Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Jul 19 01:53:43 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Feedback
Advanced Search
Page#    22914 news entries  next>>
  
Yesterday (22:41) दिल्ली-चंडीगढ़ रुट पर चलेगी तेजस ट्रेन, 15 अगस्त को पीएम मोदी कर सकते हैं उद्घाटन (www.amarujala.com)
New/Special Trains
NR/Northern
0 Followers
557 views

News Entry# 346530  Blog Entry# 3640804   
  Past Edits
Jul 18 2018 (22:41)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by जबलपुर देहरादून श्री नंदा देवी एक्सप्रेस~/1833693
Stations:  New Delhi/NDLS  
दिल्ली से चंडीगढ़ जाने वाले रेल यात्रियों को जल्दी ही बड़ी खुशखबरी मिल सकती है। इस रुट पर पहली तेजस ट्रेन चलाई जा सकती है। स्वयं प्रधानमंत्री आगामी 15 अगस्त को इसका उद्घाटन कर सकते हैं। तेजस ट्रेन चलने के बाद चंडीगढ़ तक की दूरी महज तीन घंटे में पूरी हो जाएगी। अभी इस यात्रा में चार से पांच घंटे का समय लगता है। कालका शताब्दी एक्सप्रेस से भी यह दूरी लगभग साढ़े तीन घंटे में पूरी होती है।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर रेलवे के दिल्ली डिवीजन को पहली तेजस ट्रेन बुधवार को ही मिल चुकी है। रेल अधिकारियों ने इसका आवश्यक निरीक्षण भी कर लिया है। ट्रेन में 19 कोच लगाए जा सकते हैं जिनका निर्माण कपूरथला रेल कोच फैक्ट्री में किया गया है। पहले इस ट्रेन को इसी वर्ष में मार्च में चलाए जाने की योजना थी, लेकिन समय पर कोचों की आपूर्ति न हो पाने के कारण...
more...
इस योजना को टाल दिया गया था।क्या है तेजस की खासियतसाल 2016 में पहली तेजस ट्रेन मुंबई से गोवा के बीच चलाई गई थी। तेजस को सेमी हाईस्पीड ट्रेन कहा जाता है, क्योंकि इसके चलने की औसत गति सीमा भी 130 किलोमीटर प्रति घंटा होती है। हलांकि इसे कुछ जगहों पर 180 किलोमीटर प्रति घंटे की सीमा तक भी चलाया जा सकता है। औसत भारतीय ट्रेनों की स्पीड 56 किलोमीटर प्रति घंटा है।सुविधाएं होंगी खाससूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रेलवे विभाग तेजस ट्रेनों में हवाई यात्रा के दौरान मिलने वाली सुविधाओं के जैसी सुविधाएं देने की योजना बना रहा है। यात्रियों को उनके मनपसंद भोजन देने के साथ यात्रा के दौरान मनोरंजन के लिए एलईडी टीवी, पढ़ने के लिए विशेष लाइटें, पानी रखने और विशेष फोन चार्जिंग प्वाइंट दिए जाएंगे। बायो टॉयलेट और ट्रेन की विशेष साफ-सफाई यात्रियों को अपनी ओर आकर्षित करेगी। .social-poll {margin:0px auto;width:300px;} .social-poll .poll-wrapper {box-sizing: border-box;}
  
रेलवे ने सितंबर से नवंबर माह के बीच फेस्टिवल सीजन के दौरान ट्रेनों में मचने वाली भीड़ से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। दशहरा, दिवाली और छठ जैसे त्योहारों के चलते अभी से ट्रेनों की टिकट फुल हो चुकी हैं। ऐसे में रेलवे इस बिजी सीजन में अलग-अलग रूटों पर करीब 2000 स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी कर रहा है। रेलवे पिछले कई सालों से बढ़ती भीड़ से निपटने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने के अलावा ट्रेनों में एक्स्ट्रा कोच भी जोड़ता है।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे करीब 600 स्पेशल ट्रेनें सितंबर माह में चला सकता है। 1000 ट्रेनें अक्टूबर में और 500 ट्रेनें नवंबर माह में चलाई जा सकती हैं।
रेल
...
more...
टिकट रिफंड के लिए अब नहीं करना होगा ज्यादा इंतजार
फेस्टिवल सीजन में यूपी, बिहार, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, गुजरात, राजस्थान जैसे रूटों पर यात्रियों की तादाद कई गुना बढ़ जाती है। तत्काल टिकट भी बुक करना मुश्किल हो जाता है। भीड़ के कारण अनारक्षित टिकट वाले लोगों को स्लिपर कोच में यात्रा करनी पड़ती है।
दिवाली-छठ के लिए अभी से ट्रेनों में नो रूम की स्थिति है। चार माह पहले रिजर्वेशन शुरू होते ही सीटें भर जा रही हैं। काउंटर खुलने के एक घंटे के अंदर ही दलाल फर्जी नामों से टिकट बुक करा ले रहे हैं। ऐसे में दिवाली और छठ पर घर आने वालों को तत्काल टिकट का ही भरोसा दिख रहा है। बिहार आने वाली सभी ट्रेनों का यही हाल है। टिकट नहीं मिलने पर बाहर रहने वाले बिहार के लोगों को दिवाली व छठ के समय अपने गावं-घर आना मुश्किल हो रहा है। दिल्ली, सूरत, अमृतसर, मुंबई, चेन्नई, बेंगलुरू जैसे शहरों से आने वाली ट्रेनों में नो रूम की स्थिति है। टू एससी, थ्री एसी और स्लीपर क्लास के टिकट अभी से वेटिंग में चले गए हैं।
छठ महापर्व का सांध्यकालीन अर्घ्य 13 नवंबर को है। 11 नवंबर से नहाय-खाय के साथ ही छठ का अनुष्ठान शुरू हो जाएगा। ऐसे में दिल्ली में रहने वाले लोग नौ नवंबर तक टिकट हर हाल में बुक कराना चाह रहे हैं ताकि वे 10 नवंबर तक घर पहुंच जाएं। छठ की तैयारी कर सकें। मुंबई या 24 घंटे से अधिक की यात्रा वाले शहरों में रहने वाले लोगों को 8 नवंबर तक टिकट नहीं मिला है तो उनके लिए तत्काल टिकट का भी अब आसरा बचा है।
  
रेलवे ने सितंबर से नवंबर माह के बीच फेस्टिवल सीजन के दौरान ट्रेनों में मचने वाली भीड़ से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। दशहरा, दिवाली और छठ जैसे त्योहारों के चलते अभी से ट्रेनों की टिकट फुल हो चुकी हैं। ऐसे में रेलवे इस बिजी सीजन में अलग-अलग रूटों पर करीब 2000 स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी कर रहा है। रेलवे पिछले कई सालों से बढ़ती भीड़ से निपटने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने के अलावा ट्रेनों में एक्स्ट्रा कोच भी जोड़ता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे करीब 600 स्पेशल ट्रेनें सितंबर माह में चला सकता है। 1000 ट्रेनें अक्टूबर में और 500 ट्रेनें नवंबर माह में चलाई जा सकती हैं। रेल टिकट रिफंड के लिए अब नहीं करना होगा ज्यादा इंतजार फेस्टिवल सीजन में यूपी, बिहार, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, गुजरात, राजस्थान जैसे रूटों पर यात्रियों की तादाद कई गुना बढ़ जाती है। तत्काल टिकट भी बुक करना मुश्किल हो...
more...
जाता है। भीड़ के कारण अनारक्षित टिकट वाले लोगों को स्लिपर कोच में यात्रा करनी पड़ती है। दिवाली, छठ के लिए नहीं मिल रहा कन्फर्म ट्रेन टिकट, सीटें हो रहीं फुलमौजूदा हालातदिवाली-छठ के लिए अभी से ट्रेनों में नो रूम की स्थिति है। चार माह पहले रिजर्वेशन शुरू होते ही सीटें भर जा रही हैं। काउंटर खुलने के एक घंटे के अंदर ही दलाल फर्जी नामों से टिकट बुक करा ले रहे हैं। ऐसे में दिवाली और छठ पर घर आने वालों को तत्काल टिकट का ही भरोसा दिख रहा है। बिहार आने वाली सभी ट्रेनों का यही हाल है। टिकट नहीं मिलने पर बाहर रहने वाले बिहार के लोगों को दिवाली व छठ के समय अपने गावं-घर आना मुश्किल हो रहा है। दिल्ली, सूरत, अमृतसर, मुंबई, चेन्नई, बेंगलुरू जैसे शहरों से आने वाली ट्रेनों में नो रूम की स्थिति है। टू एससी, थ्री एसी और स्लीपर क्लास के टिकट अभी से वेटिंग में चले गए हैं।खुशखबरी! IRCTC से रेल टिकट बुकिंग में फिलहाल मिलती रहेगी ये छूटछठ महापर्व का सांध्यकालीन अर्घ्य 13 नवंबर को है। 11 नवंबर से नहाय-खाय के साथ ही छठ का अनुष्ठान शुरू हो जाएगा। ऐसे में दिल्ली में रहने वाले लोग नौ नवंबर तक टिकट हर हाल में बुक कराना चाह रहे हैं ताकि वे 10 नवंबर तक घर पहुंच जाएं। छठ की तैयारी कर सकें। मुंबई या 24 घंटे से अधिक की यात्रा वाले शहरों में रहने वाले लोगों को 8 नवंबर तक टिकट नहीं मिला है तो उनके लिए तत्काल टिकट का भी अब आसरा बचा है।c
  
Yesterday (14:33) BMRCL increases frequency during non-peak hours (www.newindianexpress.com)
New/Special Trains
BMRC/Bangalore Metro
0 Followers
541 views

News Entry# 346409  Blog Entry# 3639377   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
Posted by: a2z~ 4462 news posts
BENGALURU:  There is some good news in store for Namma Metro passengers travelling during non-peak hours. Bangalore Metro Rail Corporation Ltd (BMRCL) has increased the number of trips being operated during non-peak hours on both its Purple and Green lines from Monday. In the process, Namma Metro has smashed its own record by running more than 300 trips in a day. From running a train every 10 minutes between 11.30 am and 4 pm, BMRCL has now started operating a train every 8 minutes. 
“On Monday and Tuesday, a total of 311 trips each day were operated  — our highest for a day. While the Purple Line (Baiyappanahalli-Mysuru Road) saw 179 trips (up from 171 earlier), the Green Line (Nagasandra - Yelachenahalli) saw
...
more...
132 trips (up from 125),” A S Shankar, Executive Director, Operations and Maintenance, BMRCL, told The New Indian Express. 
As a result,  the number of passengers on board crossed the 4-lakh mark on Monday and the revenue touched `1.15 crore — both highly impressive figures. “We brought down the gap between consecutive trains to 8 minutes from 10 minutes. This has been done to make passenger journeys more comfortable as we noticed congestion even during non-peak hours,” Shankar said. “We even heard passengers murmur that travelling inside a Namma Metro train felt like being inside a Mumbai commuter train,” he quipped.  Asked about the impact the move has had, he said the coaches appeared slightly less jam packed on Monday and Tuesday. 
On the possibility of running six-coach trains even during the non-peak hours, he said, “Reducing the waiting time between the three-coach trains is more than enough to manage the rush.” The earnings on Monday stood at `1.15 crore. “This is the highest earning in the middle of a month. The highest earning though is `1.3 crore. Our fare revenue is usually very high in the first week when commuters recharge their Metro cards after getting their salaries,” he added.
  
Jul 17 (22:03) ‘हिंदुस्तान' में टे्रन चलाने की मांग की खबर छपने के बाद सोमवार को रेलवे के अधिकारियों ने रेलवे स्टेशन बंनगाई का स्थलीय निरीक्षण किया (epaper.livehindustan.com)
New/Special Trains
NER/North Eastern
0 Followers
1943 views

News Entry# 346318  Blog Entry# 3637964   
  Past Edits
Jul 17 2018 (22:03)
Station Tag: Bahraich/BRK added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज ■☆*^~/206964

Jul 17 2018 (22:03)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज ■☆*^~/206964
Stations:  Gonda Junction/GD   Bahraich/BRK  
स्टेशन का निरीक्षण 17 Jul 2018Image ViewAAA
रुपईडीह । ‘हिंदुस्तान' में टे्रन चलाने की मांग की खबर छपने के बाद सोमवार को रेलवे के अधिकारियों ने रेलवे स्टेशन बंनगाई का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान रेलवे इंक्वायरी के सब इंस्पेक्टर प्रशांत मिश्रा द्वारा स्थानीय लोगों से पूछताछ की। टीम ने स्थानीय लोगों को बताया कि जल्द ही इस रूट पर ट्रेनें दौड़ने लगेंगी। तैयारियां जोरों पर हैं

  
1897 views
Jul 17 (22:04)
12649⭐️ KSK ⭐️12650^~   33698 blog posts   27866 correct pred (73% accurate)
Re# 3637964-1            Tags   Past Edits
Train chalegi to ye newsp. wale bolenge hamare karan chali

  
1876 views
Jul 17 (22:06)
☆अलविदा गोंडा मीटरगेज ■☆*^~   18398 blog posts   3162 correct pred (65% accurate)
Re# 3637964-2            Tags   Past Edits
manoj sinha ka time nahi mil pa rah ...warna ab tk chal chuki hoti train

  
1523 views
Jul 17 (22:26)
Bahraich Pichda Rail   52 blog posts
Re# 3637964-3            Tags   Past Edits
Ek ek minute pr Twitter par twit karna ka time h unke pas par ek din k liye yaha aane ka nhi jabki railway ka khudka loss ho raha h
Page#    22914 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy