Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

For a RailFan, watching MPS skips are far more interesting than watching F1 race - Prince Maan

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sat Jul 24 11:25:57 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 963728-0
Medium; Platform Pic;
Entry# 4601653-0

DRGJ/Daraganj (2 PFs)
دارا گنج     दारा गंज

Track: Construction - Electric-Line Doubling

Daraganj Ghat Road, Near Parade Ground, Prayagraj 211006
State: Uttar Pradesh


Zone: NER/North Eastern   Division: Varanasi

No Recent News for DRGJ/Daraganj
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 11
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)

Station News

Page#    Showing 1 to 18 of 18 News Items  
Jun 27 (05:14) जल स्तर बढ़ने से रेलवे पुल का काम फंसा (www.livehindustan.com)
IR Affairs
NER/North Eastern
0 Followers
12716 views

News Entry# 457427  Blog Entry# 4996573   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
प्रयागराज। भारी बारिश से गंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। प्रयागराज रामबाग-वाराणसी रेलखंड में गंगा पर बन रहे रेलवे पुल का काम बारिश से अभी तक ठहरा था, अब गंगा का जलस्तर बढ़ने से रुकने की आशंका है। जल स्तर बढ़ने से रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) के कर्मचारियों ने वहां से निर्माण सामग्री हटाना शुरू कर दिया है। शनिवार को यह सिलिसला तेज हो गया। प्रयागराज से वाराणसी वाया दारागंज रेलमार्ग पर रेलवे ट्रैक के दोहरीकरण का काम चालू है। प्रयागराज रामबाग और झूंसी स्टेशनों के बीच गंगा पर रेलवे पुल का निर्माण बाढ़ की स्थिति से रुकने की कगार पर है।
Jun 01 (18:08) रेलवे ने पकड़ी पुलों के निर्माण में तेजी (www.livehindustan.com)
IR Affairs
NCR/North Central
0 Followers
17825 views

News Entry# 454112  Blog Entry# 4974814   
  Past Edits
Jun 01 2021 (18:08)
Station Tag: Daraganj/DRGJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (18:08)
Station Tag: Jhusi/JI added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (18:08)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (18:08)
Station Tag: Iradatganj/IDGJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (18:08)
Station Tag: Pt. DD Upadhyaya Junction (Mughalsarai)/DDU added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (18:08)
Station Tag: Bhaupur/BPU added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (18:08)
Station Tag: Prayagraj Junction (Allahabad)/PRYJ added by Adittyaa Sharma/1421836
प्रयागराज। वरिष्ठ संवाददाता
गंगा और यमुना नदी पर रेलवे द्वारा तैयार किए जा रहे दो पुलों का निर्माण जल्द ही पूरा हो जाएगा। रेलवे अफसरों ने अब निर्माण में युद्ध स्तर की तेजी ला दी है। यहां तक कि 24 घंटे कार्य कराया जा रहा है। पुलों का निर्माण हो जाने से ट्रेनों के आवागमन में काफी सुविधा हो जाएगी। कई ट्रेनों को शिफ्ट करने में भी आसानी हो जाएगी।
प्रयागराज में गंगा और यमुना पर दो पुलों का निर्माण करने में रेलवे ने तेजी पकड़ ली है। न्यू भाऊपुर-पंडित दीन दयाल उपाध्याय
...
more...
के तहत यमुना पर पुल का निर्माण दो साल से चल रहा है। डबल लाइन वाले इस रेलमार्ग पर इरादतगंज के निकट यमुना पर बनाया जा रहा पुल ट्रेनों की आवाजाही में काफी दिक्कतों को दूर कर देगा। इसी प्रकार पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी-प्रयागराज रेलखंड के दोहरीकरण होने की वजह से झूंसी से दारागंज को जोड़ने के लिए जो पुल बन रहा है, वह भी अंतिम दौर में है।
May 31 (21:36) कोरोना काल में  रेलवे के बड़े पुलों के निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ़्तार (www.amarujala.com)
IR Affairs
0 Followers
16089 views

News Entry# 453945  Blog Entry# 4974220   
  Past Edits
Jun 01 2021 (07:21)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (07:21)
Station Tag: Pt. DD Upadhyaya Junction (Mughalsarai)/DDU added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (07:21)
Station Tag: Bhaupur/BPU added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (07:21)
Station Tag: Jhusi/JI added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (07:21)
Station Tag: Daraganj/DRGJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 01 2021 (07:21)
Station Tag: Prayagraj Junction (Allahabad)/PRYJ added by Adittyaa Sharma/1421836
विस्तार कोरोना काल में रेलवे द्वारा बनाए जा रहे पुलों के निर्माण कार्य ने रफ्तार पकड़ ली है। रेलवे द्वारा प्रयागराज में गंगा और यमुना पर दो नए पुल का निर्माण किया जा रहा है। यमुना पर बन रहा पुल ईस्टर्न डेडीक्रेटेट फ्रेट कॉरीडोर (ईडीएफसी ) रेलमार्ग का ही हिस्सा है। इसका ईडीएफीसी ने तकरीबन 80 प्रतिशत काम पूरा कर लिया है। इसी तरह गंगा पर दारागंज से झूंसी को जोड़ने वाले रेल मार्ग दोहरीकरण के तहत पुल का निर्माण भी अब 24 घंटे चल रहा है। विज्ञापनईडीएफसी के न्यू भाऊपुर-पंडित दीन दयाल उपाध्याय के तहत प्रयागराज में यमुना पर पुल का निर्माण दो वर्ष से चल रहा है। डबल लाइन वाले इस रेलमार्ग पर इरादतगंज के निकट यमुना पर बनाया जा रहा पुल काफी अहम है। कोरोना की पहली लहर में इस पुल का निर्माण भले ही थोड़ा सुस्त रहा हो लेकिन दूसरी लहर के दौरान बीते दो माह के दौरान...
more...
इसका निर्माण कार्य बेहद तेजी से हुआ। अब यह पुल तकरीबन 80 फीसदी बन गया है। दिसंबर तक इस पुल का निर्माण करने का भरोसा ईडीएफसी अफसरों ने जताया है।इस पुल के निर्माण के बाद  वर्ष भर के भीतर देश के व्यस्तम रेल मार्ग में शामिल दिल्ली-हावड़ा रूट पर चलने वाली ट्रेनों की लेटलतीफी कम हो जाएगी। क्योंकि इस पुल का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद इसमें मालगाड़ियां शिफ्ट कर दी जाएंगी। बता दें कि ईडीएफसी का निर्माण  विश्व बैंक के सहयोग से चल रहा है। ईडीएफसीसी के मुख्य महाप्रबंधक (पूर्व) ओम प्रकाश ने बताया कि इस रूट पर कई छोटे पुल का भी निर्माण चल रहा है।उधर पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी-प्रयागराज रेलखंड के दोहरीकरण होने की वजह से झूंसी से दारागंज को जोड़ने के लिए एक और पुल का निर्माण चल रहा है। रेल विकास निगम लिमिटेड द्वारा बनाए जा रहे इस पुल का निर्माण 24 घंटे चल रहा है। पुल के लिए 25 पिलर बनने हैं। इसमें सात पर काम चल रहा है। कुछ पिलर आधे बन भी गए हैं। पुल का निर्माण कार्य आरवीएनएल के प्रोजेक्ट डायरेक्टर विनय अग्रवाल की देखरेख में हो रहा है। इसके अलावा उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज मंडल द्वारा भी आधा दर्जन से अधिक रेल ओवर ब्रिज का निर्माण कार्य तेजी से किया जा रहा है।
May 22 (07:31) दारागंज में आवास बचाने के लिए पुराने पुल से 120 मीटर दूर बनेगा रेलवे का पुल (www.amarujala.com)
IR Affairs
NER/North Eastern
0 Followers
13512 views

News Entry# 452182  Blog Entry# 4966742   
  Past Edits
May 22 2021 (07:31)
Station Tag: Prayagraj Junction (Allahabad)/PRYJ added by Adittyaa Sharma/1421836

May 22 2021 (07:31)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Adittyaa Sharma/1421836

May 22 2021 (07:31)
Station Tag: Daraganj/DRGJ added by Adittyaa Sharma/1421836
विस्तार दारागंज में वर्षों से रह रहे लोगों के आवास बचाने के लिए रेलवे ने बीच का रास्ता निकाला है। रेलवे द्वारा दारागंज साइड में पुराने रेल पुल से नए रेल पुल को तकरीबन 120 मीटर दूर बनाया जाएगा। ऐसा करने से वहां कई आवास ध्वस्त होने से बचाए जा सकेंगे। इस पुल से आने वाले रेल ट्रैक को परेड ग्राउंड से निकालते हुए  दारागंज-प्रयागराज रामबाग लाइन में मिलाया जाएगा। विज्ञापनदरअसल पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा वाराणसी से प्रयागराज जंक्शन तक रेल लाइन का दोहरीकरण किया जा रहा है। इसी वजह से झूंसी से दारागंज को जोड़ने के लिए रेलवे द्वारा यहां पुल का निर्माण शुरू किया जगया है। पुराने रेल पुल और शास्त्री पुल के बीच में ही इसका निर्माण हो रहा है, लेकिन दारागंज साइड में आबादी बसी होने की वजह से इस पुल के निर्माण में थोड़ा फेर बदल रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) द्वारा किया गया है। दरअसल रेलवे ने...
more...
इस पुल को बनाने की जिम्मेदारी आरवीएनएल को दी है। नए पुल की डिजाइन के हिसाब से यह झूंसी साइड में पुराने रेल पुल से तकरीबन 55 मीटर दूर है, जबकि अब दारागंज साइड में यह पुल अब तकरीबन 120 मीटर दूर हो जाएगा। अगर दारागंज साइड में भी यह पुल 55 मीटर दूर होता तो वहां तमाम लोगों के आवास तोड़ने पड़ते। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। पुल का निर्माण आरवीएनएल के प्रोजेक्ट डायरेक्टर विनय अग्रवाल की देखरेख में हो रहा है। 1.92 किलोमीटर लंबे इस पुल पर कुल 25 पिलर बनाए जाएंगे। वर्ष 2024 तक पुल तैयार होने की उम्मीद है। 1909 में बना था पुराना झूंसी रेल ब्रिजदारागंज को झूंसी से जोड़ने वाले पुराने रेल ब्रिज का निर्माण 1909 में हुआ था। तब अंग्रेज अफसर आइजेट की देखरेख में इस पुल का निर्माण हुआ था। इस वजह से इस पुल को आइजेट पुल के नाम से भी जाना जाता है। इस पुल में प्रत्येक 45.70 मीटर पर पिलर बने हुए हैं। इसमें कुल 40 पिलर हैं। इसकी ऊंचाई 18.71 मीटर है। पहले इस पुल पर मीटर गेज लाइन थी, बाद में इसे ब्रांड गेज में तब्दील किया गया। अब वाराणसी-प्रयागराज रूट का दोहरीकरण होने की वजह से यहां एक और पुल का निर्माण शुरू हुआ है।
Feb 18 (16:28) शुरू मेंं बनारस से दारागंज तक ही आती थी ट्रेन, साल भर बाद पहुंची रामबाग, जानिए क्या थी वजह (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
45608 views

News Entry# 439882  Blog Entry# 4881418   
  Past Edits
Feb 18 2021 (16:28)
Station Tag: Madhosingh/MBS added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (16:28)
Station Tag: Jhusi/JI added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (16:28)
Station Tag: Prayagraj Junction (Allahabad)/PRYJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (16:28)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (16:28)
Station Tag: Daraganj/DRGJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 18 2021 (16:28)
Station Tag: Prayagraj Rambag/PRRB added by Adittyaa Sharma/1421836
बनारस कैंट रेलवे जंक्शन से झूंसी तक रेलवे लाइन 21 अप्रैल 1909 तक पूरी हो गई थी। लेकिन झूंसी से गंगा नदी पर निर्मित आइजेट पुल तक (जो दूसरे छोर पर दारागंज में मिलता था) करीब पांच किलोमीटर लंबाई में टै्रक बिछने में तीन साल का वक्त लग गया था।
प्रयागराज, जेएनएन। शहर का सिटी रेलवे स्टेशन (रामबाग) प्रयागराज से वाराणसी रेलमार्ग का महत्वपूर्ण स्टेशन है। प्रयागराज में पूर्वोत्तर रेलवे का यह अंतिम स्टेशन है। इसकी शुरूआत वर्ष 1913 में हुई थी। हालांकि इसके साल भर पहले दारागंज स्टेशन तक ट्रेन आने लगी थी लेकिन उसको रामबाग स्टेशन तक पहुंचने में एक साल लग गए थे।
प्रयागराज
...
more...
में गंगा नदी पर पुल बनाना थी बड़ी समस्याब्रिटिश शासनकाल में भी इलाहाबाद (अब प्रयागराज) और वाराणसी की स्थिति महत्वपूर्ण थी। ऐसे में अंग्रेजों ने दोनों शहरों को रेलवे नेटवर्क से जोडऩे का निर्णय लिया था लेकन सबसे बड़ी बाधा इलाहाबाद में गंगा नदी पर पुल का निर्माण था। इसके लिए तत्कालीन बंगाल एंड नार्थ वेस्टर्न रेलवे ने 1882 में एक कंपनी का गठन किया जिसने पुल का निर्माण संपन्न कराया था।बनारस कैंट जंक्शन से माधोसिंह तक टै्रक बिछाने की हुई शुरूआतपूर्वोत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार के मुताबिक प्रयागराज के दारागंज-झूंसी के बीच गंगा नदी पर रेलवे पुल निर्माण के बाद बंगाल एंड नार्थ वेस्टर्न रेलवे, 1943 में अवध एंड तिरहुत रेलवे में मर्ज हो गई थी जिसके बाद बनारस कैंट से माधोसिंह के बीच तकरीबन 47 किलोमीटर लंबे इस रेलवे खंड का निर्माण शुरू किया गया। इस रेलखंड का निर्माण 01 मार्च 1909 में पूरा हुआ था। इसी वर्ष माधोसिंह से प्रयागराज के झूंसी के बीच लगभग 66 किलोमीटर लंबे क्षेत्र में रेल टै्रक बिछाने का काम भी पूरा कर लिया गया था।झूंसी से दारागंज तक लाइन बिछने में लग गए थे तीन सालबनारस कैंट रेलवे जंक्शन से झूंसी तक रेलवे लाइन 21 अप्रैल 1909 तक पूरी हो गई थी। लेकिन झूंसी से गंगा नदी पर निर्मित आइजेट पुल तक (जो दूसरे छोर पर दारागंज में मिलता था) करीब पांच किलोमीटर लंबाई में टै्रक बिछने में तीन साल का वक्त लग गया था। यह काम नवंबर 1912 में पूरा हो सका था। इसके बाद वाराणसी से टे्रन दारागंज स्टेशन तक चलने लगी थी।दारागंज से रामबाग तक डेढ़ किमी दूरी पूरी करने में लगे थे एक सालवाराणसी से प्रयागराज के दारागंज के बीच मीटर गेज लाइन पूरी होने के बाद टे्रनों का संचालन शुरू कर दिया गया था। लेकिन टे्रन को शहर के रामबाग तक पहुंचने में एक साल लग गए थे। दारागंज से रामबाग (सिटी स्टेशन) के बीच लगभग डेढ़ किलोमीटर रेल पटरी बिछाने का कार्य 1912 में शुरू हुआ व मई 1913 में पूरा किया जा सका था। अशोक बताते हैं कि रामबाग तक टै्रक ले जाने का पहले प्लान नहीं था। बाद में निर्णय होने पर भूमि के अधिग्रहण से लेकर शहर की सड़कों पर डॉट पुल का निर्माण सहित कई बाधाएं थी जिन्हें दूर करने में काफी समय लगा था लेकिन आज प्रयागराज को पूर्वी उत्तर प्रदेश से जोडऩे का यह प्रमुख रेलमार्ग है।
Page#    Showing 1 to 18 of 18 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy