Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Tamil Nadu Express - தங்களை அன்புடன் வரவேற்கிறது - Swaroop Kutti

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon Jun 1 07:53:13 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
Page#    2931 news entries  <<prev  next>>
आम बजट 2.20 में रीवा-सिंगरौली रेलवे को 110 करोड़, रीवा-सतना के लिए मिले 52करोड़सिंगरौली रेल लाइन एवं रीव-सतना दोहरीकरण के कार्य को मिलेगी गतिरीवा। विंध्य के ड्रीम प्रोजेक्ट रीवा-सिंगरौली रेलवे के लिए 110 करोड़ रुपए का आम बजट में प्रावधान किया गया है। वहीं रीवा-सतना रेलवे दोहरीकरण के लिए 52 करोड़ रुपए का बजट मिला है। इससे अब इन निर्माण कामों में गति आएगी। बताया जा रहा है कि रीवा से सिंगरौली के बीच 165 किलोमीटर रेलमार्ग का निर्माण 24 सौ करौड़ रुपए में वर्ष 2024 तक पूरा किया जाना है। इस परियोजना में रीवा में वर्ष 2009 से काम प्रांरभ हुआ है। रेलवे के सबसे खर्चीले रेल मार्ग में शामिल परियोजना को पूरा करने के लिए पिछले दो आम बजट में राशि प्रदान की गई। इसमें 4 किलोमीटर की छुटिया घाटी में टनल और 12 बड़े ब्रीज का निर्माण किया जा रहा है। इसके प्रथम चरण में 10 किलोमीटर...
more...
सिलपरा तक ट्रेन दौडऩे का लक्ष्य दिया गया है। लेकिन यह समय सीमा समाप्त होने के बाद लक्ष्य पूरा नहीं हो पाया है। वर्तमान में रीवा-गोदिवंगढ़ के बीच दो ओवरब्रीज, १२ रेलवे पुल से अर्थ वर्क एवं सिलपरा और गोविंदगढ़ में प्लेटफार्म बनने काम पूर्णता की ओर है। इसके अतिरिक्त छुहिया घाटी में टनल का निर्माण प्रांरभ है। अब रेलवे बजट लगातार मिलने से काम की गति और बढ़ेगी। रीवा-सतना रेलमार्ग को मिले 52 करोड़ - रीवा-सतना रेलमार्ग दोहरीकरण किया जाना है। पिछले बजट में इसके लिए 48 करोड़ का आवंटन मिला था। इस आम बजट में 52 करोड़ रुपए सरकार ने पश्चिम मध्य रेलवे को दिए हैं। रीवा-सतना रेलवे लाइन का काम दिसंबर 2019 में पूरा होना था। इसमें अभी तक 20 किलोमीटर का निर्माण पूरा हो पाया है। जून 2020 तक रीवा-सतना दोहरीकरण का शेष 30 किलोमीटर का काम पूरा किया जाना है।
Feb 06 (19:51) रेल बजट: गोरखपुर में दो रेलवे लाइनों के लिए मिले 126 करोड़, एनईआर के हिस्से में 2600 करोड़ (www.amarujala.com)
Rail Budget
NER/North Eastern
0 Followers
2115 views

News Entry# 400518  Blog Entry# 4558505   
  Past Edits
Feb 06 2020 (19:51)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Gorakhpur Junction/GKP  
रेल बजट 2020-21 में पूर्वोत्तर रेलवे के हिस्से में करीब 2600 करोड़ रुपये आया है। इस बार सबसे ज्यादा जोर ट्रैक के दोहरीकरण पर दिया गया है। 12 दोहरी लाइन बिछाने के लिए 1400 करोड़ रुपये मिले हैं। इससे डोमिनगढ़-कुसम्ही तीसरी रनिंग लाइन व गोरखपुर-नकहा जंगल डबलिंग की राह आसान हुई है।विज्ञापनगोरखपुर में इन दोनों लाइनों के लिए 126 करोड़ रुपये मिले हैं। इनके बिछने से गोरखपुर जंक्शन पर ट्रेनों के संचालन में आसानी होगी। डोमिनगढ़-कुसम्ही तीसरी लाइन को लेकर पहले से कार्य चल रहा है। इस बजट से कार्य को पूरा करने में आसानी होगी। प्रस्ताव के मुताबिक, इन लाइनों पर दो पुल भी बनने हैं। वहीं गोरखपुर-नकहा जंगल डबलिंग होने से ट्रेनों को चलाने में काफी सहूलियत होगी। खासकर पैसेंजर ट्रेनें समय से चलने लगेंगी। अभी सिंगल लाइन होने से घंटों ट्रेनों को रोक दिया जाता है और इसे लेकर आए दिन हंगामा होता है।विकास कार्यों को तवज्जोपूर्वोत्तर रेलवे...
more...
के बजट को देखें तो इस बार विकास कार्र्यों को ज्यादा तवज्जो दिया गया है। वित्तीय वर्ष 2019-20 में आमान परिवर्तन के लिए 155.10 करोड़, नई रेल लाइन के लिए 226.30 करोड़, संरक्षा कार्य के लिए 170.30 करोड़ और यातायात सुविधाओं के लिए 49.27 करोड़ रुपये मिले थे जबकि इस बार इन सभी योजनाओं के लिए ज्यादा बजट मिले हैं। वहीं नई रेल लाइन में 51 किलोमीटर लंबी ताड़ीघाट-गाजीपुर-मऊ के लिए 240 करोड़ रुपये मिले हैं।एनईआर की बड़ी परियोजनाएं    (करोड़ में)  कार्य विवरण                            बजट        आमान परिवर्तन                          220       दोहरी लाइन                             1400       नई लाइन निर्माण                         240        संरक्षा कार्य (आरओबी, अंडर ब्रिज)   235.72     रेलपथ नवीनीकरण                      250          यातायात सुविधा                        91.32        यात्री सुविधाएं                           119कर्मचारी कल्याण                       26.48आमान परिवर्तन कार्य1. लखनऊ-पीलीभीत वाया सीतापुर एवं लखीमपुर  (262.8 किमी.)    -  100 करोड़2. इन्दारा-दोहरीघाट(34.4 किमी.)    -  100 करोड़3. पीलीभीत-शाहजहांपुर (84.1 किमी.)    -  20 करोड़दोहरीकरण कार्यरूट                         दूरी                                        बजट              1. औड़िहार-मंडुवाडीह (अंशत: 38.8 किमी.)        01 करोड़2. छपरा-बलिया (65 किमी.)    124 करोड़3. गाजीपुर सिटी-औड़िहार (40 किमी.)                43 करोड़4. बलिया-गाजीपुर सिटी (65.1 किमी.)        125 करोड़5. रोजा-सीतापुर कैंट-बुढ़वल (180.8 किमी.)        460 करोड़6. वाराणसी-माधोसिंह-इलाहाबाद (120.2 किमी.)     150 करोड़7. फेफना-इन्दारा, मऊ-शाहगंज (150.28 किमी.)    50 करोड़8. डोमिनगढ़-गोरखपुर-छावनी-कुसुम्ही तीसरी रनिंग लाइन      126 करोड़एवं गोरखपुर-नकहा जंगल दूसरी रनिंग लाइन (21.15 किमी.)9. भटनी-औड़िहार (विद्युतीकरण सहित) 125 किमी.    50 करोड़10. बुढ़वल-गोंडा तीसरी लाइन (61.7 किमी.)        120 करोड़11. औड़िहार-जौनपुर (60 किमी.)        50 करोड़12. मल्हौर-डालीगंज (विद्युतीकरण सहित) 12.6 किमी    101 करोड़नई लाइन निर्माण1. ताड़ीघाट-गाजीपुर-मऊ (51 किमी.)   -  240 करोड़नई रेल लाइन को लगा झटकाबहराइच-श्रावस्ती-बलरामपुर, सहजनवां-दोहरीघाट और आनंदनगर-घुघली नई लाइन बिछाने की उम्मीद को झटका लगा है। इन लाइनों का सर्वे हो चुका है और डीपीआर भी तैयार है। इस बजट में उम्मीद थी कि जमीन अधिग्रहण और मुआवजा आदि के लिए बजट मिलेगा।  तीन रेल लाइनों का होगा आमान परिवर्तनरेल बजट में पूर्वोत्तर रेलवे की तीन रेल लाइनों पर आमान परिवर्तन के लिए 220 करोड़ रुपये का बजट मिला है। इस बजट से लखनऊ-पीलीभीत-सीतपुर-लखीमपुर, इंदारा-दोहरीघाट और पीलीभीत-शाहजहांपुर की छोटी लाइन को बड़ी लाइन में बदला जाएगा।

Rail News
1062 views
Feb 07 (11:30)
Kishor^~   8473 blog posts   124 correct pred (63% accurate)
Re# 4558505-1            Tags   Past Edits
Good decision by RM and Ministry.
To have tracks is right way for development, instead of more trains, without tracks, waiting, slowly running , remaining underutilised
Feb 06 (19:08) वर्षों इंतजार के बाद बरौनी जंक्शन व गढ़हरा यार्ड के विकास को लगेंगे पंख (m.jagran.com)
Rail Budget
ECR/East Central
0 Followers
2255 views

News Entry# 400511  Blog Entry# 4558465   
  Past Edits
Feb 06 2020 (19:08)
Station Tag: Hathidah Junction/HTZ added by Amish Kumar^~/1702584

Feb 06 2020 (19:08)
Station Tag: Dinkar Gram Simaria/DKGS added by Amish Kumar^~/1702584

Feb 06 2020 (19:08)
Station Tag: Garhara Goods Marsha/GHZ added by Amish Kumar^~/1702584

Feb 06 2020 (19:08)
Station Tag: Barauni Junction/BJU added by Amish Kumar^~/1702584
गढ़हरा, बेगूसराय। उत्तर बिहार एवं पूर्व मध्य रेलवे के सोनपुर मंडल के महत्वपूर्ण स्टेशनों में शुमार बरौनी जंक्शन का 2020-21 के बजट में विशेष ख्याल रखा गया है। इसके साथ ही गढ़हरा यार्ड एवं दिनकर ग्राम स्टेशन सिमरिया का भी कायाकल्प होने की बात विभागीय पदाधिकारी के द्वारा कही जा रही है। एक फरवरी को लोकसभा में पेश की गई बजट में पूर्व मध्य रेलवे का विकास, विस्तार एवं आधुनिकीकरण कार्य में बरौनी जंक्शन पर यात्री सुविधा के विकास के लिए 2 करोड़, 14 किमी लंबे राजेन्द्र पुल के समानांतर बनने वाले नए पुल निर्माण के लिए 101,72 किमी हाजीपुर- बछवाड़ा रेल लाइन के दोहरीकरण के लिए 100 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। इसके साथ ही प्रमुख प्रस्तावित स्टेशनों पर प्लेटफार्मों के उच्चीकरण व ऊपरी पुलों को 78 करोड़, स्टेशनों पर स्वचालित टिकट विक्रय के लिए मशीन लगाने के लिए एक करोड़ एवं 58 विभिन्न समपार फाटक इंटरलॉकिग...
more...
कार्य को ले 10 करोड़ की राशि आवंटित कर दी गई है।
प्राप्त जानकारी के लिए अनुसार नई रेल लाइन, अमान परिवर्तन, विद्युतीकरण सहित रेल यात्री सुविधाओं से संबंधित कार्य के लिए पूर्व मध्य रेल को कैपिटल एक्पेंडीचर बजटीय सहयोग के रूप में 4614 करोड़ की राशि का आवंटन किया गया है। इस बार के बजट में स्टेशन परिसर में रेल यात्री सुविधा, स्टेशन आधुनिकीकरण, ट्रेक नवीनीकरण, नए रेल लाइन, रेल लाइन दोहरीकरण, पुल एवं सड़क संबंधी कार्य, सड़क समपार फाटक कार्य का विशेष ख्याल रखते हुए इन कार्यों को पूरा करने के लिए प्रयाप्त राशि आवंटित की गई है।
हाजीपुर जोन के मुख्य जनसंपर्क पदाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि बरौनी जंक्शन का विस्तारीकरण एवं आधुनिकीकरण, गढ़हरा यार्ड का रिमोर्डलिग, बरौनी- दिनकर ग्राम स्टेशन सिमरिया- हथीदह -मोकामा डबल लाइन रेल ब्रिज, सिमरिया स्टेशन का आधुनिकीकरण कार्य के साथ ही बहुत जल्द बरौनी जंक्शन के प्लेटफार्म में बढ़ोत्तरी व रेलयात्रियों के लिए स्टेशन परिसर में अत्याधुनिक सुविधा की दिशा में और भी कार्य किए जाएंगे।
Feb 06 (17:44) Kerala’s rail dreams come a cropper (www.thehindu.com)
Rail Budget
SR/Southern
0 Followers
3888 views

News Entry# 400507  Blog Entry# 4558403   
  Past Edits
Feb 06 2020 (17:45)
Station Tag: Ernakulam Junction (South)/ERS added by Rail Fanning~/718429

Feb 06 2020 (17:45)
Station Tag: Palakkad Junction (Palghat)/PGT added by Rail Fanning~/718429

Feb 06 2020 (17:45)
Station Tag: Thiruvananthapuram Central (Trivandrum)/TVC added by Rail Fanning~/718429
Meagre allocation in budget for prioritised projects such as doubling works, Nemom
terminal
Kerala has suffered a setback on the rail front with the Union budget providing only paltry
allocation forits prioritised projects, which include completion of doubling of the
Ettumanur-Kottayam
...
more...
and Kottayam-Chingavanam corridors, Thiruvananthapuram
Central-Kanyakumari line, and the coaching terminal at Nemom.
The Pink Book of Railways, which catalogues works to be executed this year and spells out
allocations , shows that the priorities of the Thiruvananthapuram and Palakkad rail
divisions and the wish list submitted by the State government for development of the rail
network have been ignored.
Bias against State
The ‘discrimination’ of the State is evident as doubling works in Tamil Nadu have received
₹700 crore. Karnataka also has received a substantial allocation.
Forthe ₹500 crore sought for completing the doubling of the Ettumanur-Kottayam and
Kottayam-Chingavanam corridors, Thiruvananthapuram Central- Kanyakumari line, and
the coaching terminal at Nemom, the allocation given is ₹93.50 crore.
With this outlay,railway officials say only the doubling via Kottayam can be completed
partially by arranging another ₹12 crore sanctioned for other works this year. A sum of ₹200
crore is needed for completing the doubling up to Ernakulam in December 2021.
Against ₹300 crore sought for doubling of the rail line to Kanyakumari, the allocation
provided is ₹5 crore and ₹128.50 crore through extra budgetary resources (loan from LIC).Doubling non-starter
Officials say doubling works will be confined to paper as land acquisition cost alone will
come to ₹700 crore. The government has sought ₹207 crore from Railways for acquiring
14.80 ha for doubling 7 km from Thiruvananthapuram Central to Nemom and forthe
coaching terminal. The funds from the EBR can be taken only afterland is acquired forthe
project.
A sum of ₹50 lakh has been provided forthe coaching terminal at Nemom from the
“umbrella project head’ of Southern Railway.
The doubling of 18.3 km from Ambalappuzha to Haripad has got an outlay of ₹13.95 crore .
Token provision has been given for patch doubling of Ernakulam-Kumbalam, KumbalamTuravur, Turavur-Ambalappuzha, and Shoranur-Ernakulam third line underthe head
doubling.
The demand for splitting intermediate block sections (IBS) of Alappuzha-Ambalappuzha
(12 km) and Thurvavur-Kumbalam (17 km) for handling more trains has been ignored. But,
IBS has been approved for Kumbalam-Manjeswaram, Tikkottui-Vadakara, and VadakaraMahe. Additional platform at the Kannur station and automated coach washing facility at
Ernakulam and Kochuveli have found place.
Complete track renewal, through railrenewal and turnoutrenewal, has been given funds.
Road safety works pertaining to level crossings,road overbridges and road underbridges,
and funds for creating facilities in workshops and production lines have got outlay.

3 Public Posts - Thu Feb 06, 2020

2406 views
Feb 06 (19:42)
kedarc68   659 blog posts
Re# 4558403-5            Tags   Past Edits
Railways has stopped procuring land for new projects, and has transferred responsibility to its partners in projects. States like Kerala, Karnataka, Goa and Andhra have been less forthcoming with land for projects, and have thus suffered. Kerala especially flatly refused to acquire land for railways, while on the other hand it had been planning for a separate high speed corridor. Don't know if and when the high speed corridor will benefit its people.

2181 views
Feb 07 (11:38)
Rail Fanning~   4520 blog posts
Re# 4558403-6            Tags   Past Edits
Not sure if the high speed rail corridor will every see the light of the day especially in a small densely populated state like KL where land aquisition is a big bottleneck. We have still not been able to double the line between Ernakulam and Trivandrum which is going on since the last decade or so....in these circumstances not sure why so much time and effort is being spent on high speed rail project. Here is a link to an article where E Sreedharan has also expressed doubts over this project ( especially on cost and massive rehabilitation )
click here

2079 views
Feb 08 (14:29)
Hareesh Mangalam^~   4426 blog posts   43343 correct pred (78% accurate)
Re# 4558403-8            Tags   Past Edits
This high speed rail will never happen in kerala. The state which dont even have money to pay salary to its employees, can just dream about such projects.
this announcement is just to allocate crores of rupees to some corporations headed by their own people,in the name of project study, feasibility study, detailed project report etc.

1941 views
Feb 08 (17:19)
vikramamin   157 blog posts
Re# 4558403-9            Tags   Past Edits
I totally agree with Hareesh. High speed rail project is just an eye wash. On thing i want to tell you is that Kerala should be happy that railway penetration is good when you compare with other Southern States. I agree it is a small state. You will get shocked if you want to know about Karnataka. This state has the lowest railway penetration and electrification is only 7% when compared to 73% in Kerala.

1926 views
Feb 08 (22:13)
MCPNBR~   3819 blog posts   158 correct pred (84% accurate)
Re# 4558403-11            Tags   Past Edits
The credit goes to Britishers......
Feb 06 (12:12) Railway: इस रेल परियोजना के लिए मिले 200 करोड़ रुपए, जगी उम्मीद (www.patrika.com)
Rail Budget
SECR/South East Central
0 Followers
5392 views

News Entry# 400491  Blog Entry# 4558162   
  Past Edits
Feb 06 2020 (12:13)
Station Tag: Mandla Fort/MFR added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735

Feb 06 2020 (12:13)
Station Tag: Nainpur Junction/NIR added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735

Feb 06 2020 (12:13)
Station Tag: Nainpur Junction/NIR added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735

Feb 06 2020 (12:13)
Station Tag: Seoni/SEY added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735

Feb 06 2020 (12:13)
Station Tag: Chhindwara Junction/CWA added by CHHINDWARATHECORNCITY/2060735
छिंदवाड़ा. रेलवे बोर्ड ने दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर मंडल के अंतर्गत छिंदवाड़ा-नैनपुर मंडला फोर्ट रेल परियोजना के लिए वित्तीय वर्ष 2020-21 दो सौ करोड़ रुपए बजट स्वीकृत किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा एक फरवरी को पेश किए गए आम बजट एवं रेल बजट के बाद से ही रेलवे अधिकारी बजट से संबंधित पिंक बुक का इंतजार कर रहे थे। हालांकि इस बार रेलवे बोर्ड ने पिंक बुक जारी करने में तीन दिन की देरी की। बुधवार को रेलवे बोर्ड ने मंडलवार बजट को लेकर पिंक बुक में संपूर्ण जानकारी भेजी है। जिसमें गेज कन्वर्जन में वित्तीय वर्ष 2020-21 में छिंदवाड़ा-नागपुर रेलवे परियोजना(149 किमी) के लिए दस करोड़ 50 लाख रुपए वहीं छिंदवाड़ा-नैनपुर-मंडला फोर्ट रेल परियोजना के लिए 200 करोड़ रुपए प्रस्तावित परिव्यय निर्धारित किया गया है। हालांकि गेज कन्वर्जन अधिकारी इससे खुश नहीं हैं। अधिकारियों का अनुमान था कि छिंदवाड़ा-नैनपुर-मंडला फोर्ट रेल परियोजना के लिए 400 करोड़ रुपए...
more...
स्वीकृत किए जाएंगे। इसके अलावा नैनपुर-छिंदवाड़ा रेलमार्ग पर चौकीदार रहित समपारों पर ओपन कट पद्धति से सीमित ऊंचाई के भूमिगत 20 पारपथ बनाने, नागपुर से छिंदवाड़ा रेलमार्ग पर समपार संख्या 9,12,45,47,53 और 103 के बदले सबवे कार्य के लिए बजट स्वीकृत किया गया है। रेलवे ने दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत नई लाइनें(निर्माण), आमान परिवर्तन, यातायात सुविधाएं-यार्ड के ढांचे में परिवर्तन तथा अन्य कार्य, संगणकीकरण, चल स्टाक, सडक़ संरक्षा कार्य-समपार, रेलपथ नवीकरण, पुल, सुरंग व पहुंच सडक़ संबंधी कार्य, सिग्नल और दूरसंचार संबंधी कार्य, बिजली संबंधी अन्य कार्य, कर्मचारी कल्याण, यात्री सुविधाएं सहित अन्य कार्यों के लिए बजट स्वीकृत किया है।बजट के लिए ढाई माह करना होगा इंतजार छिंदवाड़ा-नैनपुर-मंडला फोर्ट रेल परियोजना में कार्यों के लिए वर्तमान में बजट का टोटा है। रेलवे बोर्ड ने भले ही 2 सौ करोड़ रुपए बजट स्वीकृत किया है, लेकिन वह गेज कन्वर्जन विभाग को नए वित्तीय वर्ष 2020-21 में अप्रैल के प्रथम या दूसरे सप्ताह में ही मिलेगा। गेज कन्वर्जन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि परियोजना को रफ्तार देने के लिए रेलवे बोर्ड को फरवरी माह में संभवत: बजट देना चाहिए। अधिकारियों ने इसके लिए बोर्ड को पत्र भी लिखा है।रिवाइज बजट पर टिकी उम्मीद रेलवे बोर्ड द्वारा कार्यों के लिए सभी रेल मंडल से समय-समय पर बजट से संबंधित लेखा-जोखा मंगाया जाता है। इसी के आधार पर हर वित्तीय वर्ष में अगस्त माह में रिवाइज बजट भी बनता है। गेज कन्वर्जन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि किसी मंडल में अगर अधिक बजट है तो उसे रेलवे बोर्ड दूसरे मंडल में हो रहे कार्यों में सम्मिलित कर सकती है। इसके अलावा बजट को घटा और बढ़ा भी सकती है। गेज कन्वर्जन विभाग को उम्मीद है कि रिवाइज बजट में रेलवे बोर्ड जरूरत को देखते हुए छिंदवाड़ा-नैनपुर-मंडला फोर्ट रेल परियोजना के लिए और बजट स्वीकृत करेगी।

Rail News
3425 views
Feb 06 (12:57)
VOID kaun hai^~   1980 blog posts   1 correct pred (33% accurate)
Re# 4558162-1            Tags   Past Edits
Iski umeed nhi thi...
Page#    2931 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy