News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Thu Jul 27, 2017 00:04:40 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Thu Jul 27, 2017 00:04:40 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    19900 news entries  <<prev  next>>
  
Yesterday (08:05)  दो दिन टेन संचालन रहेगा प्रभावित (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 309538   Blog Entry# 2362886     
   Tags   Past Edits
Jul 26 2017 (08:05)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Posted by: दक्षिण पूर्व रेलवे^~  1277 news posts
वाराणसी : वाराणसी-मंडुआडीह-माधोसिंह रेलखंड पर 28 व 29 जुलाई को टेनों का परिचालन प्रभावित रहेगा। दोनों दिन दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक मंडुआडीह स्टेशन के समीप निर्माणाधीन ओवरब्रिज पर गर्डर लगाया जाएगा। इस कारण सीतामढ़ी से आनंद विहार जाने वाली लिच्छवी एक्सप्रेस डेढ़ घंटे रोकी जाएगी। लिच्छवी एक्सप्रेस प्रभावित होगी, वहीं मंडुआडीह से इलाहाबाद सिटी को जाने वाली 55127 व 55128 नंबर की पैसेंजर गाड़ी दोनों दिन निरस्त की गई है। इसके अलावा कार्य के दौरान लेट से आने वाली गाड़ियां भी प्रभावित होंगी। सामान्य तौर पर रेल सेवा में कोई बदलाव नहीं किया गया है।वाराणसी : वाराणसी-मंडुआडीह-माधोसिंह रेलखंड पर 28 व 29 जुलाई को टेनों का परिचालन प्रभावित रहेगा। दोनों दिन दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक मंडुआडीह स्टेशन के समीप निर्माणाधीन ओवरब्रिज पर गर्डर लगाया जाएगा। इस कारण सीतामढ़ी से आनंद विहार जाने वाली लिच्छवी एक्सप्रेस डेढ़ घंटे रोकी जाएगी। लिच्छवी एक्सप्रेस प्रभावित होगी, वहीं मंडुआडीह...
more...
से इलाहाबाद सिटी को जाने वाली 55127 व 55128 नंबर की पैसेंजर गाड़ी दोनों दिन निरस्त की गई है। इसके अलावा कार्य के दौरान लेट से आने वाली गाड़ियां भी प्रभावित होंगी। सामान्य तौर पर रेल सेवा में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

  
670 views
Yesterday (08:57)
Hindi our Mother English our Wife Love Both 😎^~   40436 blog posts   28491 correct pred (77% accurate)
Re# 2362886-1            Tags   Past Edits
Sb aati hi late h

  
100 views
Yesterday (20:55)
kshitij~   2633 blog posts   3005 correct pred (76% accurate)
Re# 2362886-2            Tags   Past Edits
Finally over bridge nearing completion
  
Yesterday (08:02)  पानी-पानी रेलवे स्टेशन, पटरी फिर डूबी (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 309536     
   Tags   Past Edits
Jul 26 2017 (08:02)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Posted by: दक्षिण पूर्व रेलवे^~  1277 news posts
जागरण संवाददाता, वाराणसी : लगातार दूसरे दिन मंगलवार को भी झमाझम बारिश से कैंट रेलवे स्टेशन पानी-पानी हो गया। दूसरे दिन भी प्लेटफार्म नंबर एक, चार व पांच की पटरियों पानी में डूब गईं। बारिश बंद होने के घंटों बाद पानी पटरी से नीचे उतरा। सकरुलेटिंग एरिया, आश्रय भवन के सामने व रेलवे की एईएन कालोनी में जल जमाव हो गया। 1सीवर चोक - रोड्रवेज के सामने रेलवे का सीवर ट्रक के धंस जाने से चोक करा गया। इस कारण बारिश का पानी निकल नहीं पाया। रेलवे प्रशासन ने आनन-फानन में पंप लगाकर सकरुलेटिंग एरिया में भरे पानी को निकालने में जुटा रहा।1झरना बने शेड - बारिश के दौरान प्लेटफार्म के शेड झरने की तरह हो गए। बारिश का पानी यात्रियों के उपर गिरने लगा। टेनों की प्रतीक्षा में खड़े यात्री प्रथम श्रेणी हाल व बुकिंग हाल में आ गए। इसके चलते दोनों हाल में यात्रियों की भीड़ जाम हो गई।...
more...
1रेलकर्मियों के परिजन भी परेशान - वर्षा का पानी रेलवे क्वाटर में भर गया। इसके चलते रेलकर्मियों के परिजन हलकान हुए। सकरुलेटिंग में पंप लगने के बाद भी देर रात तक आवासों में पानी भरा रहा। 1बारिश से शहर के कई इलाकों में दोपहर होते-होते यातायात व्यवस्था चरमरा गई, देर शाम तक जाम लगा रहा। रोडवेज व कैंट रेलवे स्टेशन परिसर, नई सड़क, जैतपुरा, गोदौलिया, मैदागिन, गिरजाघर, नई सड़क, लक्सा, मलदहिया, पिपलानी कटरा, सिगरा, कमच्छा, रथयात्र समेत तमाम इलाकों में जलजमाव हो गया। इससे ये इलाके भीषण जाम की चपेट में आ गए। विश्वेश्वरगंज व जैतपुरा के इलाके में कई दुकानों और घरों में सड़क से पानी लोगों के घरों में घुस गया। इससे काफी नुकसान हुआ।1जागरण संवाददाता, वाराणसी : लगातार दूसरे दिन मंगलवार को भी झमाझम बारिश से कैंट रेलवे स्टेशन पानी-पानी हो गया। दूसरे दिन भी प्लेटफार्म नंबर एक, चार व पांच की पटरियों पानी में डूब गईं। बारिश बंद होने के घंटों बाद पानी पटरी से नीचे उतरा। सकरुलेटिंग एरिया, आश्रय भवन के सामने व रेलवे की एईएन कालोनी में जल जमाव हो गया। 1सीवर चोक - रोड्रवेज के सामने रेलवे का सीवर ट्रक के धंस जाने से चोक करा गया। इस कारण बारिश का पानी निकल नहीं पाया। रेलवे प्रशासन ने आनन-फानन में पंप लगाकर सकरुलेटिंग एरिया में भरे पानी को निकालने में जुटा रहा।1झरना बने शेड - बारिश के दौरान प्लेटफार्म के शेड झरने की तरह हो गए। बारिश का पानी यात्रियों के उपर गिरने लगा। टेनों की प्रतीक्षा में खड़े यात्री प्रथम श्रेणी हाल व बुकिंग हाल में आ गए। इसके चलते दोनों हाल में यात्रियों की भीड़ जाम हो गई। 1रेलकर्मियों के परिजन भी परेशान - वर्षा का पानी रेलवे क्वाटर में भर गया। इसके चलते रेलकर्मियों के परिजन हलकान हुए। सकरुलेटिंग में पंप लगने के बाद भी देर रात तक आवासों में पानी भरा रहा। 1बारिश से शहर के कई इलाकों में दोपहर होते-होते यातायात व्यवस्था चरमरा गई, देर शाम तक जाम लगा रहा। रोडवेज व कैंट रेलवे स्टेशन परिसर, नई सड़क, जैतपुरा, गोदौलिया, मैदागिन, गिरजाघर, नई सड़क, लक्सा, मलदहिया, पिपलानी कटरा, सिगरा, कमच्छा, रथयात्र समेत तमाम इलाकों में जलजमाव हो गया। इससे ये इलाके भीषण जाम की चपेट में आ गए। विश्वेश्वरगंज व जैतपुरा के इलाके में कई दुकानों और घरों में सड़क से पानी लोगों के घरों में घुस गया। इससे काफी नुकसान हुआ।1अंधरापुल पर भरा बरसाती पानी, लोग हुए हलकान ’ जागरण
  
Yesterday (07:57)  ट्रेन से गिरे पूर्व सीनियर डीसीएम, कटा पैर (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsECR/East Central  -  

News Entry# 309535     
   Tags   Past Edits
Jul 26 2017 (07:57)
Station Tag: Muzaffarpur Junction/MFP added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Posted by: दक्षिण पूर्व रेलवे^~  1277 news posts
जासं, मुजफ्फरपुर : प्लेटफॉर्म संख्या चार पर मंगलवार को सरयू- जमुना एक्सप्रेस की एसी बोगी में चढ़ने के दौरान पूर्व मध्य रेलवे के एक सेवानिवृत्त रेल अधिकारी ट्रैक पर गिर पड़े। इस दौरान ट्रेन खुल गई, जिससे उनका पैर कट गया। प्लेटफॉर्म पर तैनात टीटीई व यात्रियों ने उन्हें निकाला। सूचना मिलने पर टीटीई, पोर्टर व स्टेशन मास्टर पहुंचे और सदर अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद दूसरे अस्पताल रेफर कर दिया। 1वैशाली से जाने से कर दिया था मना : कर्मियों ने बताया कि सोनपुर व समस्तीपुर मंडल के पूर्व सीनियर डीसीएम व मुख्यालय में डिप्टी सीसीएम क्लेम से सेवानिवृत्त बीएनपी वर्मा दरभंगा जाने वाली बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से जंक्शन पहुंचे। स्टेशन अधीक्षक कार्यालय में काफी देर बैठ कर निजी कार्य से बाहर निकल गए। कुछ देर बाद रेलवे प्रशिक्षण केंद्र के एक अधिकारी के साथ वापस जंक्शन पहुंचे। उस वक्त नई दिल्ली जाने वाली...
more...
वैशाली एक्सप्रेस आने वाली थी। कर्मियों ने उसी से जाने को कहा, लेकिन इन्कार कर दिया। थोड़ी देर में सरयू जमुना एक्सप्रेस प्लेटफॉर्म संख्या चार पर आकर रुकी। वे ट्रेन पकड़ने के लिए दौड़ पड़े। फुटओवर ब्रिज पार कर प्लेटफॉर्म संख्या चार पर पहुंचे। उन्होंने एसी में चढ़ने की कोशिश की। इसी बीच ट्रेन खुल गई। इससे पायदान से पैर फिसल जाने से चपेट में आ गए।जासं, मुजफ्फरपुर : प्लेटफॉर्म संख्या चार पर मंगलवार को सरयू- जमुना एक्सप्रेस की एसी बोगी में चढ़ने के दौरान पूर्व मध्य रेलवे के एक सेवानिवृत्त रेल अधिकारी ट्रैक पर गिर पड़े। इस दौरान ट्रेन खुल गई, जिससे उनका पैर कट गया। प्लेटफॉर्म पर तैनात टीटीई व यात्रियों ने उन्हें निकाला। सूचना मिलने पर टीटीई, पोर्टर व स्टेशन मास्टर पहुंचे और सदर अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद दूसरे अस्पताल रेफर कर दिया। 1वैशाली से जाने से कर दिया था मना : कर्मियों ने बताया कि सोनपुर व समस्तीपुर मंडल के पूर्व सीनियर डीसीएम व मुख्यालय में डिप्टी सीसीएम क्लेम से सेवानिवृत्त बीएनपी वर्मा दरभंगा जाने वाली बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से जंक्शन पहुंचे। स्टेशन अधीक्षक कार्यालय में काफी देर बैठ कर निजी कार्य से बाहर निकल गए। कुछ देर बाद रेलवे प्रशिक्षण केंद्र के एक अधिकारी के साथ वापस जंक्शन पहुंचे। उस वक्त नई दिल्ली जाने वाली वैशाली एक्सप्रेस आने वाली थी। कर्मियों ने उसी से जाने को कहा, लेकिन इन्कार कर दिया। थोड़ी देर में सरयू जमुना एक्सप्रेस प्लेटफॉर्म संख्या चार पर आकर रुकी। वे ट्रेन पकड़ने के लिए दौड़ पड़े। फुटओवर ब्रिज पार कर प्लेटफॉर्म संख्या चार पर पहुंचे। उन्होंने एसी में चढ़ने की कोशिश की। इसी बीच ट्रेन खुल गई। इससे पायदान से पैर फिसल जाने से चपेट में आ गए।
  
Yesterday (07:52)  दिल्ली-हावड़ा डाउन ट्रैक डेढ़ घंटे रहा बाधित (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNCR/North Central  -  

News Entry# 309533     
   Tags   Past Edits
Jul 26 2017 (07:52)
Station Tag: Khaga/KGA added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Jul 26 2017 (07:52)
Station Tag: Fatehpur/FTP added by दक्षिण पूर्व रेलवे^~/1421836

Posted by: दक्षिण पूर्व रेलवे^~  1277 news posts
खागा (फतेहपुर) : दिल्ली-हावड़ा रेलमार्ग में निर्माणाधीन ओवरब्रिज से वायरब्रेटर (कंपन यंत्र) ओएचई पर जा गिरा। करंट के कारण तेज धमाका होने से आरओबी निर्माण में लगे मजदूरों में भगदड़ मच गई। फाल्ट से एक्सप्रेस ट्रेनें व मालगाड़ियां जहां की तहां खड़ी हो गईं। एक घंटे 20 मिनट तक डाउन ट्रैक ठप रहा। किशुनपुर रोड स्थित रेलवे क्रासिंग में ओवरब्रिज निर्माण चल रहा है। मंगलवार अपराह्न् 3:50 बजे आरओबी में काम कर रहे एक मजदूर के हाथ से छूटकर वायब्रेटर रेलवे लाइन की ओएचई के ऊपर गिर गया। आरओबी से गिरा उपकरण हाईवोल्टेज करंट के संपर्क में जैसे ही आया तेज धमाका हो गया। कई बार ओएचई में तेज स्पार्किंग के साथ धमाके होते रहे। आरओबी निर्माण में जुटे मजदूर भाग खड़े हुए। स्टेशन अधीक्षक योगेंद्र सिंह ने तुरंत सूचना देकर सतनरैनी-कटोंघन के बीच ओएचई में करंट बंद कराया। अफसरों को खबर देकर वह मौके पर पहुंचे। टीआई गिरीश कुमार उपाध्याय,...
more...
आरओबी निर्माण खंड के अधिशासी अभियंता भी कुछ देर बाद पहुंचे। एक घंटा 20 मिनट बाद वायब्रेटर का हिस्सा बाहर निकाल सप्लाई चालू कराई गई। 1 टेनों के पहिए थमे : डाउन ट्रैक में बिजली गुल होने की वजह से कई ट्रेनें कटोंघन से सतनरैनी के बीच खड़ी हो गईं। स्टेशन अधीक्षक योगेंद्र सिंह ने बताया कि खागा रेलवे क्रासिंग में खड़ी मालगाड़ी के अलावा रास्ते में खड़ी मूरी एक्सप्रेस, कालका एक्सप्रेस, नार्थ-ईस्ट एक्सप्रेस, कटियार एक्सप्रेस, सीमांचल एक्सप्रेस आदि गाड़ियों को फाल्ट दुरुस्त होने के बाद रवाना किया गया।खागा (फतेहपुर) : दिल्ली-हावड़ा रेलमार्ग में निर्माणाधीन ओवरब्रिज से वायरब्रेटर (कंपन यंत्र) ओएचई पर जा गिरा। करंट के कारण तेज धमाका होने से आरओबी निर्माण में लगे मजदूरों में भगदड़ मच गई। फाल्ट से एक्सप्रेस ट्रेनें व मालगाड़ियां जहां की तहां खड़ी हो गईं। एक घंटे 20 मिनट तक डाउन ट्रैक ठप रहा। किशुनपुर रोड स्थित रेलवे क्रासिंग में ओवरब्रिज निर्माण चल रहा है। मंगलवार अपराह्न् 3:50 बजे आरओबी में काम कर रहे एक मजदूर के हाथ से छूटकर वायब्रेटर रेलवे लाइन की ओएचई के ऊपर गिर गया। आरओबी से गिरा उपकरण हाईवोल्टेज करंट के संपर्क में जैसे ही आया तेज धमाका हो गया। कई बार ओएचई में तेज स्पार्किंग के साथ धमाके होते रहे। आरओबी निर्माण में जुटे मजदूर भाग खड़े हुए। स्टेशन अधीक्षक योगेंद्र सिंह ने तुरंत सूचना देकर सतनरैनी-कटोंघन के बीच ओएचई में करंट बंद कराया। अफसरों को खबर देकर वह मौके पर पहुंचे। टीआई गिरीश कुमार उपाध्याय, आरओबी निर्माण खंड के अधिशासी अभियंता भी कुछ देर बाद पहुंचे। एक घंटा 20 मिनट बाद वायब्रेटर का हिस्सा बाहर निकाल सप्लाई चालू कराई गई। 1 टेनों के पहिए थमे : डाउन ट्रैक में बिजली गुल होने की वजह से कई ट्रेनें कटोंघन से सतनरैनी के बीच खड़ी हो गईं। स्टेशन अधीक्षक योगेंद्र सिंह ने बताया कि खागा रेलवे क्रासिंग में खड़ी मालगाड़ी के अलावा रास्ते में खड़ी मूरी एक्सप्रेस, कालका एक्सप्रेस, नार्थ-ईस्ट एक्सप्रेस, कटियार एक्सप्रेस, सीमांचल एक्सप्रेस आदि गाड़ियों को फाल्ट दुरुस्त होने के बाद रवाना किया गया।
  
Yesterday (06:48)  PM undertakes aerial survey of flood-hit areas in Gujarat (www.thehindu.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsWR/Western  -  

News Entry# 309517     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  130913 news posts
Flood situation continues to remain grim in north Gujarat due to incessant rains.
As the flood situation in Gujarat continues to remain grim with incessant rains, Prime Minister Narendra Modi on Tuesday rushed to his home state to review the situation and conduct an aerial survey in flood hit districts in North Gujarat.
More than 30,000 people have been relocated from low lying areas while around 2,500 people who were stranded in flood waters were rescued.
The
...
more...
Army, BSF along with the National Disaster Response Force (NDRF) and State Disaster Response Force (SRDF) carried out the rescue operations.
Thousands of people still remain stranded due to incessant rains in the region.
Indian Air Force personnel in rescue operation in a flood-hit village in Sabarkatha district, Gujarat on Tuesday.     With the Meteorological department issuing a warning of extremely heavy rains in pockets in North Gujarat, the rescue operations are likely to be hampered. The district administrations in Gandhinagar, Banaskantha, Patan, Sabarkantha and Arvalli have ordered closure of schools on Wednesday.
ALSO READ
Over 15,000 people relocated in Gujarat   Meanwhile, after landing at Ahmedabad airport, Mr. Modi and his additional Principal Secretary P.K. Mishra held a high level meeting with Chief Minister Vijay Rupani to take stock of the situation and also assured all help from the centre.
At the meeting, a detailed presentation on heavy rain situation was made by the Principal Secretary (Revenue) Pankaj Kumar.
Even on Tuesday, hundreds of villages in Patan, Banaskantha and Sabarkantha are marooned, making the rescue operations possible only through boats or air lifting through choppers.
Most of the roads including national and state highways passing through the region have been washed away and are inundated while rail tracks have also been damaged, forcing the Railways authorities to cancel several trains including Ahmedabad Delhi Rajdhani Express.
The Indian Army rescued over 200 people from various locations using Indian Air Force (IAF) MI-17 V% choppers. Besides rescuing people stranded in flood waters, the choppers also distributed food packets at designated places to aid people, as their houses have been inundated in waist deep waters.
According to Mr. Pamkaj Kumar, more than two lakh food packets have been sent to Banaskantha, worst hit district, for distribution from various places.
During the last 24 hours, a dozen of Banaskantha, Patan and Sabarkantha districts received over 200 mm of rainfall, stated in a release issued by the State Emergency Operations Centre (SEOC)
Dantiwada in Banaskantha remained the worst-hit with a whopping 463 mm rainfall, followed by Palanpur (380 mm), Vadgam(357 mm), Amirgadh(337 mm) and Lakhani (305 mm). Two main dams in Banaskantha, Dharoi and Sipu are overflowing, forcing the authorities to release waters in downstream rivers.
Page#    19900 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.