Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

The mighty veteran Purulia Express serving for decades, daily commuters' lifeline and witness to a Rising Bengal! - Soumyadip Mahato

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sun Aug 1 17:30:50 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search

News Posts by sharad28oct

Page#    Showing 1 to 5 of 9 news entries  next>>
May 17 2018 (13:26) भिवानी में बनेगा दो रेलवे ओवरब्रिज, एक स्वचालित सीढ़ी और वाशेबल एप्रैन (https:)
New Facilities/Technology
NWR/North Western
0 Followers
5505 views

News Entry# 337356  Blog Entry# 3425693   
  Past Edits
May 17 2018 (13:26)
Station Tag: Bhiwani Junction/BNW added by sharad28oct/59239
Stations:  Bhiwani Junction/BNW  
Posted by: Sharad 9 news posts
भिवानी: लो जी जिले पर रेलवे बोर्ड मेहरबान हो गया है। अरबों रुपये खर्च कर कई विकास योजनाओं को पंख लगाए जाएंगे। जल्द ही शहर में दो आरओबी और रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर स्वचालित सीढि़यां बनाने का कार्य शुरू होने जा रहा है। इसके साथ ही वाशेबल एप्रैन के निर्माण से लंबे रूट की गाड़ियों के ठहराव की राह खुल गई है। इन विकास योजनाओं के लिए रेलवे ने करीब 120 करोड़ रुपये से अधिक की राशि को मंजूरी दे दी है।
रेलवे सलाहकार मंडल के सदस्य प्रीतम अग्रवाल ने दैनिक जागरण से विशेष बातचीत में बताया कि सांसद धर्मबीर ¨सह के प्रयास से भिवानी में दो रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण करवाया जाएगा। इनमें एक महम रोड रेलवे फाटक
...
more...
के ऊपर बनेगा। इसके लिए रेलवे से 43 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत हो चुकी हैं।
जबकि दूसरा जीतूवाला जोहड़ स्थित फाटक पर बनने वाले ऊपरगामी पुल के लिए भी रेलवे ने 43 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत कर चुकी है। उन्होंने बताया कि इसी महीने डीपीआर बनाने का कार्य शुरू हो जाएगा। वहीं प्लेटफार्म नंबर एक पर 1.20 करोड़ रुपये की लागत से स्वचालित सीढि़यां बनाई जाएगी। इसको लेकर टेंडर छोड़े जा चुके हैं और ठेकेदार को कार्य अलॉट कर दिया गया है। जल्द ही निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। प्लेटफार्म नंबर 2 पर वाशेबल एप्रैन बनाने के लिए 1.20 करोड़ रुपये का टेंडर 8 जून तक आमंत्रित किए हुए हैं।
............
ये होगा फायदा
1.. प्लेटफार्म 2 व 3 को 540 मीटर लंबा कर दिया गया है। वाशेबल एप्रैन की लंबाई भी इतनी ही होगी, ताकि 28 बोगियों तक की ट्रेन की यहां पर सफाई सुविधा उपलब्ध हो सके।
2. लंबा एप्रैन बनने से लंबी दूरी की गाड़ियों का ठहराव भिवानी में होगा और दिल्ली की भीड़ को भी कम किया जा सकेगा।
...........
सात छोटे स्टेशनों पर बनेंगे हाई लेवल प्लेटफार्म
प्रीतम अग्रवाल ने बताया कि जिले के सात छोटे रेलवे स्टेशनों के प्लेटफार्म हाई लेवल बनाए जाएंगे और इस कार्य के लिए रेलवे की ओर से सात करोड़ रुपये स्वीकृत हो चुके हैं। इनमें मानहेरू, ढाणा लाडनपुर व सुई के टेंडर 8 जून को छोड़े जाएंगे। इनके अलावा बामला, भिवानी सिटी, चरखीदादरी व फतेहगढ़ के टेंडर भी अगले माह छोड़ दिए जाएंगे।
इन स्टेशनों पर बनेंगे एफओबी
मानहेरू, जीताखेड़ी, बामला, झाड़ली स्टेशन पर एफओबी (ऊपरगामी पैदल पथ पुल) बनाए जाएंगे। मानहेरू, जीताखेड़ी व झाड़ली एफओबी पर 6 करोड़ 30 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। बामला व भिवानी सिटी स्टेशन पर चहारदिवारी भी बनाई जाएगी व इन पर एलईडी इलेक्ट्रीफिकेशन भी किया जाएगा।
May 17 2018 (13:20) हिसार-हरिद्वार एक्सप्रेस अब बीकानेर तक चलेगी (https:)
New Facilities/Technology
NWR/North Western
0 Followers
21959 views

News Entry# 337352  Blog Entry# 3425684   
  Past Edits
May 17 2018 (13:20)
Station Tag: Hisar Junction/HSR added by sharad28oct/59239

May 17 2018 (13:20)
Station Tag: Bhiwani Junction/BNW added by sharad28oct/59239
Posted by: Sharad 9 news posts
भिवानी: भिवानी से बीकानेर जाने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी है। हिसार से हरिद्वार के बीच सप्ताह में दो दिन चलने वाली एक्सप्रेस गाड़ी को रेलवे बोर्ड ने बीकानेर तक बढ़ा दिया गया है। 14715-14716 एक्सप्रेस गाड़ी वीरवार व शनिवार को हिसार से प्रात: 4 बजकर 30 मिनट पर चलकर वाया भिवानी-रोहतक, पानीपत, करनाल, कुरुक्षेत्र, अंबाला, सहारनपुर होकर दोपहर बाद 15:20 बजे हरिद्वार पहुंचती है। इसी प्रकार मंगलवार और वीरवार को दोपहर बाद 14:20 बजे हरिद्वार से चलकर बुधवार व शुक्रवार को मध्यरात्रि के बाद 2 बजे हिसार पहुंचती है। यात्रियों की मांग को देखकर इस गाड़ी को बीकानेर तक बढ़ाया गया है। यह गाड़ी सप्ताह में एक दिन बीकानेर से हरिद्वार के बीच चलती थी। इस गाड़ी को बीकानेर तक बढ़ाने से यात्रियों को सुविधा मिलेगी। हिसार-हरिद्वार एक्सप्रेस गाड़ी को बीकानेर तक बढ़ाने से सादुलपुर, चुरू, रतनगढ़ व डूंगरगढ़ के यात्रियों को
भी
...
more...
लाभ मिलेगा।
रेलवे बोर्ड से ट्रेन विस्तार को मंजूरी के बाद जल्द जारी होगी अधिसूचना: महावीर डालमिया
रेल उपभोक्ता सलाहकार समिति के सदस्य महावीर डालमिया ने बताया कि रेलवे बोर्ड ने हिसार-हरिद्वार एक्सप्रेस गाड़ी को बीकानेर तक बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। अगले एक दो दिन में रेलवे बोर्ड द्वारा इस गाड़ी के संबंध में अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। इसके बाद तत्काल प्रभाव से इस गाड़ी को बीकानेर हरिद्वार के बीच चलाने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। बीकानेर हरिद्वार एक्सप्रेस गाड़ी का समय इस प्रकार से निर्धारित किया जाना चाहिए कि वह सायं 4 से 5 बजे बीकानेर से चले और सुबह 7 बजे हरिद्वार पहुंच जाए। सायं के समय 5-6 बजे हरिद्वार से चले और सुबह बीकानेर पहुंच जाए। इससे यात्रियों को भी काफी सुविधा होगी।
Mar 25 2018 (16:30) भारतीय रेल ने 200 विद्युत् इंजनों के निर्माण और सप्लाई (http:)
NWR/North Western
0 Followers
7577 views

News Entry# 332524  Blog Entry# 3236834   
  Past Edits
Mar 25 2018 (16:30)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by sharad28oct/59239
Stations:  New Delhi/NDLS  
Posted by: Sharad 9 news posts
भारतीय रेल ने 200 विद्युत् इंजनों के निर्माण और सप्लाई के लिए 5000 करोड़ रुपये का ग्लोबल टेंडर निकाला है, जिसे हासिल करने के लिए पांच बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने अपनी रुचि दर्शाई है. रेलवे ने यह टेंडर हाई हॉर्स पॉवर वाले 200 इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव की मैन्‍युफैक्‍चरिंग के लिए निकाला है. रेलवे द्वारा इन हाई हॉर्स पॉवर लोकोमोटिव का इस्तेमाल वेस्‍टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर पर भारी माल ढुलाई के लिए किया जाएगा.
इस ग्लोबल टेंडर की शर्तों के अनुसार भारतीय रेल को 200 इलेक्ट्रिक लोको की जरूरत है, जिनमें प्रत्‍येक की क्षमता 9000 हॉर्स पॉवर होने की पहली शर्त है. इनके जरिए 1,534 किमी लंबे डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडार के डबल ट्रैक पर दादरी से मुंबई के दरम्यान माल की ढुलाई की जाएगी. वेस्टर्न
...
more...
डीएफसी दिल्‍ली, हरियाणा, राजस्‍थान, गुजरात और महाराष्‍ट्र से होकर गुजरेगा.टेंडर की शर्तों के अनुसार सफल मैन्‍युफैक्‍चरर को चितरंजन, पश्चिम बंगाल स्थित चितरंजन लोकोमोटिव वर्क्‍स (सीएलडब्ल्यू) में 190 विद्युत् लोको का निर्माण करना होगा. टेंडर की शर्तों में तकनीकी हस्तांतरण का भी एक प्रमुख प्रावधान है. शर्तों के अनुसार बाहर से सिर्फ 10 इंजनों का आयात किया जा सकेगा, बाकी इंजनों का निर्माण सीएलडब्ल्यू में तकनीक हस्तांतरण के साथ करना होगा. इसके अलावा सफल कंपनी को रेवाड़ी में एक मेंटीनेंस डिपो भी स्थापित करना होगा.
प्राप्त जानकारी के अनुसार इस महत्वपूर्ण एवं महंगे प्रोजेक्‍ट में अब तक सीमेंस, बॉम्‍बाडियर, अल्‍सटॉम, बीएचईएल-ईएमडी और तोशिबा-सीआरआरसी नामक पांच बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने रुचि दर्शाई है और 15 मार्च को अपने आवेदन जमा कराए हैं. प्री-क्‍वॉलिफिकेशन बिड के लिए 15 मार्च आखिरी तारीख थी. रेल मंत्रालय (रेलवे बोर्ड) के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार अप्रैल के अंत तक इन कंपनियों द्वारा अपनी प्राइस बिड सौंपी जाएगी. अधिकारी का कहना था कि इस साल दिसंबर तक यह कॉन्‍ट्रैक्‍ट फाइनल हो जाने की पूरी उम्मीद है.
ज्ञातव्य है कि रेलवे ने हाई पॉवर लोकोमोटिव के लिए जापान इंटरनेशनल कॉरपोरेशन एजेंसी (जेआईसीए) के साथ ऋण शर्तों में संशोधन के बाद ग्‍लोबल टेंडर जारी किया था. यहां यह भी उल्लेखनीय है कि वेस्‍टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (डीएफसी) की पूरी फंडिंग जापान द्वारा की जा रही है. पहले हुए समझौते के तहत वेस्‍टर्न डीएफसी के लिए जापानी कंपनियों से ही लोको की खरीद की जानी थी. रेलवे ने दो साल पहले टेंडर जारी करके इस प्रोजेक्‍ट के लिए जापानी कंपनियों से रुचि प्रस्ताव मंगाए थे, परंतु तब यह टेंडर प्रक्रिया लोको की लागत तय करने को लेकर अटक गई थी.
तब जापानी कंपनियों ने प्रत्‍येक लोकोमोटिव के लिए 50 करोड़ रुपये की कीमत मांगी थी, जिसे रेल मंत्रालय द्वारा बहुत अधिक माना गया था. रेल मंत्रालय ने यह कीमत घटाकर आधी करने को कहा था, मगर जापानी कंसोर्टियम कीमत घटाने के लिए तैयार नहीं हुआ. ऐसे में उक्त टेंडर रद्द करना पड़ा था. तत्पश्चात संशोधित ऋण शर्तों के तहत नए सिरे से उपरोक्त ग्‍लोबल टेंडर जारी किया गया है.जापानी कंपनियों ने प्रत्‍येक लोकोमोटिव के लिए 50 करोड़ रुपये की कीमत मांगी थी, जिसे रेल मंत्रालय द्वारा बहुत अधिक माना गया था. रेल मंत्रालय ने यह कीमत घटाकर आधी करने को कहा था, मगर जापानी कंसोर्टियम कीमत घटाने के लिए तैयार नहीं हुआ. ऐसे में उक्त टेंडर रद्द करना पड़ा था. तत्पश्चात संशोधित ऋण शर्तों के तहत नए सिरे से उपरोक्त ग्‍लोबल टेंडर जारी किया गया है.
इस बार पांच ग्‍लोबल कंपनियां प्रतिस्पर्धा में हैं. रेलवे बोर्ड का मानना है कि इस बार दरें काफी प्रतिस्‍पर्धी होंगी. ज्ञातव्य है कि कुल 3373 किमी डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर रेल मंत्रालय का एक अत्यंत महत्वपूर्ण प्रोजेक्‍ट है. इसका उद्देश्य माल ढुलाई की बढ़ती जरूरतों को देखते हुए इसके लिए एक अलग रेलवे ट्रांसपोर्ट सिस्‍टम तैयार करना है. वेस्‍टर्न डीएफसी (1534 किमी) मुंबई में जवाहरलाल नेहरू पोर्ट से तुगलकाबाद और दादरी तक, जबकि ईस्‍टर्न डीएफसी (1839 किमी) लुधियाना (पंजाब) से दंकुनी, कोलकाता (पश्चिम बंगाल) तक है. सरकार ने हाल ही में संसद में इन दोनों कॉरिडोर के 2020 तक पूरा होने की बात कही है.

7513 views
Mar 25 2018 (16:35)
Sharad   95 blog posts
Re# 3236834-1            Tags   Past Edits
Last 4 year railway concerns on electricity
Mar 25 2018 (16:24) IRCTC और OLA ने मिलाया हाथ, यात्रियों को मिलेगी ये बड़ी सुविधा, जानें (https:)
NWR/North Western
0 Followers
7955 views

News Entry# 332523  Blog Entry# 3236826   
  Past Edits
Mar 25 2018 (16:24)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by sharad28oct/59239

Mar 25 2018 (16:24)
Train Tag: Rameswaram - Lucknow (FTR -IRCTC) Special/00441 added by sharad28oct/59239
Posted by: Sharad 9 news posts
इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन लिमिटेड (आईआरसीटीसी) ने अपने प्लेटफार्म और ऐप पर कैब बुकिंग उपलब्ध कराने के लिए ओला के साथ करार किया है।
ओला ने यहां जारी बयान में कहा कि इसके तहत आईआरसीटीसी की वेबसाइट या ऐप पर अब ओला कैब की बुकिंग की जा सकेगी। इसके लिए दोनों कंपनियों ने मंगलवार को इच्छा पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।
7 दिन पहले कर पाएंगे बुक
इसके
...
more...
माध्यम से यात्री ओला कैब के साथ ही ओला ऑटो और ओला शेयर आदि की बुकिंग कर सकेंगे। यात्री 7 दिन पहले या रेलवे स्टेशन पहुंचने पर कैब बुक कर सकेंगे।
कैसे होगी कैब बुकिंग
कैब बुक करने के लिए यात्रियों को आईआरसीटीसी एप या वेबसाइट पर लॉगिन करना होगा। लोग इन करने के बाद सर्विस स्टेशन पर क्लिक करें। इसके बाद आपको बुक ए कैब का विकल्प दिखाई देगा। इस विकल्प का चयन कर के अपने हिसाब से कैब चुन सकते हैं। अपनी जरुरत के हिसाब से डिटेल भरने के बाद बुकिंग कन्फर्म कर दें।

8053 views
Mar 25 2018 (16:33)
Sharad   95 blog posts
Re# 3236826-1            Tags   Past Edits
High tech.
Mar 25 2018 (16:13) Shatabdi fares to be lowered! This Indian Railways step for some routes will cheer passengers (http:)
NWR/North Western
0 Followers
12826 views

News Entry# 332521  Blog Entry# 3236820   
  Past Edits
Mar 25 2018 (16:13)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by sharad28oct/59239

Mar 25 2018 (16:13)
Train Tag: Lucknow Jn - New Delhi Swarn Shatabdi Express/12003 added by sharad28oct/59239

Mar 25 2018 (16:13)
Train Tag: Habibganj - New Delhi Shatabdi Express/12001 added by sharad28oct/59239

Mar 25 2018 (16:13)
Train Tag: Mysuru - Chennai Central Shatabdi Express/12008 added by sharad28oct/59239

Mar 25 2018 (16:13)
Train Tag: New Delhi - Mumbai Central SpecialFare AC SF Special/09006 added by sharad28oct/59239
Posted by: Sharad 9 news posts
Fares in premium Shatabdi trains on sections with low passenger occupancy could be slashed soon as the railways looks to ensure optimum utilisation of resources, a senior government official has said. The national transporter has identified 25 such Shatabdi trains in which this scheme could be implemented, the official said. “Indian Railway is actively working on a proposal in this regard,” the official told PTI The move to lower fares is encouraged by the success of a pilot project launched on two routes last year. In one section, where the pilot scheme was implemented, the earnings went up by 17 per cent and passenger bookings by 63 per cent, the official said. The development comes at a time when the national transporter is facing flak over the flexi-fare scheme and the general contention that it has led to a spike in fares in Shatabdi, Rajdhani and Duronto trains. The Railways runs...
more...
around 45 Shatabdi trains and these are among the fastest in the country. The Railways had last year launched a pilot project in two Shatabdi trains — one running between New Delhi and Ajmer and the other between Chennai-Mysuru to study the the impact of lowering of fares.
Under the scheme, the fares were reduced between Jaipur and Ajmer, and Bengaluru and Mysuru — the sections of the route which witnessed perpetual low occupancy. “The move yielded positive results for us. What we did was we offered fares in these premium trains equivalent to bus fares plying on the particular stretch,” the official said. In the case of the Shatabdi to Ajmer, he said, the occupancy was low between Jaipur and Ajmer as people preferred to travel by buses which offered more affordable fares. To attract passengers, the Railways decided to match the bus fare in the premium train and reduced the ticket prices to about Rs 300 in this section.Similar step was also taken in the Shatabdi train between Chennai and Mysuru. The fares were reduced between Bengaluru and Mysuru, resulting in 63 per cent growth in passenger bookings on this stretch between January and November last year compared to the corresponding period the previous year. The official said the measures being adopted are part of an exhaustive exercise initiated by the Railways for optimum utilisation of resources. One such exercise is reducing the layover time of a train for introducing more services. By reducing the layover time of trains, the official said, the Railways was now looking to run 100 new trains on shorter and longer routes. While 25 new trains have already been introduced, 75 more would be run within this year.

13011 views
Mar 25 2018 (16:32)
Sharad   95 blog posts
Re# 3236820-1            Tags   Past Edits
Good step taken by Indian railway

13054 views
Mar 25 2018 (16:48)
SRG
SRG^~   43398 blog posts
Re# 3236820-2            Tags   Past Edits
One more confusing move...Why not implement it uniformly discard that flexi fare.
Page#    9 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy