Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

चलती है (ग्वालियर-भोपाल वाया गुना बीना ICE) उड़ती है धूल जलते है दुश्मन खिलते है फूल - Adi Singh

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Mar 5 16:05:14 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

BRWD/Barwadih Junction (3 PFs)
برواڈیہ جنکشن     बरवाडीह जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Barwadih, Dist Latehar, 822111
State: Jharkhand

Elevation: 296 m above sea level
Zone: ECR/East Central   Division: Dhanbad

No Recent News for BRWD/Barwadih Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 31
Number of Originating Trains: 5
Number of Terminating Trains: 6
Rating: 3.8/5 (8 votes)
cleanliness - good (1)
porters/escalators - good (1)
food - good (1)
transportation - good (1)
lodging - good (1)
railfanning - good (1)
sightseeing - good (1)
safety - good (1)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 85 News Items  next>>
ट्रेन नंबर 03343 गोमो-बरवाडीह पैसेंजर ट्रेन की एक बोगी में शनिवार फंदे में लटकी युवक की लाश बरामद की गई। ट्रेन बरवाडीह स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-3 पर आकर रुकी तो लोगों ने शव देखा। युवक की लाश ऊपर वाली सीट से लाल रंग के मॉफलर से बने फंदे से लटकी मिली। जबकि, शव का पैर जमीन को छू रहा था। घटना की सूचना के बाद GRP ने शव को बाहर निकाला। आशंका जाहिर की जा रही है कि युवक की हत्या की गई। फिलहाल GRP मामले की जांच में जुट गई है।
GRP ने शव को नीचे उतार कर जब मृतक के पॉकेट को चेक किया तो उसमें एक आईकार्ड मिला। आईकार्ड में नाम अफरोज खान लिखा हुआ है। मृतक गढ़वा जिला
...
more...
के रेहला थाना क्षेत्र के डंडई का रहने वाला है। शव गार्ड बोगी से आगे 5वें बोगी से बरामद की गई। ट्रेन जैसे ही प्लेटफॉर्म नंबर-3 पर रुकी तो लोगों की नजर शव पर पड़ी। इसके बाद इसकी सूचना स्टेशन प्रबंधक को दी गई।
Feb 20 (17:22) लातेहार में सवारी ट्रेन में फंदे से झूलता मिला युवक का शव, इलाके में सनसनी (m.jagran.com)
Crime/Accidents
ECR/East Central
0 Followers
2117 views

News Entry# 440103  Blog Entry# 4883348   
  Past Edits
Feb 20 2021 (17:22)
Station Tag: Barwadih Junction/BRWD added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 20 2021 (17:22)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 20 2021 (17:22)
Station Tag: Latehar/LTHR added by Adittyaa Sharma/1421836
Jharkhand Latehar News मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने अज्ञात युवक के शव को एक गमछे से झूलता हुआ पाया। आरपीएफ इंस्पेक्टर पीके शर्मा उस बोगी को सील करते हुए मामले की जानकारी डालटनगंज जीआरपी को देते हुए पूरे मामले की जांच में जुट गए।
लातेहार, जासं। गोमो से चलकर बरवाडीह तक आने वाली सवारी ट्रेन से शनिवार को एक व्यक्ति का फंदे से झूलता हुआ शव पाया गया है। दोपहर दो बजे ट्रेन गोमो से बरवाडीह प्लेटफार्म नंबर दो पर पहुंची। यहां सवारी ट्रेन के गार्ड बोगी से पांचवीं बोगी में एक अज्ञात युवक का फंदे से झूलता हुआ शव होने की जानकारी यात्रियों के द्वारा बरवाडीह आरपीएफ को दी गई।
इसके
...
more...
बाद आरपीएफ के जवानों के द्वारा मामले की जानकारी स्टेशन प्रबंधक और आरपीएफ इंस्पेक्टर को दी गई। इसके बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने अज्ञात युवक के शव को एक गमछे से झूलता हुआ पाया। आरपीएफ इंस्पेक्टर पीके शर्मा ने उस बोगी को सील करते हुए मामले की जानकारी डालटनगंज जीआरपी को दी। इसके बाद पूरे मामले की जांच में जुट गए।
फिलहाल मृतक व्यक्ति की पहचान नहीं हो सकी है। इसके पूर्व भी बीते वर्ष बरवाडीह से डेहरी जाने वाली शटल पैसेंजर ट्रेन में एक व्यक्ति का फंदे से झूलता हुआ शव बरामद किया गया था। मामले को लेकर आरपीएफ इंस्पेक्टर पीके शर्मा ने कहा कि शव मिलने की जानकारी यात्रियों के द्वारा आरपीएफ के जवानों को दी गई थी। इसके बाद बोगी को सील करते हुए शव को कब्जे में लिया गया है और आगे की जांच चल रही है।
Feb 12 (22:59) त्रिवेणी लिंक एक्सप्रेस को रांची से चलाने की मांग, सांसद ने रेलवे को पत्र लिखकर दिए कई सुझाव (lagatar.in)
Commentary/Human Interest
SER/South Eastern
0 Followers
19024 views

News Entry# 438730  Blog Entry# 4875246   
  Past Edits
Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: WyndhamGanj/WDM added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Duddhinagar/DXN added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Prayagraj Junction (Allahabad)/PRYJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Chunar Junction/CAR added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Mirzapur/MZP added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Sonbhadra/SBDR added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Chopan/CPU added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (23:00)
Station Tag: Renukut/RNQ added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: Ghughuli/GH removed by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: Garhwa Road Junction/GHD added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: Ghughuli/GH added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: DaltonGanj/DTO added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: Tori Junction/TORI added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: Lohardaga/LAD added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: Barwadih Junction/BRWD added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 12 2021 (22:59)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by Adittyaa Sharma/1421836
Ranchi : बरवाडीह से यूपी के टनकपुर ( चंपावत ) तक चलनेवाली त्रिवेणी लिंक एक्सप्रेस को रांची से लखनऊ तक चलाने की मांग की जा रही है. यात्री उपलब्धता में कमी होने के कारण रेलवे ने इसे स्थायी रूप से बंद करने का आदेश जारी की है.
यूपी के सांसद ने रेलवे बोर्ड से चलाने की मांग
लेकिन यूपी के सांसद रामसकल ने रेलवे बोर्ड से इस ट्रेन को रांची से लखनऊ तक चलाने की मांग की है. उन्होंने बोर्ड से कहा है कि इस ट्रेन को बंद करने से सोनभद्र, रेणुकुट और
...
more...
आसपास तथा दूर दराज में रहनेवाले रेल यात्रियों को इससे असुविधा होगी. इसलिए रेलवे इस ट्रेन को रांची से लखनऊ के बीच चलाना चाहिए.
ट्रेन लाभ की स्थिति में आएगी
इसे रांची-लोहरदगा और टोरी मार्ग से चलाया जाना चाहिए. यह रूट आदिवासी बहुल क्षेत्र है. इस परिवर्तन से उनकी आर्थिक दशा में सुधार होगी. उन्होंने रांची-लखनऊ को नए स्वरूप में वाया प्रयागराज, मिर्जापुर, सोनभद्र, चोपण, रेणुकुट, दुद्धीनगर, वीढ़मगंज से होकर चलाने का सुझाव दिया है. उन्होंने इस बदलाव से ट्रेन के यात्रियों उपलब्धता में और वृद्धि होने की बात कहीं. इससे ट्रेन के व्यवसायिक हानि नहीं होकर ट्रेन लाभ की स्थिति में आएगी.
मांग रेलवे ने आज तक पूरी नहीं की है
रांची रेल मंडल से यात्री संगठनों, रेलवे उपभोक्ता सलाहकार समिति के सदस्यों और शहर के नागरिक संगठन वर्षों से लखनऊ के लिए ट्रेन की मांग करते रहे हैं. इन संगठनों की मांगों पर राज्य सरकार ने भी कई बार रेलवे बोर्ड और मंत्रालय से इस रूट में नयी ट्रेन चलाने का प्रस्ताव भेजा गया. लेकिन शहरवासियों की यह बड़ी मांग आज तक रेलवे की ओर से पूरा नहीं किया गया.
लखनऊ के साथ ही रांची से उत्तराखंड के लिए भी ट्रेन की मांग काफी पुरानी है. इन स्थानों में जाने के लिए रांची के यात्रियों को बनारस और अन्य शहरों से सफर करनी पड़ती है. बावजूद इसके यह मांग रेलवे ने आज तक पूरी नहीं की है.
Feb 08 (07:10) विकास या मजाक:देश की सबसे पुरानी रेल लाइन प्रोजेक्ट के लिए केंद्र सरकार ने बजट में महज एक हजार रुपए दिए (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central
0 Followers
8530 views

News Entry# 437728  Blog Entry# 4870128   
  Past Edits
Feb 08 2021 (07:10)
Station Tag: Barwadih Junction/BRWD added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 08 2021 (07:10)
Station Tag: Chirimiri/CHRM added by Anupam Enosh Sarkar/401739
आजादी से पहले अंग्रेजों द्वारा प्रस्तावित देश की सबसे पुरानी रेल परियोजना के तहत बरवाडीह से चिरमिरी रेल लाइन बिछाने के प्रोजेक्ट के लिए इस बजट में केंद्र सरकार ने मात्र एक हजार रुपए का बजट दिया है। इसके अलावा छत्तीसगढ़ के दूसरे रेल लाइनों के विस्तार व निर्माण के लिए एक एक हजार रुपए बजट में घोषणा करने के बाद राज्य के लोगों की उम्मीदों पर बड़ा झटका लगा है। बजट के मुताबिक बरवाड़ीह से चिरमिरी रेल लाइन 182 किलोमीटर, रायपुर से झाड़सुगुड़ा 310 किलोमीटर, धरमजयगढ़ से कोरबा 63 किलोमीटर के अलावा बिलासपुर से उरकुरा के लिए भी एक-एक हजार का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा झाड़सुगुड़ा बिलासपुर फ्लाईओवर, दुर्ग कमान लूप लाइन व बेहतर उतराई सुविधाओं से मॉल शेड का विकास, भिलाई एक्सचेंज यार्ड डेड का विस्तार करके दो अतिरिक्त लाइन के साथ ढांचा परिवर्तन के लिए भी मात्र एक एक हजार का प्रावधान किया गया है।
अंग्रेजों
...
more...
ने व्यापार बढ़ाने शुरू किया था काम
बरवाडीह रेल लाइन पर काम अंग्रेजों ने बिजनेस के लिहाज से शुरू करने का काम शुरू किया था, लेकिन देश आजाद हुआ उसके बाद अब तक इस लाइन का काम मूर्त रूप नहीं ले सका। जबकि कई सालों से इसके सर्वे सहित अन्य कार्यों के लिए बजट दिया गया था, लेकिन इस बार मात्र एक हजार रुपए का बजट में प्रावधान के बाद इसकी उम्मीद नहीं है कि अब इस लाइन पर काम होगा।
बजट में रेल सुविधा की उम्मीदों पर फेरा पानी
इतना ही नहीं बिलासपुर मंडल रेलपथ मशीनों के स्थिरण साइडिंग नौ स्टेशन और बिलासपुर उसलापुर घुटकू स्वचलित सिग्नल व कटोरा सूरजपुर समपार 205 के बदले ऊपरी सड़क का पुनः निर्माण की उम्मीद भी इस बजट से ख़त्म कर दी गई और उनके लिए एक-एक हजार का बजट रखा गया है। केंद्र सरकार के इस प्रावधान से अंबिकापुर के साथ प्रदेश के अन्य प्रोजेक्ट से मिलने वाली सुविधाओं पर भी पानी फिर गया है।
आजादी के समय से ही काम बंद हो गया
वर्ष 1935-36 में जबलपुर-रांची को जोड़ने की योजना ब्रिटिश सेना ने द्वितीय विश्व युद्ध के कारण बनाई थी। तब 400 किमी की दूरी मुंबई-कोलकाता के बीच कम हो जाने का आकलन था। बरवाडीह से कुटकू, भंडरिया, बरगढ़ होते हुए बलरामपुर के सरनाडीह तक काम प्रारंभ कर दिया गया था। बरगढ़ से भंडरिया, कुटकू तक रेल पात बिछाई गई थी, पुलों के खंभे बनाए जा रहे थे, स्टेशनों में क्वाटर्स आदि काम प्रारंभ कर दिए गए थे, लेकिन 1946 में काम बंद कर दिया गया।
रेल लाइन का किया जाएगा विस्तार: रेणुका
सरगुजा सांसद व केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने कहा है कि बरवाडीह के लिए दो तीन साल में काम होगा। लाइन का विस्तार कराया जाएगा इसलिए उसका बजट में उल्लेख होता है क्योंकि उस पर काम करना है। कोरोना काल के कारण अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा है, जिसका बजट पर असर पड़ा है। वहीं रेलवे के पीआरओ संतोष कुमार ने कहा है कि बजट में जो राशि दी गई है वह प्रतीकात्मक है, परियोजना बंद नहीं हो रही है।
2013 में प्रोजेक्ट को मिली थी स्वीकृति
1960 में जब रेलमंत्री जगजीवन राम अंबिकापुर आए थे तो पुरजोर मांग उठी, फिर चिरमिरी की ओर से करंजी-बिश्रामपुर तक, चिरमिरी-बरवाडीह लाइन का काम 1960 से 1962 तक किया गया। 2006 में जनसंघर्ष के बाद बिश्रामपुर से रेल लाइन का विस्तार अंबिकापुर तक किया गया। 2013 में पहली बार अंबिकापुर-बरवाडीह 182 किलोमीटर रेल लाइन की स्वीकृति केंद्र की मनमोहन सिंह की सरकार ने सैद्धांतिक रूप से दी थी।

Rail News
6922 views
Feb 08 (07:59)
arunjoshi028   1875 blog posts
Re# 4870128-1            Tags   Past Edits
अंबिकापुर बरवाडी के लिए ₹1000 मिला बहुत खुशी की बात है

5398 views
Feb 08 (12:00)
Saurabh®
Saurabhdubey_86~   23684 blog posts
Re# 4870128-2            Tags   Past Edits
ismein khushi ka kya baat hhai? 1960 se is project ka demand MPs ne raise kiya tha. Aaj tak ground level mein kuch bhi nahi hai.

3911 views
Feb 08 (15:45)
arunjoshi028   1875 blog posts
Re# 4870128-3            Tags   Past Edits
रेलवे पर व्यंग है ऐसा पूरा हिंदुस्तान में हो रहा है यह परियोजना तो अंग्रेज लोगों के जमाने से थी रेलवे को जहां आमदनी होगी गुड ट्रेन चलेगी वही लाइन बनेगी
Feb 06 (17:28) गोमो-बरवाडीह पैसेंजर ट्रेन को चोपन तक चलाने की मांग (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
11526 views

News Entry# 437487  Blog Entry# 4868834   
  Past Edits
Feb 06 2021 (17:29)
Station Tag: Chopan/CPU added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 06 2021 (17:29)
Station Tag: Barwadih Junction/BRWD added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 06 2021 (17:29)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 06 2021 (17:29)
Station Tag: Duddhinagar/DXN added by Adittyaa Sharma/1421836
धनबाद रेल मंडल के गोमो से बरवाडीह तक चल रहे यात्री ट्रेन।
जागरण संवाददाता, दुद्धी (सोनभद्र) : धनबाद रेल मंडल के गोमो से बरवाडीह तक चल रहे यात्री ट्रेन को चोपन जंक्शन तक चलाने की मांग लोगों ने की है।
शनिवार को क्षेत्रीय विधायक हरिराम चेरो, नगर पंचायत अध्यक्ष राजकुमार अग्रहरि, व्यापार मंडल अध्यक्ष अछैवर नाथ गुप्ता, दुद्धी बार एसोसिएशन के अध्यक्ष कैलाश अग्रहरि एवं सिविल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नागेंद्र नाथ श्रीवास्तव ने डीआरएम धनबाद को पत्र के जरिए बरवाडीह पैसेंजर ट्रेन को चोपन तक एवं रांची-चोपन इंटर सिटी एक्सप्रेस
...
more...
ट्रेन का संचालन शुरू कराने की मांग की। धनबाद रेल मंडल प्रबंधक को भेजे पत्र में अवगत कराया गया है कि कोरोना काल में ट्रेनों के बंद हुए परिचालन से उत्तर प्रदेश एवं झारखंड के सीमावर्ती क्षेत्रों की सामाजिक, आर्थिक, व्यवसायिक एवं चिकित्सीय गतिविधियां पूरी तरह से ठप हैं। स्थानीय लोगों को इमरजेंसी की दशा में भी गढ़वा, डाल्टेनगंज, लातेहार, पतरातू, रांची आने जाने के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। क्षेत्र में एकाध एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन हो भी रहा है, तो उसके टिकट आरक्षित कराने में लोगों को परेशानी हो रही है। बावजूद टिकट भी नहीं मिल रहा है।
Page#    Showing 1 to 20 of 85 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy