Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Pamban Sethu - இது தான் நம்முடைய ராமர் சேது - Darnish C

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Oct 29 05:17:35 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 419510
Sep 25 (14:16) Railway: स्टाफ की तैनाती के बाद छिंदवाड़ा से इतवारी तक दौड़ेगी मालगाड़ी (www.patrika.com)
New Facilities/Technology
SECR/South East Central
0 Followers
30707 views

News Entry# 419510  Blog Entry# 4724851   
  Past Edits
Sep 25 2020 (14:16)
Station Tag: Nagpur Junction/NGP added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735

Sep 25 2020 (14:16)
Station Tag: Itwari Junction (Nagpur)/ITR added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735

Sep 25 2020 (14:16)
Station Tag: Chhindwara Junction/CWA added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735
छिंदवाड़ा. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल के अंतर्गत छिंदवाड़ा से नागपुर रेल परियोजना का अंतिम खंड भंडारकुंड से भिमालगोंदी रेलमार्ग के कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी(सीआरएस) के निरीक्षण एवं अप्रूवल के लगभग एक माह बाद भी छिंदवाड़ा से इतवारी तक मालगाड़ी का परिचालन शुरु नहीं हो पाया है। इसके पीछे कई वजह सामने आ रही हैं। रेलवे अधिकारियों के अनुसार अभी छिंदवाड़ा से इतवारी के बीच विभिन्न रेलवे स्टेशन, मानव सहित क्रांसिंग में स्टाफ की तैनाती नहीं हुई है। इसके अलावा भंडारकुंड से भिमालगोंदी के बीच सीआरएस द्वारा बताए गए कुछ अधूरे कार्य भी बारिश के वजह से पूरे नहीं हुए हैं। जब तक कार्य पूरे नहीं हो जाते और स्टाफ की तैनाती नहीं हो जाती तब तक मालगाड़ी का परिचालन मुश्किल है। गौरतलब है कि बीते 22 अगस्त को सीआरएस ने भंडारकुंड से भिमालगोंदी रेलमार्ग का निरीक्षण किया था। इस घाट सेक्शन में ब्रिज पर कुछ तकनीकी खामियों के कारण...
more...
उन्होंने चार माह तक मालगाड़ी के परिचालन का ही अप्रूवल दिया है। सीआरएस द्वारा भेजे गए अप्रूवल लेटर में स्पष्ट किया गया है कि मालगाड़ी के परिचालन के दौरान रेलवे ओपन लाइन एवं गेज कन्वर्जन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को इस सेक्शन में मानिटरिंग भी करनी है। सबकुछ ठीक रहा तो दोनों ही विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के एनओसी से यात्री ट्रेन का परिचालन हो सकेगा।पांच साल से हो रहा ट्रेन सुविधा का इंतजार छिंदवाड़ा एवं आसपास के क्षेत्रों में रह रहे लोगों को लगभग पांच वर्ष से छिंदवाड़ा से नागपुर तक ट्रेन सुविधा की दरकार है। बता दें कि १ दिसंबर २०१५ को छिंदवाड़ा से नागपुर आमान परिवर्तन परियोजना के लिए छोटी रेल लाइन पर टे्रन का परिचालन बंद कर दिया गया। रेलवे निर्माण विभाग द्वारा छिंदवाड़ा से नागपुर तक (149 किमी रेलमार्ग)गेज कन्वर्जन के कार्यों को कुल चार खंड में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया। पहला खंड छिंदवाड़ा से भंडारकुंड तक, दूसरा खंड इतवारी से केलोद, तीसरा खंड केलोद से भिमालगोंदी एवं चौथा खंड भिमालगोंदी से भंडारकुंड तक है। तीन खंड में सीआरएस के अप्रूवल के बाद यात्री ट्रेन का परिचालन किया जा रहा है। हालांकि चौथे खंड में चार माह तक मालगाड़ी के परिचालन के बाद ही यात्री ट्रेन चल सकेगी।

Rail News
31477 views
Sep 25 (14:30)
We failed you Nikita
MR_INDIANRAILIN^~   14830 blog posts
Re# 4724851-1            Tags   Past Edits
Staff ko aate aate agal saal ho hi jaiga 😂😂😂😂☹️☹️☹️☹️☹️☹️

Rail News
24107 views
Sep 25 (19:38)
Irtaqua Akhter
IrtaquaAkhter~   231 blog posts
Re# 4724851-2            Tags   Past Edits
4 months freight chalane ke order the jisme 1 month to chuka hai ab bache 3 months me bhi 1 month to staff ke appointments me hi chale jaaega phir 2 months milenge section ko monitor karne.

Rail News
6922 views
Oct 12 (12:38)
sanjay07   951 blog posts
Re# 4724851-3            Tags   Past Edits
Good News
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy