Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Vivek Express: ऊंचे नीचे रास्ते और मंज़िल तेरी दूर.

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sun Jun 20 19:31:05 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 4602187-0

NPRD/Nagpur Road (1 PFs)
     नागपुर रोड

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
Koria
State: Chhattisgarh


Zone: SECR/South East Central   Division: Bilaspur

No Recent News for NPRD/Nagpur Road
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 1
Number of Halting Trains: 8
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 6 of 6 News Items  
May 27 (06:40) लोकसभा सांसद को पत्र:नागपुर चिरमिरी रेल लाइन के लिए बजट रिलीज करने की मांग (www.bhaskar.com)
Politics
SECR/South East Central
0 Followers
3365 views

News Entry# 452838  Blog Entry# 4970407   
  Past Edits
May 27 2021 (06:40)
Station Tag: Nagpur Road/NPRD added by Adittyaa Sharma/1421836

May 27 2021 (06:40)
Station Tag: Chirimiri/CHRM added by Adittyaa Sharma/1421836

May 27 2021 (06:40)
Station Tag: Manendragarh/MDGR added by Adittyaa Sharma/1421836
प्रदेश कांग्रेस कमेटी विधि प्रकोष्ठ के उपाध्यक्ष अधिवक्ता रमेश सिंह ने कोरबा लोकसभा सांसद ज्योत्सना चरण दास महंत को पत्र लिखकर नागपुर-चिरमिरी न्यू रेल लाइन को जोड़ने के लिए राज्य शासन से उसके लागत मूल्य का हिस्सा दिलाने की मांग की है।
कांग्रेस नेता सिंह ने अपने पत्र में कहा कि डॉ. चरण दास महंत जब केंद्रीय मंत्री थे, उस दौरान उन्होंने रेल मंत्रालय से नागपुर रेलवे स्टेशन से पाराडोल रेलवे स्टेशन को रेल लाइन से जोड़ने की स्वीकृति दिलाई थी। जिसका लागत मूल्य 242 करोड़ रुपए है। इस परियोजना के लिए रेल मंत्रालय 50 प्रतिशत राशि खर्च करेगा व 50 प्रतिशत राशि 121 करोड़ राज्य शासन के हिस्से की है।
रेलवे
...
more...
इस परियोजना को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए तत्पर है। इस योजना के पूरा होने का लाभ मनेंद्रगढ़ व चिरमिरी के निवासियों को मिलेगा व अंबिकापुर, अनूपपुर मुख्य रेल लाइन से यह क्षेत्र जुड़ जाएगा, जिसका लाभ क्षेत्र के विकास में होगा। राज्य शासन की ओर से अभी तक अपने हिस्से की राशि देने की स्वीकृति नहीं दी गई है।
May 30 2019 (18:11) प्रोजेक्ट पूरा होने पर 15 ट्रेन गुजरेंगी चिरमिरी व मनेंद्रगढ़ से क्षेत्र को स्थायित्व व लांग रूट की ट्रेनों के लिए कनेक्टिविटी (www.bhaskar.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
19743 views

News Entry# 383079  Blog Entry# 4330190   
  Past Edits
May 30 2019 (18:11)
Station Tag: Manendragarh/MDGR added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

May 30 2019 (18:11)
Station Tag: Nagpur Road/NPRD added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

May 30 2019 (18:11)
Station Tag: Chirimiri/CHRM added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

May 30 2019 (18:11)
Station Tag: Baikunthpur Road/BRH added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
भास्कर संवाददाता | बैकुंठपुर
9 दशक बाद क्षेत्र से लंबी दूरी की ट्रेन चलाने के प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो गया है। इससे क्षेत्र को स्थायित्व और विकास को गति मिलेगी। इसी प्रोजेक्ट के सिलसिले में बुधवार को बिलासपुर रेलवे विभाग से 7 सदस्यीय टीम चिरमिरी-नागपुर के बीच 10.5 किमी लंबी नई रेल लाइन का सर्वे करने पहुंची। इस नई रेल लाइन के बिछाने में आने वाली परेशानियों और तकनीकी कमियों को दूर कर के जल्द से जल्द काम शुरू करना अधिकारियों का उद्देश्य हैं। इस नए रेल लाइन के लिए बीते एक दशक से लगातार चिरमिरी और मनेंद्रगढ़ के नागरिकों की मांग पर यह प्रोजेक्ट शुरू कराया गया है, यह मांग अब हकीकत में बदलती दिख रही है। इस रेल
...
more...
लाइन के तैयार हो जाने के बाद लगभग 15 से अधिक ट्रेनें चिरमिरी से होकर बड़े शहरों के लिए गुजरेंगी। अलग-अलग संगठन और राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों द्वारा मांग की जा रही थी।
भास्कर ने चिरमिरी से लगातार लोगों के हो रहे पलायन और बड़े शहरों से रेल कनेक्टिविटी को लेकर लगातार सांसद, मंत्री और विधायक से इस संबंध में चर्चा की थी। इस कारण पहले साल 2015-16 में चिरमिरी से नागपुर के बीच सर्वे कराया गया और फिर 69 करोड़ का डीपीआर तैयार कराया गया था। मिली जानकारी के अनुसार अब इस प्रोजेक्ट की लागत 241 करोड़ पहुंच गई हैं। इस परियोजना को पूरा करने में रेलवे व राज्य सरकार के द्वारा 50-50 प्रतिशत वहन किया जाएगा। इसमें चिरमिरी डीएमएफ का शेयर भी होगा।
2013 में पहला सर्वे हुआ, 2015-16 में बना था 69 करोड़ का डीपीआर, प्रोजेक्ट में 241 करोड़ खर्च होंगे
दो लाख आबादी को व्यापार, मेडिकल और शिक्षा सहित अन्य सुविधाएं मिलेंगी
अंबिकापुर से चलने वाली ट्रेन नागपुर-चिरमिरी-मनेंद्रगढ़ होते हुए सभी गाड़ियां बड़े शहरों के लिए गुजरेंगी। इससे चिरमिरी, मनेंद्रगढ़ की दो लाख आबादी को सीधा लाभ मिलेगा। इस रेल लाइन के चालू होने से व्यापार, मेडिकल, शिक्षा सहित अन्य सुविधाएं आसानी से मिलेंगी। अब चिरमिरी बिलासपुर के 10 घंटे का सफर कम समय में हो सकेगा। इससे रेलवे को चिरमिरी से चलने वाली माल गाड़ी रेक के संचालन का खर्च कम आएगा। सबसे बड़ी बात व्यापार करना आसान हो जाएगा। बड़े शहरों तक पहुंचने के लिए अभी बिलासपुर या फिर कटनी से ट्रेन कनेक्टिविटी लेनी पड़ती हैं।
एमओयू पर हस्ताक्षर भाजपा सरकार ने किए थे, अब राज्य में कांग्रेस की सरकार
साल 2017 में पूर्व रेल मंत्री पीयूष गोयल और सीएम डाॅ. सिंह के बीच सीएम हाउस में उच्च स्तरीय बैठक हुई थी। इसमें छत्तीसगढ़ से संबंधित कई रेल परियोजनाओं में कोरिया जिले की चिरमिरी-नागपुर के बीच लगभग 80 करोड़ की लागत से 10.5 किमी रेल लाइन बिछाने को लेकर भी एमओयू पर हस्ताक्षर किया गया था। इसमें 50 फीसदी केंद्र और 50 फीसदी राज्य सरकार के द्वारा खर्च करने का प्रावधान भी किया गया था। अब राज्य में कांग्रेस की सरकार हैं। इस रेल लाइन के बनने से सीधे चिरमिरी और मनेंद्रगढ़ जुड़ेगा। इससे क्षेत्र को स्थायित्व भी मिलेगा।
काम पूरा होने के बाद कई रूट की गाड़ियां यहां से गुजरेंगी
रेल लाइन निर्माण के बाद अंबिकापुर से बिलासपुर, दुर्ग व अनूपपुर, जबलपुर रूट पर आने जाने वाली सभी गाड़ियां सीधी चिरमिरी होते हुए गुजरेंगी। सर्वे के लिए बिलासपुर जोन के उपमुख्य अभियंता निर्माण प्रमोद कुमार शाह, सीनियर सेक्शन इंजीनियर कार्य यूएस यादव सहित टीम में अन्य पांच सदस्य शामिल रहे। यहां रेल लाइन बिछाने भूमि अधिग्रहण के संबंध में राजस्व विभाग से सर्वे कराने और कलेक्टर से चर्चा भी किया गया। ज्ञात है कि 1928 में कोयला परिवहन के लिए रेल कोरिया जिले में चलाया गया था।
ट्रेन वाया नागपुर से चिरमिरी होकर जाएंगी
नागपुर से चिरमिरी के बीच कोई स्टेशन नहीं होगा। अंबिकापुर से ट्रेन सीधे चिरमिरी और यहां से मनेंद्रगढ़ जाएगी। 2013 में 100 नए रेल लाइनों के सर्वे कार्य में नागपुर चिरमिरी रेल लाइन का सर्वे हुआ था। इस लाइन के विस्तार पर 70 करोड़ की लागत का डीपीआर रेलवे द्वारा तैयार कर रेलवे बोर्ड को भेजा था।
सितंबर 2018 में किया था भूमिपूजन
विस चुनाव सपहले तात्कालीन भाजपा सरकार के सीएम डाॅ. रमन सिंह, रेल मंत्री पीयूष गोयल, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे बिलासपुर मंडल अंतर्गत चिरमिरी से नागपुर हाल्ट सहित 17 नई रेल लाइन का शिलान्यास किया था।
May 30 2019 (18:09) चिरमिरी-नागपुर रेलवे लाइन के लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य होगा शुरू ……. (munaadi.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
11314 views

News Entry# 383078  Blog Entry# 4330188   
  Past Edits
May 30 2019 (18:09)
Station Tag: Nagpur Road/NPRD added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

May 30 2019 (18:09)
Station Tag: Chirimiri/CHRM added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Chirimiri/CHRM   Nagpur Road/NPRD  
कोरिया से अनूप बड़ेरिया की मुनादी
रेलवे डिवीज़न बिलासपुर के पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य वरिष्ठ अधिवक्ता विजय प्रकाश पटेल ने आचार संहिता के हटते ही चिरमिरी-नागपुर हॉल्ट न्यू रेल लाईन विस्तारीकरण परियोजना के लिये रेलवे बोर्ड एवं रेल मंत्रालय की ओर से भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही हेतु दपू मध्य रेलवे बिलासपुर के उप मुख्य अभियंता निर्माण प्रमोद कुमार शाह एवं सीनियर सेक्शन इंजीनियर कार्य यूएस यादव सहित टीम भेजे जाने पर क्षेत्रवासियों की ओर से आभार व्यक्त किया है।
उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय रेल मंत्रालय और छत्तीसगढ़ शासन के साझा वित्तीय मन्ज़ूरी
...
more...
वाली उपरोक्त रेल-विस्तारीकरण परियोजना को यथाशीघ्र प्रारम्भ करने 24 सितम्बर 2018 को केन्द्रीय रेल मंत्री व तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह द्वारा हरदी बाज़ार कोरबा एवं चिरमिरी रेलवे स्टेशन परिसर में विधिवत् शिलान्यास व शुभारम्भ कर दो वर्ष के भीतर इस परियोजना को पूर्ण कर लिये जाने की सार्वजनिक घोषणा की गई थी। किन्तु इस दौरान लगातार विधानसभा और लोकसभा के चुनावों के कारण आचार संहिता लग जाने से इस दिशा में कोई प्रगति नहीं होने सहित प्रदेश में दूसरे पार्टी की सरकार गठित हो जाने के सर्वत्र निराशा और हताशा का माहौल बन गया था,साथ ही आधा वित्तीय लागत स्वीकृत करने वाली सरकार बदल जाने से शंका के बादल छा गये थे ।
ऐसे में नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित 17 मई को पत्र प्रेषित कर प्रधानमंत्री कार्यालय से हस्तक्षेप की माँग की गई थी,क्योंकि लम्बी अवधि बीत जाने पर भी मौके पर कोई तैयारी दिखाई नहीं देने से सरगुजा और शहडोल सम्भाग के आशान्वित व प्रतीक्षारत् लाखों नागरिक न केवल स्वयं को ठगा हुआ महसूस कर रहे थे, बल्कि उनमें घोर निराशा और असन्तोष व्याप्त रहा है । श्री पटेल ने रेलवे बोर्ड,रेल मंत्रालय सहित दपू मध्य रेलवे बिलासपुर ज़ोन के महाप्रबंधक सुनील सिंह सोईन एवं डीआरएम आर राजगोपाल को आभार व धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा है कि अब भूमि-अधिग्रहण करने हेतु रेलवे की टीम आ जाने से क्षेत्रवासियों में उम्मीदें जाग गई हैं।
Jan 29 2019 (15:03) बोतल में बंद जिन्न की तरह कैद हैं इन 2 रेलवे लाइन की सर्वे रिपोर्ट, सरगुजा के लिए साबित हो सकती हैं लाइफ लाइन (www.patrika.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
17467 views

News Entry# 375098  Blog Entry# 4211238   
  Past Edits
Jan 29 2019 (15:04)
Station Tag: Nagpur Road/NPRD added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jan 29 2019 (15:04)
Station Tag: Barwadih Junction/BRWD added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jan 29 2019 (15:03)
Station Tag: Renukut/RNQ added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jan 29 2019 (15:03)
Station Tag: Jharsuguda Junction/JSG added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jan 29 2019 (15:03)
Station Tag: Chirimiri/CHRM added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jan 29 2019 (15:03)
Station Tag: Ambikapur/ABKP added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
संजय तिवारीअंबिकापुर. हाल के कुछ सालों में सरगुजा में एक-एक कर महत्वाकांक्षी रेल प्रोजेक्टस हाशिए पर चले गए हैं। इससे लोगों की उम्मीदों को गहरा झटका लगा है। कुछ रेल लाइन तो ऐसे थे, अगर मूर्त रूप ले लेते तो संभाग के लिए एक तरह से लाइफ लाइन की तरह काम करते।अंबिकापुर से झारसुगड़ा व अंबिकापुर से रेनुकूट रेल लाइन के सर्वे की रिपोर्ट आज चार साल से फाइल में किसी बोतल बंद जिन्न की तरह कैद है। ये दोनों रेल लाइन का काम अगर आगे बढ़ा होता तो न केवल सीधे बड़े राज्यों से जुड़ जाता, बल्कि रोजगार के भी हजारों अवसर पैदा होते, राजस्व में भी बढ़ोतरी होती, लेकिन विडंबना ही है कि सर्वे के बावजूद काम आगे नहीं बढ़ सका।गौरतलब है कि सरगुजा अंचल में विगत कुछ वर्षों से अंबिकापुर-बरवाडीह, चिरमिरी-नागपुर हाल्ट के अतिरिक्त भी अंबिकापुर से रेनुकूट व अंबिकापुर से झारसुगड़ा रेल लाइन के सर्वे की कवायद...
more...
तो हुई है लेकिन इसके बाद सक्षम नेतृत्व के अभाव में बात जहां से उठी थी, वहीं संभवत: दफन भी हो गई है।उस समय सर्वे विभाग द्वारा संबंधित जिला प्रशासनों से अपेक्षित जानकारियां मांगी गईं थी और संभवत: समस्त जानकारियां भिजवा भी दी गई थी। दरअसल तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के पहल पर 8 फरवरी 2012 को तत्कालीन रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी ने रेलवे बोर्ड की बैठक रायपुर में रखी थी।इसमें तत्कालीन सांसद मुरारीलाल सिंह, विष्णुदेव साय, तत्कालीन केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री, चरणदास महंत, विद्याचरण शुक्ल, तत्कालीन अंबिकापुर विधायक टीएस सिंहदेव, तत्कालीन लुंड्रा विधायक रामदेव राम व अन्य जनप्रतिनिधि शामिल हुए थे। इन जनप्रतिनिधियों की मांग पर ही रेल मंत्री ने अंबिकापुर-झारसुगड़ा व अंबिकापुर-रेनुकूट रेल लाइन के सर्वे कराने के निर्देश दिए थे।उस समय भाजयुमो प्रदेशाध्यक्ष रहे अनुराग सिंहदेव ने भी रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी को भी इस संबंध में ज्ञापन सौंपा था। रेल मंत्री के निर्देश पर सर्वे तो हुआ लेकिन जनप्रतिनिधियों की उदासीनता की वजह से सारा मामला ठंडे बस्ते में चला गया।21 जुलाई 2014 को कलक्टर से मांगी गई थी जानकारी21 जुलाई 2014 को तत्कालीन उप मुख्य अभियंता जे प्रसाद द्वारा सरगुजा कलक्टर को पत्र लिखकर 12 बिंदुओं पर कुछ जानकारियां मांगी गईं थीं। इसके अंतर्गत प्रस्तावित ब्राडगेज लाइन के दोनों ओर 25 किमी के दायरे में आने वाले नगर एवं ग्रामों की संख्या, उस क्षेत्र की सामाजिक-आर्थिक स्थिति, विभिन्न फसलों की जानकारी,विशेष आर्थिक जोन के प्रस्ताव, वृहद औद्योगिक इकाई से संबंधित उद्योग, पर्यटन के विकास, संवर्धन की जानकारी, जमीन की किस्में, 20-25 किमी के भीतर उपलब्ध और उत्खनन किए जा रहे खनिज की जानकारी, उर्वरक वितरण, भंडारण, अनाज संग्रह केंद्र, पेट्रोल, तेज, मोबिल इत्यादि के आने-जाने से संबंधित जानकारियां मांगी गईं थीं।इसके बाद सरगुजा कलक्टर ने 29 अगस्त 2014 को संबंधित विभागों को आदेशित कर उक्त जानकारियां संभवत: उप मुख्य अभियंता सर्वे बिलासपुर रेलवे जोन को भिजवा भी दी थीं।अंबिकापुर-रेनुकूट लाइन में ये स्टेशन अंबिकापुर से कल्याणपुर, खडग़वां, प्रतापपुर, डांडकरवां, वाड्रफनगर, पशुपतिपुर, करकाछी, किरविल से रेनुकूटअंबिकापुर से झारसुगड़ा लाइन में ये स्टेशन अंबिकापुर से छिंदकालो, महुआभवना, कुमरता, डांगबूला, पत्थलगांव, राजपुर, झग्गरपुर, नारायणपुर, सुवारी जोर, भगुरापारा, लखनपुरा, केनाधिया, झारसुगड़ादोनों लाइन से ये होगा फायदाअंबिकापुर से रेनुकूट तक की दूरी 145 किलोमीटर है। इस रेल लाइन से सरगुजा अंचल सीधे उत्तरप्रदेश से जुड़ जाएगा सड़क मार्ग से यह दूरी 208 किलोमीटर पड़ती है। इसी तरह अंबिकापुर-झारसुगड़ा की दूरी सर्वे मे 202 किलोमीटर बताई गई है, इस रेल लाइन से सरगुजा ओडिशा अथवा पूर्वी भारत से सीधा जुड़ जाएगा।सड़क मार्ग से यह दूरी अभी कांसाबेल-तपकरा के शार्ट रूट से 253 किलोमीटर है। रेनकूट से जुडऩे से सरगुजा मुंबई-कटनी, इलाहाबाद के मार्ग के मार्ग से कोलकाता से जुड़ जाएगा। इसी तरह झारसुगड़ा से जुड़ जाने से सरगुजा, मुंबई-नागपुर-बिलासपुर-टाटा, कोलकाता तथा झारसुगड़ा-संबलपुर-कटक, भुवनेश्वर व पुरी से भी जुड़ जाएगा।अब इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये दोनों रेल लाइन प्रोजेक्ट सरगुजा के लिए एक तरह से लाइफ लाइन की तरह हैं। जनप्रतिनिधियों की उदासीनता की वजह से दोनों प्रोजेक्ट ठंडे बस्ते में पड़े हैं।सांसदों-विधायकों पर बनाना होगा पर्याप्त दबावक्षेत्र की जनता को अपने अधिकारों को लेकर अपेक्षाकृत अधिक जागरूक होना होगा। साथ ही महत्वपूर्ण रेल परियोजनाओं के लिए सांसदों-विधायकों पर पर्याप्त दबाव बनाना होगा, वरना २१वीं सदी में भी सरगुजा अंचल 17वीं-18वीं सदी में ही ठिठका खड़ा रहेगा। वेदप्रकाश अग्रवाल, सरगुजा
Sep 25 2018 (13:55) रेलमंत्री ने छत्तीसगढ़ को दी पांच बड़ी सौगात, कोरबा-बिलासपुर-रायपुर के बीच चलेगी सबसे महंगी इंटरसिटी (www.patrika.com)
New Facilities/Technology
SECR/South East Central
0 Followers
15726 views

News Entry# 360487  Blog Entry# 3839400   
  Past Edits
Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Nagpur Road/NPRD added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Chirimiri/CHRM added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Kharsia/KHS added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Dharamjaygarh/DHRMJ added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Urga/URGA added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Pendra Road/PND added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Gevra Road/GAD added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Dongargarh/DGG added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Raipur Junction/R added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 25 2018 (19:42)
Station Tag: Korba/KRBA added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
कोरबा. रेलवे व कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने सोमवार को प्रदेशवासियों को रेल सुविधाओं की पांच बड़ी सौगातें दीं। हरदीबाजार में अटल विकास यात्रा के दौरान केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल व सीएम डॉ रमन सिंह ने चार रेल परियेाजनाओं को शिलान्यास किया।
कोरबा, रायपुर व बिलासपुर के लोगों की सबसे बड़ी मांग इंटरसिटी ट्रेन की घोषणा भी की। कटघोरा, मुंगेली, कवर्धा से होकर डोंगरगढ़ तक स्वीकृत नई रेल लाइन परियोजना के लिए संयुक्त भागीदारी अनुबंध पत्र पर भी हस्ताक्षर भी किए गए। स्थानीय सांसद डॉ.बंशीलाल महतो ने रेलमंत्री से इंटरसिटी की मांग रखी।
इसके
...
more...
बाद रेलवे मंत्री ने मंच से ही इंटरसिटी की घोषणा करते हुए कहा कि यह चलेगी और हमेशा के लिए चलेगी। कभी बंद नहीं होगी। कार्यक्रम में निकाय मंत्री अमर अग्रवाल, बिलासपुर सांसद लखनलाल साहू, संसदीय सचिव लखनलाल देवांगन, सांसद कोरबा डॉ. बंशीलाल महतो, रेलवे के जीएम, डीआरएम, एसइसीएम के सीएमडी, चारो जीएम समेत अन्य उपस्थित थे।
इन योजनाओं का शिलान्यास :
अटल विकास यात्रा के कार्यक्रम में ईस्ट-वेस्ट रेल कारीडोर परियोजना के तहत गेवरा रोड से पेंड्रा रोड तक चार हजार 970 करोड़ रुपए की लागत से 135.3 किलोमीटर नई रेल लाइन के लिए शिलान्यास किया गया। इस परियोजना के तहत नौ नये रेलवे स्टेशन बनाये जाएंगे।
उरगा से धरमजयगढ़ तक एक हजार 686 करोड़ रुपए की लागत से 63 किलोमीटर नई रेल लाइन निर्माण के लिए भी शिलान्यास किया गया।इस नई रेल लाइन पर 6 नये रेलवे स्टेशन बनाये जाएंगे। धरमजयगढ़ से उरगा तक रेल लाईन का निर्माण ईस्ट रेल कारीडोर परियोजना के द्वितीय चरण के तहत होगा।
खरसिया से धरमजयगढ़ तक 131 किलोमीटर नई रेल लाइन के लिए भी शिलान्यास किया गया।
मुख्यमंत्री डा रमन सिंह और केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हरदीबाजार से ही कोरिया जिले के चिरमिरी से नागपुर रोड हाल्ट तक 17 किलोमीटर की नई रेललाइन का भी शिलान्यास किया।
नए खदानों से मिलेगा एक लाख १२ सौ करोड़ का राजस्व, आदिवासी क्षेत्रों में होगा खर्चगोयल ने कहा कि जिन भी खदानों को नए सिरे से आवंटित किया गया है उससे आने वाले वर्षों में एक लाख १२ सौ करोड़ रुपए राजस्व मिलेगा, जो कि आदिवासी क्षेत्रों में खर्च होगा। इससे पूरे आदिवासी क्षेत्रों की तस्वीर बदली जाएगी।
Page#    Showing 1 to 6 of 6 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy