Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Howrah Rajdhani - At 50, the Handsome King 👑 is still ruling the tracks superbly. - Somanko

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Apr 15 07:16:42 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 2016538-0
Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 4600227-0

DURE/Dumraon (2 PFs)
ڈومراؤں     डुमराँव

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Station Road 1, Dumraon, Dist - Buxar, Pincode -802133
State: Bihar

Elevation: 71 m above sea level
Zone: ECR/East Central   Division: Danapur

No Recent News for DURE/Dumraon
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 50
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.5/5 (16 votes)
cleanliness - good (2)
porters/escalators - good (2)
food - excellent (2)
transportation - excellent (2)
lodging - good (2)
railfanning - excellent (2)
sightseeing - excellent (2)
safety - excellent (2)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 20 News Items  
डुमरांव। निज प्रतिनिधिहोली पर महानगरों से परदेशियों का अपने गांव लौटने का सिलसिला शुरु हो गया है। लेकिन यात्रियों की संख्या के अनुरूप ट्रेनों का परिचालन नहीं होने से सफर मुश्किलों के बीच पूरा हो रहा है।सुबह मे पटना से पंडित दीनदयाल उपाध्याय के बीच यात्रियों का सफर काफी परेशानियों के बीच पूरा हो रहा है।रोजी रोटी के लिए परदेशों में रहते है लोगः डुमरांव अनुमंडल के साठ प्रतिशत गांवों के लोग महानगरों में रहकर रोजी रोटी कमाते है।घर से दूर रहकर परिवार के लिए रोटी का इंतजाम करने वाले परदेशी होली और छठ पर अपनो के बीच आने को बेताब रहते है।होली में अब कुछ ही दिन शेष रह गये है।परदेशी विभिन्न ट्रेनों से घर लौटने लगे है।डुमरांव में दिल्ली से आने वाली श्रमजीवी एक्सप्रेस और दादर से गौहाटी को जाने वाली एक मात्र ट्रेन का ठहराव हो रहा है। ऐसे में आरा,बकसर और पटना से पुनः पैसेंजर पर...
more...
सवार होकर परदेशी अपने गांव पहुंच रहे हैं।तीन जोडी पैसेंजर का परिचालनपटना से पंडित दीन दयाल स्टेशनों के बीच पहले एक जोडी पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन हो रहा है।बक्सर से सुबह 4.55 बजे बक्सर से फतुहा के बीच 03262 डाउन शटल ट्रेन और पटना से डीडीयू के बीच को एकमात्र पैसेंजर 03229 और 03230 का परिचालन हो रहा था। अब आठ मार्च से रेलवे ने दो जोडी स्पेशल पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन शुरु किया है। पटना से पंडित दीनदयाल स्टेशन के बीच 03203/03204 स्पेशल पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन शुरु हुआ है।यह ट्रेन पंडित दीनदयाल स्टेशन से 08.15 बजे खुलकर 16.50 पटना पहुंचती है। पटना से 12.35 में खुलकर 20. 30 में पंडित दीनदयाल स्टेशन पहुंचती है।धनबाद सहित महानगरों से आने वाले परदेशी सुबह में पटना से 03229 से सफर कर रहे है।दैनिक यात्रियों के साथ अन्य लोगों की भीड से ट्रेनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है। लोगों का कहना है कि यदि रेलवे पटना से बनारस के बीच चलने वाली 63233अप और 63226 डाउन का परिचालन शुरु कर दे ,तो सफर आसान हो जाएगा।स्टेशन पर जांच की व्यवस्था नहींमहानगरों से गांव पहुंचने वाले यात्रियों के लिए डुमरांव और रघुनाथपुर स्टेशनों पर थर्मल स्क्रीनिंग तक की व्यवस्था नहीं है।पैसेंजर ट्रेनों में भीड इतनी हो रही है कि पैर रखने की जगह नहीं मिल रही है। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग के पालन की बात करना बेमानी होगी।ट्रेनों में सफर के दौरान आधा से अधिक यात्री मास्क का भी इस्तेमाल नहीं कर रहे है। यात्रियों का कहना है कि होली जैसे पर्व के मद्देनजर रेलवे को पैसेजर ट्रेनों की संख्या बढानी चाहिए। ताकि कोरोना के संक्रमण का खतरा कम हो सके।
Mar 03 (11:43) स्टेशन और ट्रेनों में कोरोना गाइड लाइन का नहीं हो रहा पालन (www.livehindustan.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
7582 views

News Entry# 442042  Blog Entry# 4894522   
  Past Edits
Mar 03 2021 (11:43)
Station Tag: Dumraon/DURE added by Anupam Enosh Sarkar/401739
डुमरांव। निज प्रतिनिधिकोरोना के कहर से डुमरांव अनुमंडल का इलाका भले ही उबर गया है। लेकिन लागातार बरती जा रही लापरवाही आबादी पर भारी पड सकता है।पटना से डीडीयू के बीच चलने वाली एकमात्र पैसेंजर ट्रेन में इतनी भीड हो रही है कि सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड रही है।अस्सी प्रतिशत लोग वगैर मास्क के सफर कर रहे है।एकमात्र पैसेंजर पर बढा यात्रियों का दबाव ः पटना से पंडित दीन दयाल स्टेशन को एकमात्र पैसेंजर 03229 और 03230 का परिचालन हो रहा है। इस ट्रेन से हर दिन काफी संख्या में यात्री पटना से बक्सर के बीच सफर करते है।एकमात्र ट्रेन होने के कारण डिब्बों में इतनी भीड होती है कि पैर रखने की जगह नहीं मिलती है।उस पर लगभग अस्सी प्रतिशत यात्री वगैर मास्क के सफर कर रहे है।कोरोना गाइड लाइन का पालन नहीं होने के कारण कोरोना का खतरा बढने की संभावना बढने लगी है।यात्रियों ने कहा कि भीड...
more...
को कम करने के लिए रेलवे एक और ट्रेन का परिचालन शुरु करे। ताकि यात्रियों को राहत मिल सके।बाहर से आने वालों की नहीं हो रही जांचः कोरोना प्रभावित राज्यों से यहां आने वाले यात्रियों की जांच नहीं हो रही है।शुरुआती दौर में श्रमजीवी और अन्य ट्रेनों से सफर करने वालों की थर्मल स्क्रीनिंग होती थी। लेकिन यह सबकुछ काफी दिनों से बंद है।रेलवे के अधिकारिक सूत्रों का कहना है कि सफर करने वाले हर यात्री को कोरोना गाइड लाइन का पालन करना है।लेकिन छोटे स्टेशनों पर गाइड लाइन के पालन में लापरवाही बरती जा रही है। डुमरांव में श्रमजीवी,फरक्का एक्सप्रेस और दादर गौहाटी का ठहराव होता है। कोरोना प्रभावित राज्यों से यात्री इन ट्रेनों से पहुंच रहे है। होली में भी काफी संख्या में यात्री परदेश से लौटेगें। ऐसे में कोरोना संक्रमण का खतरा बढने की संभावना है।अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कोरोना गाइड लाइन के पालन कराने की दिशा में कार्रवाई होगी।
ब्रेक बाइंडिंग से 02391 अप श्रमजीवी एक्सप्रेस के ईंजन में आग लग गयी। आग लगते ही तेज धुंआ उठने लगा। यात्री भी भयवश डिब्बों से बाहर निकल गये। देखते-देखते डुमरांव स्टेशन पर भीड़ जमा हो गयी। रेलकर्मी आग बुझाने में लग गये। पच्चीस मिनट के बाद आग पर काबू पा लिया गया। जानमाल की कोई क्षति नहीं हुई। डुमरांव अप मेन लाइन पर श्रमजीवी के खड़ा रहने के कारण अप में लगभग डेढ घंटों तक परिचालन प्रभावित रहा। लगभग 45 मिनट बाद ट्रेन को बक्सर के लिए रवाना की गई। लेकिन , बक्सर में भी धुआं उठने के कारण यहां भी गाड़ी के इंजन को खड़ा करना पड़ा। बिहियां स्टेशन से उठने लगा था धुंआबिहियां स्टेशन से ट्रेन के रवाना होते ही ब्रेक बाइंडिंग के कारण तेज धुंआ निकलने लगा था। बताया गया कि पहिया में घर्षण के कारण ब्रेक बाइंडिंग होता है। धुंआ उठने के साथ ही कुछ यात्रियों ने इसकी...
more...
सूचना कंट्रोल को दी थी। धुंआ उठने की खबर से कंट्रोल में हड़कंप की स्थिति हो गयी। डुमरांव में खड़ा होते ही धुंआ के साथ ईंजन के निचले भाग से आग की लपटें उठने लगीं। तुरंत श्रमजीवी को डुमरांव में रोक दिया गया। यात्रियों के बीच भी भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो गयी।हटाया गया इलेक्ट्रिक ट्रैक्शनइंजन से आग की लपट उठने के कारण इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन को लाइन से हटकर इंजन को बंद किया गया। डुमरांव स्टेशन से अग्निशमन लाकर आग को बुझाया गया। आग से किसी प्रकार की क्षति नहीं हुई। यात्री के साथ अन्य लोग सशंकित हो उठे थे। स्टेशन पर लोगों की भीड़ जमा हो गयी थी। इस दौरान लगभग 45 मिनट तक श्रमजीवी एक्सप्रेस डुमरांव स्टेशन के मेन लाइन पर खडी रही। बाद में, कंट्रोल के निर्देश पर ट्रेन को बक्सर के लिए रवाना किया गया। धीरे-धीरे ट्रेन को बक्सर में तीन नंबर प्लेटफार्म पर लिया गया। रेल के अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि डीडीयू से मंगाये गये ईंजन को जोड़कर ट्रेन को दिल्ली के लिए रवाना किया। इस दौरान लगभग तीस मिनट तक ट्रेन बक्सर स्टेशन पर खड़ी रही। अप में डेढ घंटे ठप रहा परिचालनश्रमजीवी एक्सप्रेस में ब्रेक बाइंडिंग के कारण अप लाइन में ट्रेनों की गति थम गयी थी। अप मेन लाइन जाम रहने के कारण पटना कोटा रघुनाथपुर और लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस टूडीगंज स्टेशन पर खडी रही। ब्रेक बाइंडिंग के कारण अप लाइन में लगभग डेढ घंटे तक परिचालन प्रभावित हुआ था।ईंजन में आग लगने की घटना से श्रमजीवी के यात्री भयभीत और काफी परेशान दिख रहे थे। जीआरपी के डुमरांव पोस्ट प्रभारी सुनील कुमार सिंह ने बताया कि किसी प्रकार की क्षति नहीं हुई है। ड्राइवर और कर्मियों की सूझबूझ से इंजन में आग फैलने से पहले काबू पा लिया गया।
पटना/बक्‍सर, जागरण संवाददाता। Fire in Shramjivi Express: राजगीर से नई दिल्‍ली जा रही 02391 श्रमजीवी एक्‍सप्रेस स्‍पेशल (Rajgir-New Delhi Shramjivi Express Special) के इंजन में शनिवार को आग लग गई। यह हादसा पटना जंक्‍शन (Patna Junction) से आगे आरा जंक्‍शन (Ara Junction) और बक्‍सर (Buxar) के बीच डुमरांव (Dumraon) स्‍टेशन के पास हुआ। इस हादसे की वजह से ट्रेन को आधे घंंटे तक डुमरांव स्‍टेशन पर ही खड़ा रखना पड़ा। स्‍टेशन पर मामूली मरम्‍मत के बाद ट्रेन को आगे रवाना किया गया। बताया जा रहा है कि इस हादसे से इंजन को मामूली क्षति पहुंची है। डुमरांव स्‍टेशन पर ट्रेन को रोककर बुझाई गई आग राजगीर से पटना, पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय जंक्‍शन, वाराणसी, लखनऊ, बरेली, मुरादाबाद, गाजियाबाद के रास्‍ते नई दिल्‍ली तक जाने वाली इस ट्रेन का डुमरांव स्‍टेशन पर 17वां पड़ाव है। ट्रेन के डुमरांव पहुंचने से ठीक पहले इंजन के पास से धुआं निकलता देखा गया। इससे पहले कि...
more...
आग बढ़ पाती, ट्रेन स्‍टेशन पर पहुंच गई। इसके बाद ट्रेन के ड्राइवर ने इंजन में रखे अग्निशमन यंत्र के जरिये आग पर काबू पाया। ट्रेन यहां अपने निर्धारित समय से करीब 25 मिनट विलंब से दोपहर 12.25 बजे पहुंची थी। हादसे के कारण दो मिनट के ठहराव वाले इस स्‍टेशन पर ट्रेन को करीब आधा घंटा तक रोकना पड़ा। यहां से ट्रेन एक घंटा विलंब से दोपहर एक बजकर छह मिनट पर आगे की यात्रा के लिए रवाना हुई। ब्रेक बाइंडिंग के कारण लगी थी आग बताया जा रहा है कि ट्रेन में आग लगने की वजह ब्रेक बाइंडिंग है। इंजन के किसी पहिए में ब्रेक बाइंडिंग की वजह से पहले धुआं निकला और बाद में चिंगारियां निकलने लगीं। इस हादसे में ट्रेन को अधिक नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन ट्रेन के यात्री थोड़ी देर के लिए जरूर सहम गए। करीब एक घंटे के विलंब के बाद जब ट्रेन डुमरांव से खुली तो यात्रियों ने राहत की सांस ली।
Jan 22 (08:02) परेशानी:डुमरांव स्टेशन के शौचालय में लटका रहता है ताला, महिला यात्री परेशान (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
5723 views

News Entry# 434489  Blog Entry# 4852886   
  Past Edits
Jan 22 2021 (08:02)
Station Tag: Dumraon/DURE added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Dumraon/DURE  
शौचमुक्त भारत के नारे के बीच रेलवे स्टेशन डुमरांव में बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए शौचालय जाना परेशानी का सबब बन जाता है। क्योंकि जैसे ही वह शौचालय के पास पहुंचते है तो गेट पर लगा ताला उनकी परेशानी में ओर इजाफा कर खुले में शौच जाने के लिए मजबूर कर देता है। ऐसे में यात्रियों को शौचालय जाने के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।
यात्रियों जे अनुसार अक्सर डुमरांव स्टेशन के शौचालय में ताला लटका रहता है ऐसे में पुरुष यात्रियों को खुले में शौच का सहारा लेना पड़ता है। जबकि महिला यात्रियों के लिए शौचालय के बंद गेट परेशानी का कारण बन सकते हैं। बाहर से आने वाले लोग शौचालय पर ताला लगा देख इधर-उधर
...
more...
पेशाब करने पर मजबूर हो जाते हैं।
हैरानी की बात तो यह है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से भारत देश को खुले में शौच से मुक्त बनाने के लिए की जारी रही बार-बार अपील के बाद इन अधिकारियों के सामने कोई खास मायने नजर रहीं आ रहे। जबकि जिले के आला अधिकारी जिले को खुले में शौच से मुक्त करने में पहल हासिल करने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं।
जिसके लिए संबंधित विभाग की ओर से समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से सेमिनार आदि करवा कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। जिन लोगों के घरों में शौचालय की सुविधा उपलब्ध नहीं है। उन्हें सरकार की ओर से शौचालय की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। कोई लोग खुले में शौच से मुक्त हो ताकि बीमारियों को दूर कर डुमरांव को स्वच्छ बनाया जा सके। परन्तु रेलवे स्टेशन पर ठीक इसके उल्टा देखने को मिला जबकि तस्वीर लेते समय दोपहर के साढ़े बारह बज रहे थे।
कहते है स्टेशन प्रबंधक
इस संबंध में डुमरांव स्टेशन प्रबन्धक ने बताया कि शौचालय को प्राइवेट ठेकेदार के जिम्मे दिया गया है। इसकी जांच की जाएगी।
Page#    Showing 1 to 20 of 20 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy