Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

12567/68 राज्यरानी सुपरफास्ट की धाक राजधानी से कम नहीं है। - Prabhat Sharan

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon Sep 21 09:34:36 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 416046
Aug 08 (22:57) मुंबई वासी भी करेंगे भागलपुर की कला मंजूषा का दीदार, रेलवे ने की है यह पहल (www.jagran.com)
0 Followers
10607 views

News Entry# 416046  Blog Entry# 4683933   
  Past Edits
Aug 08 2020 (22:57)
Station Tag: Malda Town/MLDT added by jeetendrapoddar/1561784

Aug 08 2020 (22:57)
Station Tag: Munger (Monghyr)/MGR added by jeetendrapoddar/1561784

Aug 08 2020 (22:57)
Station Tag: Malda Town/MLDT added by jeetendrapoddar/1561784

Aug 08 2020 (22:57)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by jeetendrapoddar/1561784
भागलपुर, जेएनएन। ट्रेन परिचालन शुरू होने के बाद भागलपुर से मुंबई तक चलने वाली लोकमान्य तिलक टर्मिनल सुपरफास्ट के एलएचबी कोचों पर मंजूषा पेंटिंग दिखेगी। इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है। पेंटिंग पर करीब साढ़े तीन लाख खर्च होंगे। मुंबई के लोग बूढ़ानाथ मंदिर और बिहुला विषहरी का भी दीदार करेंगे। ट्रेन के कोचों में भागलपुर का विक्रमशिला विवि, सेतु से लेकर अन्य तरह के प्रसिद्ध चित्र रहेंगे। भागलपुर कोचिंग डिपो में मंजूषा पेंटिंग की जाएगी।
पेंटिंग में तीन रंग का होता है प्रयोग
पेंटिंग में तीन रंग हरा, गुलाबी और
...
more...
पीला का इस्तेमाल किया जाएगा। भगवान शिव की पुत्री विषहरी, बिहुला और चांदो सौदागर के अलावा चंपा फूल, सूर्य, चांद, हाथी, कछुआ, मछली, मैना पक्षी, कमल फूल, कलश, तीर, शिवलिंग, पौधे और बेलपत्र को भी उकेरा जाएगा। दरअसल, अभी भागलपुर-आनंद विहार टर्मिनल विक्रमशिला और एलटीटी के एक रैक में मंजूषा पेंटिंग होनी है। अभी ट्रेनों में मंजूषा पेंटिंग जंक्शन के दीवारों पर पेंटिंग कराई गई है। इस पेंटिंग में स्टेशन और प्लेटफार्म की दीवारों में सीता की विदाई, रेल इंजन, दुल्हन की डोली, जीव-जन्तु व पर्यावरण संरक्षण से संबंधित पेंटिग कराई गई है।

एक कोच पर 10 हजार होंगे खर्च
रेलवे अधिकारी ने बताया कि एक कोच पर पेंटिंग कराने पर आठ से 10 हजार खर्च होंगे। दो ट्रेन के 40 कोचों पर 3.20 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। रेल अधिकारी ने बताया कि परिचालन शुरू होने के बाद कोचों में पेंटिंग कराने का काम शुरू होगा।
भागलपुर की लोक कला है मंजूषा
जिस तरह मिथिला की लोक कला मधुबनी पेंटिंग है। उसी तरह भागलपुर की यह प्रसिद्ध कला है। बकायदा, मंजूषा आर्ट के लिए भागलपुर में प्रशिक्षण केंद्र भी है। मंजूषा पेंटिंग का तीन माह कोर्स कराया जाता है। यहां से प्रशिक्षण लेने के बाद सरकार की ओर से टूल किट उपलब्ध कराए जाते हैं। मंजूषा कला रोजगार प्राप्‍त करने का भी माध्‍यम है। इस कला की प्रसिद्धि भागलपुर में ही नहीं, बल्कि देश-विदेश में है।
 
Posted By: Dilip Shukla

Rail News
3368 views
Aug 11 (00:15)
Jai Sri Krishna~   1243 blog posts
Re# 4683933-1            Tags   Past Edits
Paise barbad karne ka unique idea. It will not add any value for passenger. Such system provide opportunity for corruption. We know financial condition of railway is pathetic and such decision is disastrous.

3105 views
Aug 11 (01:07)
Pankaj
Pankaj0915~   256 blog posts
Re# 4683933-2            Tags   Past Edits
Sab golmaal hai.... politics karne ka best way hai....Name passengers entertainment..amd kaam apna jeb bharna...
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy