Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Bhopal Shatabdi: chalti hai ek dum hawa ke mafik, speed aisi ke ruka de traffic - Varun

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Jun 24 08:25:11 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 719349-0
Medium; Platform Pic;
Entry# 4732324-0
Medium; Large Station Board;
Entry# 4733860-0

BRKY/Boraki (3 PFs)
بوڑاکی     बोड़ाकी
[Bodaki]

Track: Triple Electric-Line

Show ALL Trains
Boraki Village, Greater Noida, GB Nagar 201310
State: Uttar Pradesh


Zone: NCR/North Central   Division: Prayagraj (Allahabad)

No Recent News for BRKY/Boraki
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 6
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 7 of 7 News Items  
दादरी। दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर पल्ला गांव के नजदीक रेलवे ट्रैक के नीचे की जमीन धंस गई। दिल्ली मुंबई औद्योगिक कॉरिडोर (डीएमआईसी) का काम कर रहे इंजीनियर ने इसे देख लिया। उन्होंने तुरंत इसकी सूचना रेलवे को दी। इमरजेंसी ब्रेक लगाकर डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेसवे को बोड़ाकी में रोक दिया गया। छह अन्य ट्रेनें भी अलग-अलग जगहों पर रोक दी गईं। करीब पौने घंटे तक ट्रेनें रुकी रहीं। समय पर सूचना मिलने से बड़ा हादसा टल गया। रेलवे लाइन को दुरुस्त करने के बाद ट्रेनों की आवाजाही शुरू हुई।विज्ञापनरेल अधिकारियों के मुताबिक गांव पल्ला के नजदीक रेलवे लाइन के नीचे से पानी की लाइन जा रही है। रेलवे लाइन के नीचे से ही पल्ला-बोड़ाकी नहर भी गुजर रही है। वहीं डीएमआईसी का निर्माण कार्य चल रहा है। रविवार सुबह 9:15 बजे निर्माणाधीन कंपनी का इंजीनियर रेलवे लाइन के किनारे टहल रहा था। उसे रेलवे लाइन की जमीन धंसी दिखी। वहां रखे पत्थर...
more...
भी नीचे खिसक गए थे। उसने इसकी सूचना दादरी रेलवे स्टेशन मास्टर नितेश कुमार को दी। स्टेशन मास्टर ने रेलवे कंट्रोल रूम को सूचित कर दिल्ली जा रही ट्रेनों को तत्काल रोकने को कहा गया। डिब्रूगढ़ राजधानी उस समय अजायबपुर रेलवे स्टेशन को पार कर चुकी थी। चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर बोड़ाकी फाटक के पास ट्रेन रोक दी गई। बाकी ट्रेनों को भी उनकी जगह पर रोक दिया गया।रेलवे स्टेशन अधीक्षक मुनीराज मीणा और यातायात निरीक्षक घनश्याम मीणा समेत रेलवे के कई अधिकारी मौके पर पहुंच गए। करीब 40 मिनट तक काम चला। उसके बाद ट्रेनों की आवाजाही शुरू कर दी गई। राजधानी ट्रेन को करीब 9.21 बजे रोका गया था और 10.05 बजे दिल्ली की तरफ फिर से रवाना किया गया।समय से पहुंच सके, इसलिए राजधानी का लिया था टिकटराजधानी ट्रेन में सवार यात्री दीपक कुमार का कहना है कि वह बिहार से दिल्ली से जा रहे थे। उन्हें ट्रेन को दिल्ली दस बजे पहुंचने का समय था। एक अन्य यात्री ने बताया कि वह बिजनेस की मीटिंग के सिलसिले में दिल्ली आया था। 11 बजे से जरूरी मीटिंग थी। ट्रेन लेट होने से नहीं पहुंच सकेंगे। उन्होंने बताया कि जब इमरजेंसी ब्रेक लगाया गया तो समझ गया कि कुछ बड़ी बात हुई होगी।ये ट्रेनें रुकीं- 02423 डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस- 02313 सियालदाह राजधानी एक्सप्रेस- 02313 हटिया एक्सप्रेस- 02241 रांची मेल- 02871 मगध एक्सप्रेस- 82501 तेजस एक्सप्रेस- कुछ अन्य मालगाड़ी ट्रेनेंकोटरेलवे ट्रैक के नीचे से ग्रेटर नोएडा के लिए गंगा वाटर की लाइन जा रही है। पानी का रिसाव होने पर पाइपलाइन के पास से पानी रेलवे लाइन के नीचे तक पहुंच गया। इस वजह से रेलवे लाइन की मिट्टी नीचे धंस गई। कंकरीट पटरी से नीचे चली गई । उसको ठीक कराकर लाइन को चालू कर दिया गया है।- मुनीराज मीणा, दादरी रेलवे स्टेशन अधीक्षकबस 2 किमी दूर थी राजधानी एक्सप्रेसपल्ला गांव के पास जिस जगह मिट्टी धंसी, वहां से राजधानी एक्सप्रेसवे मात्र दो किमी दूर थी। इसी रास्ते से मात्र 10 मिनट पहले ही हाथरस पैसेंजर और एक अन्य एक्सप्रेस ट्रेन निकली थी। राजधानी ट्रेन उस समय अजायबपुर रेलवे स्टेशन के नजदीक पहुंच चुकी थी। इमरजेंसी ब्रेक लगाने के बावजूद ट्रेन बोडाकी स्टेशन के पास फाटक तक पहुंच गई। अगर सूचना मिलने में पांच मिनट और देरी हो जाती तो पल्ला तक राजधानी को रोकना मुश्किल हो जाता। इससे बड़ा हादसा हो सकता था। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि उसी रेलवे लाइन से तीन एक्सप्रेस और छह मालगाड़ियां निकलीं थीं।रेलवे फाटक पर भी लगी वाहनों की कतारबोड़ाकी रेलवे फाटक के बीच राजधानी करीब पौने घंटे तक रुकी रही। इससे ग्रेटर नोएडा की तरफ आने जाने वाले वाहनों की कतार लग गई। वहां परेशान वाहन चालकों ने फाटक लगाने वाले रेलवे कर्मचारी से ट्रेन के आगे जाने के बारे में पूछताछ करते रहे। कुछ वाहन चालक रामगढ़ व पल्ला फाटक से निकलकर अपने गतंव्य तक गए।
Mar 07 (15:57) दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर जमीन में धंसी पटरी, एक घंटे तक खड़ी रही राजधानी एक्सप्रेस (www.amarujala.com)
Major Accidents/Disruptions
NCR/North Central
0 Followers
7088 views

News Entry# 443037  Blog Entry# 4899465   
  Past Edits
Mar 07 2021 (15:57)
Station Tag: Boraki/BRKY added by ANIKET/1490219
Stations:  Boraki/BRKY  
दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर रविवार को फरीदाबाद के गांव पल्ला के पास रेलवे लाइन के नीचे से पानी सप्लाई की लाइन निकालने के दौरान बड़ा हादसा होने से बच गया। लाइन निकालने के दौरान रेलवे लाइन की पटरी जमीन में धंस गई, जिससे राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन करीब एक घंटे तक बोडाकी रेलवे-स्टेशन पर खड़ी रही। ऐसे में अन्य ट्रेनों की आवाजाही भी बाधित रही।
आने वाले पांच वर्षों में ग्रेटर नोएडा और आसपास के लोगों को ट्रेन या अंतर्राज्यीय बस पकड़ने के लिए आनंद विहार नहीं जाना पड़ेगा, बल्कि बोड़ाकी से ही ट्रेन और बस मिलेगी। रेल मंत्रालय मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब तक रेलवे लाइन बनाने को राजी हो गया है। इसके लिए फंड ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण जुटाएगा। विज्ञापन ...
more...
दरअसल, ग्रेटर नोएडा में बोड़ाकी के पास मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब और लॉजिस्टिक हब विकसित किया जा रहा है। हाल ही में केंद्र सरकार से इस परियोजना को मंजूरी भी मिल चुकी है। इन प्रोजेक्ट को करीब 1208 हेक्टेयर में बसाया जा रहा है। इसके लिए पांच गांवों पाली, पल्ला, कठहेरा, बोड़ाकी व चिटेहरा की जमीन ली जाएगी। इन दोनों परियोजनाओं की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार की जा रही है। अगले तीन माह में रिपोर्ट तैयार हो जाएगी। एक तरफ यात्रियों के लिए मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब विकसित किया जा रहा है तो दूसरी तरफ उद्योगों के माल ढुलाई के लिए लॉजिस्टिक हब विकसित हो रहा है। इन दोनों को विकसित करने में करीब 3884 करोड़ रुपये खर्च होंगे। बोड़ाकी टर्मिनल से मिलेंगी पूर्वी यूपी, बिहार के लिए ट्रेनें मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब प्रोजेक्ट के तहत रेलवे, बस अड्डा व मेट्रो कनेक्टिविटी विकसित की जाएगी। बोड़ाकी के पास ही टर्मिनल बनेगा। इस पर रेलवे ने मंजूरी दे दी है। यहां से पूरब की ओर जाने वाली अधिकतर ट्रेनें चलेंगी। इससे दिल्ली, नई दिल्ली व आनंद विहार टर्मिनल पर भी दबाव कम होगा। ग्रेटर नोएडा व उसके आसपास रहने वालों को पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल आदि के लिए ट्रेनें यहीं से मिलेंगी। अंतर्राज्यीय बस अड्डा भी पहले ही मंजूर हो चुका है। इसके अलावा डिपो स्टेशन से मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब तक मेट्रो स्टेशन पर भी मुहर लग चुकी है। करीब तीन किलोमीटर लाइन बनाने की तैयारी है। यहां के उद्योगों में काम करने वालों के लिए लोकल बसें भी चलेंगी। एक नजर लॉजिस्टिक हब पर नोएडा, ग्रेटर नोएडा व यमुना प्राधिकरण के उद्योगों की जरूरत को देखते हुए लॉजिस्टिक हब परियोजना बेहद अहम है। इसके मूर्त रूप में आने के बाद माल ढुलाई आसान हो जाएगी। मुंबई, गुजरात आदि जगहों पर जाने में चार से पांच दिन लगते हैं, इसके शुरू होने के बाद माल डेढ़ दिन में पहुंच सकेगा। दादरी के पास से गुजर रहा डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर इससे जुड़ेगा। लॉजिस्टिक हब तक रेलवे लाइन बनाने पर भी सहमति बन गई है। इसके लिए फंड का इंतजाम ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को करना है। इसके अलावा लॉजिस्टिक हब में वेयर हाउस भी बनेंगे। डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर की दो लाइनें (ईस्टर्न व वेस्टर्न) हैं। दिल्ली से मुंबई ईस्टर्न लाइन है और लुधियाना से कोलकाता वेस्टर्न लाइन है। दोनों लाइनें न्यू खुर्जा में जुड़ेंगी। इसके लिए लॉजिस्टिक हब से न्यू खुर्जा तक लाइन बनाई जाएगी। लॉजिस्टिक हब तक रेलवे लाइन और बोड़ाकी के नए टर्मिनल के लिए रेल मंत्रालय से सहमति बन गई है। दोनों की परियोजना रिपोर्ट तैयार की जा रही है। फिलहाल, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण इन परियोजनाओं के लिए फंड जुटाने की कोशिश कर रहा है। इन दोनों परियोजनाओं से उद्योगों व यहां रहने वालों को बहुत सुविधाएं मिल सकेंगी। - नरेंद्र भूषण, सीईओ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण
Jan 04 (15:53) ग्रेनो में होगा आनंद विहार जैसा मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब (www.amarujala.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
8361 views

News Entry# 431645  Blog Entry# 4833695   
  Past Edits
Jan 04 2021 (15:54)
Station Tag: Boraki/BRKY added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Boraki/BRKY  
ग्रेनो में होगा आनंद विहार जैसा मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब
ग्रेटर नोएडा (अरविंद सिंह)। दिल्ली के आनंद विहार जैसा दूसरा मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब ग्रेटर नोएडा में बनेगा। बोड़ाकी इसका केंद्र होगा। यहां से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान राज्यों के लिए बसें व ट्रेनें मिलेंगी। इन राज्यों के निवासियों को बसें या ट्रेनें पकड़ने दिल्ली नहीं जाना पड़ेगा। आनंद विहार में रेल, मेट्रो व अंतर्राज्यीय बस अड्डा आसपास ही हैं, जिससे लोगों को बहुत सहूलियत है। दरअसल, बोड़ाकी के पास करीब 1100 एकड़ में मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब विकसित किया जाना है। इसे विकसित करने में करीब 4400 करोड़ रुपये खर्च होने का आकलन है। यह प्रस्ताव लंबे अर्से से कागजों में चला आ रहा था, लेकिन हाल ही में केंद्र सरकार से अनुमति मिलने
...
more...
के बाद इसने रफ्तार पकड़ ली है। ट्रांसपोर्ट हब में मुख्य रूप से तीन तरीके से यातायात की सुविधाएं विकसित की जाएंगी। पहला, यहां तक मेट्रो चलेगी। वर्तमान समय में ग्रेटर नोएडा के डिपो स्टेशन तक मेट्रो जाती है। नोएडा से ग्रेटर नोएडा तक मेट्रो का आखिरी पड़ाव डिपो ही है। यहां से ट्रांसपोर्ट हब करीब तीन किलोमीटर पर है। इस तीन किलोमीटर दूरी में मेट्रो चलाई जाएगी। इसके लिए नोएडा मेट्रो रेल कार्पोरेशन को सलाहकार एजेंसी के रूप में नियुक्त किया गया है। इस रूट के बनने से ट्रांसपोर्ट हब एनसीआर से जुड़ जाएगा।
दूसरा, यहां पर अंतर्राज्यीय बस अड्डा बनेगा। इसके लिए रोडवेज को सलाहकार के रूप में नियुक्त किया गया है। इस बस अड्डे से सरकारी के साथ ही निजी बसें भी चलेंगी, जिससे वोल्वो जैसी आधुनिक सुविधाओं से लैस बसें भी चलेंगी। फिलहाल यहां से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड व राजस्थान के लिए बसें मिल सकेंगी।
तीसरा, यहां से रेल की सुविधा मिलेगी। वर्तमान समय में बोड़ाकी छोटा स्टेशन है। यहां पर एक्सप्रेस ट्रेनें नहीं रुकतीं। इसे जंक्शन बनाने की योजना है। रेल मंत्रालय इसे बनाने के लिए तैयार हो गया है। पूर्वांचल, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल को जाने वाली कुछ ट्रेनें यहां चलाई जाएंगी। आसपास के लोग इन जगहों की ट्रेन पकड़ने के लिए नई दिल्ली या आनंद विहार नहीं जाना पड़ेगा। इन तीनों ही परियोजनाओं को विकसित करने के लिए जमीन ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण उपलब्ध कराएगा। बनाने में खर्च की रकम केंद्र व उत्तर प्रदेश सरकार मिलकर वहन करेंगे। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की मानें तो अब तक 88 फीसदी जमीन ली जा चुकी है। शेष 12 फीसदी जमीन जिला प्रशासन किसानों से अधिगृहीत कर रहा है। जिला प्रशासन ने अधिगृहीत जमीन का सामाजिक समाघात प्रभाव (सोशल इंपैक्ट असेसमेंट) भी करा लिया है।
एक लाख युवाओं को मिलेगा रोजगार
मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब से न सिर्फ यात्रियों के मेट्रो, बस व रेल कनेक्टिविटी की सुविधा होगी, बल्कि रोजगार के नजरिए से बहुत अहम है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने इसकी प्राथमिक रिपोर्ट तैयार की है, जिसमें एक लाख रोजगार के अवसर मिलने का अनुमान है। ये रोजगार ट्रांसपोर्ट सेवाओं के संचालन के साथ ही आसपास होने वाली गतिविधियों से मिलेंगे।2021 में इन तीनों की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार कर निविदा निकालने का लक्ष्य है।
बोड़ाकी रेलवे स्टेशन को विकसित करने के लिए भारत सरकार से बातचीत चल रही है। मेट्रो रूट को एनएमआरसी बनाएगी और रोडवेज व कुछ निजी ट्रांसपोर्टरों को बस अड्डा विकसित करने की जिम्मेदारी दी जाएगी। अगले तीन साल में यहां बहुत कुछ बदल जाएगा।
- नरेंद्र भूषण, सीईओ, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण
Jul 08 2020 (14:37) दादरी क्षेत्र में छह आरओबी का होगा निर्माण (m-jagran-com.cdn.ampproject.org)
IR Affairs
NCR/North Central
0 Followers
47995 views

News Entry# 413433  Blog Entry# 4664603   
  Past Edits
Jul 08 2020 (14:37)
Station Tag: Dankaur/DKDE added by GZB⭐️WAP5⭐️35006/1833693

Jul 08 2020 (14:37)
Station Tag: Chipyana Buzurg/CPYZ added by GZB⭐️WAP5⭐️35006/1833693

Jul 08 2020 (14:37)
Station Tag: Ajaibpur/AJR added by GZB⭐️WAP5⭐️35006/1833693

Jul 08 2020 (14:37)
Station Tag: Maripat/MIU added by GZB⭐️WAP5⭐️35006/1833693

Jul 08 2020 (14:37)
Station Tag: Boraki/BRKY added by GZB⭐️WAP5⭐️35006/1833693

Jul 08 2020 (14:37)
Station Tag: Dadri/DER added by GZB⭐️WAP5⭐️35006/1833693
दादरी : प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को गौतमबुद्ध नगर के दादरी शहर के लोगों को बड़ी सौगात दी। उप मुख्यमंत्री ने दादरी क्षेत्र में दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक पर करीब 444 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले छह रेलवे ओवरब्रिज (आरओबी) का शिलान्यास लखनऊ से किया। इस दौरान दादरी के विधायक मास्टर तेजपाल नागर मेरठ स्थित उत्तर प्रदेश लोक निर्माण निगम के चीफ डिवीजन कार्यालय पर मौजूद रहे। इन सभी आरओबी का निर्माण उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम व लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जाएगा।

...
more...
विधायक ने बताया कि दादरी शहर के विकास में ग्रेटर नोएडा व दादरी के बीच रेलवे लाइन पर ओवरब्रिज न होना बड़ी बाधा थी। इस कारण नोएडा व ग्रेटर नोएडा के लोगों को दादरी तक आने-जाने में रेलवे फाटक पर जाम की समस्या से जूझना पड़ता था। आरओबी के निर्माण के बाद लोगों को जाम से राहत मिलेगी। उन्होंने बताया कि दो लेन का आरओबी का निर्माण मायचा गांव के पास होगा और दो लेन का आरओबी मायचा-अजायबपुर मार्ग पर बनाया जाएगा। इसके अलावा रायपुर बांगर-अजायबपुर मार्ग व दो लेन का आरओबी रामगढ़-घोड़ी बछेड़ा गांव के बीच बनेगा। एक अन्य चार लेन का आरओबी चिपियाना गांव के पास बनाया जाएगा। इन सभी पर करीब 444 करोड़ रुपये खर्च आएगा। उन्होंने बताया कि सभी आरओबी बनने के बाद क्षेत्र की जनता के साथ उद्यमियों को लाभ मिलेगा। इन सभी आरओबी के निर्माण के बाद ग्रेटर नोएडा, नोएडा की तरह ही दादरी क्षेत्र का विकास हो सकेगा। तेजपाल नागर ने क्षेत्र की जनता को यह सौगात देने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व उप मुख्यमंत्री का आभार जताया है।
इस मौके पर विधायक के साथ उप्र ब्रिज कारपोरेशन के महाप्रबंधक आशीष श्रीवास्तव, संजीव भारद्वाज, शशि भूषण समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।
Page#    Showing 1 to 7 of 7 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy