Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

RailFans don't miss their train. Why? Because they go to the station HOURS before the actual departure of their Train - to watch OTHER trains depart. - Prince Maan

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat Jan 18 02:47:50 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Stream
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 399038
  
Jan 15 (08:48) मुन्नी को वीरान जगह छोड़ गई थी छुक-छुक गाड़ी, बजरंगी भाई जान बन रेलकर्मी ने अपनों से मिलाया Dhanbad News (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
1710 views

News Entry# 399038  Blog Entry# 4540472   
  Past Edits
Jan 15 2020 (08:49)
Station Tag: Nandyal Junction/NDL removed by Adittyaa Sharma^~/1421836

Jan 15 2020 (08:49)
Station Tag: Nandyal Junction/NDL added by Adittyaa Sharma^~/1421836

Jan 15 2020 (08:49)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Adittyaa Sharma^~/1421836
Stations:  Dhanbad Junction/DHN  
धनबाद, जेएनएन। सलमान खान की बहुचर्चित फिल्म बजरंगी भाई जान का वह सीन आपको याद होगा, जिसमें मुन्नी टेन से उतरती है और टेन खुल जाती है। बाद में बजरंगी भाई जान उसे उसके घर तक छोड़ने जाते हैं। कुछ ऐसा ही सोमवार की सुबह हुआ जब एक बच्ची शौच के लिए ट्रेन से उतरी और ट्रेन उसे छोड़कर चली गई। भोर के तकरीबन चार बजे चारों ओर अंधेरा और सन्नाटा था। खुद को अकेला पाकर बच्ची बुरी तरह टूट चुकी थी। फिर भी हिम्मत जुटाकर पटरी के किनारे आगे बढ़ने लगी। चंद कदमों के बाद उसे एक शख्स ने उसे देख लिया। वह रेलवे का पेट्रोलमैन हितेश था, जो नाइट पेट्रोलिंग कर रहा था।
हितेश ने न सिर्फ बच्ची का ढांढ़स
...
more...
बंधाया, बल्कि उसके साथ घंटों रहे। उन्होंने गांवों में जाकर बच्ची के रिश्तेदारों को ढूंढ़ा। दिनभर मेहनत करने के बाद आखिरकार परिजनों की खबर मिल गई। परिजनों के आने के बाद हितेश सिंह ने बच्ची को उन्हें सौंप दिया।
क्या है मामला : पटना-हटिया एक्सप्रेस की जनरल बोगी में अपने चचेरे भाई सूरज सिंह के साथ धनबाद आ रही थी। ट्रेन में काफी भीड़ होने के कारण शौच के लिए वह गझंडी-कोडरमा स्टेशन के बीच आइबीएच पर ट्रेन रुकने के बाद उतर गई। इसी बीच ट्रेन खुल गई। अंधेरे और सुनसान जगह पर अकेले होने से बच्ची बुरी तरह डर गई थी। पर कुछ ही देर में पेट्रोलमैन हितेश कुमार सिंह की नजर बच्ची पर पड़ी, तो वह बच्ची के पास पहुंचे और उससे पूछताछ की।
ऐसे मिला परिजनों का पता : बच्ची के घर का पता ढूंढ़ना इतना आसान नहीं था। रेलकर्मी ने उससे कई बार पूछा, लेकिन वह मोबाइल नंबर नहीं बता सकी। बाद में उसे तिलैया बस्ती ले गए, जहां लगभग 50 मजदूर बिहार के औरंगाबाद के थे। उनसे संपर्क होने के बाद औरंगाबाद में रहनेवाले विजय कुमार से बात हुई और उन्होंने बच्ची के पिता नवल किशोर सिंह को जानकारी दी। पिता से बात कर रेलकर्मी ने उन्हें कोडरमा बुलाया। कुछ देर बाद चचेरे भाई के पहुंचने पर उसे उसके हवाले कर दिया। 
डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

  
Rail News
476 views
Jan 15 (11:04)
AK84~   2856 blog posts   2801 correct pred (76% accurate)
Re# 4540472-1            Tags   Past Edits
News reporter Salman ka bahut bada fan lagta hai....First Day, First Show wala....

  
483 views
Jan 15 (11:05)
Adittyaa Sharma^~   18536 blog posts   17919 correct pred (79% accurate)
Re# 4540472-2            Tags   Past Edits
Salman bhi unke dil mein rehte hain,dimaag mein nahin😁😁😁

  
475 views
Jan 15 (11:06)
AK84~   2856 blog posts   2801 correct pred (76% accurate)
Re# 4540472-3            Tags   Past Edits
1 compliments
😂😂😂
Hehe..tabhi "Tubelight" jal nahi paati...
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy