News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Thu Jan 18, 2018 11:46:43 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Thu Jan 18, 2018 11:46:43 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    2591 news entries  <<prev  next>>
  
Oct 21 2017 (08:31)  Karnataka: South Western Railway gets Rs 30 crore for rail maintenance shed (www.deccanchronicle.com)
back to top
Rail BudgetSWR/South Western  -  

News Entry# 320394   Blog Entry# 2563896     
   Past Edits
Oct 21 2017 (08:31)
Station Tag: Whitefield/WFD added by karbang~/50057

Oct 21 2017 (08:31)
Station Tag: Baiyyappanahalli/BYPL added by karbang~/50057

Oct 21 2017 (08:31)
Station Tag: Banaswadi/BAND added by karbang~/50057
Posted by: karbang~  419 news posts
 
 
In a boost to the suburban rail project the South Western Railway (SWR), Bengaluru division, has received Rs 30 crore for the expansion of Bananswadi Mainline Electric Multiple Unit (MEMU) shed.
"Rs 30 crore has reached SWR in September for expansion of the Banaswadi shed. There are already three stabling lines in the shed and with the expansion, we can add more lines to the stabling yard and send more trains for maintenance," said Vijaya, CPRO, SWR.
Hence three of the promises made in the Bengaluru Suburban rail notification have been implemented -
...
more...
the other two being train services between Baiyappanahalli and Whitefield and conversion to MEMU rakes.
However, very little has been with regard to crucial steps such as track doubling and electrification. The Railway Ministry has not allocated any funds for doubling of Yeshwanthpur-Hosur line, despite repeated proposals sent by SWR.
"We had sent the proposal twice for allocation in the main and supplementary budgets, for doubling of Yeshwanthpur-Hosur line. Another proposal pending is the doubling of Yeshwanthpur-Hebbal-Banaswadi-Baiyappanhalli line," Vijaya said.
Krishna Prasad, member, Karnataka Railway Vedike, opined, "There would be much faster connectivity and a boost to the suburban rail network once the Yeshwanthpur-Hosur line is doubled. I don't know how they left it out in the previous budgets."
Track doubling would increase train frequency benefit those using station such as Yeshwanthpur, KSR, Cantonment, Bangalore East, Baiyappanahalli, Bellandur, Karmelram, Heelalige, Hebbal and Banaswadi.

  
Oct 21 2017 (08:40)
karbang~   252 blog posts   3 correct pred (75% accurate)
Re# 2563896-1            Tags   Past Edits
Development of BAND is a welcome move.
Unless doubling of routes aren't completed, IR and its passengers will continue to face the ill effects of skeletal infrastructure.

  
★  
Oct 21 2017 (09:14)
YPR Belagavi train should run daily~   2725 blog posts   821 correct pred (70% accurate)
Re# 2563896-2            Tags   Past Edits
Does South Western Railway mean only Bengaluru and Karnataka also mean only Bengaluru !!! Are there no other places in KA & SWR !!! People of Belagavi, Kalburgi, Ballari, Vijayapura, Raichur, Mangaluru have been requesting for trains to the capital since decades, they are not even cared. No pitlines at any of these stations, leave Kalburgi which is not utilised, thanks to SWR, SCR, SR & CR. There is so much demand to run DEMUs in Gadag-Hubbali-Dharwad and Davangere-Hubbali-Dharwad lines but SWR/IR are deaf to those demands.
The pitlines coming up at BYPL will also be utilised to run inter-state trains and will be made useless for the state.

  
2103 views
Oct 21 2017 (09:40)
mukund   14 blog posts
Re# 2563896-3            Tags   Past Edits
I will shave my head off if they can add a track between Lottegollahali to Yeshwanthpur. Infact Yelahanka Yeshwantpur doubling too is a joke as after reaching Lottegollahali its back to single line till Yeshwanthpur. Trains are stuck as usual on this section.
  
Oct 18 2017 (09:33)  किशनगंज-कुमेदपुर रेलखंड का विद्युतीकरण जल्द (m.jagran.com)
back to top
Rail BudgetNFR/Northeast Frontier  -  

News Entry# 320187   Blog Entry# 2552294     
   Past Edits
Oct 18 2017 (09:33)
Station Tag: Kumedpur Junction/KDPR added by amishkumar48~/1702584
Stations:  Kumedpur Junction/KDPR  
 
 
किशनगंज। अब किशनगंज के रास्ते चलनेवाली ट्रेनों को और रफ्तार मिलेगी और डीजल ईंधन से पर्यावरण को होनेवाला नुकसान भी थम जाएगा। इसके लिए किशनगंज और कुमेदपुर के बीच रेल विद्युतीकरण कार्य जल्द शुरू किया जाएगा। यह कार्य दो साल के अंदर पूरा कर लिया जाएगा। वर्ष 2009 में रेलवे ने रेल विद्युतीकरण कार्य की शुरुआत की थी। पहले चरण में कटिहार यार्ड का विद्युतीकरण किया गया। दूसरे चरण में कटिहार से मालदा के बीच विद्युतीकरण का काम पूरा हो गया। मंगलवार को बाकायदा मालदा और कटिहार के बीच में इलेक्ट्रिक इंजन का परिचालन भी किया गया। इस मौके पर मालदा में उप मुख्य विद्युत अभियंता अनुज व्यास, मंडल विद्युत अभियंता सुधीर शर्मा और वरिष्ठ विद्युत खंड अभियंता तन्मय कुमार ¨सह मौजूद थे। अधिकारियों ने नारियल फोड़कर इलेक्ट्रिक इंजन परिचालन का उद्घाटन किया। इस संबंध में वरिष्ठ विद्युत खंड अभियंता तन्मय कुमार ¨सह ने बताया कि किशनगंज में रेल विद्युतीकरण के...
more...
लिए प्रारंभिक कार्य शुरू कर दिया गया है। दो साल में इस कार्य को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

2 posts - Wed Oct 18, 2017 - are hidden. Click to open.

  
1104 views
Oct 19 2017 (00:56)
NER whose speed is better psnger or SF~   459 blog posts
Re# 2552294-3            Tags   Past Edits
95%to ho jana chahiye ... any body have the latest update??
Posted thru RailCal

  
1105 views
Oct 19 2017 (01:04)
Diamond Jubliee for KOL Locals^~   28233 blog posts   104314 correct pred (76% accurate)
Re# 2552294-4            Tags   Past Edits
mldt nhi hua hai malda court hua hai.
pakur mldt me abhi kafi time lagega.

  
1097 views
Oct 19 2017 (01:22)
NER whose speed is better psnger or SF~   459 blog posts
Re# 2552294-5            Tags   Past Edits
next year august tk E.loco start ho jana chahiye.. i think so.. malda tak ..
Posted thru RailCal
  
Aug 13 2017 (09:52)  दिल्ली-रेवाड़ी रेल सेक्शन के इलेक्ट्रिफिकेशन का काम शुरू (www.bhaskar.com)
back to top
Rail BudgetNR/Northern  -  

News Entry# 311591     
   Past Edits
Aug 13 2017 (09:52)
Station Tag: Rewari Junction/RE added by LK Sharma/346804

Aug 13 2017 (09:52)
Station Tag: Gurgaon/GGN added by LK Sharma/346804

Aug 13 2017 (09:52)
Station Tag: Delhi Sarai Rohilla/DEE added by LK Sharma/346804

Aug 13 2017 (09:52)
Station Tag: Jaipur Junction/JP added by LK Sharma/346804
 
 
गुड़गांव। दिल्ली-रेवाड़ीरेल सेक्शन के इलेक्ट्रिफिकेशन की यात्रियों की वर्षों पुरानी मांग जल्द पूरी होने जा रही है। शनिवार को केंद्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 78 किलोमीटर के इस मार्ग के इलेक्ट्रिफिकेशन के काम की आधारशिला रखी। यह काम एक साल में पूरा हो जाएगा। साथ ही इस मार्ग पर लंबी दूरी की ट्रेनों के चलने की आशा बढ़ जाएगी। मंत्रालय ने इसका ठेका एलएनटी कंपनी को दिया है। इसे लेकर गुड़गांव रेलवे स्टेशन पर आधारशिला कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह मौजूद रहे। इस अवसर पर इंद्रजीत ने गुड़गांव रेलवे स्टेशन पर बनने वाले फुटओवर ब्रिज का भी शिलान्यास किया।
इलेक्ट्रिफिकेशन की लंबे अर्से से हो रही थी मांग
भले
...
more...
ही गुड़गांव ने मिलेनियम सिटी के तौर पर पहचान बना रखी हो, मगर रेलवे सेवाओं में गुड़गांववासी सालों से उपेक्षा के शिकार हो रहे हैं। गुड़गांव से जुड़ी एक मात्र रेलवे लाइन दिल्ली-रेवाड़ी लाइन का हरियाणा में आज तक विद्युतीकरण नहीं हो सका। यही कारण है कि इस मार्ग से दूर की ट्रेनें अपेक्षाकृत कम चल रही हैं। इसे लेकर काफी लंबे अर्से से लोग आवाज उठा रहे हैं। क्षेत्र के सांसद और विधायकों ने भी इसे गंभीरता से नहीं लिया। शुक्रवार को शिलान्यास अवसर पर गुड़गांव विधायक उमेश अग्रवाल ने कहा कि राव इंद्रजीत सिंह पिछले 25 साल से इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। वे क्षेत्र के विकास के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं। अब इन्होंने रेलवे के माध्यम से गुड़गांव की व्यवस्था को सुधारने का बीड़ा उठाया है, जो निश्चित तौर पर पूरा होगा।
कार्यक्रमके दौरान ये रहे मौजूद
शनिवारको गुड़गांव रेलवे स्टेशन पर शिलान्यास कार्यक्रम में जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी राज्यमंत्री डॉ. बनवारी लाल, विधायक उमेश अग्रवाल, विधायक बिमला चौधरी, गुड़गांव के निवर्तमान मेयर बिमल यादव, उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आरके कुलश्रेष्ठ मौजूद रहे।
केंद्रीय मंत्री, बोले स्मार्ट सिटी के अनुरूप होगा गुड़गांव स्टेशन
शनिवार को केंद्रीय मंत्री इंद्रजीत ने कहा कि गुड़गांव एनसीआर क्षेत्र में सरकार को सबसे ज्यादा रेवेन्यू देता है और यहां के रेलवे स्टेशन को स्मार्ट सिटी के अनुरूप ही होना चाहिए। गुड़गांव का रेलवे स्टेशन वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनाया जाएगा, जहां यात्रियों को बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ ही अच्छी सुविधाएं दी जाएंगी। उन्होंने यह काम महज दो साल में पूरा करने का दावा किया। उन्होंने कहा कि गुड़गांव रेलवे स्टेशन साल 2019 तक वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनाकर आम जनता को समर्पित किया जाएगा।
प्रदेश के मंत्री बोले, अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनेगा धनकोट स्टेशन
इधर प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह गुड़गांव रेलवे स्टेशन से 3 किलोमीटर आगे धनकोट रेलवे स्टेशन को अंतरराष्ट्रीय बनाने का दावा कर रहे हैं। पिछले दिनों एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा था कि गुरुग्राम जिला विश्वस्तर पर अपनी पहचान बना चुका है, लेकिन यहां रेलवे स्टेशन उतना भव्य नहीं है। जमीन के अभाव में रेलवे स्टेशन का विस्तार नहीं हो पाया। गुरुग्राम रेलवे स्टेशन का आधुनिकीकरण तो होगा ही, साथ ही धनकोट रेलवे स्टेशन को अपग्रेड कर उसे दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की तर्ज पर विकसित किया जाएगा।
इन दिनों गुड़गांव में विकास कार्यों से संबंधित दावों की होड़ लगी हुई है। केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह गुड़गांव स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने का दावा कर रहे हैं तो प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह धनकोट स्टेशन को इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की तर्ज पर बनाने का दावा कर रहे हैं।
फर्रुखनगर में रुकना शुरू हुई सुपरफास्ट चेतक
केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत ने बताया कि लंबे समय से मांग उठ रही थी कि फर्रुखनगर में सुपरफास्ट ट्रेन का ठहराव किया जाए। दैनिक रेल यात्रियों की इस मांग के मद्देनजर इसे पूरा किया गया। इसके चलते एक जुलाई से सुपरफास्ट ट्रेन चेतक का ठहराव फर्रुखनगर में करा दिया गया है। अब यहां के लोग इसका भरपूर लाभ उठा रहे हैं। इस ट्रेन के चलते लोगों को आवागमन में काफी सुविधा हो गई है।
शनिवार को गुड़गांव रेलवे स्टेशन पर बनने वाले फुटओवर ब्रिज का भी शिलान्यास किया गया। यहां फुटओवर ब्रिज की लंबे समय से मांग थी। रेलवे रोड की तरफ से पैदल आने वाले लोगों को रेलवे लाइन की दूसरी तरफ राजेंद्रा पार्क क्षेत्र में जाने के लिए कोई विकल्प नहीं है। मजबूरन लोग रेलवे लाइन क्रॉस कर एक तरफ से दूसरी तरफ जाते हैं। इसमें दुर्घटना की आशंका रहती है। लोग रेलवे लाइन पार करने के लिए फुटओवर ब्रिज बनाने की मांग कर रहे थे।
click here
  
Aug 08 2017 (07:06)  किऊल-गया दोहरीकरण का काम रुका (m.livehindustan.com)
back to top
Rail BudgetECR/East Central  -  

News Entry# 311063   Blog Entry# 2373988     
   Past Edits
Aug 08 2017 (07:06)
Station Tag: Luckeesarai Junction/LKR added by 💖💓Apna Munger💓💖~/1480955

Aug 08 2017 (07:06)
Station Tag: Gaya Junction/GAYA added by 💖💓Apna Munger💓💖~/1480955

Aug 08 2017 (07:06)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by 💖💓Apna Munger💓💖~/1480955
 
 
हिन्दुस्तान टीम, लखीसराय
Updated: 7 अगस्त, 2017 10:24 PM
अ+ अ-
बारिश से हुए जलजमाव ने किऊल- गया सेक्शन के दोहरीकरण का काम रोक दिया है। रेललाइन की दोहरीकरण के लिए लखीसराय से आगे के लिए तेजी से मिट्टी भराई का काम शुरू किया गया था। लगातार हो रही बारिश एवं रेललाइन के किनारे जलजमाव ने काम पर ब्रेक लगा दिया है। जलजमाव के
...
more...
कारण मिट्टी भराई कार्य मे लगी कई जेसीबी मशीने फंसी हुई है। मिट्टी भरने का काम में लगे लोगों ने बताया कि बारिश में काम करना संभव नहीं है। बरसात के बाद पानी समाप्त होने पर काम शुरू किया जा सकेगा। उस क्षेत्र के गांव एवं खेतों में पानी भरा है। ऐसे में एक तो मिट्टी का अभाव है दूसरा रेल लाइन तक वाहन एवं जेसीबी मशीन मशीनों का पुहंचना संभव नहीं हा पा रहा है। किऊल- गया रेल सेक्शन के 130 किलोमीटर दोहरीकरण काम 2020 तक पूरा किया जाना है। जलजमाव से रास्ता बंद, काम प्रभावित : किऊल-गया सेक्शन में लखीसराय से आगे पतनेर, भेनौड़ा सहित अन्य जगहों पर रेल पटरी के किनारे बरसात का पानी जमा हो गया है। मिट्टी भराई कार्य में उपयोग करने वाले जेसीबी एवं हाईवा जैसे बडे़ वाहनों को रास्ता चारों ओर से बंद हो गया है। कई जेसीबी जलजमाव के चलते साईट पर फंसी हुई है। मिट्टी ले जाने वाले रास्ते बंद होने के कारण दोहरीकरण काम में लगे ठेकेदार ने तत्काल काम को रोक दिया है। मिट्टी काम कर रहे लोगों ने कहा कि बरसात के बाद भी फिर से काम चालू किया जाएगा।

1 posts - Tue Aug 08, 2017 - are hidden. Click to open.

  
556 views
Nov 08 2017 (04:03)
Manoj Sinha on IRI~   1323 blog posts   1119 correct pred (62% accurate)
Re# 2373988-2            Tags   Past Edits
Any idea about progress of kiul- gaya doubling. Why does atlas shows ongoing electrification. Kindly update atlas for doubling+ electrification

  
492 views
Nov 08 2017 (05:53)
❤️SUPERMAN❤️^~   2633 blog posts   4008 correct pred (61% accurate)
Re# 2373988-3            Tags   Past Edits
Avi sirf electrification hi ho rha h
Ye news wala galat post dala h

  
404 views
Nov 08 2017 (09:19)
Manoj Sinha on IRI~   1323 blog posts   1119 correct pred (62% accurate)
Re# 2373988-4            Tags   Past Edits
Foundation stone laid by Mos manoj sinha
  
Aug 03 2017 (20:43)  जमीन अवाप्ति की प्रक्रिया में िढलाई, देरी पर रुक सकता है अहमदाबाद आमान परिवर्तन का काम (m.bhaskar.com)
back to top
Rail BudgetNWR/North Western  -  

News Entry# 310596     
   Past Edits
Aug 03 2017 (20:43)
Station Tag: Himmatnagar Junction/HMT added by LK Sharma/346804

Aug 03 2017 (20:43)
Station Tag: Ahmedabad Junction/ADI added by LK Sharma/346804

Aug 03 2017 (20:43)
Station Tag: Dungarpur/DNRP added by LK Sharma/346804

Aug 03 2017 (20:43)
Station Tag: Chittaurgarh Junction/COR added by LK Sharma/346804

Aug 03 2017 (20:43)
Station Tag: Jaipur Junction/JP added by LK Sharma/346804

Aug 03 2017 (20:43)
Station Tag: Ajmer Junction/AII added by LK Sharma/346804

Aug 03 2017 (20:43)
Station Tag: Udaipur City/UDZ added by LK Sharma/346804
 
 
Hindi News 1
ट्रेंडिंग
देश
बॉलीवुड
जीवन मंत्र
स्पोर्ट्स
...
more...

क्विज़
विदेश
खबरें जरा हटके
गैजेट्स
मूवी रिव्यु
ऑटो
हेल्थ
खाना खज़ाना
CHANGE
+
x
Advertisement
जमीन अवाप्ति की प्रक्रिया में िढलाई, देरी पर रुक सकता है अहमदाबाद आमान परिवर्तन का काम
Aug 03,2017 08:30:03 AM IST
जावरा स्टेशन के मोचिया और बलारिया माइंस के बीच रूट बदलने का काम होगा
2018 तक ब्राॅडगेज करने का लक्ष्य घोषित किया है
उदयपुर-अहमदाबादरेल लाइन आमान परिवर्तन के काम जमीन के अभाव में अटक सकते हैं। जावर माइंस क्षेत्र में जमीन अवाप्ति के लिए रेलवे ने दो साल पहले प्रस्ताव बनाकर जिला प्रशासन को दिया था, लेकिन जिला प्रशासन ने इसमें गंभीरता नहीं दिखाई है। जमीन अवाप्ति की प्रक्रिया में देरी के कारण रेल लाइन का काम अटकने का अंदेशा जताया जा रहा है। उत्तर पश्चिम रेलवे ने उदयपुर-अहमदाबाद के बीच 300 किमी में मीटर गेज लाइन काे ब्रॉडगेज में बदलने का लक्ष्य दिसंबर 2018 तक घोषित किया है। किसी प्रकार की तकनीकी खामी आने पर मार्च 2019 तक आमान परिवर्तन का काम पूरा कर ट्रेनों का संचालन शुरू करने की उम्मीद जताई जा रही है। रेलवे आमान परिवर्तन के लक्ष्य की घोषणा पिंक बुक में कर चुका है। रेल मंत्रालय को उत्तर पश्चिम रेलवे ने लक्ष्य से अवगत करा दिया है। लक्ष्य घोषित करने के बाद रेल प्रबंधक भूमि अवाप्ति को लेकर उलझ गए हैं।
खारवास्टेशन के पास 800 मीटर लंबी सुरंग बनानी है : खारवास्टेशन के पास 800 मीटर लंबी सुरंग बनाने का काम जमीन अवाप्ति के अभाव में रुका हुआ है। यहां मीटर गेज लाइन की सुरंग को रेल अभियंताओं ने बड़ी लाइन की ट्रेनें चलाने के लिए उपयुक्त नहीं माना था। नई सुरंग बनाना प्रस्तावित है, लेकिन वहां अधिकांश जमीनें वन विभाग की हैं।
जावरस्टेशन के नए भवन के लिए चाहिए जमीन : ब्रॉडगेजलाइन के प्लान में जावर स्टेशन की जगह बदली जाएगी। वर्तमान वाले रेलवे स्टेशन से एक किमी दूर जावर माइंस की अशोकनगर कॉलोनी के पास नया स्टेशन बनेगा। स्टेशन बनाने के लिए जमीन माइंस प्रबंधन से अवाप्त की जाएगी।
जावर स्टेशन के पास स्थित मोचिया माइंस और बलारिया माइंस के बीच स्थित रेलवे ट्रैक को ब्राॅडगेज के लिए सर्वे में असुरक्षित माना गया था। मीटर गेज रेल लाइन के नीचे माइंस की खुदाई से जमीन खोखली हो चुकी है। ब्रॉडगेज की ट्रेनों की स्पीड और भार नहीं सह पाने के कारण ट्रेन का रूट बदलने का निर्णय लिया था। जावर माइंस स्टेशन के पास सात किमी लंबा नया रेलमार्ग बनाया जाएगा। नए रेल मार्ग की 60 फीसदी जमीनें वन विभाग और 40 फीसदी जमीनें निजी खातेदारों की हैं। निजी जमीनें अवाप्त हो चुकी हैं, लेकिन वन विभाग ने जमीनों का आबंटन नहीं किया है।
जमीनें शीघ्र मिलने की उम्मीद है : डीआरएम
अजमेरडीआरएम पुनीत चावला का कहना है कि उदयपुर-अहमदाबाद रेल लाइन आमान परिवर्तन केवल मेवाड़ के रेल यात्रियों के लिए फायदेमंद है, बल्कि दिल्ली से मुंबई जैसी लंबी दूरी की कई ट्रेनें इस रूट से होकर गुजरेंगी। मिनरल्स के परिवहन में भी यह रेलमार्ग महत्वपूर्ण साबित होगा। वन विभाग की जमीनों के अवाप्ति की औपचारिक कार्रवाई पूरी हो चुकी हैं। शीघ्र ही जमीनें रेलवे को मिलने की उम्मीद है। टारगेट अवधि में आमान परिवर्तन पूरा करना हमारा लक्ष्य है।
वन विभाग से भूमि अवाप्ति के प्रयास
रेलवेके निर्माण खंड के सीईआे अभियंता वन विभाग की जमीनें दिलाने के लिए कई बार संभागीय आयुक्त और कलेक्टर से आग्रह कर चुके हैं। पूर्व मंडल रेल प्रबंधक नरेश सालेचा ने भूमि अवाप्ति को लेकर संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा और पूर्व कलेक्टर रोहित गुप्ता के साथ बैठकों में चर्चा की थी। वर्तमान मंडल प्रबंधक पुनीत चावला भी संभागीय आयुक्त और कलेक्टर अवाप्ति प्रक्रिया को शीघ्र पूरा करवाने की मांग कर चुके हैं।
click here
Page#    2591 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.