Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

WAP-7 - तेरे जैसा यार कहाँ , कहाँ ऐसा याराना , याद करेगी दुनियां तेरा मेरा अफसाना. - Arjun Rai

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Wed Sep 22 10:39:24 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 460397
Jul 27 (20:12) रेलवे पुल-पटरी को बचाने बहा रहे मोहनपुरा डैम का पानी (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
16044 views

News Entry# 460397  Blog Entry# 5026164   
  Past Edits
Jul 27 2021 (20:12)
Station Tag: Biyavra Rajgarh/BRRG added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Biyavra Rajgarh/BRRG  
राजेश शर्मा, राजगढ़। रेलवे की पटरी एवं रेलवे ब्रिज को डूबने से बचाने के लिए लगातार तीन दिन से मोहनपुरा डैम का पानी बहाया जा रहा है। परियोजना द्वारा रेलवे को तीन साल पहले 192 करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं, लेकिन इसके बावजूद अभी तक न पुल पूरा हुआ, न ट्रेक शिफ्ट किया जा सका। जिसके चलते तीन दिन से लगातार पानी बहाया जा रहा है।
उल्लेखनीय है कि यहां पर नेवज नदी के ऊपर 3800 करोड़ रुपये की लागत से तीन साल पहले मोहनपुरा बांध बनकर तैयार हो चुका है। डैम की कुल जल भराव क्षमता 398 मीटर लेवल है और इस लेवल तक उसी साल से डैम को भरा जाना था, लेकिन खास बात यह है कि जिस
...
more...
नेवज नदी पर उक्त डैम बना है, उसकी सहायक नदी है दूधी। दूधी नदी के उपर से होकर ग्वालियर-इंदौर रेलवे लाइन गुजरती है। ऐसे में जैसे ही डैम को अपनी पूरी जल भराव क्षमता 398 मीटर लेवल तक भरा जायेगा उसी के साथ यह रेलवे पुल व पटरी डूब जाएंगे। साथ ही रेल यातायात भी ठप हो जायेगा। अब रेलवे के पुल व पटरी को डूब से बचाने के लिए पिछले तीन साल से बारिश के समय डैम के गेट खोलकर पानी को 390 मीटर लेवल तक मेंटेन करने के लिए पानी बहाया जाता है। इस बार भी जिले में हुई मूसलाधार बारिश के कारण जैसे ही डैम का जल स्तर बढ़ने लगा तो रविवार से ही बांध के 8 गेट खोलकर 1800 क्यूसेक प्रति सेकंड पानी बहाया जा रहा है। रविवार से मंगलवार शाम 4.30 बजे तक 08 गेटों से प्रति सैकंड 1800 क्यूमेक पानी बहाया गया। मंगलवार शाम को 4 गेट बंद कर दिए व 4 गेटों से 500 क्येमेक पानी अब भी बहाया जा रहा है।
3 साल पहले दिए थे 192 करोड़, दो साल शुरू नही हुआ काम
जैसे ही मोहनपुरा डैम का काम चल रहा था उसी समय विशेषज्ञों ने यह स्प्ष्ट कर दिया था कि डैम को जैसे ही उसकी कुल जल भराव क्षमता 398 मीटर लेवल तक भरा जायेगा उसी के साथ रेलवे का पुल व पटरी डूब जाएंगे। इसलिए नए पुल की जरूरत है व पटरी भी शिफ्ट की जाना जरूरी है। इसके बाद मोहनपुरा परियोजना द्वारा पुल पटरी शिफ्ट करने के लिए आने वाले खर्च का आंकड़ा रेलवे से लिया था। रेलवे की ओर से आंकड़ा मिलने के बाद तीन साल पहले ही मोहनपुरा परियोजना द्वारा रेलवे के खाते में पुल निर्माण व पटरी के लिए 192 करोड़ रुपये डाल दिए थे। राशि डालने के बाद रेलवे को कहा था कि जल्द से जल्द नया ऊंचा पुल बना लिया जाए व पटरी को शिफ्ट कर दिया जाए, ताकि डैम को उसकी पूरी क्षमता तक भरा जा सके, लेकिन हैरानी की बात यह है कि तीन साल बाद भी न पुल बनकर कम्प्लीट हुआ और न ही पटरी शिफ्ट की जा सकी। हालात यह रहे कि शुरू के दो साल तक तो रेलवे द्वारा पुल बनाने के लिए काम ही शुरू नही किया, नही तो एक साल पहले ही पुल बनकर तैयार हो जाता। अब वर्तमान अवस्था में पुल का कुछ हिस्सा बना है व गत दिनों जिले के दौरे पर आए रेलवे के जीएम शैलेंद्रसिंह ने फरवरी 2022 तक इसको पूरा करने के निर्देश अपने अधीनस्थ अमले को दिए हैं।
1 लाख हेक्टेयर जमीन की सिंचाई होगी बाधित
डैम से कुल करीब 1 लाख 50 हजार हेक्टेयर जमीन में सिंचाई होना है। जिसमे से पिछले रबी के सीजन में कालीपीठ क्षेत्र में अंडरग्राउंड नहरों के जरिए करीब 25 हजार हेक्टेयर में सिंचाई की गई थी। इस बार आने वाले रबी सीजन में पचोर क्षेत्र में करीब 16 हजार हेक्टयर में ओर सिंचाई शुरू कर दी जायेगी। लेकिन फुल क्षमता तक जल भराव न होने के कारण आने वाले रबी सीजन में करेड़ी-खुजनेर क्षेत्र के करीब 1 लाख हेक्टेयर में सिंचाई नही हो सकेगी।
डैम नही भराने के कारण, नहरों में भी लेटलतीफी
खास बात यह है कि फुल क्षमता तक डैम नही भराने का असर अंडरग्राउंड नहरों के निर्माण पर भी पड़ रहा है। पानी कम भरने के कारण नहर की एजेंसी भी यह मानकर चल रही है कि करेड़ी क्षेत्र में सिंचाई अभी होना सम्भव नही है, इसलिए वह भी धीमी गति से काम कर रही है।
फेक्ट फाइल
डैम की लागत-3800 करोड़
जल भराव क्षमता-398 मीटर लेवल
वर्तमान में जल भरते हैं-393 मीटर लेवल अधिकतम
पटरी डूबना है-2,7 किमी का हिस्सा होगा प्रभावित
रेलवे को दी राशि-192 करोड़ रुपये
पुल की लागत-166 करोड़
पटरी शिफ्ट होना है-7 किमी का हिस्सा
इनका कहना है
पुल व पटरी को डूबने से बचाने के लिए पानी बहाया जा रहा है। यदि पुल-पटरी कंपलीट हो जाते तो इस बार फुल क्षमता तक पानी भर देते। फरवरी तक पूरा करने के लिए रेल प्रबंधन ने कहा है।
अशोक दीक्षित, एसडीओ व परियोजना प्रबंधक महोनपुरा डैम

Rail News
10913 views
Jul 27 (23:36)
न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु
SmallTownTraveller^~   6428 blog posts
Re# 5026164-1            Tags   Past Edits
Mere station se 40 km pe he ye dam.. jata hu time nikaal ke

6397 views
Jul 28 (08:09)
dksinghseo
shivganga~   267 blog posts
Re# 5026164-2            Tags   Past Edits
🥰🥰safe raho tab Rail fan karo jai mahakal

5433 views
Jul 28 (11:18)
न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु
SmallTownTraveller^~   6428 blog posts
Re# 5026164-3            Tags   Past Edits
bhai train se jana train se aana. koi khatra nhi.. jai mahakal
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy