Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

For RailFans, seeing RAC-1/2/3 in Mumbai-UP Trains is more exciting than Election Results - rdb

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Tue Nov 30 17:11:17 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 1709067-0

MTJL/Motijheel (2 PFs)
     मोतीझील

Track: Narrow Gauge

Show ALL Trains
National Highway 3, Gwalior
State: Madhya Pradesh

Elevation: 210 m above sea level
Zone: NCR/North Central   Division: Jhansi

No Recent News for MTJL/Motijheel
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 11 of 11 News Items  
Sep 07 (12:14) Gwalior Railway News: ग्वालियर-इटावा रेलवे ट्रैक पर दाैड़ेगा इलेक्ट्रिक इंजन, नैराेगेज का ट्रैक भी हटेगा (www.naidunia.com)
IR Affairs
NCR/North Central
0 Followers
32728 views

News Entry# 464197  Blog Entry# 5060895   
  Past Edits
Sep 07 2021 (12:14)
Station Tag: Udi Mor Junction/UDMR added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 07 2021 (12:14)
Station Tag: Motijheel/MTJL added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 07 2021 (12:14)
Station Tag: Sheopur Kalan/SOE added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 07 2021 (12:14)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 07 2021 (12:14)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Adittyaa Sharma/1421836
Gwalior Railway News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। 117 साल पुरानी ग्वालियर से श्योपुर के बीच चलने वाली नैरोगेज ट्रेन की पटरी को अब हटाया जाएगा। इसका आदेश रेलवे बोर्ड से मंडल के अफसरों को मिल चुका है। जल्द ही मोतीझील से श्योपुर के बीच पटरी हटाने का कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा। ग्वालियर से श्योपुर के बीच यह लाइन 1904 में डाली गई थी, जो ग्वालियर-श्योपुर के बीच बसे 200 गांव के लोगों के लिए आवागमन का साधन थी, लेकिन अगस्त 2021 में आई बाढ़ के कारण उफान पर आई नदियों का तेज बहाव कुछ स्थानों पर नैरोगेज ट्रैक के नीचे से जमीन(मिट्टी) को अपने साथ ले गया। रेलवे ने अब इस लाइन का संधारण कराने की अपेक्षा इसे हटाने का निर्णय लिया है जिससे ब्राडगेज के काम में तेजी आ सके। वहीं ग्वालियर से इटावा के बीच लाइन पर लंबे समय से चल रहे इलेक्ट्रिकल का काम लगभग पूरा हो...
more...
गया है। सोमवार-मंगलवार की रात उदी मोड़ तक इलेक्ट्रिकल इंजन चलाकर ट्रायल लिया जाएगा। सब कुछ ठीक रहा तो चीफ कमिश्नर रेलवे द्वारा इसका निरीक्षण किया जाएगा। अभी तक इस लाइन पर डीजल इंजन दौड़ता था।
डेढ़ साल से बंद है नैरोगेज ट्रेनः मार्च 2020 में कोरोना की दस्तक के साथ ही नैरोगेज का संचालन बंद कर दिया गया था। इसके बाद से इस लाइन पर नैरोगेज नहीं दौड़ी, जबकि इस ट्रेन के सहारे लोग श्योपुर से ग्वालियर की यात्रा कम दाम में आसानी से तय कर लेते थे। इस लाइन पर तीन गाड़ियों का संचालन हो रहा था। शहर के नैरोगेज ट्रैक को रेलवे ने प्रशासन को सौंप दिया गया है।
नैरोगेज से ब्रॉडगेज में तेजी से होगा परिवर्तनः गेज परिवर्तन को लेकर पिछले 20 साल से कवायद चल रही है। गेज परिवर्तन को लेकर कई बार राजनीतिक आंदोलन, धरना प्रदर्शन तक हो चुके हैं। हार बार ब्राडगेज का किसी ने विरोध किया तो किसी ने इसका सपोर्ट किया। धरोहर के तौर पर इसे पुरानी छावनी तक चलाने की बात भी रखी गई। पर्यटन के लिहाज से वर्ष 2015-16 में 10 लाख रुपये खर्च कर दो कोच भी तैयार किए गए थे, लेकिन यह दो कोच टूरिस्ट को लेकर तो ट्रैक पर नहीं दौड़ सके। हालांकि इन कोच से दो बार अफसर निरीक्षण जरूर कर आए हैं। ब्राडगेज लाइन का सर्वे कार्य कई बार हो चुका है। हर बार थोड़ा-बहुत फंड भी जारी हुआ और रेलवे द्वारा ब्राडगेज तैयार करने की दिशा में ठोस कदम भी उठाया।
वर्जन-
नैरोगेज लाइन का संधारण नहीं किया जाएगा, अब उसे हटाया जाएगा। जिससे ब्राडगेज का काम तेजी से हो सके। यह निर्णय रेलवे द्वारा लिया गया है। जल्द ही लाइन हटाने का काम शुरू कर दिया जाएगा। ग्वालियर-इटावा लाइन पर इलेक्ट्रिकल का काम लगभग पूरा हो चुका है। जल्द ही ट्रायल के बाद डीजल इंजन का परिचालन बंद कर दिया जाएगा।
मनोज कुमार सिंह जनसंपर्क अधिकारी रेलवे

Rail News
28202 views
Sep 07 (12:34)
भारतवर्ष
333~   5296 blog posts
Re# 5060895-1            Tags   Past Edits
1 compliments
शायद हुआ है
Gwalior-Sheopur ko budget bhi allot hua hai ya nahi?

Rail News
27685 views
Sep 07 (13:08)
Need stoppage of Singrauli Exp
aryan89~   1395 blog posts
Re# 5060895-2            Tags   Past Edits
Abb umeed hai. Isi mahine CRS ho jaye
Mar 15 (12:10) Gwalior Railway News Inspection done to explore possibility of running Nerogage (newsbox9.com)
Tourism
NCR/North Central
0 Followers
26629 views

News Entry# 444951  Blog Entry# 4907993   
  Past Edits
Mar 15 2021 (12:10)
Station Tag: Motijheel/MTJL added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Mar 15 2021 (12:10)
Station Tag: Ghosipura/GOPA added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Mar 15 2021 (12:10)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688
Gwalior Railway News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नेरोगेज ट्रेन को शहर में चलाने की संभावनाआें को तलाशने के लिए पर्यटन विभाग की टीम ग्वालियर आई। टीम ने नेरोगेज का निरीक्षण किया साथ ही घोसीपुर, व मोतीझील स्टेशनों का भी निरीक्षण किया।
रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार पर्यटन विभाग की टीम रेलवे स्टेशन पहुंची। वहां पर उन्होंने नेरोगेज ट्रेन का निरीक्षण किया।साथ ही उसके इंजन को भी देखा। इसके बाद टीम के सदस्यों ने पैदल पटरी पर चलकर उसका निरीक्षण किया। इसके बाद वह घोसीपुरा व मोतीझील रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। अब पर्यटन विभाग के अधिकारी रेलवे अधिकारियों से बात करेंगे। गाैरतलब है कि नेराेगेज काे ब्राडगेज में बदला जा रहा है, एेसे में रेलवे नेराेगेज का संचालन बंद करने का मूड बना
...
more...
चुका था। इसके चलते राज्यसभा सदस्य ज्याेतिरादित्य सिंधिया ने नेराेगेज ट्रेन का शहरी क्षेत्र में संचालन करने का प्राेजेक्ट तैयार करने के निर्देश जिला प्रशासन काे दिए थे। प्रशासन इसमें रेलवे का भी सहयाेग ले रहा है।
मेवाती मोहल्ले से 10 साल का किशोर गायब, अपहरण का मामला दर्जः ग्वालियर थाना क्षेत्र स्थित मेवाती मोहल्ले से 10 साल का किशोर खेलते-खेलते शुक्रवार को गायब हो गया। किशोर के गायब होने की सूचना पिता कंजे पुत्र अमजद खान ने पुलिस को दी। पिता ने बताया कि दोपहर के समय उनका बेटा छत पर खेल रहा था। अचानक कब घर से निकल गया, पता नहीं चला। किशोर को काफी तलाश किया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। पुलिस ने किशोर को बहला-फुसलाकर ले जाने वाले अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस किशोर की तलाश कर रही है।
Mar 15 (09:00) शहर के अंदर 8 किलोमीटर में मेट्रो बनकर दौड़ेगी नैरो गेज (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
32280 views

News Entry# 444902  Blog Entry# 4907852   
  Past Edits
Mar 15 2021 (09:00)
Station Tag: Ghosipura/GOPA added by Bruno/1806106

Mar 15 2021 (09:00)
Station Tag: Motijheel/MTJL added by Bruno/1806106

Mar 15 2021 (09:00)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Bruno/1806106
ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि| शहर के अंदर 8 किलोमीटर में अब मेट्रो के रूप में नैरोगेज ट्रेन दौड़ेगी। इस ट्रेन को चलाने के लिए दो दिन से भारतीय रेलवे स्टेशन विकास कारपोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों ने पटरियों का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने रविवार को सीइओ जिला पंचायत किशोर कानयाल के साथ बैठक की। बैठक में उन्होंने प्राथमिक तौर पर योजना को तैयार किया है। इसमें ट्रेन करीब 5 स्थानों पर रूकेगी जिससे इसमें बैठने वाले पर्यटक शहर की पुरातत्व एवं पर्यटन क्षेत्रों का भ्रमण कर सकें।
शहर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए फिर से नैरोगेज पटरियों पर दौड़ेगी। इस ट्रेन को शहर के पर्यटन एवं ऐतिहासिक क्षेत्रों में रोका जाएगा जहां पर पर्यटन भ्रमण करने एवं शहर को घूम सकें।
...
more...
इसके साथ ही ट्रेन का स्टापेज ऐसे स्थानों पर किया जाएगा जहां पर दो किलोमीटर के घेरे में पर्यटन अथवा पुरातत्विक स्थल हो।
यह पर रहेगा स्टापेज
लक्ष्मीबाई समाधि:- नैरोगेज ट्रेन प्लेटफॉर्म क्रमांक 4 से संचालित की जाएगी। नैरोगेज ट्रेन लक्ष्मीबाई समाधि के पीछे से गुजरेगी। इसके चलते पहला स्टापेज लक्ष्मीबाई समाधि के पीछे होगा। यहां पर पर्यटक लक्ष्मीबाई समाधि स्थल और गंगादास की बड़ी शाला के दर्शन कर 1857 के इतिहास को जान सकेंगे।
गोपाचल पर्वत
नैरोगेज का दूसरा स्टापेज गोपाचल पर्वत के पास स्मार्ट सिटी के सेल्फी पाइंट पर रहेगा। यहां पर पर्यटक चौपाटी, फूलबाग, चिड़ियाघर, बारादरी, बैजाताल, जयविलास पैलेस, मोतीमहल, नगर निगम का संग्रहालय, आदि का भ्रमण कर सकेंगे।
घ्ाोसीपुर स्टेशन
नैरोगेट ट्रेन का तीसरा स्टापेज घोसीपुरा स्टेशन पर होगा, जहां पर लोग सत्यनारायण की टेकरी पर पहुंचकर पर्वत से शहर का नजारा कर सकेंगे।
बहोड़ापुर स्टेशन
इसके बाद बहोडापुर स्टेशन पर ट्रेन का स्टापेज रहेगा, यहां पर लोग गरगज के हनुमान मंदिर, जनकताल, आदि का भ्रमण कर सकेंगे।
मोतीझील
नैरोगेज का अंतिम स्टेशन मोतीझील पर रहेगा। यहां पर पर्यटक पुराने पानी सयंत्र को देख सकेंगे। साथ ही शहर में आने वाले पानी को साफ करने की प्रक्रिया को भी देख सकेंगे। साथ ही यहां पर गुलाब पार्क का भी आनंद लिया जा सकेगा।
वर्जन
प्राथमिक तौर पर पांच पाइंटों पर ट्रेन को रोकने की योजना बनाई जा रही है। यहां पर लोग पर्यटन को भी देख सकेंगे।
किशोर कानयाल
सीइओ जिला पंचायत
ग्वालियर की पहचान बनकर दुनिया में प्रसिद्ध हुई नैरोगेज ट्रेन को भले ही श्योपुर और विजयपुर के लिए बंद कर दिया गया है, लेकिन अब नैरोगेज के डिब्बे सिटी ट्रेन के रूप में ग्वालियर में चलाए जा सकते हैं। रेल मंत्रालय से आई रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (आईआरएसडीसी) की टीम ने दो दिन शहर में रहकर इसे सिटी ट्रेन के रूप में चलाने की संभावनाओं को टटोला।
सर्वे के बाद रविवार को बालभवन में प्रशासनिक अफसरों के साथ हुई बैठक में टीम के अफसरों ने बताया कि ग्वालियर स्टेशन से मोतीझील तक 4 स्टेशन तैयार कर नैरोगेज को सिटी ट्रेन के तौर पर चला सकते हैं। प्रत्येक 2 किमी की दूरी पर एक स्टेशन रहेगा। अभी ग्वालियर, घोसीपुरा और मोतीझील स्टेशन है।
...
more...

इस तरह से सिर्फ एक नया स्टेशन बनाने की जरूरत होगी। ट्रेन को किस तरह चलाया जाएगा, इसकी जिम्मेदारी कौन उठाएगा? यह अभी तक तय नहीं हो सका है। दिल्ली से आई टीम में आईआरएसडीसी की डीजीएम (अर्बन) पारोमिता राय भी शामिल थीं।
ग्वालियर-श्योपुर के बीच 6 नैरोगेज ट्रेन चलती थीं। पिछले साल इस रूट के नैरोगेज ट्रैक को उखाड़कर ब्रॉडगेज करने का ठेका हो चुका है। रियासतकाल में इसी तरह की नैरोगेज ट्रेन शहर के अंदर चलती थी। इसी बात को ध्यान में रखते हुए दैनिक भास्कर ने 6 अगस्त 2018 को पहली बार यह मुद्दा उठाया था कि नैरोगेज ट्रेन के ट्रेक का उपयोग शहर की यातायात समस्या के समाधान के लिए सिटी ट्रेन चलाकर किया जा सकता है।राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पिछले महीने जिला प्रशासन के अफसरों के साथ हुई बैठक में भी इस बारे में चर्चा की थी। सिंधिया ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि नैरोगेज ट्रेन को शहर में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए हैरिटेज ट्रेन के रूप में चलाने की अनुमति दी जाए। इसके बाद कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने इंडियन रेलवे डवलपमेंट कार्पोरेशन के अफसरों के साथ चर्चा की, जिसमें तय किया गया कि नैरोगेज ट्रेन को सिटी ट्रेन के रूप में चलाया जाना चाहिए।
फूलबाग और मोतीझील को विकसित किया जाएगा
आईआरएसीडीसी की टीम ने सुझाव दिया है कि नैरोगेज ट्रेन को टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए सिटी ट्रेन के तौर पर चलाया जा सकता है। जिला पंचायत सीईओ किशोर कान्याल ने बताया कि बैठक में इस बात पर भी चर्चा हुई कि फूलबाग, मोतीझील और कटीघाटी को पर्यटक स्थल के रूप में िवकसित कर सकते हैं ताकि यहां पर्यटन बढ़ सके।
116 साल पुरानी विरासत बची रहेगी
शहर में नैरोगेज ट्रेन 1905 में शुरु हुई थी। तब ग्वालियर से कंपू कोठी और मुरार के बीच चलती थी। तत्कालीन शासक माधोराव सिंधिया ने इसका निर्माण करवाया था। लश्कर, मुरार और हजीरा तीनों उपनगरों को ग्वालियर से जोड़ने वाली इस ट्रेन को बाद में श्योपुर और विजयपुर के लिए चलाया गया था। ग्वालियर से श्योपुर के बीच लगभग 210 किलोमीटर लंबे ट्रेक पर अब यह ट्रेन बंद हो चुकी है। वहां ब्राडगेज ट्रेक पर काम चल रहा है।

Rail News
28519 views
Mar 15 (09:24)
Need stoppage of Singrauli Exp
aryan89~   1395 blog posts
Re# 4907789-1            Tags   Past Edits
Great news... Ye chalna chahiye
Mar 14 (18:30) नेरोगेज को चलाने की संभावना तलाशने किया निरीक्षण (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
32114 views

News Entry# 444767  Blog Entry# 4907487   
  Past Edits
Mar 14 2021 (18:30)
Station Tag: Motijheel/MTJL added by Bruno/1806106

Mar 14 2021 (18:30)
Station Tag: Ghosipura/GOPA added by Bruno/1806106

Mar 14 2021 (18:30)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Bruno/1806106
ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नेरोगेज ट्रेन को शहर में चलाने की संभावनाआें को तलाशने के लिए पर्यटन विभाग की टीम ग्वालियर आई। टीम ने नेरोगेज का निरीक्षण किया साथ ही घोसीपुर, व मोतीझील स्टेशनों का भी निरीक्षण किया।
रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार पर्यटन विभाग की टीम रेलवे स्टेशन पहुंची। वहां पर उन्होंने नेरोगेज ट्रेन का निरीक्षण किया।साथ ही उसके इंजन को भी देखा। इसके बाद टीम के सदस्यों ने पैदल पटरी पर चलकर उसका निरीक्षण किया। इसके बाद वह घोसीपुरा व मोतीझील रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। अब पर्यटन विभाग के अधिकारी रेलवे अधिकारियों से बात करेंगे। गाैरतलब है कि नेराेगेज काे ब्राडगेज में बदला जा रहा है, एेसे में रेलवे नेराेगेज का संचालन बंद करने का मूड बना चुका था। इसके
...
more...
चलते राज्यसभा सदस्य ज्याेतिरादित्य सिंधिया ने नेराेगेज ट्रेन का शहरी क्षेत्र में संचालन करने का प्राेजेक्ट तैयार करने के निर्देश जिला प्रशासन काे दिए थे। प्रशासन इसमें रेलवे का भी सहयाेग ले रहा है।
Page#    Showing 1 to 11 of 11 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy