Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

हम RailFan - हमेशा पंखों पे

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Mon Sep 20 02:59:25 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

KSG/Kishangarh (3 PFs)
     किशनगढ़

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Madanganj Kishangarh, 305802, Ajmer
State: Rajasthan

Elevation: 457 m above sea level
Zone: NWR/North Western   Division: Jaipur

No Recent News for KSG/Kishangarh
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 132
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.1/5 (40 votes)
cleanliness - excellent (5)
porters/escalators - good (5)
food - good (5)
transportation - good (5)
lodging - good (5)
railfanning - good (5)
sightseeing - good (5)
safety - excellent (5)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 56 News Items  next>>
Aug 14 (18:44) अजमेर रेल मंडल:रेलवे ने 17 महीने बाद एमएसटी सुविधा शुरू की (www.bhaskar.com)
IR Affairs
NWR/North Western
0 Followers
15173 views

News Entry# 461897  Blog Entry# 5041654   
  Past Edits
Aug 14 2021 (18:45)
Station Tag: Kishangarh/KSG added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 14 2021 (18:45)
Station Tag: Jaipur Junction/JP added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 14 2021 (18:44)
Station Tag: Ajmer Junction/AII added by Adittyaa Sharma/1421836
रेलवे की ओर से 17 महीने से बंद पड़ी एमएसटी यानी मासिक पास सुविधा शुरू कर दी गई है। यह सुविधा उप रेलवे की चुनिंदा 19 और अजमेर रेल मंडल की 2 ट्रेनों में शुरू की गई है। अजमेर से प्रतिदिन जयपुर, किशनगढ़, ब्यावर सहित अन्य जगहों के लिए सैकड़ों रेल यात्रियों की ओर से अपडाउन किया जाता है।
यह सुविधा बंद होने से मासिक पास बनवाने वाले यात्रियों को आरक्षित टिकट लेकर यात्रा करना पड़ रहा था। मालूम हो कि कोरोना के बाद से ही रेलवे की ओर से 70 फीसदी ट्रेनों को स्पेशल ट्रेनों के रूप में संचालित किया जा रहा है, जिसमें आम ट्रेनों से 30 प्रतिशत तक ज्यादा किराया लिया जाता है।
अजमेर
...
more...
रेल मंडल में इन 2 जोड़ी ट्रेनों में मिली मासिक पास सुविधा
ट्रेनों में 33 श्रेणियों की रियायत बंद, रेलवे कर्मचारियों के पास में कटौती
कोरोना के बाद रेलवे की ओर से ट्रेनों में मिलने वाली 33 श्रेणियों की रियायत बंद है। इसमें सीनियर सिटीजन, दिव्यांग, पत्रकार, खिलाड़ी, गेलेंट्री अवार्ड सहित अन्य श्रेणियां शामिल हैं। वहीं रेल कर्मचारियों और उनके परिजनों को मिलने वाले पास में भी कटौती की है। रेल कर्मचारियों को पे-स्कैल के मुताबिक पूरे परिवार को एक साल में तीन पास आने एवं जाने के लिए मिलते हैं, जिसमें रेलवे कर्मचारी और उस पर आश्रित परिजन यात्रा कर सकते हैं।
मगर मौजूदा समय में सेकंड एसी में 1, थर्ड एसी में 2, चेयरकार में 2 और स्लीपर में सभी पास दिया जा रहा है। यानी केवल स्लीपर क्लास में ही रेल कर्मचारी अपने परिजनों के साथ यात्रा कर सकता है।
शुक्रवार को जारी हुई सूची में मासिक पास के लिए उप रेलवे की 19 और अजमेर रेल मंडल की 2 ट्रेनों में मासिक पास की सुविधा शुरू कर दी गई है। इससे दैनिक यात्रियों को फायदा मिलेगा।-विवेक रावत, सीनियर डीसीएम, अजमेर रेल मंडल
रेल यात्रियों को मिलने वाले पास में कोरोना काल में जो कटौती की गई थी, उसे वापस चालू करने को रेलवे बोर्ड का ध्यान आकर्षण करवाया गया है। रेलवे को अन्य श्रेणियों की रियायत को भी प्रारंभ करना चाहिए। -कॉ. मोहन चेलानी, मंडल अध्यक्ष, एनडब्लूआरईयू, अजमेर रेल मंडल
Aug 03 (05:39) रेल मंत्री से मिले सांसद भागीरथ चौधरी:फिर से राज्य सरकार को भेजे भूमि आवंटन के प्रस्ताव; कहा- इससे पुष्कर-मेड़ता, नसीराबाद-कोटा और किशनगढ-परबतसर रेल मार्ग के कार्य को मिलेगी गति (www.bhaskar.com)
IR Affairs
NWR/North Western
0 Followers
21233 views

News Entry# 460919  Blog Entry# 5031652   
  Past Edits
Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: KishanGanj/KNE removed by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Sri Vijaynagar/SBNR added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Parbatsar/PRBTR added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Merta Road Junction/MTD added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Pushkar Terminus/PUHT added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Nasirabad/NSD added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Kishangarh/KSG added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: KishanGanj/KNE added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 03 2021 (05:39)
Station Tag: Ajmer Junction/AII added by Adittyaa Sharma/1421836
अजमेर संसदीय क्षेत्र की रेलवे से सम्बन्धित विभिन्न मांगों के शीघ्र क्रियान्वयन के लिए केन्द्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से सांसद भागीरथ चौधरी ने मुलाकात की। इस दौरान लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता ओमप्रकाश माथुर भी मौजूद रहे।
इस दौरान चौधरी ने बताया कि तीन नवीन रेल्वे लाईन जो निःशुल्क भूमि उपलब्ध नही हो पाने के कारण नही बन पा रही है। रेल मंत्रालय राज्य सरकार को पुनः निःशुल्क भूमि आवंटन का प्रस्ताव भिजवाएं। ताकि भूमि आवंटन के अभाव में पुष्कर (अजमेर) से मेड़ता नागौर, नसीराबाद से कोटा और किशनगढ से परबतसर के रेल मार्ग को मूर्त रूप दिया जा सके।
अंडरपास
...
more...
की समस्या बताई, नए की मांग भी की
नवीन अण्डरपास की आवश्यकता एवं वर्तमान अण्डरपास में पानी भरे रहने की समस्या पर सांसद चौधरी ने केेन्द्रीय रेल मंत्री को अवगत कराया। अण्डरपास संख्या 12,13,15,16 में पानी भरने की समस्या बडी विकट है। ये अण्डरपास एकमात्र कनेक्टीविटी का रास्ता है। बरसात में पानी भरने से 10 -10 दिन तक आवाजाही नहीं हो पाती है। इनमें हमेशा 2-3 फीट पानी भरा रहता है। इन डिफेक्टिव अण्डरपास बनाने वाले इंजिनियरों पर कार्यवाही हो एवं पानी निकासी का स्थायी समाधान कराया जाए। किशनगढ में रेल्वे पुल संख्या 293 पर अण्डरपास अथवा फुट ओवर ब्रिज बनाने, पुराने रेल्वे स्टेशन पर अण्डपास बनाने, विजयनगर के गुलाबपुरा फाटक पर अण्डरपास, सुभाषनगर चूंगी फाटक पर अण्डरपास एवं मांगलियावास अण्डरब्रिज के स्थान पर ओवरब्रिज बनाने की आवश्यकता बताई।
ट्रेनों का ठहराव हो
सांसद चौधरी ने संसदीय क्षेत्र में नवीन ट्रेनों के ठहराव एवं संचालन के बारे में रेल मंत्री को अवगत कराया। चौधरी ने कहा कि इन ट्रेनों के ठहराव से रेल्वे की आय में इजाफा होगा। रेल्वे पर अतिरिक्त कोई बजट भार नहीं होगा। इसमें अजमेर-आगरा फोर्ट इन्टरसिटी , मोतीहारी एक्सप्रेस, गरीब नवाज एक्स. (अजमेर-किशनगंज), आश्रम एक्सप्रेस (नई दिल्ली-अहमदाबाद), बीकानेर-इन्दौर (महामना एक्सप्रेस) का ठहराव किशनगढ में कराया जाए। खजुराहों-उदयपुर सिटी एक्सप्रेस, अजमेर-रामेश्वरम एक्सप्रेस साप्ताहिक, अजमेर-हैदराबाद एक्सप्रेस, उदयपुर-दिल्ली एक्सप्रेस का विजयनगर रेल्वे स्टेशन पर ठहराव हो। बान्दनवाड़ा में चेतक एक्सप्रेस एवं जोधपुर रतलाम एक्सप्रेस के ठहराव की मांग भी की। तिलोनिया और साली स्टेशन पर भी ट्रेनों के ठहराव की बात रखी। इसके साथ ही उदयपुर हरिद्वार दु्रतगामी ट्रेन और अजमेर - अमृतसर एक्सप्रेस जो सप्ताह में तीन दिन चलती है, को प्रतिदिन चलाने का आग्रह भी किया।
डेमू के फेरे बढाए जाए
सांसद चौधरी की ओर से श्रमिकों, कामगारों, व्यवसाइयों एवं नौकरीपेशा व्यक्ति जो रोजाना यात्रा करते हैं, वर्तमान में उनके समक्ष आ रही कठिनाईयों को रेलमंत्री के समक्ष रखा। दैनिक यात्रा करने वाले रेलयात्रियों को एमएसटी जारी कराने के आदेश शीघ्र ही प्रदान कराने का आग्रह किया। अजमेर जयपुर के बीच चलने वाली डेमू ट्रेन आम नागरिकों के लिए सबसे किफायती यातायात का साधन है, इसके अजमेर जयपुर के बीच फेरे बढाने की भी मांग रखी।
किशनगढ़ रेलवे स्टेशन पर लगे एस्केलेटरसांसद चौधरी ने किशनगढ स्थित रेल्वे स्टेशन पर एस्केलेटर के उपयोग की आवश्यकता की तरफ भी ध्यान आकर्षित किया। उन्होंने बताया कि किशनगढ़ (अजमेर) नवीन रेल्वे स्टेशन परिसर में रेल यात्रियों को वर्तमान में निर्मित फुट ओवर ब्रीज की सीढ़ियों से प्लेटफार्म संख्या 01 से प्लेटफार्म संख्या 02 पर आना-जाना पड़ता है, इस एफ ओ बी की सीढ़ियों पर चढ़ने में आम सामान्य रेल यात्री भी हांफ जाता है, वहीं बुजुर्ग, महिला एवं दिव्यांग यात्रियों को उक्त प्लेटफार्म पर आने-जाने में अत्यन्त कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। रेल मंत्रालय दिल्ली द्वारा जारी उपलब्धियों में एस्केलेटर एवं लिफ्ट निर्माण की स्वीकृति को दर्शाया गया है, जबकि यह कार्य आज दिनांक तक पूर्ण नहीं हुआ है। अतः किशनगढ रेल्वे स्टेशन पर एस्केलेटर लगवाया जाए।
ये समस्याएं भी बताई
किशनगढ़, नसीराबाद एवं विजयनगर रेल्वे स्टेशनों पर वाई-फाई की सुविधा प्रारम्भ करने एवं अजमेर स्थित रेलवे स्टेशन पर जीआरपी की पुलिस चौकी स्वीकृत तथा प्लेटफार्म एवं शेड की मरम्मत / नवीनीकरण की भी आवश्यकता भी बताई। रेल्वे भर्ती बोर्ड द्वारा जो बेरोजगार युवक प्रतिक्षा सूची में है, उनके द्वारा प्रेषित ज्ञापन भी रेल मंत्री को सौंपा गया। साथ ही लोकसभा क्षेत्र अजमेर की रेलवे से संबंधित सभी आवश्यकताओं और समस्याओं से रेलमंत्री को अवगत कराया। जिस पर रेल मंत्री ने कई प्रकरणों पर तुरन्त कार्यवाही के निर्देश दिए। अन्य के बारे में उचित समाधान का आश्वासन दिया।
Jul 17 (13:22) न्यू रेलवे स्टेशन किशनगढ़ के पास बनेगा यार्ड:2022 तक पूरा होगा प्रोजेक्ट, DFC तैयारी में जुटा, वित्तीय स्वीकृत्ति का इंतजार, कईं राज्यों में कंटेनर से सीधे पहुंचेगा माल (www.bhaskar.com)
IR Affairs
NWR/North Western
0 Followers
27958 views

News Entry# 459489  Blog Entry# 5017510   
  Past Edits
Jul 17 2021 (13:22)
Station Tag: Jaipur Junction/JP added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 17 2021 (13:22)
Station Tag: Dadri/DER added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 17 2021 (13:22)
Station Tag: Madar Junction/MDJN added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 17 2021 (13:22)
Station Tag: Kishangarh/KSG added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 17 2021 (13:22)
Station Tag: Rewari Junction/RE added by Adittyaa Sharma/1421836
वेस्टर्न डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के न्यू रेवाड़ी से न्यू मदार तक रेलखंड के शुरू किए जाने के बाद DFC अब किशनगढ़ के न्यू रेलवे स्टेशन के पास माल लोडिंग अनलोडिंग के लिए यार्ड बनाने की तैयारी में जुटा हैं। अब वित्तीय स्वीकृति मिलना बाकी हैं। स्वीकृति मिलते ही डबल स्टैक ट्रेन से आसानी से कंटेनर व माल की लोडिंग और अनलोडिंग कार्य किया जा सकेगा।
इसके अतिरिक्त DFC डबल डेकर मालभाड़ा ट्रेन की मार्केटिंग कर बिजनेस को बढ़ाने की तैयारी भी कर रहा है। नई व्यवस्था से किशनगढ़ के मार्बल सहित अन्य उद्योग को भी पंख लगेंगे। ट्रक, ट्रेलर पेट्रोल डीजल की चिंता किए बिना DFC के जरिये कंटेनर में कम खर्च पर दूसरे राज्यों में माल पहुंचाया जा सकेगा। इससे व्यापार
...
more...
के साथ खरीदार को भी बढ़ावा मिलेगा।
पूर्व में लोजेस्टिक पार्क बनाने की थी योजना, पर नहीं मिली जमीनसूत्रों का कहना है कि पूर्व में DFC के न्यू किशनगढ़ स्टेशन पर लॉजेस्टिक पार्क बनाने की योजना थी। लेकिन पार्क के लिए 5 से 6 एकड़ भूमि की आवश्यकता होती है। इतनी बड़ी मात्रा में जगह नहीं मिलने की वजह से लोडिंग अनलोडिंग का यार्ड बनाने का निर्णय लिया गया। यार्ड को लेकर वित्तीय स्वीकृति के लिए फाइल दिल्ली पहुंच गई हैं। स्वीकृति मिलते ही यार्ड का कार्य शुरू हो जाएगा।
इसके बनने के बाद माल से भरा ट्रक बिना किसी परेशानी के बोगी में ही खड़ा हो जाएगा। ट्रेन में ऐसे 50 ट्रक खड़े हो सकगें। जो मूंद्रा व कांडला बंदरगाह पहुंचेंगे। इसके अलावा यदि कोई व्यापारी ट्रक के बजाए कनटेनर से माल भिजवा सकेगा। किशनगढ़ से 80 से 100 ट्रक प्रतिदिन जाते है। ऐसे में व्यापारियों को सुविधा देने के लिए माल गोदाम की सुविधा विकसित करने की तैयारी हो रही है। इसको लेकर पूर्व में डीएफसीसी अधिकारियों ने स्टेशन का निरीक्षण भी किया था।
दादरी में बनेगा जक्शन पॉइंटडीएफसी के वेस्टर्न डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का उत्तरप्रदेश के दादरी मेें जंक्शन पॉइंट बनेगा। दादरी से रेवारी और रेवारी से न्यू अटेली (हरियाणा) तक ट्रैक निर्माण का कार्य अंतिम चरण में है। जबकि न्यू अटेली से न्यू किशनगढ़ मदार रेलखंड तक यह पूरा ट्रेक बन कर तैयार हो चुका है और इस बीच डबल स्टैक ट्रेन का विद्युत इंजन से संचालन भी शुरू हो चुका है। वर्ष 2022 में पूरा प्रोजेक्ट तैयार करने के साथ ही डीएफसी अब इस मालभाड़ा ट्रेन की मार्केटिंग कर बिजनेस बढ़ाएगी।
इसके लिए न्यू किशनगढ़ स्टेशन के पास ही यार्ड विकसित करने जा रही है। इससे ट्रेन पर आसानी से कंटेनर या माल की लोडिंग और अनलोडिंग की जा सके। प्रत्येक स्टेशन पर एक मार्केटिंग विभाग भी बनेगा और यह विभाग स्थानीय स्तर पर पूरी तरह मार्केटिंग का कार्य ही करेगा। यहां ऑफ लाइन बुकिंग के साथ ही ऑनलाइन बुकिंग भी की जाएगी।
12 हजार हॉर्स पॉवर का है विशेष इंजनडेढ किलोमीटर डबल स्ट्रैक ट्रेन के संचालन के लिए 12 हजार हॉर्स पॉवर का इंजन लगाया गया है और यह इंजन विशेष रूप से डीएफसी की इसी डबल स्ट्रैक ट्रेन के लिए तैयार किया गया है। इन इंजनों का निर्माण बिहार में किया जा रहा है। इस ट्रेन में 13 हजार टन का माल लदान किया जा सकता है और एक स्थान से दूसरे स्थान भेजा जा सकता है।
'समय व धन की बचत होगी'डीएफसी, जयपुर के प्रोजेक्ट मैनेजर नरेन्द्र सिंह ने बताया कि किशनगढ़ स्टेशन पर व्यापारियों की सुविधा के लिए माल लोडिंग व अनलोडिंग के लिए यार्ड तैयार करने की प्रक्रिया चल रही है। इससे किशनगढ़ के व्यापारियों को किसी भी जगह माल भेजने में समय व पैसे की बचत होगी।
Mar 23 (07:03) ट्रायल:डीएफसी लाइन पर 130 की स्पीड से चली रेल कार (www.bhaskar.com)
IR Affairs
NWR/North Western
0 Followers
20516 views

News Entry# 446649  Blog Entry# 4915828   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
Stations:  Marwar Junction/MJ   Kishangarh/KSG  
डीएफसीसी लाइन पर साेमवार काे रेल कार 130 की रफ्तार से दाैड़ी। रेल कार किशनगढ़ से मारवाड़ तक महज 2 घंटे में ही पहुंच गई। इस ट्रैक पर ट्रायल अंतिम चरणाें में है।
डीएफसी के स्वास्थ्य सुरक्षा पर्यावरण विभाग के अधिकारी विकास कुमार सिंह ने बताया कि वर्तमान में डीएफसी लाइन का कार्य पूर्ण हो चुका है। लाइन के अपसाइड पर ट्रायल पहले हो चुका था। सोमवार को रेल कार द्वारा किशनगढ़ से मारवाड़ जंक्शन तक दोनों ट्रैक पर रेल कार दौड़ाकर ट्रैक को चेक किया गया। पूर्व में भी फरवरी में मदार से पालनपुर तक डीएफसी के एमडी द्वारा रेल कार में निरीक्षण किया गया था।
संवाद सहयोगी, किशनगंज। सरकारी अधिकारियों के बारे में आप भले ही नकारात्मक विचार रखते हो पर सारे अफसर एक जैसे नहीं होते हैं। किशनगंज में तैनात एक ऐसे भी अफसर हैं जिनकी ईमानदारी की कहानी जान कर आप भी उनके दीवाने हो जाएंगे। लोगों की शिकायत मिलते ही यह अफसर अपनी टीम के साथ बिना कुछ सोचे कर्तव्य पथ पर आगे बढ़ जाते हैं। शुक्रवार को भी कुछ ऐसा ही हुआ। बंगाल के दार्जिङ्क्षलग जिले के विधाननगर थाना क्षेत्र स्थित कालाचंदगच्छ गांव निवासी मो.साहिल पिता मो.सैइदुल पंजाब में रोजगार करता था। छुट्टियों में घर वापस आने के लिए वह 04654 अप अमृतसर एनजेपी हमसफर एक्सप्रेस में सफर कर रहा था। उसे उम्मीद थी कि ट्रेन किशनगंज में रूकेगी और किशनगंज उतर कर वह घर चला जाऐगा। इसी उम्मीद से उसने हटवार के निकट अपने सामान को गेट के पास लाकर रख दिया। लेकिन ट्रेन के हिचकोले खाने के कारण उसका कीमती...
more...
सामान भरा बैग ट्रेन से नीचे गिर गया। उसने फौरन ट््यूटर कंप्लेन दर्ज करा दी। कंट्रोल रूम से घटना की जानकारी दिये जाने के बाद स्थानीय आरपीएफ भी हरकत में आ गई। एस आई आरके शर्मा और एएसआई डी रॉय गुरुवार देर रात पैदल ही बैग की तलाश में निकल पड़े। टॉर्च की रौशनी में रेलवे लाइन किनारे बैग की तलाश की जाने लगी। आखिरकार चार किलोमीटर दूर किलोमीटर संख्या 91/2-3 के बीच आरपीएफ ने रेलवे लाइन किनारे से बैग सकुशल बरामद कर लिया और पीडि़त यात्री को जानकारी दी।
बैग बरामदगी की सूचना के बाद पीडि़त यात्री साहिल शुक्रवार सुबह आरपीएफ थाना पहुंचा। जहां जांचोपरांत आरपीएफ अधिकारी ने पीडि़त को उसका सामान सकुशल वापस कर दिया। आरपीएफ अधिकारी और उनकी टीम की इस पहल की हर ओर चर्चा हो रही है। लोगों ने बताया कि यह पहला मौका नहीं है, इससे पहले भी वह लोगों की इसी तरह मदद करते आए हैं। चाहे वह कोई भी हो।
Page#    Showing 1 to 20 of 56 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy