PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

RailFans - हमको देख देख दुनिया जले, हमको ज़माने से क्या

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Tue Nov 24 15:39:04 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

JHSA/Jhansi A Cabin
جھانسی ایک کیبن     झांसी ए केबिन

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Nai Basti Rd, Jhansi
State: Uttar Pradesh


Zone: NCR/North Central   Division: Jhansi

No Recent News for JHSA/Jhansi A Cabin
Nearby Stations in the News
Type of Station: Cabin
Number of Platforms: n/a
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 3 of 3 News Items  
Jul 19 2019 (02:18) झांसी ‘ए’ बनेगा नया रेलवे स्टेशन (www.amarujala.com)
New Facilities/Technology
NCR/North Central
0 Followers
11564 views

News Entry# 387057  Blog Entry# 4381775   
  Past Edits
Jul 19 2019 (02:18)
Station Tag: Jhansi A Cabin/JHSA added by ⚡22222मुंबई राजधानी22221⚡~/1939170

Jul 19 2019 (02:18)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by ⚡22222मुंबई राजधानी22221⚡~/1939170
झांसी ‘ए’ बनेगा नया रेलवे स्टेशन
झांसी। पुलिया नंबर नौ के नजदीक ए और बी केबिन को खत्म कर रेलवे वहां एक नया तकनीकी झांसी ए स्टेशन बनाएगा। इसके लिए भवन बन गया है। इस स्टेशन को इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग सिस्टम से जोड़ा जाएगा। यानी यहां बैठकर स्टेशन मास्टर कंप्यूटर से ट्रेनों का संचालन कर सकेंगे। इन दिनों पटरियों के बीच बने प्वाइंट को खत्म कर मोटर लगाने का काम अंतिम चरण में है। सितंबर से यह स्टेशन शुरू हो जाएगा। शुरुआत में इस स्टेशन से माल और थ्रू निकलने वाली गाड़ियों को निकाला जाएगा। भविष्य में इसी स्टेशन से ललितपुर और बीना की तरफ जाने वाली पैसेेंजर ट्रेनों को चलाया जाएगा। अभी
...
more...
भोपाल, बीना की तरफ से आने वाली ट्रेनों को झांसी रेलवे स्टेशन पर आने से पहले एसी लोको शेड के पास बनी ए केबिन, पुलिया नंबर नौ के पास बनी बी केबिन और इसके बाद रूट रिले सिस्टम की सी केबिन की संचालन व्यवस्था से होकर गुजरना पड़ता है। ए और बी केबिन पर अभी पुरानी व्यवस्था से काम चल रहा है। हर केबिन पर एक स्टेशन मास्टर और लीवरमैन तैनात है। किसी ट्रेन के ए केबिन में प्रवेश करने के बाद लीवरमैन लीवर बदलकर पटरियों के प्वाइंट बदलने का काम करते हैं, इसके बाद स्टेशन मास्टर ट्रेन को आगे बढ़ने का सिगनल देते हैं। ए केबिन से ट्रेन गुजरने के बाद सूचना बी केबिन को दी जाती है। इस व्यवस्था में ए केबिन से ही ट्रेन की गति धीमी होती जाती है। ए केबिन से झांसी स्टेशन की दूरी करीब दो किलोमीटर है, जिसे तय करने में कम से कम दस मिनट का वक्त लग जाता है। मगर, रेल प्रशासन अब ए और बी केबिन को खत्म करने जा रहा है। इनकी जगह दोनों केबिनों के बीच एक नया स्टेशन बनाया जा रहा है। इसके लिए भवन तैयार हो गया है। इसमें इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग लगाई जा रही है। इस सिस्टम में लीवरमैन की आवश्यकता नहीं पड़ती। स्टेशन मास्टर कंप्यूटर के सामने बैठकर माउस चलाकर ही सीधा ट्रेनों का संचालन कर सकेंगे। इसके लिए ए और बी केबिन के बीच पटरियों के बीच स्थित 26 प्वाइंटों पर मोटर लगाने का काम अंतिम चरण में चल रहा है। उम्मीद है कि सितंबर से इस नए स्टेशन का संचालन शुरू हो जाएगा। शुरुआत में इस स्टेशन से थ्रू गाड़ियों (जिन गाड़ियों को स्टेशन पर नहीं रुकना है) और मालगाड़ियों को निकाला जाएगा। भविष्य में बीना और ललितपुर की तरफ जाने वाली पैसेंजर ट्रेनों को इसी स्टेशन से रवाना किया जाएगा। इससे झांसी स्टेशन का भार कम होगा। ‘स्टेशन का भवन बनकर तैयार हो चुका है। इसके शुरू होते ही ए और बी केबिन की व्यवस्था खत्म हो जाएगी। इससे ट्रेनों का संचालन और तेज गति से हो सकेगा।’मनोज कुमार सिंह, जनसंपर्क अधिकारी। ये होंगे फायदे -------------
स्टेशन में प्रवेश करने से पूर्व ट्रेनों की गति बढ़ जाएगी। - लीवर बदलने की पुरानी व्यवस्था खत्म हो जाएगी। - स्टेशन मास्टर से ही काम चल जाएगा, अतिरिक्त कर्मचारी नहीं लगेंगे। - इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग से संरक्षा और बेहतर हो जाएगी। - भविष्य में झांसी से चलने वाली ट्रेनों का यहां से संचालन हो सकेगा।

6 Public Posts - Fri Jul 19, 2019

5075 views
Jul 19 2019 (19:42)
❤NATIONAL RAIL TRANSPORTATION INSTITUTE BRC❤
Rohittkarwal^~   10199 blog posts
Re# 4381775-7            Tags   Past Edits
Jhansi A cabin is way more accesible than Mustara for 70% population. And i dont think it would be made as a terminal it would just be made to halt trains when pf is not vacant at jhansi and Spare rakes standing at jhansi.

4885 views
Jul 20 2019 (11:55)
deepakrashikendra   2060 blog posts
Re# 4381775-8            Tags   Past Edits
train will stop at Jhansi jn also ,so they can take it from Jn itself

4667 views
Jul 20 2019 (16:37)
❤NATIONAL RAIL TRANSPORTATION INSTITUTE BRC❤
Rohittkarwal^~   10199 blog posts
Re# 4381775-9            Tags   Past Edits
Mustara se E and F cabin hoke Junction aayegi tab late hogi uska kya?

Rail News
2496 views
Aug 23 2019 (16:04)
abhisinghrms   132 blog posts
Re# 4381775-10            Tags   Past Edits
Isko as a originating station develop karna chahiye

2409 views
Aug 24 2019 (13:14)
❤NATIONAL RAIL TRANSPORTATION INSTITUTE BRC❤
Rohittkarwal^~   10199 blog posts
Re# 4381775-11            Tags   Past Edits
Uske liye Jhansi Junction ke pass platform 6 and 8 hein. New Station not required. Waise Bhi major trains Jhansi se North direction mein chalti hein.
Apr 09 2015 (09:27) अब स्टेशन आने से पहले आपको खुद जगाएगा रेलवे (m.amarujala.com)
IR Affairs
NCR/North Central

News Entry# 219972   
  Past Edits
Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Ghazipur City/GCT added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Aunrihar Junction/ARJ added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Jaunpur City/JOP added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Kirakat/KCT added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Jaunpur Junction/JNU added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Kasganj Junction/KSJ added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Mathura Junction/MTJ added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Allahabad Junction/ALD added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by saurabhsinghkkt/1207464

Apr 09 2015 (9:30AM)
Station Tag: Jhansi A Cabin/JHSA added by saurabhsinghkkt/1207464
अब स्टेशन आने से पहले आपको खुद जगाएगा रेलवे
SHARE ON
टीम डिजिटल गुरुवार, 9 अप्रैल 2015
अमर उजाला, नई दिल्ली Updated @ 8:59 AM IST
अब आपको खुद जगाएगा रेलवे
ट्रेन
...
more...
में यात्रा के दौरान यात्री अब निश्चिंत होकर सो सकते हैं। उन्हें अपने गंतव्य स्टेशन के पार कर जाने की आशंका नहीं सताएगी क्योंकि रेलवे खुद उन्हें उठाएगा। रेलवे ने ऐसी सेवा शुरू की है जिसके तहत गंतव्य स्टेशन पर ट्रेन के पहुंचने से आधा घंटा पहले यात्रियों को उनके मोबाइल पर ‘वेक-अप कॉल’ आएगा।
इसी तरह ‘ट्रेन डेस्टिनेशन अलार्म कॉल’ सेवा भी शुरू की गई है, जिसके तहत स्टेशन पर ट्रेन के पहुंचने से 30 मिनट पहले इंतजार कर रहे यात्रियों को अलर्ट कॉल जाएगा।
आईआरसीटी और भारत बीपीओ की ओर से संयुक्त रूप से शुरू की गई यह सेवा रेलवे पूछताछ नंबर 139 पर उपलब्ध है।
कैसे मिलेगी 'डेस्टिनेशन अलार्म' की सुविधा?
इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए रेलवे प्रवक्ता नीरज शर्मा ने कहा कि है कि 'डेस्टिनेशन अलर्ट' के तहत यात्री को उसके गंतव्य स्‍थान पहुंचने से आधे घंटे पहले कॉल की जाएगी।
जबकि 'वेकअप अलार्म' के तहत यात्री उसके मनपसंद स्टेशन के लिए वेकअप काल के लिए अलार्म सेट करने की सुविधा होगी। इसके अलावा यात्री को 'डेस्टिनेशन अलर्ट' सेट करने के लिए तीन विकल्प भी मौजूद होंगे। ये विकल्प हैं 139 पर सीधे कॉल करके, 139 आईवीआर्र सिस्टम के तहत और तीसरा विकल्प होगा 139 पर एसएमएस करके।
गौरतलब है कि यात्री इन्हीं विकल्पों पर 'वेकअप अलार्म' भी चुन सकता है। यात्री को अपने विकल्प चुनने से पहले गंतव्य स्टेशन का एसटीडी कोड और अपनी टिकट का पीएनआर नंबर मौजूद होना जरूरी होगा।
Mar 19 2015 (14:48) रेलवे क्रॉसिंग पर हादसों को रोकेगा यह मॉडल,12वीं के छात्र के किया इजाद (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
2306 views

News Entry# 217187  Blog Entry# 1401294   
  Past Edits
Mar 19 2015 (2:48PM)
Station Tag: Jhansi A Cabin/JHSA added by jAi hO/718732
Stations:  Jhansi A Cabin/JHSA  
झांसी. कक्षा 12वीं के छात्र शिवांश गुबरेले ने 'मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग मॉडल' को बनाकर देश को एक नायाब तोहफा दिया है। यह मॉडल ऑटामेटिक तरीके से काम करेगा। इसे स्‍थापित करने में सिर्फ 50-60 हजार रुपए का खर्च आएगा। इसके द्वारा रेलवे फाटक को खोलने और बंद करने के लिए किसी भी व्‍यक्ति की जरूरत नहीं होगी। इससे भारत सरकार को आर्थिक मदद भी मिलेगी। छात्र के इस अद्भुत प्रदर्शन के बाद भारत सरकार उसे मॉडल दिखाने के लिए जापान भेज रही है। इसके बाद यह अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भी चर्चा का विषय बनेगा।
शिवांश बताते हैं कि जब वे इस मॉडल को शुरुआत में घर पर बना रहे थे तो उन्‍हें पापा और मम्‍मी से खूब डांट सुननी पड़ती थी।
...
more...
इसके बाद पापा के डर से रात में चुपचाप इसे बनाने का काम शुरू किया। छात्र के मुताबिक, कक्षा 10वीं से ही वह इस मॉडल को बना रहा है। इसी क्रम में 12वीं तक आते-आते इस मॉडल को पूरा किया। शिवांश ने कहा कि जब मम्‍मी-पापा को इस मॉडल के पूरा हो जाने के बारे में पता चला तो वे आश्‍चर्यचकित हुए और मेरी पीठ भी थपथपाई।
कैसे काम करेगा मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग मॉडल
शिवांश ने बताया कि इस मॉडल को क्रॉसिंग से रेलवे ट्रैक पर दोनों ओर 1-2 किमी. के दायरे में ही लगाना होगा। इसी क्रम में वाहनों के निकलने के रास्‍ते पर ही एक क्रॉसिंग फाटक स्‍थापित होगा। इस फाटक से करीब 800 मीटर की दूरी पर रेलवे ट्रैक पर एक सिग्‍नल लगाया जाएगा, जिसमें लाल और हरी दोनों बत्‍ती लगी होगी। इसके अलावा क्रॉसिंग पर भी लाल और हरी बत्‍ती वाला सिग्‍नल लगाया जाएगा। ऐसे में जब कोई गाड़ी रेलवे ट्रैक पर 800 मीटर के भीतर के दसरे में आएगी तो सिग्‍नल स्‍वयं लाल हो जाएगा। इसके साथ ही ऑटोमेटिक तरीके से फाटक भी बंद हो जाएगा।
पूरी तरह से ऑटोमेटिक होगा सिस्‍टम
शिवांश कहते हैं कि कोई भी ट्रेन फाटक की ओर तभी बढ़ पाएगी जब रेल ड्राइवर को रेलवे ट्रैक पर 800 मीटर की दूरी पर लगा हुआ सिग्‍नल ग्रीन दिखेगा। यदि सिग्‍नल लाल होगा तो क्रॉसिंग से कुछ गड़बड़ी की संभावना को देखते हुए ट्रेन रोक दी जाएगी। ऐसे में जिस ओर फाटक लगा होगा उस ओर ट्रेन के आने की सूचना देने के लिए यहां पर लगा हुआ सिग्‍नल लाल हो जाएगा। इसके साथ ही एक सायरन बजेगा और फाटक ऑटोमेटिक तरीके से बंद हो जाएगा। शिवांश ने बताया कि देशभर में ऐसी तमाम जगहें हैं जहां पर रेलवे क्रॉसिंग नहीं है। वहां पर इस मॉडल को स्‍थापित किया जा सकता है।

3299 views
Mar 19 2015 (15:02)
Adiprem   466 blog posts
Re# 1401294-1            Tags   Past Edits
This is truly Wonderful Invention...
If it is success, apart from saving of Money, Precious human lives would be save ...
Govt seems keen to promot this when it is sending same to Japan for further demonstration . But the inventior has put many 'conditions' to make it effective and safe...
Page#    Showing 1 to 3 of 3 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy