Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Chennai EMU - என்னோட உயிர் டா நீ

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sun Oct 17 16:08:47 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 403966-0
Front Entrance - Outside; Small Station Board;
Entry# 2326159-0
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 4041365-0

GOH/Garoth (2 PFs)
     गरोठ

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Phoolkheda, Pin - 458880 , Dist - Mandsaur
State: Madhya Pradesh

Elevation: 442 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Kota

No Recent News for GOH/Garoth
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 22
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 20 News Items  
Oct 10 (21:22) कुरलासी में तीनों ट्रेनों का स्टॉपेज बंद (www.naidunia.com)
IR Affairs
WR/Western
0 Followers
6215 views

News Entry# 467222  Blog Entry# 5091858   
  Past Edits
Oct 10 2021 (21:22)
Station Tag: Kurlasi/KRLS added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 10 2021 (21:22)
Station Tag: Garoth/GOH added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Garoth/GOH   Kurlasi/KRLS  
गरोठ। जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के चलते क्षेत्र में ट्रेनों के स्टापेज खत्म होते जा रहे। जिससे नागरिकों की परेशानी बढ़ रही है। 10 अक्टूबर को गरोठ तहसील के कुरलासी रेलवे स्टेशन पर रूक रही ट्रेनों को कोरोनाकाल में बंद किया गया था, ट्रेनें तो प्रारंभ हो गई हैं। लेकिन अब तक स्टॉपेज प्रारंभ नहीं हुआ है। वर्तमान में कुरलासी स्टेशन पर एक भी रेल का स्टॉपेज नहीं है। जिससे कुरलासी सहित आसपास के करीब 25 ग्रामों के निवासी नाराज है। कुरलासी रेलवे स्टेशन रेल का ठहराव नहीं होने के कारण ग्रामीणों में नाराजगी व्यक्त करते हुए रविवार को डीआरएम कोटा के नाम रेल स्टेशन अधीक्षक जितेंद्र शर्मा को ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में कहा कि पूर्व में रुक रही लोकल, पार्सल व
...
more...
कोटा-नागदा मेला एक्सप्रेस ट्रेन का स्टॉपेज शीघ्र प्रारंभ किया जाये। चेतावनी दी गई है कि शीघ्र ही पूर्व की भांति ट्रेनों का स्टॉपेज प्रारंभ नहीं किया गया तो ग्रामीणों को धरना प्रदर्शन सहित आंदोलनात्मक कदम उठाया जायेगा। विक्रमसिंह सिसोदिया बरखेड़ीमिट्ठू ने बताया कि यहां पर कोरोनाकाल के समय से पूर्व कोटा-नागदा मेल गाड़ी सहित लोकल तथा पार्सल रेल आने-जाने में रुकती थी परंतु लगभग सभी स्टेशनों पर अब पूर्व के भांति ट्रेनों का आवागमन शुरू हो गया है। परंतु इस स्टेशन पर अभी तक एक भी रेल के रुकने का आदेश रेल प्रशासन ने नहीं दिया है जिसके कारण आसपास के करीब 25 ग्रामों के लोगों को बाहर आने-जाने का का कोई साधन उपलब्ध नहीं है, जिसके चलते मजबूरन यात्रियों को ट्रेनों में सफर के लिये 25 से 30 किलोमीटर दूर शामगढ़ व गरोठ स्टेशन पर जाना पड़ रहा है। कुूरलासी स्टेशन पर पूर्व की तरह तीनों ट्रेनों का ठहराव प्रारंभ नही किया तो ग्रामीणों को आंदोलन किया जाएगा।
Sep 09 (10:23) मांग:देहरादून एक्सप्रेस का गरोठ में वापस शुरू हो ठहराव (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
15116 views

News Entry# 464357  Blog Entry# 5062068   
  Past Edits
Sep 09 2021 (10:23)
Station Tag: Garoth/GOH added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Sep 09 2021 (10:23)
Train Tag: Haridwar - Bandra Terminus (Dehradun Express) Special/09020 added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Sep 09 2021 (10:23)
Train Tag: Bandra Terminus - Haridwar (Dehradun Express) Special/09019 added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688
देहरादून एक्सप्रेस ट्रेन का नगर में वापस ठहराव करने, मार्ग परिवर्तन रोकने व मथुरा-रतलाम पैसेंजर को वापस चलाने को लेकर बुधवार को रेल संघर्ष समिति व भारत विकास परिषद सहित व्यापारी संघ ने रेल मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। इसमें बताया कि हरिद्वार-बांद्रा एक्सप्रेस इस क्षेत्र की हरिद्वार तक यात्रा कराने वाली एकमात्र ट्रेन है।
नॉर्दन रेलवे की 25 अगस्त को छपी विभिन्न अखबारों में विज्ञप्ति के अनुसार 1 अक्टूबर से उक्त ट्रेन का रतलाम से मंदसौर-चित्तौड़गढ़ -कोटा होते हुए हरिद्वार की ओर चलाने योजना है जिससे क्षेत्र सहित 20 से अधिक स्टेशनों के हजारों यात्रियों को असुविधा होगी। उनके मन में रेल प्रशासन के प्रति रोष है।
इस
...
more...
ट्रेन के मार्ग को यथावत रखें। इसके अलावा संगठनों ने रतलाम-मथुरा मेमू पैसेंजर को पुनः चलाने सहित गरोठ स्टेशन पर पुनः देहरादून-बांद्रा का स्टॉपेज मंजूर करने की मांग की। व्यापारी संघ अध्यक्ष कृष्ण गोपाल दानगढ़, भारत विकास परिषद सचिव हेमंत पाटीदार, सुरेश शर्मा, रेल संघर्ष समिति अध्यक्ष रवींद्र पाटीदार सहित अन्य मौजूद थे।
देहरादून एक्सप्रेस का गरोठ में ठहराव पुनः प्रारंभ किया जाए
गरोठ (नईदुनिया न्यूज)। गरोठ नगर में देहरादून एक्सप्रेस के ठहराव की मांग को लेकर बुधवार को रेल संघर्ष समिति व भारत विकास परिषद, व्यापारी संघ ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के नाम गरोठ स्टेशन पर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया कि ब्रिटिश काल से चली आ रही गाड़ी संख्या 09019-20 देहरादून एक्सप्रेस अभी हरिद्वार-बांद्रा तक चल रही है। इस ट्रेन का गरोठ में पुनः ठहराव करने व मार्ग परिवर्तन रोक जाए। साथ ही मथुरा-रतलाम पैसेंजर ट्रेन को पुनः चलाया जाए।
रेल
...
more...
संघर्ष समिति ने बताया कि हरिद्वार बांद्रा एक्सप्रेस गाड़ी इस क्षेत्र की लाइफ लाइन है। यह देश की आजादी के पहले से वड़ोदरा, गोधरा, रतलाम, नागदा, शामगढ़, गरोठ, कोटा होकर चल रही है। हरिद्वार की यात्रा करने वालों के लिएयह एकमात्र ट्रेन सुविधा है। उत्तर रेलवे की विज्ञप्ति के अनुसार एक अक्टूबर से उक्त ट्रेन का रतलाम से मंदसौर चित्तौड़गढ़ कोटा होते हुए हरिद्वार की ओर चलाने की योजना सामने आई है। इससे क्षेत्र सहित 20 से अधिक स्टेशनों के यात्रियों को असुविधा होगी। इससे यात्रियों में रेलवे के खिलाफ रोष है। मांग की गई कि इस ट्रेन के मार्ग को यथावत रखा जाए। इसके अलावा रतलाम-मथुरा मेमू पैसेंजर को पुनः चलाने, गरोठ स्टेशन पर पुनः देहरादून-बांद्रा का स्टापेज मंजूर करने को लेकर ज्ञापन सौंपा। व्यापारी संघ के अध्यक्ष कृष्णगोपाल दानगढ़, भारत विकास परिषद सचिव हेमंत पाटीदार, सुरेश शर्मा, रेल संघर्ष समिति के अध्यक्ष रविन्द्र पाटीदार, श्यामसुंदर माहेश्वरी, उमंग जैन, अभिषेक गुप्ता, हर्षवर्धन चौधरी, राहुल भाटी आदि मौजूद रहे
Aug 19 (06:58) तीन दिन के लिए रेलवे फाटक बंद, वाहनों की लगी कतारें (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
WR/Western
0 Followers
14961 views

News Entry# 462252  Blog Entry# 5045240   
  Past Edits
Aug 19 2021 (06:58)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 19 2021 (06:58)
Station Tag: Indore Junction/INDB added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 19 2021 (06:58)
Station Tag: Bhawani Mandi/BWM added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 19 2021 (06:58)
Station Tag: Kurlasi/KRLS added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 19 2021 (06:58)
Station Tag: Garoth/GOH added by Adittyaa Sharma/1421836
गरोठ (नईदुनिया न्यूज)। दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर गरोठ-कुरलासी के बीच स्थित रेलवे फाटक को मेंटेनेंस कार्य के चलते बुधवार से तीन दिन के लिए 20 अगस्त तक बंद कर दिया गया है। गरोठ-बोलिया मुख्य मार्ग पर रेलवे फाटक होने से बुधवार को ही यहां वाहनों की लाइन लग गई। बाद में सभी वाहन पांच किमी का अतिरिक्त चक्कर लगाकर गरोठ रेलवे स्टेशन के पास स्थित रेलवे फाटक से बोलिया मार्ग पर आए।
जानकारी के अनुसार पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा गरोठ-बोलिया रोड पर स्थित रेलवे फाटक का मेंटेनेंस किया जा रहा है। इसके चलते बुधवार सुबह आठ बजे से फाटक बंद कर दी गई। अब इसे 20 अगस्त को शाम छह बजे खोला जाएगा। बुधवार को सुबह लोगों के पास सूचना नहीं होने
...
more...
पर रेलवे फाटक के दोनों तरफ वाहनों की लाइन लग गई। बाद में चालकों ने सूचना पड़ी तो वैकल्पिक मार्ग से आवागमन शुरू हुआ। रेलवे फाटक के मेंटेनेंस के चलते लगभग पांच किमी की लंबी दूरी तय करना पड़ी। वाहन चालक ग्राम फूलखेड़ा होकर गरोठ रेलवे स्टेशन के पास स्थित रेलवे फाटक को पार कर ग्राम पिपलिया मोहम्मद होते हुए पुनः बोलिया रोड पर आए। अभी तीन दिन तक इसी मार्ग से वाहनों का आवागमन होगा। राजस्थान व मप्र को जोड़ने वाला मुख्य मार्ग होने से इस पर आवागमन भी अच्छा खासा रहता है। रेलवे फाटक पर ओवरब्रिज भी स्वीकृत हो गया है पर बजट की कमी से अभी काम शुरू नहीं हो पा रहा है। विधायक देवीलाल धाकड़ ने बताया कि गरोठ-बोलिया मार्ग पर रेलवे ओवरब्रिज स्वीकृत हो चुका है। बजट के कारण ओवरब्रिज का कार्य शुरू नही हो सका हैं जल्द शुरू कराने के प्रयास जारी है।
इंदौर-उज्जैन से जोड़ने वाला प्रमुख मार्ग
गरोठ-भानपुरा सहित भवानीमंडी व आस-पास के क्षेत्र के लोगों को इंदौर-उज्जैन से जोड़ने वाला यह प्रमुख मार्ग हैं। इसलिए इस पर भारी वाहनों के साथ ही छोटे वाहनों का भी आवागमन काफी ज्यादा रहता है। गरोठ से बोलिया, डग, बड़ोद, आगर, उज्जैन होते हुए इंदौर जाने का सुगम रास्ता है। इसलिए फाटक बंद होने से ट्रक, बस व अन्य छोटे वाहनों के चालकों को तीन दिन तक परेशानी रहेगी।
Aug 15 (09:14) जबलपुर और भोपाल में चलने लगी मेमू ट्रेन:हाड़ौती के लोगों का सपना अब भी अधूरा, रेलवे बोर्ड की स्वीकृति के 4 माह बाद भी कोटा-बीना (dainik-b.in)
Other News
WCR/West Central
0 Followers
33512 views

News Entry# 461925  Blog Entry# 5041959   
  Past Edits
Aug 15 2021 (18:36)
Station Tag: Ravtha Road/RDT added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (18:36)
Station Tag: Alniya/ALNI added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (18:36)
Station Tag: Shamgarh/SGZ added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (18:36)
Station Tag: Garoth/GOH added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (18:36)
Station Tag: Bhawani Mandi/BWM added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (18:36)
Station Tag: Ramganj Mandi Junction/RMA added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (09:16)
Station Tag: Jhalawar City/JLWC added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (09:16)
Station Tag: Dakaniya Talav/DKNT added by Keshavsharma/83290

Aug 15 2021 (09:16)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Keshavsharma/83290
पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर
पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर और भोपाल मंडल में मेमू ट्रेन चलने लगी है। इससे दोनों मंडलों से जुड़े मध्य प्रदेश क्षेत्र के रेलवे स्टेशनों के शहरी क्षेत्र व ग्रामीणों को ट्रेन की सुविधा मिलने लगेगी, लेकिन इसी जोन का एक मंडल कोटा जो राजस्थान से जुड़ा है। उसमें रेलवे बोर्ड से 3 मेमो ट्रेन की स्वीकृति के 4 महीने बाद भी कोटा-शामगढ़, कोटा-बीना, कोटा-झालावाड़ के लिए मेमू ट्रेन शुरू नहीं हो सकी है।
इन ट्रेनों का 8 अप्रैल से संचालन प्रस्तावित था। पश्चिम
...
more...
मध्य रेलवे जबलपुर मंडल के अंतर्गत तीन नई मेमू ट्रेन सतना-इटारसी, सतना-मानिकपुर तथा कटनी-बीना को 13 अगस्त को हरी झंडी दिखा दी गई। इससे पूर्व भोपाल रेल मंडल में भी मेमो ट्रेन चल चुकी हैं।
लेकिन कोटा रेल मंडल मैं रेलवे बोर्ड से स्वीकृति के 4 माह बाद भी मेमू ट्रेन नहीं चल सकी है। कोटा रेल मंडल में तीन मेमो ट्रेन चलाने के लिए एक रैक पिछले दिनों एक रैक भेजा गया था जो रखरखाव के नाम पर वापस भोपाल भेज दिया गया। रैक अभी तक वापस नहीं लौटा है।
कोटा रेल मंडल में मेमू चले तो इनको मिले लाभ
कोटा-बीना-कोटा के बीच मेमू ट्रेन का संचालन होने से सोगरिया स्टेशन, चंद्रेसल, दीगोद, श्रीकल्याणपुरा, भौंरा, अंता, बिजोरा, सुंदलक, बारां, छजावा, पीपलोद रोड, अटरू और सालपुरा सहित मार्ग में करीब 34 स्टेशनों वह आस-पास के गांव के लोगों को लाभ मिलेगा। ऐसे में कोटा से बारां जिले और मध्यप्रदेश जाने वाले लोगों को आसानी होगी।
कोटा शामगढ़ मेमू का इनको मिलेगा लाभ
कोटा-शामगढ़-कोटा के बीच मेमू चलने से डकनिया तलाब, डाढ़देवी, अलनिया, रांवठा रोड, दरा, कंवलपुरा, मोडक, रामगंजमंडी, धुआंखेड़ी, भवानीमंडी, कुलारसी और गरोठ स्टेशन के यात्रियों को लाभ मिलेगा।
कोटा-झालावाड़ मेमू चलने से इनको होगा फायदा
कोटा-झालावाड़ सिटी के बीच भी मेमू ट्रेन का संचालन होने से डकनिया तलाब, डाढ़देवी, अलनिया, रांवठारोड, दरा, कंवलपुरा, मोडक, रामगंजमंडी स्टेशन वह आस-पास के गांव के लोगों को लाभ मिलेगा।
अब नए सब स्टेशन के जरिए मिलेगी बिजली, एलएचबी के एक रैक के रखरखाव में 9600 रुपए की होगी बचत
ग्रीन ऊर्जा के क्षेत्र में कोटा मंडल ने एक और नई पहल की है। रैकों के अनुरक्षण के लिए बिजली की आपूर्ति के लिए विद्युत सब स्टेशन का निर्माण कराया गया है। इससे अब कोटा जंक्शन पिट लाईन पर अत्याधुनिक तकनीक के एलएचबी टाइप के रैकों के अनुरक्षण कार्य के लिए 750 वोल्ट की बिजली मिलती रहेगी तथा ईंधन के तौर पर अब डीज़ल आईल के उपयोग से निजात मिल गई है । इससे रैक अनुरक्षण कार्य के दौरान वायु प्रदूषण और ध्वनि प्रदूषण भी खत्म हो गया है ।
पेट्रोलियम ईंधन की बचत हो रही है, प्रदूषण से भी निजात मिली
सीनियर डीसीएम अजय कुमार पाल ने बताया कि कोटा में रैकों के प्राथमिक अनुरक्षण के दौरान पावर कार में उपलब्ध डीजी सेट चलाकर कोचों का मेंटेनेंस कार्य किया जाता था, इसमें 40 लीटर प्रति घंटे के हिसाब से डीजल ऑयल की खपत होती थी। कोचों के अनुरक्षण के लिए 750 वोल्ट बिजली सप्लाई की आवश्यकता को देखते हुए अब मंडल के कोचिंग डिपो में गोल्डन जुबली पिट लाइन पर 750 वोल्ट सप्लाई देने के उद्देश्य से बिजली सब स्टेशन का निर्माण कराया गया है।
अब रैक के अनुरक्षण के दौरान इस नवनिर्मित बिजली सब स्टेशन के माध्यम से जरूरी सप्लाई मिलती रहेगी और अनुरक्षण कार्य सुगमता से किया जा सकेगा। इस सिस्टम के उपयोग करने से रैकों के अनुरक्षण के दौरान पेट्रोलियम ईंधन की बचत हो रही है साथ ही ध्वनि प्रदूषण एवं वायु प्रदूषण से भी निजात मिल गई है।
Copyright © 2021-22 DB Corp ltd., All Rights Reserved
This website follows the DNPA Code of Ethics.
Page#    Showing 1 to 20 of 20 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy