब्लॉक नहीं मिल पा रहा है। अभी 15 नवंबर को प्लेटफॉर्म नंबर पांच पर करीब 13 मीटर पटरी बदलने के लिए सुबह 10 बजे से एक घंटे का ब्लॉक मांगा गया था। दोपहर बाद तक ब्लॉक न दिये जाने पर इंजीनियरिंग विभाग ने फोर्स ब्लॉक लेकर काम कराया।
  
Yesterday (20:20)  चारबाग से छूटने के बाद केकेसी ब्रिज पर एसीपी में खड़ी हुई सद्भावना,प्लेटफार्म की लंबाई कम होना यात्रियों के लिए बन रहा परेशानी का सबब (www.livehindustan.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 322984     
   Past Edits
Nov 20 2017 (20:20)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Nov 20 2017 (20:20)
Train Tag: Sadbhavana Express/14016 added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Lucknow Charbagh NR/LKO  
 
 
- चारबाग से छूटने के बाद केकेसी ब्रिज पर एसीपी में खड़ी हुई सद्भावना
चारबाग रेलवे स्टेशन से छूटकर ट्रेन 14016 सद्भावना जब केकेसी ब्रिज पर जाकर खड़ी हुई तो पॉवर केबिन सुपरवाइजर एके जायसवाल ने इसकी शिकायत आरपीएफ से की। सूचना मिलने के बाद आरपीएफ कर्मी के साथ गार्ड भी मौके पर पहुंचा। केकेसी पुल पर करीब 15 मिनट यात्रियों ने ट्रेन को एसीपी(चेन पुलिंग) में खड़े रखा। मौके पर आरपीएफ ने करीब आधा दर्जन ट्रेन से उतरने वाली महिलाओं को एसीपी करने के चलते पकड़ लिया।
महिलाओं ने आरपीएफ को जानकारी
...
more...
दी कि प्लेटफार्म नंबर दो काफी छोटा है, जिसके चलते अधिकांश ट्रेन जब प्लेटफार्म नंबर दो पर आती है तो इसके पीछे के तीन से चार डिब्बे प्लेटफार्म से ही बाहर हो जाते हैं। इसी के चलते सद्भावना के जनरल कोच में यात्रा कर रही महिलाओं को इस बात की जानकारी ही नहीं हो सकी कि ट्रेन स्टेशन पर रुकी थी कि रास्ते में कहीं। ट्रेन चलने के बाद जब महिला यात्रियों ने देखा कि ट्रेन चारबाग रेलवे स्टेशन से गुजरते हुए पार कर गई तो उन्हें चेन पुलिंग कर ट्रेन को रास्ते में ही रोकना पड़ा।
महिला यात्रियों की परेशानियों को समझकर मौके पर मौजूद गार्ड एसची राम और आरपीएफ एसआई आरबी मौर्य ने महिलाओं का वहां से चलता कर दिया। आरपीएफ ने प्लेटफार्म की लंबाई कम होने से ट्रेनों में बढ़ती एसीपी की समस्या को रेलवे विभाग को एक पत्र भी लिखकर भेज दिया है।
  
Yesterday (20:19)  रेलवे नए ढर्रे पे, रिटायर्ड रेल कर्मियों से स्टॉफ की कमी करेगा दूर (www.livehindustan.com)
back to top
New Facilities/TechnologyNR/Northern  -  

News Entry# 322983     
   Past Edits
Nov 20 2017 (20:19)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Lucknow Charbagh NR/LKO  
 
 
- लखनऊ मंडल के चेकिंग स्टॉफ में ही मात्र 155 कर्मियों की कमी
इस समय रेलवे में चतुर्थ श्रेणी और तृतीय श्रेणी कर्मचारियों का टोटा बना हुआ है। अनमैन्ड संचालित हो रही ट्रेनें, बिना टीटीई के यात्रियों की परेशानियां, पटरी पर ट्रैकमैन की कमी से बढ़ते एक्सीडेंट और तमाम समस्याओं से रेलवे विभाग जूझ रहा है। यह हाल केवल प्रदेश का ही नहीं, बल्कि पूरे इंडियन रेलवे का बना हुआ है। अपनी इसी कमी को दूर करने के लिए रेलवे ने एक नया तरीका खोज निकाला है। इसके लिए रेलवे ने एक सर्कुलर जारी किया है, जिसके तहत पद का उपभोग करने के दौरान मृत्यु हो जाने वाले एवं रिटायर्ड होने के बाद रिक्त हुए पदों पर रिटायर्ड कर्मियों को वापस लगाने
...
more...
की तैयारी की जा रही है। रेलवे बोर्ड से मिले सर्कुलर के बाद रेलवे में रिटायर्ड कर्मचारियों से आवेदन मांगना शुरू कर दिया है। रेलवे अपने खाली पड़े पदों पर इनकी भर्ती कर अब यात्रियों को सुविधा मुहैया कराएगा।
रेलवे में सबसे बड़ी समस्या है ट्रेनों का संचालन। इसी कमी को दूर करने के लिए यह निर्णय लिया गया है। इस समय पूरे भारत में ट्रैकमैन को पटरियों पर लगाकर मरम्मत का काम कराया जा रहा है, जिससे सबसे पहले ट्रेनों के संचालन को सुगम बनाया जा सके। वहीं, स्टॉफ की कमियों को दूर करने के लिए ही रिटायर्ड कर्मियों से आवेदन मांगे गए हैं।
मानवरहित हो रही ट्रेनें बन रही थी समस्या
रेलवे में चेकिंग स्टॉफ की कमी बहुत बड़ी समस्या थी। अधिकांश ट्रेनें बिना टीटीई के दौड़ाई जा रही है। एक तरफ ट्रेनों में टीटीई न होने से यात्रियों को भी भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, वहीं रेलवे को आर्थिक रूप से भी काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इसके अतिरिक्त ऑपरेटिंग विभाग के कर्मचारियों से भी आवेदन मांगा गया है क्योंकि इनकी भी भारी तदाद में कमी है। 16 नवंबर को अंतिम तिथि निर्धारित की गई थी, जिससे पहले बहुत से कर्मियों ने अपने आवेदन भेजे हैं। ऑपरेशन के काम के लिए रिटायर्ड कर्मियों को रेलवे की सारी शर्ते पूरी करनी होगी व मेडिकल टेस्ट भी कराना अनिवार्य रखा गया है।
आखिरी वेतन से पेंशन हटाकर होगा भुगतान
रेलवे इस काम के लिए रिटायर्ड कर्मियों को लगाकर उन्हें उनके आखिरी वेतनभुगतान के बराबर पेंशन हटाकर भुगतान करेगा। इसके साथ उन्हें डीए भी मिलेगा, जबकि रिटायर्ड कर्मियों के काम करने के साथ छुट्टी का कोई प्रावधान नही है। न ही उन्हें रेस्ट का पैसा मिलेगा और न ही नाइट ड्यूटी का पैसा। इस हिसाब से एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को 425 रुपये प्रतिदिन और तृतीय श्रेणी कर्मचारी को 565 रुपये प्रतिदिन का भुगतान होगा। इसमें 7वें पे कमीशन को भी जोड़ने की बात चल रही, जिसके जुड़ने के बाद यह भुगतान और बढ़ जाएगा।
सितंबर 2018 तक रिटायर्ड कर्मी करेंगे काम
इन कर्मियों से रेलवे 62 साल की उम्र तक ही काम लेगा। इसके बाद इन कर्मियों को हटा दिया जाएगा। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि आरआरबी या द्वारा जब तक रेलवे में पदों को भरने की प्रक्रिया नहीं शुरू होती, रिटायर्ड कर्मियों से काम लिया जाता रहेगा। भर्ती प्रक्रिया पूरी होते ही सभी को हटा दिया जाएगा। सर्कुलर के हिसाब से सभी रिटायर्ड रेलवे कर्मियों की तैनाती की अंतिम तिथि 14 सितंबर 2018 तक ही या 62 साल की आयु पूर्ण करने तक होगी।
  
Yesterday (20:18)  बरेली वाराणसी अचानक हुई निरस्त, परेशानी बढ़ी (www.livehindustan.com)
back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 322982     
   Past Edits
Nov 20 2017 (20:18)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
वाराणसी से बरेली जाने वाली और बरेली से वाराणसी जाने वाली ट्रेन 14235/14236 वाराणसी-बरेली-वाराणसी एक्सप्रेस का संचालन रविवार को लखनऊ से बरेली के बीच निरस्त रखा गया था। रविवार को वाराणसी से चलकर 14235 वाराणसी-बरेली एक्सप्रेस पांच घंटे देरी से लखनऊ पहुंची। बरेली जाने वाले अधिकांश यात्री ट्रेन के बरेली जाने का इंतजार कर रहे थे लेकिन पूछताछ से लखनऊ से बरेली के बीच ट्रेन निरस्त होने की जानकारी के बाद यात्रियों को निराशा ही हाथ लगी। दरअसल, रोजा और बरेली के बीच मेगा ब्लॉक लगाकर पटरी मरम्मत का कार्य संपादित हो रहा है, जिसके चलते ट्रेन का संचालन निरस्त रखा गया।
वहीं, वाराणसी जाने वाले यात्रियों का इंतजार तब खत्म हुआ, जब ट्रेन 14235 राजधानी पहुंची। ट्रेन के प्लेटफार्म पर आते
...
more...
ही वाराणसी जाने के इंतजार में खड़े यात्री ट्रेन में सवार हो गए। तभी अचाकर एनाउंसमेंट कर ट्रेन को लखनऊ से वाराणसी के बीच भी निरस्त कर दिया गया। अचानक ट्रेन के निरस्त होने से प्रतीक्षा में खड़े यात्रियों ने प्लेटफार्म पर हंगामा करना शुरू कर दिया, जिसके बाद रेलवे स्टॉफ और आरपीएफ की मदद से किसी तरह यात्रियों को समझाकर शांत कराया गया और बैठे हुए यात्रियों को ट्रेन से नीचे उतारा गया। इस बीच प्लेटफार्म घिरे होने से काफी ट्रेन आउटसाइड होकर प्रभावित रही।
Page#    304483 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.