Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

RailFanning is our All-Rounder Glucose that gives us Instant Power in All Seasons - Kirti Solanki

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sun May 31 00:55:28 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
Page#    2931 news entries  <<prev  next>>
Mar 02 (15:23) Weary of losses, Karnataka hands over Golden Chariot reins to Centre (timesofindia.indiatimes.com)
Rail Budget
SWR/South Western
0 Followers
2020 views

News Entry# 402252  Blog Entry# 4582155   
  Past Edits
Mar 02 2020 (15:23)
Station Tag: KSR Bengaluru City Junction (Bangalore)/SBC added by Next train from SWR~/48335
BENGALURU: The decision to palm off operations of Golden Chariot ..
Read more at:
click here
Mar 01 (16:22) रेलवे ब्रिज निर्माण में हो रही अनदेखी (m.livehindustan.com)
Rail Budget
ECR/East Central
0 Followers
3108 views

News Entry# 402192  Blog Entry# 4581029   
  Past Edits
Mar 01 2020 (16:22)
Station Tag: Kusheshwar Asthan/KHHTN added by ꧁« प्रभात शरण ✰ IAS Usha™»꧂^~/1872250

Mar 01 2020 (16:22)
Station Tag: Bishanpur/BSNPR added by ꧁« प्रभात शरण ✰ IAS Usha™»꧂^~/1872250

Mar 01 2020 (16:22)
Station Tag: Kamathan/KMTHN added by ꧁« प्रभात शरण ✰ IAS Usha™»꧂^~/1872250

Mar 01 2020 (16:22)
Station Tag: Alauli/ALOLI added by ꧁« प्रभात शरण ✰ IAS Usha™»꧂^~/1872250

Mar 01 2020 (16:22)
Station Tag: Khagaria Junction/KGG added by ꧁« प्रभात शरण ✰ IAS Usha™»꧂^~/1872250
खगड़िया-कुशेश्वर स्थान रेल परियोजना में पुल के निर्माण में गुणवत्ता का ख्याल नहीं रखा जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पिछले एक दशक से इस रेलखंड में निर्माण कार्य चल रहा है। जिसमें कामाथान स्टेशन से अलौली गढ़ स्टेशन के बीच कई स्थानों पर रेल ब्रिज का निर्माण किया जा रहा है। ब्रिज निर्माण कार्य का सही तरीके से विभागीय स्तर पर देखरेख नहीं होने से संवेदक के मैनेजर व मंुशी अपनी मनमर्जी के अनुसार कार्य करा रहे हैं।
यहां तक कि पीडब्लू सड़क में अम्बा चौक के पास एवं ग्रामीण सड़क अलौली गढ़ ढाला जाने वाली सड़क पर बन रहे ओवरब्रिज के निर्माण कार्य में लगे मजदूरों की शेफ्टी का भी ध्यान नहीं रखा जा
...
more...
रहा है। ऐसे में मजदूर के साथ कभी भी कोई हादसा होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। जानकार सूत्र बताते हंै कि मजदूरों ंको रिटर्निग वॉल में काम करने के समय जूता, बेल्ट व हेल्मेट का प्रयोग अनिवार्य है। ब्रिज निर्माण स्थल के पास डायवर्सन सड़क पर काफी धूल उड़ रही हैं। जिससे वाहन चालकों खासकर बाइक सवारों को आवागमन में खासी परेशानी हो रही है। वहीं निर्माण स्थल के साइड में जो गड्ढे बने हैं उसके बचाव के लिए ना तो किसी तरह का बोर्ड लगा है और ना ही सुरक्षा के कोई इंतजाम किए गए हैं। बताया जाता है कि आवंटित कंट्रक्शन का काम दूसरी एजेंसी द्वारा देखी जारही है।
प्लाई रीफ का सेटरिंग : जानकार सूत्र बताते हैं कि रेलवे में प्लाई रीफ का प्रयोग नहीं किया जाता है। पर, इस ब्रिज में प्लाई रीफ का प्रयोग हो रहा है। बताया जाता है कि एक साथ ढलाई नहीं कर तीन-चार बार में ढलाई की जाती है।
जीरो-जीरो का बैंड नहीं : एक सरिया को दूसरे जुड़ाव के लिए बैंड किया जाता है। जिसे जीरो-जीरो बैंड कहा जाता है। जिसका पालन नहीं हो पा रहा है। लिंग्स में एक भी बैंड जीरो तरीके से नहीं किया गया है। ऐसे में कार्य के मानक पर सवाल उठ रहा है।
सही सेन्टर पर सरिया नहीं: ब्रिज के रिटर्निग वॉल पर जो सरिया खड़ा किया गया है उसके एक साइड में 25 एमएम और दूसरे साइड में 12 एमएम का सरिया खड़ा किया गया है। सरिया का सेंटर सही नहीं दिखता है। सरिया को तार से बांधा गया है वह भी नाम मात्र का तार लगाकर जैसे-तैसे काम किया गया है।
नहीं होता पानी छिड़का: ओवर ब्रिज से वॉल पर क्यूरिंग (पानी छिड़काव) नहीं किया जाता है। उसके स्थान पर बोरा लपेटकर काम पूरा किया जाता है। ऐसे में ब्रिज को पर्याप्त पानी की जरूरत पूरी नहीं हो पा रही है।
साढ़े अठारह किलो मीटर में कई स्थानों पर रेल ब्रिज का काम चल रहा है। निर्माण कार्य में जो कमियां है उसे दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। मानक अनुसार हर हाल में काम किया जाएगा।
अनिल कुमार, अभियंता रेलवे
टॉप न्यूज़
संबंधित खबरें
{{title}}

Rail News
1908 views
Mar 01 (16:46)
shyamsharmarkl~   53 blog posts
Re# 4581029-1            Tags   Past Edits
पत्रकार को पव्वे का पैसा नहीं दिया तो सारे ही नियम ही तोड़े होंगे । बिहार में सरकारी ठेका लिया और पत्रकार को पव्वे का भी पैसा नहीं दिया ये तो घोर अन्याय और अनियमितता है ठेकेदार नहीं दे सकता तो कम से कम साइट इंजीनियर को ही डयूटी पर जाते वक्त दो चार पव्वे पॉकेट में डालकर जाना चाहिए ।

1843 views
Mar 01 (17:16)
꧁« प्रभात शरण ✰ Usha™»꧂^~   29067 blog posts   1102 correct pred (78% accurate)
Re# 4581029-2            Tags   Past Edits
पव्वे का होला?
Feb 13 (16:26) :INDIAN RAILWAYS: GROWTH ENGINE OF INDIAN ECONOMY *AVERAGE BUDGETARY OUTLAY FOR RAILWAYS INCREASES IN WEST BENGAL (er.indianrailways.gov.in)
Rail Budget
ER/Eastern
IR Press Release
0 Followers
1138 views

News Entry# 401044  Blog Entry# 4564271   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
*AVERAGE BUDGETARY OUTLAY FOR RAILWAYS INCREASES IN WEST BENGAL
Kolkata, February 12, 2020:
A total outlay of Rs.5246 crores have been allotted in the Central Budget 2020-21 for the o­n-going/new projects in West Bengal. Due to this higher allotment of fund ambitious projects like doubling of Katihar – Kumedpur & Katihar-Mukuria of 64.5 km length costing Rs. 645 crores will be boosted up.
...
more...
The budget documents also reveals that a large number of railway projects have been completed and commissioned in West Bengal during 2019 -20. These include 4 new projects of total of 15 km length costing Rs.217 crore as per following details:-
vDouble line by-pass connectivity (2.86 km long) work joining of the double line track (Asansol – Raurkela & Asansol – Barddhaman) got completed and commissioned in West Bengal.
v1.67 km long doubling project named New Alipore- Mile 5B in suburban section section of Sealdah costing Rs. 65 crores got completed and commissioned in West Bengal.
v7 km long doubling project between Andul & Baltikuri costing Rs. 89 crores got completed and commissioned.
v3 km long Mohishila – Kalipahari doubling project costing Rs.43 crore completed and commissioned.
Feb 13 (01:40) Rs 5,246 cr allotted for new & ongoing rly projects (www.millenniumpost.in)
Rail Budget
NFR/Northeast Frontier
0 Followers
3794 views

News Entry# 401001  Blog Entry# 4563922   
  Past Edits
Feb 13 2020 (01:41)
Station Tag: Katihar Junction/KIR added by ◢ ◤ModernWarfare^~/1616755
Stations:  Katihar Junction/KIR  
Posted by: ^~ 111 news posts
Kolkata: A total outlay of Rs 5,246 crore has been allotted in the Central Budget 2020-21 for the ongoing/new Railway projects in West Bengal.Due to this higher allotment of fund, ambitious projects like doubling of Katihar – Kumedpur and Katihar-Mukuria lines of 64.5 km length costing Rs 645 crore will be boosted. The budget documents also reveal that a large number of railway projects, including the 1.67 km long doubling project named New Alipore- Mile 5B, have been completed and commissioned in West Bengal during 2019-20. These include 4 new projects of total 15 km length, costing Rs 217 crore.
Feb 12 (15:36) सुल्तानगंज-देवघर रेल लाइन : वाह री रेल...! 800 करोड़ रुपये के प्रोजेक्‍ट के लिए दिए महज एक हजार रुपये Bhagalpur News (m.jagran.com)
Rail Budget
ER/Eastern
0 Followers
4196 views

News Entry# 400981  Blog Entry# 4563385   
  Past Edits
Feb 12 2020 (15:36)
Station Tag: Banka Junction/BAKA added by Amish Kumar^~/1702584

Feb 12 2020 (15:36)
Station Tag: Deoghar Junction/DGHR added by Amish Kumar^~/1702584

Feb 12 2020 (15:36)
Station Tag: SultanGanj/SGG added by Amish Kumar^~/1702584
भागलपुर, जेएनएन। देवघर-सुल्तानगंज, बांका-बरहट और बांका से बथनी रोड तक बिछने वाली नई रेल लाइन बनने की उम्मीद अभी भी दिख रही है। रेल मंत्रालय की सूची में यह प्रोजेक्ट अभी भी जीवित है। इस बार भी आम बजट में महज एक हजार रुपये इसके लिए स्वीकृत किए गए हैं। एक हजार रुपये देकर रेलवे ने लोगों को सिर्फ भरोसा दिया गया है कि इस प्रोजेक्ट पर अभी रेलवे की नजर है।
देवघर-सुल्तानगंज, बांका-बरहट और बांका से बथनी रोड 147 किमी लंबी बड़ी रेल लाइन बनने की घोषणा 2008-09 में तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद ने की थी। घोषणा के कई वर्षों बाद तक राशि नहीं मिली। इसके बाद 2019 की बजट 631,14,83 हजार रुपये स्वीकृत किए गए थे। इसके बाद 2019-20
...
more...
की बजट में 31.74 हजार रुपये का फंड दिया गया। इसी तरह 2020-21 आम बजट में एक हजार रुपये स्वीकृत कर प्रोजेक्ट पर जख्म पर मरहम लगाने की तरह है।
पांच सौ करोड़ जमीन की है जरूरत
इस नई लाइन के लिए लगभग पांच सौ एकड़ जमीन की आवश्यकता है। जमीन भागलपुर व बांका जिले में है। कटोरिया, बेलहर, शंभूगंज, फुल्लीडुमर, अमरपुर इलाके के लोग वर्षो से रेल आने की आस लगाए बैठे हैं। सुल्तानगंज -देवघर नई रेल लाइन का काम एक दशक बाद भी शुरू नहीं हो सका है। इस बार आम बजट से लोगों को उम्मीदें थी। पर, वह भी समाप्त हो गया।

Rail News
2840 views
Feb 12 (22:12)
arunjoshi028^~   1298 blog posts   108907 correct pred (81% accurate)
Re# 4563385-1            Tags   Past Edits
Wah modi sarkar.kind attn Nishi kant Dubey ji
Page#    2931 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy