Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

For a RailFan, watching MPS skips are far more interesting than watching F1 race - Prince Maan

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Wed Jun 29 08:14:30 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRPost BlogAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 1064776-0
Medium; Front Entrance - Outside; Large Station Board;
Entry# 2477654-0
no description available
Entry# 2633077-0

NNP/Nanpara Junction (2 PFs)
نانپارہ جنکشن     नानपारा जंक्शन

Track: Metre Gauge

Show ALL Trains
NH 28C, Nanpara
State: Uttar Pradesh


Zone: NER/North Eastern   Division: Lucknow NER

No Recent News for NNP/Nanpara Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 6
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
0 Follows
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 46 News Items  next>>
Yesterday (01:03) डीआरएम ने प्रस्तावित रेल लाइन का लिया जायजा बहराइच-नानपारा-नेपालगंज रोड के बीजी आमान परिवर्तन कार्य (www.jagran.com)
New Facilities/Technology
NER/North Eastern
0 Followers
5074 views

News Entry# 490660  Blog Entry# 5392897   
  Past Edits
Jun 28 2022 (01:03)
Station Tag: Nanpara Junction/NNP added by ♤The Silent Traveller ♧♤/206964

Jun 28 2022 (01:03)
Station Tag: Babaganj/BBJ added by ♤The Silent Traveller ♧♤/206964

Jun 28 2022 (01:03)
Station Tag: Matera/MT added by ♤The Silent Traveller ♧♤/206964

Jun 28 2022 (01:03)
Station Tag: Risia/RS added by ♤The Silent Traveller ♧♤/206964

Jun 28 2022 (01:03)
Station Tag: Nepalganj Road/NPR added by ♤The Silent Traveller ♧♤/206964

Jun 28 2022 (01:03)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by ♤The Silent Traveller ♧♤/206964

Jun 28 2022 (01:03)
Station Tag: Bahraich/BRK added by ♤The Silent Traveller ♧♤/206964
a
बहराइच और गोंडा के मध्य पड़ने वाले स्टेशन पर देखीं सुविधाएं
बहराइच : गुरुवार को बहराइच से बलरामपुर के बीच प्रस्तावित नई रेल लाइन का मंडल रेल प्रबंधक डा. मोनिका अग्निहोत्री ने निरीक्षण किया। उन्होंने स्टेशन पर उपलब्ध संसाधनों की जानकारी ली। लखनऊ-गोंडा-बहराइच खंड के मध्य निरीक्षण एवं बहराइच-भिनगा-श्रावस्ती-खलीलाबाद के मध्य नई लाइन के प्रस्तावित कार्य का जायजा लिया। बहराइच-नानपारा और नैपालगंज बीजी आमान परिवर्तन की हकीकत परखी। उन्होंने गंगाधाम, बनगई, विशेश्वरगंज, पयागपुर, चिलवरिया एवं बहराइच के मध्य स्टेशन भवन, पुलों, कर्वों, समपारों और रेलवे ट्रैक को देखा। बहराइच
...
more...
स्टेशन पर यात्री सुविधाओं, साफ-सफाई, सुरक्षा, संरक्षा, पेयजल आपूर्ति, प्रतीक्षालय, फुट ओवर ब्रिज का निरीक्षण किया। अग्निपथ योजना को लेकर कांग्रेस ने किया सत्याग्रह यह भी पढ़ें अधिकारियों को स्टेशन पर यात्री सुविधाओं की गुणवत्ता बढ़ाने का निर्देश दिया। बहराइच-श्रावस्ती-भिनगा-खलीलाबाद के मध्य 240 किलोमीटर नई लाइन के एलाइनमेंट प्लान की समीक्षा की। उन्होंने नई परियोजना में तेजी लाने पर जोर दिया। उन्होंने बहराइच-नानपारा-नेपालगंज रोड के बीजी आमान परिवर्तन कार्य के विडो ट्रेलिग निरीक्षण किया। आखिर कब पूरा होगा मैलानी-नानपारा ब्राडगेज का स्वप्न वन विभाग की आपत्ति के बाद बंद हुई मैलानी-नानपारा रेल सेवा जनप्रतिनिधियों के बड़े प्रयास से 30 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड के साथ शुरू तो हुई, लेकिन ब्राडगेज लाइन का स्वप्न अब भी अधूरा है। तराई के इस इलाके में पूर्वांचल की बहुतायत आबादी रहती है। बहराइच से नेपालगंज रूट पर ब्राडगेज का कार्य तेजी से चल रहा है, जबकि नानपारा-मैलानी प्रखंड पर अब तक जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के चलते तक ब्राडगेज के लिए कोई प्रयास नहीं हुआ। इससे ग्रामीणों में रोष बढ़ रहा है। भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष मलकीत सिंह चीमा ने बताया कि वर्षों बीत चुके हैं, लेकिन अभी तक जनप्रतिनिधियों ने ब्राडगेज के लिए आवाज नहीं उठाई है। ब्राडगेज होने से क्षेत्र का विकास होगा और लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होगा। देहात संस्था के कार्यकर्ता गीता प्रसाद ने कहा कि मैलानी-नानपारा रूट पर पूर्वांचल की आधी से ज्यादा आबादी ट्रेन से सफर कर बिहार, गोरखपुर, देवरिया, सीवान सहित विभिन्न प्रांतों के लिए ट्रेन से यात्रा करते हैं। ब्राडगेज होने से यात्रियों को सीधा इसका लाभ मिलेगा। इस संबंध में सांसद अक्षयवरलाल गोंड ने बताया कि वे रेल मंत्रालय के अधिकारियों से बराबर बात कर रहे हैं। कई बार पत्र भी लिखा है, लेकिन वन, पर्यावरण एवं रेल मंत्रालय इसकी मंजूरी नहीं दे रहा है। वे प्रयास करते रहेंगे। उम्मीद है कि कोई न कोई रास्ता निकलेगा। Edited By: Jagran
बहराइच : गुरुवार को बहराइच से बलरामपुर के बीच प्रस्तावित नई रेल लाइन का मंडल रेल प्रबंधक डा. मोनिका अग्निहोत्री ने निरीक्षण किया। उन्होंने स्टेशन पर उपलब्ध संसाधनों की जानकारी ली। लखनऊ-गोंडा-बहराइच खंड के मध्य निरीक्षण एवं बहराइच-भिनगा-श्रावस्ती-खलीलाबाद के मध्य नई लाइन के प्रस्तावित कार्य का जायजा लिया। बहराइच-नानपारा और नैपालगंज बीजी आमान परिवर्तन की हकीकत परखी।
उन्होंने गंगाधाम, बनगई, विशेश्वरगंज, पयागपुर, चिलवरिया एवं बहराइच के मध्य स्टेशन भवन, पुलों, कर्वों, समपारों और रेलवे ट्रैक को देखा। बहराइच स्टेशन पर यात्री सुविधाओं, साफ-सफाई, सुरक्षा, संरक्षा, पेयजल आपूर्ति, प्रतीक्षालय, फुट ओवर ब्रिज का निरीक्षण किया।

अधिकारियों को स्टेशन पर यात्री सुविधाओं की गुणवत्ता बढ़ाने का निर्देश दिया। बहराइच-श्रावस्ती-भिनगा-खलीलाबाद के मध्य 240 किलोमीटर नई लाइन के एलाइनमेंट प्लान की समीक्षा की। उन्होंने नई परियोजना में तेजी लाने पर जोर दिया। उन्होंने बहराइच-नानपारा-नेपालगंज रोड के बीजी आमान परिवर्तन कार्य के विडो ट्रेलिग निरीक्षण किया। आखिर कब पूरा होगा मैलानी-नानपारा ब्राडगेज का स्वप्न
वन विभाग की आपत्ति के बाद बंद हुई मैलानी-नानपारा रेल सेवा जनप्रतिनिधियों के बड़े प्रयास से 30 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड के साथ शुरू तो हुई, लेकिन ब्राडगेज लाइन का स्वप्न अब भी अधूरा है।
तराई के इस इलाके में पूर्वांचल की बहुतायत आबादी रहती है। बहराइच से नेपालगंज रूट पर ब्राडगेज का कार्य तेजी से चल रहा है, जबकि नानपारा-मैलानी प्रखंड पर अब तक जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के चलते तक ब्राडगेज के लिए कोई प्रयास नहीं हुआ। इससे ग्रामीणों में रोष बढ़ रहा है।
भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष मलकीत सिंह चीमा ने बताया कि वर्षों बीत चुके हैं, लेकिन अभी तक जनप्रतिनिधियों ने ब्राडगेज के लिए आवाज नहीं उठाई है। ब्राडगेज होने से क्षेत्र का विकास होगा और लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होगा। देहात संस्था के कार्यकर्ता गीता प्रसाद ने कहा कि मैलानी-नानपारा रूट पर पूर्वांचल की आधी से ज्यादा आबादी ट्रेन से सफर कर बिहार, गोरखपुर, देवरिया, सीवान सहित विभिन्न प्रांतों के लिए ट्रेन से यात्रा करते हैं। ब्राडगेज होने से यात्रियों को सीधा इसका लाभ मिलेगा।
इस संबंध में सांसद अक्षयवरलाल गोंड ने बताया कि वे रेल मंत्रालय के अधिकारियों से बराबर बात कर रहे हैं। कई बार पत्र भी लिखा है, लेकिन वन, पर्यावरण एवं रेल मंत्रालय इसकी मंजूरी नहीं दे रहा है। वे प्रयास करते रहेंगे। उम्मीद है कि कोई न कोई रास्ता निकलेगा।
Copyright © 2022 Jagran Prakashan Limited.
Oct 01 2021 (15:24) दुधवा नेशनल पार्क में चलेंगी दो रेल कार, एनईआर ने रेलवे बोर्ड को भेजा प्रस्ताव (www.jagran.com)
New/Special Trains
NER/North Eastern
0 Followers
51855 views

News Entry# 466431  Blog Entry# 5082105   
  Past Edits
Oct 01 2021 (15:24)
Station Tag: Nanpara Junction/NNP added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 01 2021 (15:24)
Station Tag: Mailani Junction/MLN added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 01 2021 (15:24)
Station Tag: Dudhwa/DDW added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
एनईआर ने दुधवा नेशनल पार्क तक ट्रेन चलाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेजा है। बोर्ड की हरी झंडी मिलते ही स्पेशल ट्रेन की छुक-छुक के साथ पार्क फिर से गुलजार हो जाएगा। स्पेशल ट्रेन में दो रेलकार सहित एक पावरकार पांच सामान्य कोच सहित दस कोच लगाए जाएंगे।
गोरखपुर, जागरण संवाददाता। दुधवा नेशनल पार्क में पर्यटक बाघ, भालू और हिरन आदि को नजदीक से निहार सकेंगे। प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर मनोरम वन क्षेत्र का भी आनंद ले सकेंगे। पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने मैलानी से नानपारा के बीच छोटी लाइन पर पारदर्शी शीशे वाली वातानुकूलित एमजी टूरिस्ट दो रेल कार सहित दस कोच की स्पेशल ट्रेन चलाने की योजना तैयार की है। मैलानी से नानपारा
...
more...
के बीच छोटी लाइन पर पारदर्शी शीशे वाली वातानुकूलित कार सहित चलेगी स्पेशल ट्रेन रेलवे प्रशासन ने ट्रेन चलाने का प्रस्ताव बोर्ड को भेज दिया है। बोर्ड की हरी झंडी मिलते ही स्पेशल ट्रेन की छुक-छुक के साथ पार्क फिर से गुलजार हो जाएगा। स्पेशल ट्रेन में दो रेलकार सहित एक पावरकार, पांच सामान्य कोच और दो एसएलआर सहित कुल दस कोच लगाए जाएंगे। वातानुकूलित रेल कार में सामान्य एसी कोच का किराया लगेगा। वायरल फीवर के बढ़ रहे मामले, सावधान रहें और अपने मन से न खाएं दवाएं यह भी पढ़ें पर्यटक वन्य जीवाें को देखने के साथ ही मनपसंद पैक्ड सामग्री का भी लुत्फ उठा सकेंगे। प्रत्येक एसी कार में 60 यात्रियों के बैठने तथा टॉयलेट की व्यवस्था रहेगी। रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजने से पहले लखनऊ की मंडल रेल प्रबंधक डा. मोनिका अग्निहोत्री ने मैलानी जंक्शन से नानपारा स्टेशन के बीच रेलकार का ट्रायल निरीक्षण भी कर लिया है। अब नई समय सारिणी से संचालित होंगे परिषदीय स्कूल यह भी पढ़ें 120 साल पुरानी है छोटी रेल लाइन पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण दुधवा नेशनल पार्क में करीब 120 साल पुरानी ऐतिहासिक मैलानी- नानपारा छोटी रेल लाइन स्थापित है। 170 किमी लंबी रेल लाइन पर 16 स्टेशन हैं। यह रेल लाइन 16 फरवरी 2020 से बंद पड़ी है। रेलकार के निधारित है रेलमार्ग रेलकार वाली स्पेशल ट्रेन दुधवा नेशनल पार्क स्थित नानपारा, रायबोझ, गायघाट, त्रिहिनपुरवा, ककरहा रेस्ट हाउस, मर्तिहा निशानगाढ़ा, बिछिया, मंछरा पूरब, खैरतिया बांध रोड, तिकुनिया, बेलराया, दुधवा, पलिया कलां, मीरा खेरी और मैलानी बीच चलाई जाएगी। उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध दुधवा नेशनल पार्क में जाने वाले पर्यटकों के लिए मीटर गेज के दो वातानुकूलित टूरिस्ट कोच मंगाए गए हैं। इन कोचों में बड़ी साइज के विंडो ग्लासेज लगाए गए हैं। पर्यटक जंगल की शांति एवं मनोरम दृश्यों को अपनी यादों में बसा सकेंगे। इन टूरिस्ट कोचों के चलने से पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ क्षेत्र के लोगों के लिए व्यवसाय एवं रोजगार की बेहतर संभावनाएं तैयार होंगी। - पंकज कुमार सिंह, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी- पूर्वोत्तर रेलवे।
गोरखपुर, जागरण संवाददाता। दुधवा नेशनल पार्क में पर्यटक बाघ, भालू और हिरन आदि को नजदीक से निहार सकेंगे। प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर मनोरम वन क्षेत्र का भी आनंद ले सकेंगे। पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने मैलानी से नानपारा के बीच छोटी लाइन पर पारदर्शी शीशे वाली वातानुकूलित एमजी टूरिस्ट दो रेल कार सहित दस कोच की स्पेशल ट्रेन चलाने की योजना तैयार की है।
मैलानी से नानपारा के बीच छोटी लाइन पर पारदर्शी शीशे वाली वातानुकूलित कार सहित चलेगी स्पेशल ट्रेन
रेलवे प्रशासन ने ट्रेन चलाने का प्रस्ताव बोर्ड को भेज दिया है। बोर्ड की हरी झंडी मिलते ही स्पेशल ट्रेन की छुक-छुक के साथ पार्क फिर से गुलजार हो जाएगा। स्पेशल ट्रेन में दो रेलकार सहित एक पावरकार, पांच सामान्य कोच और दो एसएलआर सहित कुल दस कोच लगाए जाएंगे। वातानुकूलित रेल कार में सामान्य एसी कोच का किराया लगेगा।
पर्यटक वन्य जीवाें को देखने के साथ ही मनपसंद पैक्ड सामग्री का भी लुत्फ उठा सकेंगे। प्रत्येक एसी कार में 60 यात्रियों के बैठने तथा टॉयलेट की व्यवस्था रहेगी। रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजने से पहले लखनऊ की मंडल रेल प्रबंधक डा. मोनिका अग्निहोत्री ने मैलानी जंक्शन से नानपारा स्टेशन के बीच रेलकार का ट्रायल निरीक्षण भी कर लिया है।120 साल पुरानी है छोटी रेल लाइन
पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण दुधवा नेशनल पार्क में करीब 120 साल पुरानी ऐतिहासिक मैलानी- नानपारा छोटी रेल लाइन स्थापित है। 170 किमी लंबी रेल लाइन पर 16 स्टेशन हैं। यह रेल लाइन 16 फरवरी 2020 से बंद पड़ी है।
रेलकार के निधारित है रेलमार्ग
रेलकार वाली स्पेशल ट्रेन दुधवा नेशनल पार्क स्थित नानपारा, रायबोझ, गायघाट, त्रिहिनपुरवा, ककरहा रेस्ट हाउस, मर्तिहा निशानगाढ़ा, बिछिया, मंछरा पूरब, खैरतिया बांध रोड, तिकुनिया, बेलराया, दुधवा, पलिया कलां, मीरा खेरी और मैलानी बीच चलाई जाएगी।
उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध दुधवा नेशनल पार्क में जाने वाले पर्यटकों के लिए मीटर गेज के दो वातानुकूलित टूरिस्ट कोच मंगाए गए हैं। इन कोचों में बड़ी साइज के विंडो ग्लासेज लगाए गए हैं। पर्यटक जंगल की शांति एवं मनोरम दृश्यों को अपनी यादों में बसा सकेंगे। इन टूरिस्ट कोचों के चलने से पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ क्षेत्र के लोगों के लिए व्यवसाय एवं रोजगार की बेहतर संभावनाएं तैयार होंगी। - पंकज कुमार सिंह, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी- पूर्वोत्तर रेलवे।

Rail News
49286 views
Oct 01 2021 (22:14)
Chandan Rishivanshi
ChandanRishivanshi~   263 blog posts
Re# 5082105-1            Tags   Past Edits
Ye line band nhi hai...abhi 20 25 din pahle mai travel krke aaya hu bahraich se mailani

34664 views
Oct 02 2021 (10:21)
न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु
SmallTownTraveller^~   8685 blog posts
Re# 5082105-2            Tags   Past Edits
ji bhai.. media kuch bhi bina clear kiye chhap deta he..
Mar 17 2021 (05:32) माला जंगल की एनओसी से मैलानी-नानपारा रेल लाइन के आमान परिवर्तन की खुलेगी राह (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
54552 views

News Entry# 445346  Blog Entry# 4909957   
  Past Edits
Mar 17 2021 (05:32)
Station Tag: Shahgarh/SG added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 17 2021 (05:32)
Station Tag: Nanpara Junction/NNP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 17 2021 (05:32)
Station Tag: Mailani Junction/MLN added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 17 2021 (05:32)
Station Tag: Mala/MALA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
लखीमपुर: पीलीभीत सेक्शन के रेल प्रखंड शाहगढ़-मैलानी के मध्य आमान परिवर्तन के लिए वन विभाग से एनओसी मिलने के बाद गेज कन्वर्जन का कार्य मार्च के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है। संभावना है कि मई तक मैलानी-शाहगढ़ के मध्य ट्रेन का संचलन शुरू हो जाएगा।
पीलीभीत से माला के मध्य पीलीभीत टाइगर रिजर्व में आठ किमी. तक के रेलमार्ग के आमान परिवर्तन के लिए वन विभाग ने अनापत्ति प्रमाणपत्र दे दिया है। इसके तहत रेलवे को आठ किमी. तक के ब्राडगेज रेलमार्ग के छह स्थानों पर वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए बैरीकेडिग व अंडरपास बनाने होंगे और ट्रेन की स्पीड 30 किमी. प्रति घंटा रखनी होगी। इन्हीं शर्तों के साथ वन विभाग ने आमान परिवर्तन की अनुमति दी
...
more...
है। वन विभाग की यह अनुमति मैलानी-नानपारा रेल लाइन को ब्राडगेज में बदलने के लिए भी नजीर का काम कर सकती है। मैलानी-नानपारा रेल लाइन को ब्राडगेज में बदलने की अनुमति लेकर काम किया जा सकता है। बैरीकेडिग व अंडरपास बनाकर तथा ट्रेन की गति कम करने की शर्तो का पालन करके रेल महकमा इस रेल प्रखंड को भी ब्राडगेज में परिवर्तित कर सकता है। इस साल के बजट में इस कार्य का मद खोला भी गया है। रेलवे ने इस रेल प्रखंड के आमान परिवर्तन के लिए वन विभाग की आपत्तियों को देखते हुए पलिया-निघासन-बेलरायां बाईपास बनाने की योजना तैयार की थी। इसके अंर्तगत पलिया से पांच किमी. आगे जाकर रेल मार्ग को मझगई की तरफ मोड़ देना था और आगे निघासन व सिगाही होते हुए बेलरायां पहुंचकर उसे पुराने रेलमार्ग में जोड़ देना था। लेकिन नई रेल लाइन बिछाने की औपचारिकता इतनी बड़ी है कि इसमें एक दशक का समय तक लग सकता है। इसलिए रेलवे ने पिछले दो वर्ष तक इसमे न तो कोई बजट आवंटित किया और न ही काम किया। खुशी की बात यह है कि वर्ष 2021-22 के बजट में इस मद को पुन: शुरु कर दिया गया है और प्रतीकात्मक रूप से उसमे एक हजार का आवंटन भी किया गया है। खास बात यह है कि रेल महकमा वन विभाग की जिस आपत्ति को लेकर परेशान था उसका हल निकल आया है और यह काफी किफायती भी है। क्या कहते है जिम्मेदार
एनईआर रेलवे गोरखपुर के जनसंपर्क अधिकारी पंकज सिंह ने बताया कि इस तरह का अभी केवल प्रस्ताव है। रेलवे बोर्ड की मंजूरी मिलने के बाद ही कोई कदम उठाया जा सकता है।
Feb 25 2021 (10:43) HC to hear contempt plea against railways’ plan to run tourist train through Dudhwa Tiger Reserve (timesofindia.indiatimes.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
29927 views

News Entry# 440831  Blog Entry# 4887997   
  Past Edits
Feb 25 2021 (10:43)
Station Tag: Nanpara Junction/NNP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 25 2021 (10:43)
Station Tag: Mailani Junction/MLN added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Pilibhit: The railways’ plan to run a tourist train -- equipped with advanced Vistadome coaches offering 180-degree view-- in the core area of Dudhwa Tiger Reserve (DTR) appears to have run into rough weather as Allahabad high court has accepted a contempt petition against it, while the state's forest department has said it hasn't been told about the move which it said is an "infringement of the set norms". The petitioner has said that during the hearing of a PIL filed by him in 2018 on the same issue, the then principal secretary of forest in UP, Kalpana Awasthi, had filed an affidavit in the high court asserting that “no activity is being visualized in future in the form of heritage train/toy train as adventure or tourist programme.”
The
...
more...
Lucknow bench, comprising justices Shabihul Hasnain and Chandra Dhari Singh, had observed on March 8, 2019, “Since statement has been made by a senior most officer, we do not find that any further orders in this regard are necessary.”
On Monday, Lucknow-based wildlife activist, Kaushlendra Singh, filed the contempt petition. Singh said, “I was compelled to knock at the court’s door after the railway authorities announced a new plan of operating this sophisticated train from April onwards.”
The government is planning to run the train on an old metre gauge track between Mailani and Nanpara, which cuts deep into the Dudhwa’s core portion. A passenger train used to run on the route before the lockdown, carrying locals of the area. The railways are already laying a broad gauge track circumventing the forest’s core area, which will take the load off the metre gauge line.
But, earlier this month, divisional railway manager of North Eastern Railway (NER), Lucknow, Monica Agnihotri, had said, “Vistadome coaches will be used for Dudhwa national park tour.”
Petitioner Singh said, “As a fresh plan to the same effect is an open defiance of the HC order as well as the retraction of the forest department from its own commitment filed on oath, the contempt petition had become inevitable to protect the wildlife from fatal accidents on the railway track.”
The PIL in question had been filed in the high court in 2018 after the state forest authorities with the railways had decided to operate an air-conditioned heritage train in over 100-kilometer long stretch of core forest area. “The two departments had entered into an agreement that the broad gauge railway line will be laid outside the core forest area and the existing meter gauge track will be used for the operation of a heritage train instead of uprooting it. But after the principal secretary filed an affidavit in the high court saying that the plan of heritage train had been dropped, the matter had been put to an end,” the petitioner said.
Ad
When asked about it, senior divisional manager of NER at Lucknow, Monica Agnihotri, confirmed to TOI that “the operation of the tourist train is expected to begin from April this year. It is awaited till the Vistadome coaches are made available to the division.”
She said that the railway authorities were not required to seek any prior permission from the forest department for the said operation as the railway was the sole owner of the railway track.
However, principal chief conservator of forest (wildlife) of UP, Pawan Kumar Sharma, said that the railway authorities had brought nothing to his notice about the development regarding the heritage train. “The department will abide by the order of the high court in this matter,” he asserted.
“The operation of any tourist train by railway in core forest of Dudhwa and Katarnia Ghat wildlife sanctuary will also be deemed as the infringement of the National Tiger Conservation Authority’s guidelines which essentially requires its prior permission even if the 20% of the core forest area earmarked for the jungle safaris is modulated,” Sharma said.
Feb 05 2021 (20:30) लखीमपुर में दुधवा की सैर और ज्‍यादा होगी रोमांचकारी, विस्टाडोम कोच कराएगा खास एहसास (www.jagran.com)
Tourism
NER/North Eastern
0 Followers
30085 views

News Entry# 437296  Blog Entry# 4867985   
  Past Edits
Feb 05 2021 (20:30)
Station Tag: Nanpara Junction/NNP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 05 2021 (20:30)
Station Tag: Mailani Junction/MLN added by Anupam Enosh Sarkar/401739
लखनऊ, जेएनएन। पारदर्शी शीशों की छत और बड़ी कांच की खिड़की वाले विस्टाडोम कोच में पर्यटक दुधवा के जंगल के बीच सैर करते हुए उसके प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद उठाएंगे। पूर्वोत्तर रेलवे मैलानी-नानपारा मीटरगेज (छोटी लाइन) के सेक्शन पर पहली बार पर्यटन विभाग के साथ मिलकर विस्टाडोम कोच की शुरुआत करेगा। मार्च तक दो विस्टाडोम कोच मुंबई की परेल वर्कशॉप से तैयार होकर मैलानी आ जाएंगे। इस विस्टाडोम कोच में 40 पर्यटक चेयरकार बोगी में बैठकर सफर करेंगे। पूर्वोत्तर रेलवे की डीआरएम डॉ. मोनिका अग्निहोत्री ने अगले वित्तीय वर्ष के महत्वपूर्ण प्रोजेक्टों की जानकारी दी। डीआरएम ने बताया कि डालीगंज से मल्हौर तक डबल लाइन बिछाने के प्रोजेक्ट के लिए पिंक बुक में 60 करोड़ रुपये मिले हैं। ऐशबाग-पीलीभीत रेलखंड के अमान परिवर्तन के साथ रेल विद्युतीकरण भी हो रहा है। लखीमपुर-मैलानी रेलखंड के विद्युतीकरण में वन विभाग की एनओसी का इंतजार है। इस साल जून तक यह विद्युतीकरण हो जाएगा। ट्रेनों...
more...
की मरम्मत के लिए नया कोचिंग काम्पलेक्स बनेगा। डीआरएम ने बताया कि 40 करोड़ रुपये से गोमतीनगर स्टेशन की यार्ड रिमॉडलिंग और यात्री सुविधाओं का विकास होगा। जबकि ऐशबाग पीलीभीत अमान परिवर्तन के लिए 100 करोड़ आवंटित किए गए हैं।  लखनऊ रेल मंडल ने 2020-21 में 39 डीजल रेल इंजन सहित 16 हजार टन स्क्रैप की बिक्री कर 58.92 करोड़ रुपये के राजस्व की प्राप्ति की है। जो देश भर में किसी रेल मंडल में सबसे अधिक है। इस साल लखनऊ रेल मंडल ने अपने खर्चों में 350 करोड़ रुपये की कमी दर्ज की है।
बढ़ रहा समय पालन
कोहरे में भी ट्रेनों का समय बद्धता 97 प्रतिशत हो गई है। हालांकि ट्रेनों से जानवरों के कटने से उनके संचालन में बाधाएं भी हो रही हैं। जानवर कटने के कारण हौज पाइप टूटने व एंगल कॉक क्षतिग्रस्त होने से ट्रेेनें खड़ी हो जाती हैं। पिछले माह जनवरी में मंडल में जानवरों के ट्रेन से टकराने के 67 मामले आए हैं। मालगाडिय़ों की औसत गति  पहले 24.82 किलोमीटर प्रति घंटा थी। वह 45.05 किलोमीटर प्रति घंटा पहुंच गई है।
Page#    Showing 1 to 20 of 46 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy