Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

👑King Bole To Mumbai Rajdhani Express - Abdul Rehman

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat Sep 26 23:51:32 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 413011
Jul 04 (07:46) 151 जोड़ी ट्रेनों को निजी कंपनियों को बेचने का विरोध (m.livehindustan.com)
0 Followers
13075 views

News Entry# 413011  Blog Entry# 4661808   
  Past Edits
Jul 04 2020 (07:47)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by Welcome VIKRAMSHILA in 130mps family/1480955
Stations:  Jamalpur Junction/JMP  
एआईआरएफ नई दिल्ली व ईआरएमयू कोलकाता के संयुक्त आह्वान पर रेलवे निजीकरण व मजदूर विरोधी नीति के खिलाफ ईआरएमयू, कारखाना शाखा जमालपुर के कार्यकर्ताओं ने हुंकार भरी। प्रतिवाद दिवस की सफलता को लेकर मुख्य कारखाना प्रबंधक को आठ सूत्री मांगों का ज्ञापन भी सौंपा।इससे पूर्व कार्यकर्ताओं ने कारखाना परिसर में जुलूस निकालकर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व एआईआरएफ की वर्किंग कमेटी सदस्य वीरेंद्र प्रसाद यादव, केंद्रीय उपाध्यक्ष सत्यजीत कुमार, जमालपुर शाखाध्यक्ष विश्वजीत कुमार व सचिव मनोज कुमार ने सामूहिक रूप से किया। जुलूस जमालपुर कारखाना हेल्थ यूनिट परिसर से निकलकर डब्लूआरएस वन, टू, थ्री, फोर, चक्का घर, डीजल शॉप, मशीन शॉप, टीटीएस, एमटीएस होते हुए पुन: कारखाना हेल्थ यूनिट परिसर में पहुंची, तथा एक सभा में तब्दील हो गयी। सभा की अध्यक्षता विश्वजीत कुमार ने की, तथा संचालन सचिव मनोज कुमार ने किया। मौके पर वीरेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि केंद्र...
more...
सरकार की 100 दिन प्रोग्राम के नाम पर भारतीय रेलवे का अस्तित्व समाप्त करने की नीति बनायी गयी है। जो भारतीय रेल के इतिहास में सबसे बड़ा काला दिन साहिब होगा। इसे हम किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि आज देश के दर्जन भर स्टेशनों, कल-कारखानों और 151 ट्रेनों को निजीकरण करने की अनुमति दे दी गयी है। यहां रेलकर्मचारी की जगह अब प्राइवेट के ठेकेदारों का चुनिंदा लोग कार्य करेंगे। इससे निश्चित ही क्वालिटी में कमी आएगी और रेल हादसों का दौर जारी हो जाएगा। सचिव मनोज कुमार ने कहा कि अगर आज हमलोग एक नहीं हुए, तो हमारा भविष्य के साथ साथ देश का भारतीय रेल का भी भविष्य अंधकारमय हो जाएगा। मौके पर अनिल प्रसाद, बहावउद्दीन, संजय ओझा, ओमप्रकाश साह, अर्जुन सिंह, टुनटुन ठाकुर, विपिन सिंह, दीपक सिन्हा, संजय सिंह मौजूद थे।

Rail News
5762 views
Jul 06 (16:39)
Jai Sri Krishna~   1252 blog posts
Re# 4661808-1            Tags   Past Edits
It shows frustration of railway employee. Providing another option to passenger is always good for healthy completion.Railway said already none of the railway employee will loose job. Still they are creating drama. They have never shown any aggression when n number of project delayed.
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy