News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Sun Sep 24, 2017 16:06:14 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Sun Sep 24, 2017 16:06:14 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    21078 news entries  <<prev  next>>
  
Sep 20 2017 (17:28)  लखनऊ-गोंडा रेलखंड पर 24 सिलापट टूटे मिले, हुक भी गायब (www.amarujala.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNER/North Eastern  -  

News Entry# 317523   Blog Entry# 2414064     
   Past Edits
Sep 20 2017 (17:28)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Gonda Junction/GD  
 
 
लखनऊ-गोंडा रेलखंड पर 24 स्लीपर टूटे, हुक गायब
करनैलगंज के प्लेटफार्म नंबर दो से 60 ट्रेनों का प्रतिदिन होता है आवागमन
दो दर्जन फास्ट ट्रेन भी इस ट्रैक से गुजारी जाती हैं
करनैलगंज(गोंडा)। एक के बाद एक हो रहे रेल हादसे के बाद भी रेल विभाग की व्यवस्था पटरी पर नहीं आ रही है। लापरवाही ऐसी की देखने के बाद होश उड़ जाए।
...
more...
जिस ट्रैक पर पूरे दिन में करीब पांच दर्जन से अधिक ट्रेनों को संचालन होता हो उसकी करीब दो दर्जन स्लीपर टूटे एवं आधा दर्जन से अधिक स्लीपरों से पटरी को रोकने वाले हुक गायब हैं। जिससे कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकती है।
रेलवे के अधिकारी व कर्मचारी किस तरह से विभाग के कार्य को अंजाम देने के साथ निगरानी करते हैं इसका नमूना सोमवार की शाम को देखने को मिला जब करनैलगंज रेलवे स्टेशन से मात्र 50 मीटर की दूरी पर ही मुख्य प्लेट फार्म नम्बर दो की पटरी के नीचे लगने वाले दर्जनों स्लीपर टूटे मिले हैं। आधा दर्जन से अधिक स्लीपरों से पटरी का बैलेंस बनाने के लिए लगने वाला हुक भी गायब मिला। एक दर्जन स्लीपर पटरी के नीचे चकनाचूर पड़े हैं। यही नहीं देखने के बाद लगता है कि यह स्लीपर महीनों से टूटे प्रतीत हो रहे हैं, जबकि इस ट्रैक से 24 घंटे में करीब 60 से अधिक ट्रेनें गुजरती हैं। जिसमें करीब दो दर्जन से अधिक फास्ट ट्रेनें हैं जिनका स्टापेज इस स्टेशन पर नहीं है। आसपास मौजूद जानवरों को चराने वाले लोगों ने बताया कि जब इस पटरी पर ट्रेन गुजरती है तो आवाज भी अधिक होती है तथा पटरी में भी फैलाव होता है, जबकि यह स्थल स्टेशन से मात्र 50 मीटर की दूरी एवं कर्मचारियों के आवास तथा स्टाक गोदाम के सामने ही है। मगर किसी भी अधिकारी को अब तक इसकी भनक तक नहीं लगी। इस सम्बंध में स्टेशन के अधिकारियों ने कुछ भी बोलने से इनकार किया।
इनसेट
क्या बोल रहे जिम्मेदार अधिकारी-
स्टेशन अधीक्षक दिनेश स्वर्णकार ने मामले की जानकारी होने से इनकार करते हुए कोई भी स्टेटमेंट देने से मना किया। डीआरएम के मोबाइल नम्बर 9794842000 पर कर्मचारी ने काल रिसीब किया और साहब से बाद में बात होगी। पीआरओ साहब से बात कर लीजिए, यह सलाह मिली। डीआरएम के पीआरओ आलोक श्रीवास्तव से ने बताया कि लगातार मानीटरिंग कराई जाती है। सिलापट टूटा होने या हुक न होने का सवाल ही नहीं उठता है। उसको दिखवाया जा रहा है। फिर भी वरिष्ठ मंडल इंजीनियर से बात करने की सलाह दी। वरिष्ठ मंडल इंजीनियर ने कुछ भी सुनने के पहले ही बता दिया कि सम्बंध में डीआरएम का बयान लीजिए, मैं कुछ नहीं कह सकता।

  
Haal E Ner :(
डीआरएम के मोबाइल नम्बर 9794842000 पर कर्मचारी ने काल रिसीब किया और साहब से बाद में बात होगी। पीआरओ साहब से बात कर लीजिए, यह सलाह मिली। डीआरएम के पीआरओ आलोक श्रीवास्तव से ने बताया कि लगातार मानीटरिंग कराई जाती है। सिलापट टूटा होने या हुक न होने का सवाल ही नहीं उठता है। उसको दिखवाया जा रहा है। फिर भी वरिष्ठ मंडल इंजीनियर से बात करने की सलाह दी। वरिष्ठ मंडल इंजीनियर ने कुछ भी सुनने के पहले ही बता दिया कि सम्बंध में डीआरएम का बयान लीजिए, मैं कुछ नहीं कह सकता।
  
Sep 20 2017 (17:11)  सीतापुर: 10 घंटे में एक जगह दो ट्रेनें बेपटरी (epaper.navbharattimes.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 317518     
   Past Edits
Sep 20 2017 (17:11)
Station Tag: Sitapur Cantt./SCC added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Sitapur Cantt./SCC  
 
 
बदलनी थी पटरी
वे-इंस्पेक्टर सस्पेंड
लगा आरोप
सूत्रों ने बताया कि हादसा स्थल पर 13 मीटर पटरी क्षतिग्रस्त है। 18 सितंबर को ही पटरी बदलना था, लेकिन ब्लॉक न मिलने से इसे नहीं बदला गया।
डीआरएम
...
more...
आलोक सिंह ने परमानेंट वे-इंस्पेक्टर बाबूलाल को हादसे का दोषी मानते हुए सस्पेंड कर दिया।
अफसरों ने ट्रैक जांचे बिना ही पैसेंजर ट्रेन रवाना कर दी थी। इसके बाद इसी ट्रैक पर तीन ट्रेनें गुजार दी गईं। फिर मालगाड़ी बेपटरी हो गई।
सोमवार: 09:45 PM
मंगलवार सुबह 7 बजकर 15 मिनट पर रोजा जा रही मालगाड़ी सीतापुर में ट्रैक से उतर गई। बीते 10 घंटे में एक ही जगह पर यह दूसरा ट्रेन हादसा है। सोमवार रात 9:45 पर बालामऊ पैसेंजर ट्रेन का इंजन कैण्ट स्टेशन से कुछ दूरी पर ही पटरी से उतर गया था।
मंगलवार: 07:15 AM
  
Sep 20 2017 (17:06)  सीतापुर के खराब ट्रैक पर दौड़ा दी मालगाड़ी,सात घंटे के अंदर दूसरी ट्रेन पटरी से उतरी (epaper.livehindustan.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 317516     
   Past Edits
Sep 20 2017 (17:06)
Station Tag: Sitapur Cantt./SCC added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
Stations:  Sitapur Cantt./SCC  
 
 
सीतापुर के खराब ट्रैक पर दौड़ा दी मालगाड़ी, मामले की जांच कर कार्रवाई के आदेश
लापरवाही
’ सात घंटे के भीतर उसी ट्रैक पर ट्रेन पटरी से उतरी
’ डीआरएम लखनऊ आलोक कुमार पहुंचे मौके पर
Click
...
more...
here to enlarge image
सीतापुर हिन्दुस्तान संवादजिस खराब ट्रैक पर पैसेंजर ट्रेन पटरी से उतरी उसी ट्रैक पर सात घंटों के भीतर मालगाड़ी को दौड़ा दिया गया। सीतापुर रेलवे स्टेशन के करीब मंगलवार सुबह बुढ़वल से सीतापुर की ओर आ रही मालगाड़ी से हादसा हुआ। इंजन के पहिए खराब ट्रैक के कारण पटरियों से नीचे उतर गए। किसी तरह का नुकसान तो नहीं हुआ लेकिन रेलवे ट्रैक बाधित हो गया। कई ट्रेनों के रूट बदले गए। खबर पाकर पूवरेत्तर रेलवे के डीआरएम आलोक कुमार ने हादसे में हुई चूक को स्वीकार किया। कहा कि सक्षम तकनीकी विशेषज्ञों द्वारा ट्रैक और ट्रेन को दुरुस्त कराया जा रहा है। जांच टीम गठित कर ली गई है। आवागमन बहाल होने के बाद निष्कर्षो के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। बताते चलें कि सोमवार रात करीब दस बजे बुढ़वल पैसेंजर ट्रेन आ रही थी। स्टेशन से कुछ फर्लाग पहले पैसेंजर ट्रेन बेपटरी हो गई। इंजन के पहिए ट्रैक से हट गए। लोग बाल-बाल बचे। खराब पटरियों पर किसी तरह से पैसेंजर ट्रेन को तीन घंटे के बाद आगे बढ़ाया गया। पटरियां दुरुस्त नहीं हो पाई कि सुबह करीब साढ़े सात बजे मालगाड़ी बीसीएन अप बुढ़वल से सीतापुर आ गई। उसी ट्रैक और उसी स्थान पर इंजन फिर बेकाबू हुआ। दूसरी ट्रेन भी ट्रैक से जमीन पर उतरकर टेढ़ी हो गई। सात घंटे के भीतर दूसरे हादसे की खबर मिलने पर डीआरएम पूवरेत्तर रेलवे लखनऊ आलोक कुमार अपनी टीम के साथ सीतापुर आए। मौका मुआयना के बाद जिम्मेदारों से सवाल-जवाब भी हुए। खबर लिखे जाने तक रेलवे ट्रैक दुरुस्त नहीं हो सका है। आवागमन बाधित होने के कारण कई ट्रेनों के रूट बदल दिए गए हैं। डीआरएम ने इस चूक को लेकर जांच के आदेश भी दिए हैं। कहा है कि कठोर कार्रवाई भी की जाएगी। बैरियर बंद होने के कारण आवागमन रहा बाधित: पुलिस लाइन बैरियर पर ही मालगाड़ी बेपटरी हुई। इसी कारण पुलिस लाइन का रेलवे बैरियर बंद कर दिया गया। आवागमन को लेकर इर्द-गिर्द के लोग जाम में फंसते नजर आए। लंबी कतारें पुलिस लाइन के करीब पुल से होकर गुजारी गई। आवागमन को दुरुस्त करने के लिए ट्रैफिक पुलिस मुस्तैद रही।डंडा फटकार कर दी घुड़कियां: पुलिस लाइन स्थित रेलवे बैरियर बंद होने के कारण आवागमन बाधित हो गया। लोगों को उस रास्ते से दूसरी ओर जाने के लिए आरपीएफ जवानों ने डंडा फटकारकर कई बार घुड़कियां दी। आरपीएफ सिपाहियों के इस रवैए को देखकर कई बार राहगीरों से बहस हुई। दो लोगों से हाथापाई की भी नौबत आ गई।
मालगाड़ी के पटरी से उतरने के बाद ट्रैक की मरम्मत करते कर्मचारी पटरी के करीब टूटे पड़े हुक ’ हिन्दुस्तान
  
Sep 20 2017 (16:51)  12 घंटे के अंदर ही ट्रैक से उतरे दो ट्रेनों के इंजन (epaper.jagran.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 317512     
   Past Edits
Sep 20 2017 (16:51)
Station Tag: Sitapur/STP added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Sep 20 2017 (16:51)
Station Tag: Sitapur Cantt./SCC added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
12 घंटे के अंदर ही ट्रैक से उतरे दो ट्रेनों के इंजन
Click here to enlarge image
संवादसूत्र, सीतापुर: शहर के थामसनगंज यार्ड के निकट दो ट्रेनों के इंजन पटरी से उतर गए। यार्ड के पास मोड़ होने के कारण ट्रेनों की रफ्तार कम होने से बड़े हादसे टल गए। 12 घंटे के दौरान एक ही स्थान पर हुए दो रेल हादसों से विभाग में खलबली मच गई। कई ट्रेनों के रूट डायवर्ट कर दिए गए। डीआरएम आलोक सिंह समेत रेलवे के कई अफसर मौके पर पहुंचे। सीनियर सेक्शन इंजीनियर छोटे लाल को
...
more...
दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया और हादसों की उच्च स्तरीय जांच कराने की बात कही है। 1शहर में कचेहरी हाल्ट थामसनगंज यार्ड के पास सोमवार रात 09:35 बजे वाया बुढ़वल से सीतापुर बालामऊ जा रही पैसेंजर ट्रेन (संख्या 54322) के इंजन का अगला हिस्सा रेलवे ट्रैक से उतर कर डिरेल हो गया था। रोजा से एआरटी मंगाकर इंजन को पटरी पर लाया गया था। घटना के बाद इसी ट्रैक से जनसाधारण व रक्सौल एक्सप्रेस ट्रेनें गुजर गईं। सुबह गोंडा से रोजा जा रही मालगाड़ी थामसनगंज यार्ड के पास पहुंची, वैसे ही बीच में लगा नॉन वर्किंग इंजन भी डिरेल हो गया। 1चंद घंटे में दूसरा हादसा होने की सूचना पर रेलवे विभाग के अधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंचे। फौरन एआरटी मंगाई गई। एआरटी ने प्रेशर जैक से इंजन को ट्रैक पर लाया गया।संवादसूत्र, सीतापुर: शहर के थामसनगंज यार्ड के निकट दो ट्रेनों के इंजन पटरी से उतर गए। यार्ड के पास मोड़ होने के कारण ट्रेनों की रफ्तार कम होने से बड़े हादसे टल गए। 12 घंटे के दौरान एक ही स्थान पर हुए दो रेल हादसों से विभाग में खलबली मच गई। कई ट्रेनों के रूट डायवर्ट कर दिए गए। डीआरएम आलोक सिंह समेत रेलवे के कई अफसर मौके पर पहुंचे। सीनियर सेक्शन इंजीनियर छोटे लाल को दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया और हादसों की उच्च स्तरीय जांच कराने की बात कही है। 1शहर में कचेहरी हाल्ट थामसनगंज यार्ड के पास सोमवार रात 09:35 बजे वाया बुढ़वल से सीतापुर बालामऊ जा रही पैसेंजर ट्रेन (संख्या 54322) के इंजन का अगला हिस्सा रेलवे ट्रैक से उतर कर डिरेल हो गया था। रोजा से एआरटी मंगाकर इंजन को पटरी पर लाया गया था। घटना के बाद इसी ट्रैक से जनसाधारण व रक्सौल एक्सप्रेस ट्रेनें गुजर गईं। सुबह गोंडा से रोजा जा रही मालगाड़ी थामसनगंज यार्ड के पास पहुंची, वैसे ही बीच में लगा नॉन वर्किंग इंजन भी डिरेल हो गया। 1चंद घंटे में दूसरा हादसा होने की सूचना पर रेलवे विभाग के अधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंचे। फौरन एआरटी मंगाई गई। एआरटी ने प्रेशर जैक से इंजन को ट्रैक पर लाया गया।’>>एक ही जगह पर हादसे, सीनियर सेक्शन इंजीनियर निलंबित1’>>शाहजहांपुर-बुढ़वल रेल प्रखंड पर कई ट्रेनों के रूट डायवर्टसीतापुर के थामसनगंज यार्ड पर बालामऊ जाने वाली पैसेंजर ट्रेन के इंजन का पटरी से उतरा पहिया ’ जागरण
  
Sep 20 2017 (16:46)  पैसेंजर ट्रेन 7 दिन रद्द,मरुधर एक्सप्रेस आज रद्द, ट्रेनों का रूट बदला (epaper.livehindustan.com)
back to top
Major Accidents/DisruptionsNR/Northern  -  

News Entry# 317510     
   Past Edits
Sep 20 2017 (16:46)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964

Sep 20 2017 (16:46)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by ☆गोंडा इलेक्ट्रिक शेङ ■☆*^~/206964
 
 
पैसेंजर ट्रेन 7 दिन रद्द
Click here to enlarge image
रेलवे ने परिचालन की दिक्कतों के चलते सहारनपुर पैसेंजर कई पैसेंजर ट्रेनों को 7 दिनों के लिए निरस्त कर दिया है। सीनियर डीसीएम शिवेंद्र शुक्ल ने बताया कि ट्रेन 13049/50 हावड़ा-अमृतसर एक्सप्रेस 21 से 27 सितंबर तक वाराणसी सुलतानपुर के बजाय वाराणसी-प्रतापगढ़-रायबरेली होकर चलेगी जबकि 13239 पटना कोटा एक्सप्रेस 20 से 25 सितंबर तक और 13240 कोटा पटना एक्सप्रेस 21 से 26 सितंबर तक जफराबाद-शाहगंज-फैजाबाद बाराबंकी होकर चलेगी।
लखनऊ
...
more...
कार्यालय संवाददातावाराणासी से जोधपुर जाने वाली मरुधर एक्सप्रेस बुधवार को निरस्त रहेगी। सीपीआरओ नीरज शर्मा ने बताया कि जोधपुर से वाराणासी जाने वाली 14865 मरुधर एक्सप्रेस को भी निरस्त कर दिया गया है जबकि 21 सितम्बर को वाराणसी से जोधपुर जाने वाली मरुधर निरस्त रहेगी। वहीं, सीतापुर रेलमार्ग पर इंजन डिरेल होने से रेलवे अमृतसर दरभंगा समेत तीन ट्रेनों को सीतापुर कैंट के बजाए बाराबंकी होकर चलाया। मंगलवार को कोटा-पटना एक्सप्रेस 15 घंटे देरी से लखनऊ पहुंची जबकि शहीद एक्सप्रेस 12 घंटे देरी से चल रही है। इसके अलावा 15212 अमृतसर दरभंगा, ट्रेन 15274 दिल्ली-रक्सौल एक्सप्रेस और 15532 अमृतसर-सहरसा एक्सप्रेस अपने निर्धारित मार्ग सीतापुर सिटी-सीतापुर कैंट के स्थान पर परिवर्तित मार्ग लखनऊ से चलाई गई।
Page#    21078 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.