Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Poorva Express: हुगली सी बहती तेरी चाल है पूर्वा तू बेमिसाल है - Keshav Singh

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Tue Oct 27 20:49:09 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 419402
Sep 24 (09:51) केंद्री से धमतरी लाइन को ब्रॉडगेज करने में रेलवे पिछड़ा (www.patrika.com)
SECR/South East Central
0 Followers
17535 views

News Entry# 419402  Blog Entry# 4723915   
  Past Edits
Sep 24 2020 (09:52)
Station Tag: Raipur Junction/R added by LHB GR🤩waiting 🙃🙂/886143
Stations:  Raipur Junction/R  
रायपुर . रेल डिवीजन की दो महत्वपूर्ण लाइन रायपुर-विशाखापट्टनम और केंद्री से धमतरी लाइन को ब्राडगेज बनाने का काम जैसे-तैसे ही चल रहा है। इन दोनों रेल लाइनों को पूरा कराने में रेलवे दिलचस्पी नहीं दिखा रहा है। कहने को काम कई वर्षोँ से चल रहा है, लेकिन पूरा होने का नाम ले रहा। वाल्टेयर लाइन का दोहरीकरण भी इसी तरह बीच में अटका हुआ है। रेलवे के निर्माण में तेजी नहीं आई। इन दोनों प्रोजेक्ट का काम काफी पीछे चल रहा है। जबकि धमतरी लाइन ब्राडगेज बन जाने से नवा रायपुर से मंदिरहसौद से कांकेर तरफ का क्षेत्र रेल लाइन से जुड़ जाएगा।रायपुर से धमतरी और राजिम के बीच चलने वाली छोटी ट्रेन अब बीते समय की बात हो चुकी है। क्योंकि छोटी रेल लाइन पर अब स्टेशन से शदाणी दरबार के आगे जगदलपुंर सड़क मार्ग तक समाप्त हो चुंकी है। इस छोटी लाइन की जगह एक्सप्रेस-वे सड़क बन गई...
more...
है, लेकिन बीच में धसक जाने के कारण उस पर यातायात शुरू नहीं हो सका। दूसरी तरफ मंदिरहसौद से 20 किमी रेल लाइन केंद्री तक बन रही है। इसे देखते हुए रेलवे प्रशासन ने छोटी ट्रेन का परिचालन केंद्री से करना शुरू किया और यहीं से धमतरी-बालोद तक बड़ी रेल लाइन बनाने का प्रोजेक्ट चालू हुआ, जो कछुआ गति से चल रहा है। जबकि इस रेल लाइन के लिए 284 करोड़ रुपए की स्वीकृति मिले हुए एक साल से भी अधिक होने जा रहा है। लेकिन निर्माण में तेजी नहीं आई।प्रोजेक्ट रेल विकास निगम के हवालेरेलवे का यह दोनों प्रोजेक्ट रेल विकास निगम के हवाले है। इसलिए रेल डिवीजन के अफसर पीछे हट जाते हैं। वालटेयर लाइन जिस पर आज भी डीजल इंजन से ट्रेनें चल रही है, क्योंकि यह रेल लाइन न तो दोहरीकरण हो पाई न ही विद्युतीकरण। जबकि वर्ष 2007 से यह काम 750 करोड़ रुपए की लागत से शुरू हुआ था, जो आज भी लखौली तक अधूरा है। इसी ही स्थिति धमतरी रेल लाइन को ब्राडगेज बनाने की भी। जबकि लंबे समय से इस रेल लाइन का काम पूरा कराने का मुद्दा धमतरी, कांकेर तरफ के लोगों के साथ ही व्यापारिक संगठनों द्वारा उठाया जाता रहा है।छोटी रेल लाइन की पटरियों को बाहर निकालने का काम हो गया है। सर्वे में कुछ जगहों पर जमीन अधिग्रहण का पेंच सामने आया है, इस वजह से निर्माण प्रक्रियाधीन है।शिव प्रसाद पंवार,सीनियर पब्लिसिटी इंस्पेक्टर, रेलवे

Rail News
Sep 24 (10:54)
Saurabh®
Saurabhdubey_86^~   21766 blog posts
Re# 4723915-1            Tags   Past Edits
waltair line par eloco chalte 6 months se jyada hone ko hai. electrification ho chuka hai , doubling ka kuch portion hi bas bacha hua hai

9126 views
Sep 24 (20:50)
njrpr23
Rpr   20 blog posts
Re# 4723915-2            Tags   Past Edits
It is pending from years just bcoz of illegal settlements along the railway lines not bcoz of land acquisition (as nearby lands adjacent to lines belongs to railways).
And also railway is not entitled for their rehabilitation as they are illegally settled.
State govt. knows most of their votes comes from these settlements and also it needs crores of rupees for their rehabilitation (as dislocating them to somewhere else will lead to loss of votes to that particular local constituency and also it's too costly to have them settled in city area for
...
more...
which there is no land govt. land available) which present govt. can't do, as already several basic, important and ongoing projects have been stalled since the new government came to power. They don't have money as the whole money is spent on freebies and purchasing GOBAR that even through taking loans.
So don't expect anything from them. It seems to be remaining pending for years.

8939 views
Sep 24 (22:04)
ydvsan
ydvsan~   303 blog posts
Re# 4723915-3            Tags   Past Edits
भाई चेतन और दुबे जी, ये रायपुर- धमतरी Branch को अलग थलग पड़ी अवस्था से बहार निकालने का एक मात्र रास्ता इसको दुर्ग- जगदलपुर बनने वाली नई लाईन पर बालोद से जोड़ना है। इससे भविष्य में बस्तर Area से दिल्ली/ नागपुर/ मुम्बई जाने वाली गाड़ियां राजधानी रायपुर/नया रायपुर से होकर भी जा सकेंगी व धमतरी
भी अलग थलग अवस्था से बहार आ जाएगा। इस लाईन के बिना Raipur skip हो जाएगा जो कि एक बहुत बड़ा minus point होगा। देर सवेर Railway को ये लाईन बनानी तो पड़ेगी।
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy