Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

22626 SBC-MAS Double Decker - எப்பவுமே டாப் டக்கர் - Vijay Baradwaj

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon Apr 19 23:41:30 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Medium; Night Pic; Front Entrance - Outside;
Main Entrance of Korba Railway Station
Entry# 4161317-0
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
18517 Korba Vishakhapatnam Express Standing at Platforn No1
Entry# 4161413-0


KRBA/Korba (3 PFs)
     कोरबा

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Old Bus stand Rd, Sitamani, Korba
State: Chhattisgarh

Elevation: 287 m above sea level
Zone: SECR/South East Central   Division: Bilaspur

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 12
Number of Originating Trains: 6
Number of Terminating Trains: 6
Rating: 3.9/5 (67 votes)
cleanliness - excellent (9)
porters/escalators - good (9)
food - good (9)
transportation - good (8)
lodging - good (8)
railfanning - good (8)
sightseeing - good (8)
safety - good (8)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 351 News Items  next>>
Today (21:44) अगले छह माह ट्रेन में बिना मास्क के दिखे तो पांच सौ रुपये जुर्माना (www.naidunia.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
2082 views

News Entry# 449080  Blog Entry# 4943362   
  Past Edits
Apr 19 2021 (21:44)
Station Tag: Korba/KRBA added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Korba/KRBA  
कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए रेलवे ने नियम सख्त किए हैं। इसी कड़ी में रेलवे बोर्ड द्वारा कोविड-19 महामारी की रोकथाम के मद्देनजर ट्रेनों, स्टेशनों एवं रेल परिसरों में मास्क नही पहनने वालों पर जूर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। इसके तहत तत्काल प्रभाव से आगामी छह महीने तक किसी भी यात्री को स्टेशन में प्रवेश करने या ट्रेनों में यात्रा करते समय मास्क नहीं पहनने पर रेलवे अधिनियम के अनुसार 500 रुपये जूर्माने की राशि वसूल किया जाएगा। रेलवे प्रशासन ने यात्रियों को नियमों का कड़ाई से पालन करने का आग्रह किया है, ताकि संक्रमण की चेन तोड़ने सभी का सहयोग सुनिश्चित किया जा सके।
कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए भारतीय रेलवे की
...
more...
ओर से अनेक कदम उठाए गए हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से समय-समय पर जारी गाइड लाइन के पालन के लिए महत्वपूर्ण स्टेशनों में थर्मल जांच, सोशल डिस्टेंसिंग आदि की सुनिश्चता के साथ-साथ स्टेशनों, रेल परिसरों में कोविड के खिलाफ जागरूकता अभियान भी लगातार चलाये जा रहे है। इसी कड़ी में रेलवे की ओर से कोविड-19 महामारी की रोकथाम के मद्देनजर ट्रेनों, स्टेशनों एवं रेल परिसरों में मास्क नही पहनने वालों पर जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। इसके तहत तत्काल प्रभाव से आगामी छह महीने तक किसी भी यात्री को स्टेशन या ट्रेनों में प्रवेश व यात्रा करते समय मास्क नहीं पहनने व रेलवे से चिन्हित किए गए जगह को छोड़कर अन्य स्थानों में थूकने पर रेलवे अधिनियम के अनुसार 500 रुपये जुर्माने की राशि वसूल की जाएगी। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए रेल प्रशासन अलर्ट पर है। लाकडाउन का पालन करने के साथ ही मास्क की अनिवार्यता व शारीरिक दूरी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इस बीच रेलवे स्टेशन में भी जरुरी सतर्कता बरती जा रही है। प्रशासन के आदेश पर स्टेशन परिसर में बेरीकेटिंग की व्यवस्था की जा रही है। यात्रियों से कहा जा रहा है,कि नियमों का विशेष रुप से ध्यान रखें।
अस्वस्थ महसूस हो तो न करें ट्रेन की यात्रा
यात्रा के दौरान अस्वस्थ व्यक्ति अपने साथ ट्रेन में यात्रा कर रहे अन्य यात्रियों को भी संक्रमित या बीमार कर सकता है। खासकर कोरोनाकाल में तबियत ठीक न हो तो ऐसे लोगों को यात्रा टाल कर अपने घर या अस्पताल में ही होना चाहिए। रेल प्रशासन ने किसी भी प्रकार की शारीरिक अस्वस्थता की स्थिति में यात्रा टालकर खुद व दूसरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आग्रह किया है। रेलवे प्रशासन की ओर से यात्रियों से अनुरोध किया गया है कि कोविड के संक्रमण को रोकने हेतु नियमों का कड़ाई से पालन करें एवं किसी भी प्रकार की शारीरिक अस्वस्थता की स्थिति में यात्रा टालकर खुद सुरक्षित रहें एवं अपने व अपने परिवार के साथ अन्य यात्रियों की सुरक्षा रखने में मदद करें।
आने वाले यात्रियों की प्लेटफार्म में कोविड जांच
स्वास्थ्य विभाग से जारी गाइड लाइन के पालन के लिए रेलवे स्टेशन में थर्मल जांच, शारीरिक दूरी के नियमों का पालन सुनिश्चित करने की कवायद जारी है। स्वास्थ्यकर्मी भी स्टेशन जाकर आने वाली ट्रेनों के यात्रियों की कोविड जांच कर रहे हैं और ऐसे में मास्क व अन्य नियमों का पालन जरूरी हो जाता है। इनमें सुबह लिंक एक्सप्रेस, कोरबा-अमृतसर विशेष ट्रेन समेत अन्य गाड़ियों में सफर कर कोरबा आने वाले लोगों को विशेष तौर पर जांच के लिए केंद्रित किया जा रहा। आरपीएफ को भी स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि नियमों का उल्लंघन करने वाले यात्रियों पर सख्ती से पेश आएं।
थर्मल स्केनिंग के साथ संदिग्ध पर टीटीई की नजर
कोरोना की दूसरी लहर ने जिस तरह से तांडव मचाया है, उससे सभी सहमे हुए हैं। प्रशासन के दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है। यात्रियों से कहा जा रहा कि वे ट्रेन आने से एक घंटे पूर्व ही स्टेशन पहुंचे, बेवजह भीड़ बढ़ाने से बचें। आरपीएफ की निगरानी में कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए रेलवे स्टेशन के गेट पर खड़े टीटीई हर आने-जाने वाले यात्री को थर्मल स्केन थर्मामीटर से तापमान की जांच कर रहे। निर्धारित से अधिक ताप या बुखार व अन्य लक्षण मिलने पर संदिग्ध मानते हुए स्वास्थ्य विभाग को मैसेज किया जाता है, जिसके बाद उनका कोविड टेस्ट किया जा रहा है।
Today (12:26) सुरक्षा जरूरी:मेमू व एक्सप्रेस में सफर करने वाले यात्रियों की जांच शुरू (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central
0 Followers
2678 views

News Entry# 449038  Blog Entry# 4942935   
  Past Edits
Apr 19 2021 (12:26)
Station Tag: Korba/KRBA added by Saurabh®/1294142
Stations:  Korba/KRBA  
लॉकडाउन के बीच यात्री ट्रेनों के चलने से जिले में राजधानी रायपुर व विशाखापट्टनम से नियमित यात्रियों का आना-जाना लगा हुआ है। बढ़ते कोरोना पॉजिटिव की संख्या को देखते हुए प्रशासनिक अमला सावधानी बरतने में लोगों को बजाने में जुटा हुआ है। वहीं अब रेल प्रशासन भी मेमू लोकल के साथ एक्सप्रेस ट्रेनों में सफर कर यहां पहुंचने वाले यात्रियों की निगरानी शुरू कर दी है।
ट्रेन के पहुंचने के साथ ही स्टेशन पर ही सभी यात्रियों की जांच की जा रही है। स्टेशन पर जांच शुरू होने के बाद वहां भी पॉजिटिव मिलने लगे हैं। पिछले तीन दिन से शुरू हुई कोविड जांच में हर दिन 10 से 15 यात्रियों की पहचान पॉजिटिव के रूप में हो रही है। एहतियात के
...
more...
तौर पर जांच में जो यात्री समान्य मिल रहे हैं, उन्हें होम क्वारेंटाइन रहने की सलाह दी जा रही है। बुधवार को रेलवे स्टेशन पर 50 यात्रियों का रैपिड कोविड एंटीजन टेस्ट किया गया, जबकि विशाखापट्टनम से आने वाली लिंक एक्सप्रेस के यात्रियों की भी जांच की गई, तो उनमें से 15 यात्रियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।
सुरक्षित सफर के लिए एक घंटा पहले पहुंचे स्टेशन
जो यात्री यहां से बाहर जाने टिकट बुक किए हैं या जनरल टिकट लेकर सफर करना चाहते हैं, उनसे रेल प्रशासन स्टेशन में ट्रेन आने के एक घंटा पहले पहुंचने कहा जा रहा है, ताकि स्टेशन पर होने वाली जांच प्रक्रिया के दौरान उन्हें किसी भी तरह की समस्या न हो और वे सुरक्षित यात्रा पर जा सकें। रेलवे सुरक्षा बल कोरबा पोस्ट के प्रभारी कुंदन झा का कहना है कि कोरोना की रिपोर्ट आने पर ही उन्हें बाहर जाने दिया जाएगा।
अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने जारी की गाइडलाइन
छत्तीसगढ़ शासन में अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य रेणु पिल्ले ने गाइड लाइन जारी की हैं। इसमें कहा है कि अन्य राज्यों से ट्रेन से आने वाले यात्रियों के लिए 3 दिन पहले की कोविड निगेटिव रिपोर्ट दिखाना जरूरी है। जिनके पास रिपोर्ट नहीं है, उनका स्टेशन में ही परीक्षण स्क्रीनिंग की जाएगी, लक्षण दिखने पर कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। सामान्य यात्रियों को 7 दिन तक क्वारेंटाइन में रखने कहा है।
Yesterday (23:05) अगले छह माह ट्रेन में बिना मास्क के दिखे तो पांच सौ रुपये जुर्माना (www.naidunia.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
4173 views

News Entry# 448958  Blog Entry# 4942676   
  Past Edits
Apr 18 2021 (23:05)
Station Tag: Korba/KRBA added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Korba/KRBA  
कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए रेलवे ने नियम सख्त किए हैं। इसी कड़ी में रेलवे बोर्ड द्वारा कोविड-19 महामारी की रोकथाम के मद्देनजर ट्रेनों, स्टेशनों एवं रेल परिसरों में मास्क नही पहनने वालों पर जूर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। इसके तहत तत्काल प्रभाव से आगामी छह महीने तक किसी भी यात्री को स्टेशन में प्रवेश करने या ट्रेनों में यात्रा करते समय मास्क नहीं पहनने पर रेलवे अधिनियम के अनुसार 500 रुपये जूर्माने की राशि वसूल किया जाएगा। रेलवे प्रशासन ने यात्रियों को नियमों का कड़ाई से पालन करने का आग्रह किया है, ताकि संक्रमण की चेन तोड़ने सभी का सहयोग सुनिश्चित किया जा सके।
कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए भारतीय रेलवे की
...
more...
ओर से अनेक कदम उठाए गए हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से समय-समय पर जारी गाइड लाइन के पालन के लिए महत्वपूर्ण स्टेशनों में थर्मल जांच, सोशल डिस्टेंसिंग आदि की सुनिश्चता के साथ-साथ स्टेशनों, रेल परिसरों में कोविड के खिलाफ जागरूकता अभियान भी लगातार चलाये जा रहे है। इसी कड़ी में रेलवे की ओर से कोविड-19 महामारी की रोकथाम के मद्देनजर ट्रेनों, स्टेशनों एवं रेल परिसरों में मास्क नही पहनने वालों पर जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। इसके तहत तत्काल प्रभाव से आगामी छह महीने तक किसी भी यात्री को स्टेशन या ट्रेनों में प्रवेश व यात्रा करते समय मास्क नहीं पहनने व रेलवे से चिन्हित किए गए जगह को छोड़कर अन्य स्थानों में थूकने पर रेलवे अधिनियम के अनुसार 500 रुपये जुर्माने की राशि वसूल की जाएगी। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए रेल प्रशासन अलर्ट पर है। लाकडाउन का पालन करने के साथ ही मास्क की अनिवार्यता व शारीरिक दूरी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इस बीच रेलवे स्टेशन में भी जरुरी सतर्कता बरती जा रही है। प्रशासन के आदेश पर स्टेशन परिसर में बेरीकेटिंग की व्यवस्था की जा रही है। यात्रियों से कहा जा रहा है,कि नियमों का विशेष रुप से ध्यान रखें।
अस्वस्थ महसूस हो तो न करें ट्रेन की यात्रा
यात्रा के दौरान अस्वस्थ व्यक्ति अपने साथ ट्रेन में यात्रा कर रहे अन्य यात्रियों को भी संक्रमित या बीमार कर सकता है। खासकर कोरोनाकाल में तबियत ठीक न हो तो ऐसे लोगों को यात्रा टाल कर अपने घर या अस्पताल में ही होना चाहिए। रेल प्रशासन ने किसी भी प्रकार की शारीरिक अस्वस्थता की स्थिति में यात्रा टालकर खुद व दूसरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आग्रह किया है। रेलवे प्रशासन की ओर से यात्रियों से अनुरोध किया गया है कि कोविड के संक्रमण को रोकने हेतु नियमों का कड़ाई से पालन करें एवं किसी भी प्रकार की शारीरिक अस्वस्थता की स्थिति में यात्रा टालकर खुद सुरक्षित रहें एवं अपने व अपने परिवार के साथ अन्य यात्रियों की सुरक्षा रखने में मदद करें।
आने वाले यात्रियों की प्लेटफार्म में कोविड जांच
18र्-1ि0-18042021-569- कोरबा। प्लेटफार्म नंबर-एक पर खड़ी मेमू लोकल।
स्वास्थ्य विभाग से जारी गाइड लाइन के पालन के लिए रेलवे स्टेशन में थर्मल जांच, शारीरिक दूरी के नियमों का पालन सुनिश्चित करने की कवायद जारी है। स्वास्थ्यकर्मी भी स्टेशन जाकर आने वाली ट्रेनों के यात्रियों की कोविड जांच कर रहे हैं और ऐसे में मास्क व अन्य नियमों का पालन जरूरी हो जाता है। इनमें सुबह लिंक एक्सप्रेस, कोरबा-अमृतसर विशेष ट्रेन समेत अन्य गाड़ियों में सफर कर कोरबा आने वाले लोगों को विशेष तौर पर जांच के लिए केंद्रित किया जा रहा। आरपीएफ को भी स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि नियमों का उल्लंघन करने वाले यात्रियों पर सख्ती से पेश आएं।
थर्मल स्केनिंग के साथ संदिग्ध पर टीटीई की नजर
कोरोना की दूसरी लहर ने जिस तरह से तांडव मचाया है, उससे सभी सहमे हुए हैं। प्रशासन के दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है। यात्रियों से कहा जा रहा कि वे ट्रेन आने से एक घंटे पूर्व ही स्टेशन पहुंचे, बेवजह भीड़ बढ़ाने से बचें। आरपीएफ की निगरानी में कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए रेलवे स्टेशन के गेट पर खड़े टीटीई हर आने-जाने वाले यात्री को थर्मल स्केन थर्मामीटर से तापमान की जांच कर रहे। निर्धारित से अधिक ताप या बुखार व अन्य लक्षण मिलने पर संदिग्ध मानते हुए स्वास्थ्य विभाग को मैसेज किया जाता है, जिसके बाद उनका कोविड टेस्ट किया जा रहा है।
Apr 14 (22:34) यात्रा रद कर रहे लोग, पांच दिन में टिकट के तीन लाख रुपये रिफंड (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central
0 Followers
3823 views

News Entry# 448675  Blog Entry# 4939390   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
Stations:  Korba/KRBA  
कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे स्टेशन स्थित यात्री आरक्षण केंद्र में अब नई बुकिंग न के बराबर हो रही है। आरक्षण की गति थम सी गई है, जबकि पूर्व में कराई गई बुकिंग भी रद्द कराने की होड़ लोगों में मच गई है। नौ अप्रैल से शुरू हुई यात्रा स्थगित कराने प्रक्रिया में अब तक यात्रियों के तीन लाख से अधिक के आरक्षित टिकट रद्द किए जा चुके हैं। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रशासन ने जिले में सोमवार से लाकडाउन घोषित कर दिया है।
वर्तमान में दुकान और परिवहन से लेकर हर कार्य बंद है। इसलिए यात्रा के लिए टिकट बुक कराने वाले अब आरक्षण रद्द कराने पहुंच रहे हैं। कोरोना के संकट को देखते हुए जिले में घोषित
...
more...
लाकडाउन के चलते ऐसे यात्री, जिन्होंने 12 अप्रैल या उसके बाद अपनी यात्रा की प्लानिंग कर ट्रेन में आरक्षण कराया था, वे अपनी बुकिंग कैंसिल करा रहे हैं। दस दिनों के लिए शहर तो बंद हुआ ही, बड़ी संख्या में रेल यात्रियों की यात्रा की योजना भी फिलहाल के लिए टल गई है। सामान्य यात्री ट्रेनों में मेल व एक्सप्रेस के अलावा सभी ट्रेनें शामिल हैं, जिनकी बुकिंग रद्द की जा रही है। ऐसी स्थिति में ट्रेनों में आरक्षण कराने वाले यात्रियों का किराया रिफंड भी किया जा रहा है। वर्तमान स्थिति में कोरबा के अलावा प्रदेश ही नहीं, पड़ोसी राज्यों मध्य प्रदेश, ओडिशा व महाराष्ट्र समेत देश के विभिन्ना क्षेत्रों में संक्रमण का संकट लगातार बढ़ते क्रम में है। ऐसी दशा में यात्री भी घर छोड़कर दूसरे जिलों या प्रदेशों की यात्रा करने से बचने लगे हैं। यही वजह है जो लोग यात्री आरक्षण केंद्र में पहुंचकर आरक्षण रद्द कराने पहुंच रहे हैं। पिछले पांच दिनों में तीन लाख से अधिक की टिकट कैंसिल कर रिफंड किया जा चुका है।
बुकिंग कम होने से आवक भी प्रभावित
यात्रियों के अपना आरक्षण रद्द कराने से आरक्षण से मिलने वाले राजस्व की गति भी बाधित हो रही है। ऐसे में यहां नकदी की कमी होने से पीआरएस की तिजोरी भी खाली है, जिससे रिफंड कराने वालों को लौटाने रकम की कमी हो रही है। हर रोज लोग आरक्षण रद्द कराने पहुंच रहे, पर आरक्षण की गति धीमी पड़ जाने के कारण आवक भी थम सी गई है, जिसके चलते अब आरक्षण केंद्र में यात्रियों को रिफंड के लिए भी पर्याप्त रकम नहीं। परिणाम स्वरूप बुकिंग क्लर्क कई बार लोगों को बाद में आने का समय देकर लौटाने विवश हो रहे।
सामान्य दिनों में औसतन रोज 150 टिकट
सामान्य दिनों में कोरबा स्टेशन के आरक्षण काउंटरों के माध्यम से औसतन प्रतिदिन 100 से 150 टिकट बुक किए जाते हैं। प्रति टिकट 150 से 200 यात्रियों के लिए छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस के रूट में चल रही कोरबा-अमृतसर विशेष ट्रेन, लिंक एक्सप्रेस समेत अन्य ट्रेनों में आरक्षण होता है। इस लिहाज से प्रति व्यक्ति आरक्षण पर 600 रुपये का औसत किराया भी जोड़ें, तो करीब एक लाख रुपये का प्रतिदिन आरक्षण होता है। लोगों के आरक्षण नहीं कराने व लगातार बुकिंग कैंसिल होने पर रिफंड की राशि जुटा पाना भी मुश्किल हो रहा है।
इंटरनेट से बुकिंग की राशि सीधे खाते में
कोरोनाकाल के सबक से यात्रियों की बड़ी संख्या इंटरनेट पर घर बैठे टिकट बुक करा रही है। इनमें ज्यादातर ऐसे लोग हैं, जो आइटी तकनीक के इस्तेमाल से भली-भांति अवगत व प्रशिक्षत हैं। स्मार्टफोन या लैपटाप जैसे संसाधनों से भी लैस हैं, जिससे वे घर बैठे अपनी टिकट खुद बुक कर सकते हैं। लाकडाउन लगने से इंटरनेट से बुकिंग भी रद्द हुई पर किराए की रकम इस सेवा में खुद-ब-खुद यात्री के खाते में लौट आती है। पीआरएस से टिकट बुक कराने वालों के लिए प्रक्रिया अब थोड़ी लंबी व जटिल हो गई है।
बीते पांच दिन के रिफंड पर एक नजर
नौ अप्रैल 33910
दस अप्रैल 57520
11 अप्रैल 91850
12 अप्रैल 76400
13 अप्रैल 46910
कुल 306590
Apr 14 (07:45) प्लेटफार्म पर उतरते ही पहले ताप, संदिग्ध मिले तो एंटीजन टेस्ट (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central
0 Followers
4832 views

News Entry# 448595  Blog Entry# 4938594   
  Past Edits
Apr 14 2021 (07:45)
Station Tag: Korba/KRBA added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Korba/KRBA  
कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए अब रेल प्रशासन भी अलर्ट पर है। पिछले दिनों कलेक्टर ने भी रेलवे स्टेशन का दौरा कर व्यवस्था दुरूस्त करने के निर्देश प्रशासन के अधिकारियों को दिए थे। इसका असर भी दिखा और मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचकर आने वाली ट्रेनों के यात्रियों की जांच की। स्टेशन के गेट पर ड्यूटी कर रहे टीटीई पहले यात्रियों के तापमान की जांच करते हैं, जिनमें बुखार व अन्य लक्षण मिलते हैं, उनकी जानकारी स्वास्थ्य अमले को दी जाती है। इसके बाद ऐसे यात्रियों का मौके पर ही एंटीजन टेस्ट किए जाने के निर्देश हैं।
कोरोना संक्रमण के खात्मे को लेकर कोरबा का जिला प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हो गया हैं।
...
more...
अधिकारियों ने नियमों के पालन को लेकर सख्त हिदायत दिए हैं, जिसका पालन रेलवे स्टेशन में भी किया जा रहा हैं। पूर्व की भांति स्टेशन परिसर में बेरीकेटिंग की व्यवस्था की जा रही है। शारीरिक दूरी के पालन करने गोल घेरे भी बनाए जा रहे हैं, ताकी संक्रमण को फैलने की संभावनाओं को दूर किया जा सके। कोरोना की दूसरी लहर ने जिस तरह से तांडव मचाया है, उससे सभी सहमे हुए हैं। प्रशासन से दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है। लाकडाउन का पालन करने के साथ ही मास्क की अनिवार्यता व शारीरिक दूरी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इस बीच रेलवे स्टेशन में भी जरुरी सतर्कता बरती जा रही है। प्रशासन के आदेश पर स्टेशन परिसर में बेरीकेटिंग की व्यवस्था की जा रही है। यात्रियों से कहा जा रहा है,कि नियमों का विशेष रुप से ध्यान रखें।
ट्रेन आने से एक घंटे पूर्व स्टेशन पहुंचें
यात्रियों से भी कहा जा रहा कि वे बेवजह भीड़ बढ़ाने से बचें। ट्रेन आने से एक घंटे पूर्व ही स्टेशन पहुंचे, ताकी व्यवस्था बनाने में किसी तरह की परेशनियों न हो। रेलवे सुरक्षा बल कोरबा पोस्ट ने बाहर से आने वाले वाले यात्रियों पर विशेष ध्यान देने की बात कही है। आरपीएफ का कहना है कि कोरोना की रिपोर्ट आने पर ही उन्हें बाहर जाने दिया जाएगा। कोरबा से बाहर जाने वाले यात्रियों के लिए यह नियम अभी अनिवार्य किया गया है। प्रशासन अगर नियम बनाता है, तो उसका निश्चित रुप से पालन कराया जाएगा।
संदिग्ध यात्री मिले तो मैसेज करेंगे टीटीई
स्वास्थ्य विभाग की जांच प्रक्रिया में पहले दिन ऐसा कोई भी संदिग्ध यात्री नहीं मिला है। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए रेलवे स्टेशन के गेट पर खड़े टीटीई हर आने-जाने वाले यात्री को थर्मल स्केन थर्मामीटर से तापमान की जांच कर रहे। निर्धारित से अधिक ताप या बुखार व अन्य लक्षण मिलने पर संदिग्ध मानते हुए स्वास्थ्य विभाग को मैसेज किया जाता है, जिसके बाद उनका एंटीजन टेस्ट किया जाना है। आरपीएफ को भी स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि नियमों का उल्लंघन करने वाले यात्रियों पर सख्ती से पेश आएं।
Page#    Showing 1 to 20 of 351 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy