Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

मैं अकेला ही चला था जानिब-ए-मंज़िल मगर लोग साथ आते गए और कारवाँ बनता गया - Purnesh Upadhyay

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat Dec 7 21:40:20 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Stream
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search

News Posts by LHB For शान ए भोपाल~

Page#    Showing 1 to 5 of 98 news entries  next>>
  
Today (10:41) पुराने स्टेशन को तोडकऱ बनेगा रेलवे यार्ड, बर्धा गांव के पास बनेगा मुख्य स्टेशन (www.google.com)
New Facilities/Technology
NCR/North Central
0 Followers
1228 views

News Entry# 396270  Blog Entry# 4507473   
  Past Edits
Dec 07 2019 (10:42)
Station Tag: Digod/DXD added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 07 2019 (10:42)
Station Tag: Banmor/BAO added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 07 2019 (10:42)
Station Tag: Gwalior NG/GWO added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 07 2019 (10:42)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 07 2019 (10:42)
Station Tag: Sheopur Kalan/SOE added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078
श्योपुर. क्षेत्र के लिए महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट श्योपुर-ग्वालियर ब्रॉडगेज रेल लाइन को धरातल पर उतारने के लिए अब श्येापुर जिले में भी कवायद तेज हो गई है। इसके लिए जहां तीन दिन पूर्व जिले में शासन ने 38 गांवों में 100 हैक्टेयर जमीन आवंटन को मंजूरी दे दी है, वहीं बुधवार को इलाहाबाद से आए चीफ इंजीनियर और रेलवे कंस्ट्रक्शन के अन्य अफसरों ने श्योपुर स्टेशन का भ्रमण कर जगह देखी।इस प्रोजेक्ट के तहत ब्रॉडगेज प्रोजेक्ट के तहत शहर के वर्तमान नैरोगेज रेलवे स्टेशन की जगह रेलवे यार्ड बनाया जाएगा, जबकि शहर के 10 किलोमीटर दूर बर्धा में ब्रॉडगेज लाइन का नया रेलवे स्टेशन बनेगा और यहीं से दूसरे चरण में प्रस्तावित दीगोद(कोटा) तक की बड़ी लाइन डाली जाएगी।चीफ इंजीनियर (कंस्ट्रेशन) और उनकी टीम ने प्रोजेक्ट निर्माण के लिए श्योपुर में ऑफिस बनाने के लिए जगह का निरीक्षण किया, वहीं स्टेशन के साथ ही आसपास के क्षेत्र का भ्रमण कर जगह का...
more...
जायजा लिया। साथ ही अधीनस्थों को निर्देशित किया कि प्रोजेक्ट के लिए जितनी जगह चाहिए, उसे चिह्नित किया जाए। बताया गया है कि इस ब्रॉडगेज प्रोजेक्ट में श्योपुर का रेलवे स्टेशन तो बर्धा के निकट बनेगा, लेकिन वर्तमान नैरोगेज स्टेशन केक्षेत्र में रेलवे यार्ड, लोको शेड, रनिंग रूम, ऑफिस, स्टॉफ क्वार्टर्स, रेलवे पुलिस थाना आदि बनाए जाएंगे। इसके लिए रेलवे की जो जमीन है, वो तो ली ही जाएगी, उसके अलावा भी जो अतिक्रमण स्थाई और अस्थाई होगा, उस पर कार्यवाही कर हटाया जाएगा।38 गांव की 100 हेक्टेयर सरकारी जमीन आवंटन को मंजूरीरेलवे द्वारा जहां प्रोजेक्ट निर्माण को लेकर कवायद की जा रही है, वहीं जिला प्रशासन द्वारा जमीन अधिग्रहण के लिए प्रक्रिया तेज कर दी है। विशेष बात यह है कि जिला प्रशासन द्वारा शासन को भेजे गए 38 गांव में 100.183 हेक्टेयर जमीन के प्रस्ताव को सरकार ने भी मंजूरी दे दी है। अब जिला प्रशासन से ये जमीन रेलवे को आवंटित कर दी जाएगी। वहीं दूसरी ओर शेष 6 गांवों में 14 हेक्टेयर शासकीय जमीन के नोईयत परिवर्तन की कार्यवाही होने के बाद शासन को प्रस्ताव भेजा जाएगा। इसके साथ ही निजी भूमि के अधिग्रहण की भी कार्यवाही चल रही है। जिसमें 38 गांव में 118 हेक्टेयर जमीन के लिए जल्द ही भूस्वामियों को सूचनापत्र जारी होंगे, वहीं 6 गांवों की 53 हेक्टेयर निजी भूमि के प्रकरण बनाए जा रहे हैं। बताया गया है कि कुल 44 गांवों की 171 हेक्टेयर निजी भूमि के लिए लगभग 100 करोड़ रुपए के मुआवजे की मांग जिला प्रशासन ने रेलवे से की है।187 किलोमीटर लंबे रेल मार्ग पर बनेंगे 223 पुलबताया गया है कि श्योपुर-ग्वालियर रूट पर इस प्रोजेक्ट में 187 किलोमीटर लंबे रेल मार्ग पर छोटे-बड़े 223 पुलों का निर्माण किया जाएगा। ये पुल नदी और नालों पर बनाए जाएंगे। इनमें से 42 बड़े पुल और 181 छोटे पुल-पुलिया बनाए जाएंगे। इसके अलावा 114 रेल क्रॉसिंग के नीचे और ऊपर पुल बनेंगे। इनमें से सात आरओबी बनेंगे।...उधर बामौर के पास चल रहा है कामबताया गया है कि मुरैना जिले में कुछ क्षेत्रों में जमीन अधिग्रहण का कार्यपूरा हो गया है, लिहाजा वहां बामौर के पास धरातल पर कार्य भी चल रहा है।इलाहाबाद से चीफ इंजीनियर और उनकी टीम ने बीते रोज यहां श्योपुर पहुंचकर स्टेशन व आसपास के क्षेत्र का निरीक्षण किया है। साथ ही उनके आफिस बनाने की जगह देखी है और प्रस्तावित रेलवे यार्ड आदि की जगह का मुआयना किया है।जयसिंह राजावत, स्टेशन अधीक्षक, रेलवे स्टेशन श्योपुर
  
Dec 04 (12:58) गुना-बीना लाइन के पीलीघटा-अशोकनगर सेक्शन पर ट्रायल के एक घंटे बाद 90 की रफ्तार से निकाली पहली मालगाड़ी (www.google.com)
New Facilities/Technology
WCR/West Central
0 Followers
4643 views

News Entry# 396059  Blog Entry# 4504926   
  Past Edits
Dec 04 2019 (12:58)
Station Tag: Pilighat/PIGT added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Station Tag: Ashok Nagar/ASKN added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Station Tag: Bina Junction/BINA added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Bina - Kota Passenger/51612 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Kota - Bina Passenger/51611 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Darbhanga - Ahmedabad Sabarmati Express/19166 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Ahmedabad - Darbhanga Sabarmati Express/19165 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Gwalior - Bhopal InterCity Express/12198 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Bhopal - Gwalior InterCity Express/12197 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Guna - Bina Passenger/51608 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Bina - Guna Passenger/51607 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Gwalior - Bina Passenger (via Guna)/51884 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Dec 04 2019 (12:58)
Train Tag: Bina - Gwalior Passenger (via Guna)/51883 added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078
गुना-बीना लाइन के पीलीघटा-अशोकनगर सेक्शन पर ट्रायल के एक घंटे बाद 90 की रफ्तार से निकाली पहली मालगाड़ी
पीलीघटा से अशोकनगर के बीच हुई रेल लाइन दोहरीकरण का ट्रायल लेने आए सीआरएस एके जैन के साथ अधिकारीयों की पूरी टीम थी।
डबल लाइन होने की वजह से ट्रेनों की संख्या भी बढ़ाई जा सकेगी
भास्कर संवाददाता | गुना
140
...
more...
साल पुरानी गुना-बीना रेल लाइन के 25 किमी सेक्शन के दोहरीकरण को कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीअारएस) ने हरी झंडी दे दी। यानि पीलीघटा से अशोकनगर तक अब दूसरे ट्रैक पर भी ट्रेनें चल सकेंगी। नए ट्रैक पर सीआरएस की 8 बोगी वाली स्पेशल ट्रेन लगभग 120 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ी।
शाम 5 बजे ट्रायल पूरा हो गया और इसके एक घंटे बाद नए ट्रैक पर पहली मालगाड़ी भी 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गुजारी गई। दोहरीकरण के काम को लेकर सीआरएस पूरी तरह संतुष्ट दिखे। हालांकि उन्होंने इस बात पर नाराजगी जताई कि पीलीघटा, मावन और रातीखेड़ा स्टेशन पर दूसरे प्लेटफार्म तक जाने के लिए एफओबी (फुट ओवर ब्रिज) नहीं बनाया गया। उन्होंने अधिकारियों को हिदायत दी कि अगली बार एफओबी बनाए बिना उन्हें निरीक्षण के लिए न बुलाया जाए।
120 की रफ्तार से सीआरएस स्पेशल से लिया ट्रायल, 3 स्टेशन पर एफओबी न बनाने पर जताई नाराजगी
आम यात्रियों का क्या होगा फायदा
1. अभी तक सिंगल लाइन होने की वजह से दो ट्रेनों को एक साथ क्रॉस नहीं किया जा सकता था। इस स्थिति में एक ट्रेन को किसी स्टेशन पर रोकना पड़ता था। अब अशोकनगर से पीलीघटा तक ट्रेनें बिना रोके गुजारी जा सकेंगी।
2. डबल लाइन होने की वजह से ट्रेनों की संख्या भी बढ़ाई जा सकेगी। अभी इस ट्रैक पर क्षमता से ज्यादा ट्रेनें चलाई जा रही हैं।
3. मालगाड़ियों की आवाजाही ज्यादा तेजी से होगी, इससे रेलवे की आय बढ़ेगी। आम यात्रियों को यह फायदा होगा कि इनकी वजह से सवारी ट्रेनों को नहीं रोका जाएगा।
4. अगर किसी एक ट्रैक पर कोई काम चलना है तो दूसरी लाइन चालू रहेगी। यानि पूरी तरह से ट्रैफिक रोकने की नौबत नहीं आएगी।
अच्छी खबर : यात्रियों के लिए सुगम होगा सफर
दोहरीकरण के साथ दूसरी खुशखबरी यह है कि 20 दिन से प्रभावित चल रही सभी यात्री ट्रेनों की सेवाएं बुधवार से बहाल हो जाएंगी। इनमें गुना-बीना पैसेंजर, भोपाल-ग्वालियर-भोपाल इंटरसिटी, ग्वालियर-बीना-दमोह पैसेंजर, बीना-कोटा-बीना पैसेंजर, साबरमती एक्सप्रेस सहित तमाम अन्य ट्रेनें शामिल हैं। दोहरीकरण होने की वजह से अब सवारी ट्रेनों की आवाजाही सुगम हो जाएगी।
आगे क्या : अप्रैल-मई माह में दो और सेक्शन शुरू होने की उम्मीद
गुना-बीना लाइन करीब 110 किमी लंबी है और मंगलवार इसके 25 फीसदी हिस्से का दोहरीकरण पूरा हो गया। अब अगले 3-4 माह के दौरान गुना-कोटा सेक्शन के एक हिस्से के दोहरीकरण को पूरा किया जाएगा। अप्रैल-मई में वापस गुना-बीना सेक्शन पर ब्लॉक लेकर काम किया जाएगा। सूत्र बताते हैं कि इस दौरान गुना से पीलीघटा और बीना से मुंगावली के बीच दो सेक्शन एक साथ पूरे किए जा सकते हैं। उम्मीद की जा रही है कि 2020 के अंत तक गुना से बीना तक दोनों लाइन पर ट्रेनों की आवाजाही
140 साल पहले डाली गई थी बीना-गुना-कोटा लाइन
बीना-गुना-कोटा लाइन 140 साल पहले बनी थी। इस पर गुना स्टेशन का निर्माण 1897 में पूरा हो गया था। 80 के दशक तक यह यह रेलवे लाइन उपेक्षित रही। इस पर सिर्फ 3-4 पैसेंजर ट्रेनें चलती थीं। बाद में जब माधवराव सिंधिया रेल मंत्री बने तो अंचल की रेल सेवाओं का कायाकल्प होना शुरू हुआ। इस दौरान औद्योगिकीकरण की प्रक्रिया के तहत गुना और राजस्थान में कई प्लांट बने, जिससे इस ट्रैक का महत्व बढ़ गया। खासकर मालगाड़ियों का दबाव इतना बढ़ा कि इसके दोहरीकरण की जरूरत महसूस हुई। पश्चिमी मध्य रेलवे को सबसे ज्यादा मुनाफा देने वाले रेलवे सेक्शन में सबसे आगे बताया जाता है।
बड़ी चूक
अगली बार एफओबी बनाए बिना निरीक्षण नहीं करुंगा
सीआरएस एके जैन ने ट्रैक व सिग्नल को लेकर कोई बड़ी खामी नहीं बताई। पर रेलवे की एक बड़ी लापरवाही उजागर कर दी। उन्होंने पीलीघटा, मावन और रातीखेड़ी में एफओबी न बनाए जाने पर नाराजगी जताई। दरअसल गुना से आने वाली ट्रेनें पीलीघटा के बाद नए ट्रैक से ही गुजरेंगी। वे इन स्टेशनों के प्लेटफार्म क्रमांक 2 पर रुकेंगी। इन स्टेशन पर लोगों को दूसरे प्लेटफार्म तक जाने के लिए रेलवे लाइन को पार करना पड़ेगा। जो न केवल खतरनाक है बल्कि खुद रेलवे के कानून के खिलाफ भी है। यही वजह है कि सीआरएस ने कहा कि अगली बार उन्हें बुलाने से पहले एफओबी पहले बनवा लिए जाएं।

1 Public Posts - Wed Dec 04, 2019

  
Rail News
780 views
Dec 05 (11:01)
Welcome ET WAP7~   2487 blog posts   2979 correct pred (82% accurate)
Re# 4504926-4            Tags   Past Edits
kota se bina doubling project kab tak pura hone ki sambhawana h?
or mkc - vijaypur or Guna-Gwl ka electrification pura ho gya kya?

  
742 views
Dec 05 (12:25)
LHB For शान ए भोपाल~   1828 blog posts   48 correct pred (71% accurate)
Re# 4504926-5            Tags   Past Edits
Shajapur-Maksi bacha hua h electrification k liye Maksi-Vijaypur section Mai.
Guna-shivpuri Shivpuri-gwalior pending.
Bina-Kota doubling m time lgega

  
691 views
Dec 05 (13:52)
Welcome ET WAP7~   2487 blog posts   2979 correct pred (82% accurate)
Re# 4504926-6            Tags   Past Edits
Yeh 2021 end tk complete ho jayega lgta h teeno projects?

  
679 views
Dec 05 (14:37)
LHB For शान ए भोपाल~   1828 blog posts   48 correct pred (71% accurate)
Re# 4504926-7            Tags   Past Edits
Doubling jis speed se chalri hai 2022 mann k chalo

  
684 views
Dec 05 (14:44)
Welcome ET WAP7~   2487 blog posts   2979 correct pred (82% accurate)
Re# 4504926-8            Tags   Past Edits
Doubling wala kaam beech m band ho gya tha abhi dusri company ko mila h tender doubling ka isliye abhi kaam firse start hogya h
  
Dec 02 (18:00) स्टेशन को विश्वस्तरीय बनाने के लिए आठ माह बाद शुरू होगा काम, एयरपोर्ट की तर्ज पर संवरेगा (www.google.com)
New Facilities/Technology
NCR/North Central
0 Followers
3425 views

News Entry# 395934  Blog Entry# 4503451   
  Past Edits
Dec 02 2019 (18:00)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078
Stations:  Gwalior Junction/GWL  
रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 4 के बाहर बने मालगोदाम की जमीन खाली हो चुकी है। यहां से मालगोदाम रायरू शिफ्ट हो चुका है। इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (आईआरएसडीसी) के अफसरों का दावा है कि 8 माह बाद ग्वालियर रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय बनाने की प्रक्रिया शुरू जाएगी। इसके लिए इसी माह रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल (आरएफपी) यानी टेंडर बुलाए जाएंगे। टेंडर प्रक्रिया पूरी होने सहित अन्य कार्रवाई पूरी करने में 8 माह का समय लगेगा। इसके बाद रेलवे स्टेशन को एयरपोर्ट की तर्ज पर विकसित करने का काम शुरू होगा। अब ग्वालियर स्टेशन को वर्ल्ड क्लास स्टेशन बनाने के काम को शुरू करने में आईआरएसडीसी सिर्फ एक कदम पीछे है। काम शुरू होने के बाद रेलवे स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने में तीन साल लगेंगे।
जल्द
...
more...
तय की जाएगी एजेंसी
आईआरएसडीसी सिविल के जीएम वीबी सूद का कहना है कि ग्वालियर स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। रिक्वेस्ट फॉर क्वालीफिकेशन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। दिसंबर में टेंडर बुलाए जाएंगे। काम शुरू कराने में 8 माह का समय और लग सकता है। इस दौरान एजेंसी तय कर दी जाएगी। जो कंपनी 125 करोड़ रुपए के अतिरिक्त अधिक से अधिक राशि बिड में दर्शाएगी, उसे ही ठेका दिया जाएगा।
  
Nov 25 (09:41) रेलवे स्टेशन को संवारने का प्रोजेक्ट तैयार, दो नए प्लेटफार्म व कोचिंग यार्ड बनेगा (www.google.com)
New Facilities/Technology
NCR/North Central
0 Followers
5144 views

News Entry# 395511  Blog Entry# 4496714   
  Past Edits
Nov 25 2019 (09:41)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078
Stations:  Gwalior Junction/GWL  
ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि
ग्वालियर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर चार से माल गोदाम शिफ्ट होने के बाद रेलवे ने इसे संवारने का प्लान तैयार कर लिया है। यहां पर दो नए प्लेटफार्म बनाने के साथ ही कोचिंग यार्ड भी बनाया जाएगा। जिसमें कोच का मेंटेनेंस एवं डिपो भी होगा। प्लेटफार्म की संख्या बढ़ने से ग्वालियर को नई ट्रेन मिलने की उम्मीद भी बढ़ जाएगी। हालांकि स्टेशन को संवारने के लिए अभी काफी पुराना स्ट्रक्चर भी हटाया जाएगा। इसलिए रेलवे को डीआरएम के आने का इंतजार है, जिससे जमीनी स्तर पर काम शुरू हो सके।
ग्वालियर
...
more...
रेलवे स्टेशन से माल गोदाम को रायरू शिफ्ट कर दिया गया है। रेलवे ने इस एरिया के उपयोग का पूरा खाका तैयार कर लिया है। झांसी मंडल में कागजी कार्रवाई जारी है। ग्वालियर में भी अधिकारी अपना पूरा होमवर्क कर चुके हैं। अब डीआरएम संदीप माथुर जैसे ही निरीक्षण के लिए पहुंचेंगे, इस काम को तेज गति से शुरू कर दिया जाएगा। क्योंकि नया काम शुरू करने से पहले अभी आरआरआई कैबिन, बुकिंग ऑफिस का पुराना स्ट्रक्चर तोड़ना भी होगा। हालांकि इन दफ्तरों के लिए नई बिल्िडग का काम रेलवे ने शुरू कर दिया है। ऐसे में पुराने निर्माण को ढहाने में कोई खास परेशानी नहीं होना है।
स्टेशन का भी होना है कायाकल्पः ग्वालियर रेलवे स्टेशन के कायाकल्प की योजना पर पहले से काम शुरू हो चुका है। इसका काम इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कार्पोरेशन को सौंपा गया है। इसी कंपनी ने हबीबगंज स्टेशन के डेवलपमेंट का काम किया है।
क्या निर्माण कार्य होगाः-
कोचिंग यार्डः-यहां पर गुडशेड की खाली जगह पर कोचों के मेंटेनेंस के लिए कोचिंग यार्ड बनाया जाएगा। जिसमें दो लाइन और डिपो भी होगा।
नए प्लेटफार्मः- 5 एवं 6 नंबर प्लेटफार्म तैयार किए जाएंगे। दो नए प्लेटफार्म बनाने के लिए नैरोगेज की पुरानी लाइन को हटाने की जरूरत पड़ेगी। इससे शहर को कुछ नई ट्रेन मिलने की उम्मीद भी बढ़ जाएगी।
बिल्िडग का निर्माणः-बुकिंग ऑफिस एवं आरआरआई कैबिन के लिए आगरा एंड पर एक नई इमारत का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है।
वाशिंग साइडः-दो वॉशिंग साइड बनाई जाना है। यहां पर ट्रेनों की सफाई का कार्य होता है। दो नई साइड बनने से समय की बचत होगी।
पैसेंजर के लिए नया प्लेटफार्मः-एग्रीकल्चर कॉलेज के पीछे एक नया प्लेटफार्म बनाने की योजना है। भिंड की तरफ जाने वाली पैसेंजर ट्रेनों का संचालन इसी प्लेटफार्म से किए जाने का प्लान किया गया है।
पार्किंगः-सर्कुलेटिंग एरिया में पार्किंग का एरिया बढ़ाया जाएगा। जिससे यहां पर अधिक वाहन व्यवस्थित तरीके से पार्क किए जा सकेंगे।
Posted By: Nai Dunia News Network
बड़ी खबरें
जरूर पढ़ें
Copyright © 2019 Naidunia.

  
Rail News
828 views
Nov 27 (15:18)
सारे जहाँ से अच्छा ग्वालियर हमारा~   216 blog posts
Re# 4496714-1            Tags   Past Edits
यह न्यूज़ everythinginhindi वेबसाइट ने आठ दिन पहले पब्लिश्ड की थी, बस नई दुनिया ने इसे थोड़ा सा घुमा कर प्रिंट किया
जैसे वहां click here में तीन प्लेटफार्म बताये गए थे जिसमे एक टर्मिनल आगरा साइड की तरफ,
जबकि यहाँ दो प्लेटफार्म नंबर 5-6 और एक नया प्लेटफार्मः-एग्रीकल्चर कॉलेज के पीछे एक नया प्लेटफार्म बनाने की योजना है। दोनों का मतलब एक ही हुआ ना
कोचिंग
...
more...
यार्ड के बारे में जो न्यूज़ है शायद यह ग्वालियर में नहीं सिथौली में बनेगा, ऑफिशियली कुछ भी क्लियर नहीं, दो वाशिंग पिट भी बनने वाली है
लेकिन यह सब जब तक शुरू होना मुश्किल यह तब छोटी लाइन को यहाँ से बंद नहीं किया जायेगा क्योंकि दोनों नए प्लेटफार्म छोटी लाइन की तरफ बनना,
जब तक काम शुरू ना हो तब तक कुछ भी कहना गलत ही होगा
  
Oct 14 (18:13) ग्वालियर शिवपुरी ट्रैक पर इलेक्ट्रिक पाइप लगाने में रोड़ा बनीं बड़ी-बड़ी चट्टानें, नहीं लग पा रहे पोल, बुलाई बड़ी क्रेन (www.google.com)
New Facilities/Technology
WCR/West Central
0 Followers
8585 views

News Entry# 393248  Blog Entry# 4458120   
  Past Edits
Oct 14 2019 (18:13)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Oct 14 2019 (18:13)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078

Oct 14 2019 (18:13)
Station Tag: Shivpuri/SVPI added by LHB For शान ए भोपाल~/1868078
रोकना पड़ा काम, आखिर कैसे 31 मार्च तक ग्वालियर शिवपुरी के बीच पूरा होगा इलेक्ट्रिक लाइन बिछाने का काम
शिवपुरी। नईदुनिया प्रतिनिधि
शिवपुरी से ग्वालियर के बीच इलेक्ट्रिक लाइन बिछाना है, जिससे इलेक्ट्रिक रेल चल सकें। इसके लिए पोल लगाने का काम किया जा रहा है। इसी बीच पाडरखेड़ा के पास जंगल में रेलवे ट्रैक पर बड़ी-बड़ी चट्टानें आने के चलते काम रोकना पड़ गया है। बिजली की लाइन के लिए पाइप लगाने के लिए जब गड्ढे खोदे जा रहे थे, तभी चट्टान बीच में आ गई। बिट टूटने लगीं। काम कर रही
...
more...
कंपनी ने इन चट्टानों को तोडने की पूरी कोशिश की, लेकिन बात नहीं बनी। नतीजे में काम की रफ्तार पर ब्रेक लग गया। इसके बाद लाइन बिछाने का काम रोकना पड़ा और बाहर से बड़ी क्रेन मंगवाई है। इसके बाद चट्टानों को काटकर बिजली के पोल लगाए जाऐगे। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि बिजली के पोल चट्टान के कारण नहीं लग पा रहे थे, जिससे काम रोकना पड़ा था। पाडरखेड़ा इलाके में पोल लगाने बड़ी क्रेन मंगवाई है, जिसकी मदद से ड्रिल करके गड्ढे होंगे, पोल लगाकर बिजली के तार बिछाए जाएंगे।
शिवपुरी से ग्वालियर के बीच इलेक्ट्रिक लाइन बिछाने का काम पूरा हो जाएगा तब यात्री गाड़ी इलेक्ट्रिक इंजन से दौड़ेगीं। काम में बाधा के नतीजे में काम देरी से पूरा होने के आसार बढ़ गए हैं। अप्रैल महीने में शिवपुरी आए पशिचम रेलवे के महाप्रबंधक अजय विजयवर्गीय व डीआरएम उदय बोरवणकर ने कहा था कि 31 मार्च तक शिवपुरी से ग्वालियर के बीच रेलें इलेक्ट्रिक इंजन से दौड़ने लगेंगी। काम में चटटानों से लगा ब्रेक आगे भी जारी रह सकता है। उक्त इलाके में पत्थर की खदानें पहले से रही हैं, जिससे साफ है कि रेलवे ट्रैक पर पोल लगाने में चटटाने आगे भी मिल सकती हैं। इससे रेल सुविधाओं और नई रेलगाडी की सुविधा मिलने में देरी होने के आसार हैं, क्योंकि दोनों ही अधिकारियों ने कहा था कि जब इलेक्ट्रोनिक इंजन चलने लगेगें तो रेलों की संख्या में भी वृद्धि की जाएगी।
100 की स्पीड से दौड़ेंगी रेल
गुना से ग्वालियर के बीच रेल पटरी और गाटर बदले जाने का काम पहले ही पूरा कर लिया गया है। यहां पहले लगाए गए गाटर को बदलकर सीमेंट के गाटर लगाए गए। इसके बाद ट्रैक का परीक्षण किया गया। अब ट्रैक 100 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ने के लायक बताया गया है। जिसके बाद उम्मीद की जा रही है, कि जैसे ही इलेक्ट्रिक लाइन तैयार होगी, शिवपुरी से ग्वालियर और गुना के बीच इलेक्ट्रिक रेलगाड़ी दौड़ने लगेंगी। जब इलेक्ट्रिक लाइन हो जाएगी तो एनर्जी की बचत होगी, इंजन बदलना नहीं पड़ेगा, चैन सिस्टम भी मजबूत हो जाएगा।
गुना से शिवपुरी के बीच दौड़ने लगी इलेक्ट्रिक मालगाड़ी
शिवपुरी-गुना रेलवे लाइन पर इलेक्ट्रिक लाइन का काम जून माह में पूरा हो गया था। मुंबई से आए रेल अधिकारियों ने इस ट्रैक को हरी झंडी दे दी थी। इसके बाद अब गुना से शिवपुरी के बीच मालगाड़ी इलेक्ट्रिक इंजन से दौड़ने लगी है। अब तक खाद और सीमेंट की रेक लेकर 3 रेलगाड़ियां इलेक्ट्रिक इंजन के साथ शिवपुरी स्टेशन आ चुकी हैं। यहां रेक का माल खाली करने के बाद वापस इलेक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ी गुना वापस लौटीं, लेकिन यात्री गाड़ियों का शिवपुरी से ग्वालियर के बीच इलेक्ट्रिक इंजन से संचालन तभी हो सकेगा, जब शिवपुरी से ग्वालियर के बीच इलेक्ट्रिक लाइन बिछा दी जाएगी।
निजीकरण का भी चल रहा विचार
अधिकारियों ने शिवपुरी ग्वालियर रेलवे ट्रैक पर निजीकरण किए जाने की बात भी कही थी। शिवपुरी के स्टेशन को हबीबगंल की तर्ज पर विकसित करने को बोला था। इसके साथ ही सेक्शन को आध्ुनिक अंदाज में परिवर्तित करके पटरी से लेकर सिग्नल व अन्य उपकरण भी बदल दिए जाएंगे। इसके बाद हबीबगंज और ग्वालियर की तरह आध्ुनिक सुविधाओं से शिवपुरी का रेलवे स्टेशन सुसज्जित हो जाएगा।
22 से कोटा-इटावा एक्सप्रेस हो जाएगी कोटा-भिंड पैसेंजर
कोटा से भिंड तक चलने वाली कोटा-भिंड पैसेंजर को अब न सिर्फ एक्सप्रेस ट्रेन में तब्दील कर दिया गया है, वरन ट्रेन को कोटा से इटावा तक बढ़ा दिया गया है। उत्तर मध्य रेलवे के प्रस्ताव को केंद्रीय रेल मंत्रालय से हरी झंडी मिल गई है। अब यह ट्रेन एक्सप्रेस होकर कोटा से इटावा के बीच 22 अक्टूबर से दौड़ेगी। रेल मंत्रालय के इस फैसले से अब यात्रियों को सीधे कोटा से इटावा जाने के लिए एक्सप्रेस ट्रेन की सुविधा मिल सकेगी। ट्रेन के 7 स्टॉपेज भी कम कर दिए गए हैं, जिस वजह से ट्रेन कम समय में यह दूरी तय करेगी।
साढ़े 13 घंटे में तय करेगी 530 किलोमीटर की दूरी
कोटा-भिंड पैसेंजर ट्रेन को अभी तक कोटा से भिंड तक यात्रा करने में 16 घंटे से अधिक का समय लग रहा था, लेकिन अब पैसेंजर ट्रेन को एक्सप्रेस बनाए जाने पर कोटा से इटावा तक की 530 किलोमीटर की दूरी सिर्फ साढ़े 13 घंटे में तय करेगी। उत्तर मध्य रेलवे द्वारा जारी किए गए शेड्यूल के मुताबिक अब कोटा से इटावा चलने वाली अप एक्सप्रेस ट्रेन का नंबर 19811 और इटावा से कोटा तक आने वाली डाउन एक्सप्रेस ट्रेन का नंबर 19812 कर दिया गया है।
यह रहेगा नई एक्सप्रेस ट्रेन का शेड्यूल
उत्तर मध्य रेलवे के मुताबिक कोटा-भिंड पैसेंजर को एक्सप्रेस बनाए जाने के बाद उसके शेड्यूल में परिवर्तन किया गया है। अब इस नए शेड्यूल के मुताबिक 19811 कोटा-इटावा एक्सप्रेस रात 11ः40 बजे कोटा से चलेगी। इसके बाद सुबह 4ः50 बजे गुना, 6ः55 बजे शिवपुरी, 9ः35 बजे ग्वालियर, 12 बजे भिंड और 12ः05 पर भिंड से चलकर दोपहर 1ः30 बजे इटावा पहुंचेगी। इसी तरह इटावा-कोटा 19812 एक्सप्रेस शाम 5 बजे इटावा से रवाना होगी जो कि शाम 5ः45 बजे भिंड, 8ः25 बजे ग्वालियर, 11ः15 बजे शिवपुरी, रात 1ः40 बजे गुना होकर सुबह 7ः15 बजे कोटा पहुंचेगी।
11 की जगह होंगे 13 कोच, 7 स्टेशनों पर नहीं रुकेगी ट्रेन
पश्चिम मध्य रेलवे के प्रबंधक के मुताबिक अब एक्सप्रेस ट्रेन में कोच की संख्या बढ़ाकर 13 कर दी गई है। पहले कोटा-भिंड पैसेंजर ट्रेन में सिर्फ 11 कोच थे, जिसे बढ़ाकर 13 कर दिए गए हैं। इसमें दो एसएलआर, 6 जनरल, 4 जीएससीएन और 1 एसीसीएन कोच रहेगा। इस एक्सप्रेस ट्रेन का मेंटेनेंस कोटा में होगा। वहीं ग्वालियर और भिंड में ट्रेन में पानी की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा पैसेंजर ट्रेन के पहले 49 स्टॉपेज थे। इनमें से अब 7 स्टॉपेज कम कर दिए गए हैं। अब यह ट्रेन 42 स्टेशनों पर रुकेगी। इसके अलावा गुना-शिवपुरी, ग्वालियर व भिंड में ट्रेन का स्टॉपेज सिर्फ 5 मिनट के लिए ही रहेगा।
13 कैप्शन- पाडरखेड़ा के पास इलेक्ट्रिक लाइन बिछाने के रास्ते में बड़ी-बड़ी चट्टानें निकलीं तो रुका काम, मंगवाना पड़ी बड़ी क्रेन जो ड्रिल करके गड्ढे करती है।

11 Public Posts - Mon Oct 14, 2019

3 Public Posts - Tue Oct 15, 2019

  
3149 views
Oct 15 (14:25)
⚡22222मुंबई राजधानी22221⚡~   5967 blog posts   344 correct pred (71% accurate)
Re# 4458120-15            Tags   Past Edits
kab tak!😅 waise bhi platform ki dikkat rehti hai gwalior pe😅 5,6 jaane kab banenge😅

  
2807 views
Oct 16 (05:29)
5 Years IRI~   462 blog posts   31 correct pred (54% accurate)
Re# 4458120-16            Tags   Past Edits
shayad 1-2 mahine me kaam start ho. maal godam 18 tak hi Gwalior se operate hoga, uske baad Rairu se booking start ho jayegi..
as per news in Swadesh Today
aur han... agar sab kuch theek thak raha to ... likhna bhool gaya tha :)

  
Rail News
2563 views
Oct 16 (20:53)
Ñãmån Jaîn~   187 blog posts   1 correct pred (50% accurate)
Re# 4458120-17            Tags   Past Edits
Gwalior to Shivpuri tk electrification kitna% ho gya or kaha tk ho gya kaha tk rhae gya koi bta skta h

  
2318 views
Oct 17 (15:30)
Rajnesh~   451 blog posts
Re# 4458120-18            Tags   Past Edits
पाडरखेड़ा के पास जंगल में रेलवे ट्रैक पर बड़ी-बड़ी चट्टानें आने के चलते काम रोकना पड़ गया है। अब, कब और कैसे होगा जल्दी ही पता चलेगा
पूरी खबर /news/post/393248

  
2246 views
Oct 17 (19:41)
Ñãmån Jaîn~   187 blog posts   1 correct pred (50% accurate)
Re# 4458120-19            Tags   Past Edits
Woh toh thik h station kaha se kaha tk hua h
Page#    98 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy