Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

जिंदगी में शादी के अलावा ट्रेन में RAC ही एक ऐसी स्थिति है,जिसमें दो अजनबी साथ निभाने को मजबूर होते है। - Junaid

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Tue Jun 22 22:43:48 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 2186617-0
Close-up; Large Station Board;
Entry# 3501069-0


GZN/New Ghaziabad (2 PFs)
نیا غازی آباد     नया गाज़ियाबाद

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Maharana Pratap Marg, Block A, Lohia Nagar, Ghaziabad 201002
State: Uttar Pradesh

Elevation: 216 m above sea level
Zone: NR/Northern   Division: Delhi

No Recent News for GZN/New Ghaziabad
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 25
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 5.0/5 (1 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - excellent (1)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 6 of 6 News Items  
Dec 21 2020 (21:06) कबाड़ियों ने प्लेटफार्म को बना दिया रसोईघर (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
10420 views

News Entry# 429406  Blog Entry# 4819424   
  Past Edits
Dec 21 2020 (21:06)
Station Tag: New Ghaziabad/GZN added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  New Ghaziabad/GZN  
हसीन शाह गाजियाबाद नया रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म को कबाड़ी रसोईघर के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं।
हसीन शाह, गाजियाबाद : नया रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म को कबाड़ी रसोईघर के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं। इन कबाड़ियों को रोकने के लिए रेलवे ने दीवार बनाई, तो कबाड़ी अपनी झुग्गियां प्लेटफार्म के करीब ले आए। वे अब झुग्गियों के करीब बकरी पालन भी करने लगे हैं। प्लेटफार्म पर उनका चूल्हा जलता रहता है। इससे हादसे की आशंका बनी रहती है। दूसरी ओर बकरियां प्लेटफार्म पर गंदगी फैलाती हैं।
नया रेलवे
...
more...
स्टेशन पर काफी झुग्गी-झोपड़ी बनी थी। रेलवे इन झुग्गियों को हटाता था, पर कुछ दिन बाद फिर से झुग्गी बनकर तैयार हो जाती थी। रेलवे की भूमि पर अस्थाई दुकान बनी थी। रेलवे की तरफ से दुकान हटाने के कुछ दिन बाद फिर से दुकान लगनी शुरू हो जाती थी। रेलवे ने स्थाई तौर पर अतिक्रमण दूर करने के लिए नया रेलवे स्टेशन से एएलटी फ्लाईओवर तक करीब डेढ़ किलोमीटर लंबी दीवार बनाई जा रही है। दीवार बनाने का काम करीब 90 फीसद पूरा हो चुका है, मगर यह दीवार उन्हें रोकने में नाकाम साबित हो रही है। दीवार बनाने के बाद भी कबाड़ियों ने अब प्लेटफार्म के करीब में झुग्गियां बना ली हैं। प्लेटफार्म को रसोईघर बना दिया है।
दीवार बनने के बाद बढ़ी ज्यादा मुसीबत
दीवार बनने से पहले लोग प्लेटफार्म पर भोजन नहीं बनाते थे, मगर दीवार बनने के बाद तो लोग प्लेटफार्म पर चूल्हा जला रहे हैं। रेलवे का नियम है कि प्लेटफार्म पर आग नहीं जलाई जा सकती है। कुछ कबाड़ी तो प्लेटफार्म के करीब रेलवे की भूमि पर बकरी पालने लगे हैं। इससे प्लेटफार्म पर गंदगी रहती है। अब तक डेढ़ दर्जन से ज्यादा झुग्गियां बन चुकी हैं। दीवार बनाने से कबाड़ियों को ही फायदा हुआ है। कबाड़ी रेलवे की दीवार पर बांस-बल्ली रखकर ही झुग्गी बना रहे हैं। बिगड़ रही स्टेशन की सूरत
प्लेटफार्म के पास कबाड़ी रेलवे की भूमि पर कबाड़ जमा करते हैं। इससे स्टेशन की सूरत भी बिगड़ गई है। कबाड़ी दिन भर प्लेटफार्म की कुर्सियों पर बैठे रहते हैं। इससे यात्रियों को बैठने की जगह नहीं मिलती। आरपीएफ व जीआरपी के जवान मूकदर्शक बने हैं। वर्जन..
प्लेटफार्म पर चूल्हा नहीं जलाया जा सकता है। यदि कोई चूल्हा जला रहा है या अतिक्रमण कर रहा है, तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।
-संजय सिंह, सीएमआइ
Oct 29 2020 (00:45) रेलवे की दीवार बनने के साथ बनती जा रही हैं झुग्गियां (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
9590 views

News Entry# 423016  Blog Entry# 4761446   
  Past Edits
Oct 29 2020 (00:46)
Station Tag: New Ghaziabad/GZN added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  New Ghaziabad/GZN  
जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : नया रेलवे स्टेशन के पास रेलवे लाइन के किनारे बनाई जा रही दीवार झुग्गी वालों को रोकने में नाकाम है। रेल प्रशासन दीवार बनाता जा रहा है और पीछे से झुग्गी भी बनती जा रही हैं। यदि रेलवे अधिकारी इस पर ध्यान नहीं देते हैं तो आने वाले समय में झुग्गियों की संख्या और बढ़ सकती है।
नया रेलवे स्टेशन पर काफी संख्या में झुग्गी-झोपड़ी बनी हुई थी। रेलवे द्वारा झुग्गियों को हटा दिया जाता था, मगर कुछ दिन बाद फिर से झुग्गी बनकर तैयार हो जाती थीं। कुछ लोग रेलवे की भूमि पर अस्थायी दुकान बना लेते थे। दुकान हटाने के कुछ दिन बाद फिर से दुकान लगनी शुरू हो जाती थी। रेलवे द्वारा स्थाई तौर
...
more...
पर अतिक्रमण की समस्या को दूर करने के लिए नया रेलवे स्टेशन से एएलटी फ्लाईओवर तक करीब डेढ़ किलोमीटर लंबी दीवार बनाई जा रही है। दीवार बनाने का काम करीब 50 फीसद पूरा हो चुका है। दीवार बनाने के बाद भी कबाड़ियों ने प्लेटफार्म के रास्ते से रेलवे की भूमि पर आकर झुग्गियां बनानी शुरू कर दी हैं। अब तक एक दर्जन से ज्यादा झुग्गियां बन चुकी हैं। लगातार झुग्गियों की संख्या बढ़ रही है। दीवार बनाने का भी कबाड़ियों को फायदा हुआ है। कबाड़ी रेलवे की दीवार पर टीनशेड रखकर ही झुग्गी की छत बना रहे हैं।
प्लेटफार्म पर जमाते हैं चौपाल
कबाड़ी झोपड़ी बनाने के बाद स्टेशन पर चौपाल जमाते हैं। रेलवे की भूमि पर कबाड़ जमा करते हैं। इससे स्टेशन की सूरत बिगड़ गई है। ये लोग दिनभर प्लेटफार्म की कुर्सियों पर बैठे रहते हैं। इससे यात्रियों को बैठने की जगह नहीं मिलती। आरपीएफ व जीआरपी भी इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं करती। हालांकि दीवार बनने से अस्थायी दुकानों का अतिक्रमण खत्म हो गया है। करीब डेढ़ किलोमीटर लंबी दीवार बनाई जा रही है। अब अगर कोई अतिक्रमण कर रहा है तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आरपीएफ के साथ मिलकर अतिक्रमण हटाया जाएगा।
-संजय सिंह, सीएमआइ
Oct 23 2020 (17:04) Northern Railways to launch ‘Bags on Wheels’ to ferry passenger luggage (www.thehindu.com)
IR Affairs
NR/Northern
0 Followers
34187 views

News Entry# 422486  Blog Entry# 4756491   
  Past Edits
Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: Delhi Sarai Rohilla/DEE added by Gen Z/2085044

Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: Delhi Cantt./DEC added by Gen Z/2085044

Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: Hazrat Nizamuddin/NZM added by Gen Z/2085044

Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: New Ghaziabad/GZN added by Gen Z/2085044

Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: Gurgaon/GGN added by Gen Z/2085044

Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by Gen Z/2085044

Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: Old Delhi Junction/DLI added by Gen Z/2085044

Oct 23 2020 (17:04)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Gen Z/2085044
Passengers travelling from Delhi, Ghaziabad and Gurugram will be the first to avail the soon-to-begin ‘Bags on Wheels’ service of the Railways through which their luggage will be transported to their homes from the railway station upon their arrival in trains and vice versa.
The Northern Railways’ Delhi Division on Friday announced the ‘App-Based Bags on Wheels’, a first of its kind service available for railway passengers in India. While the contract has been awarded, the services are expected to begin soon.
Initially, the firm to which the contract is awarded will provide
...
more...
its services for the passengers boarding trains from New Delhi, Delhi Jn., Hazrat Nizamuddin, Delhi Cantt., Delhi Sarai Rohilla, Ghaziabad and Gurgaon railway stations, a statement from the Northern Railway said.
While officials said the cost of availing these services will be nominal, the price will depend on the distance to be covered as well as the weight and quantity of the luggage to be carried.
“The service will enhance the scope of earning for Railways with straightaway Non-Fare Revenue of ₹50 lakh per annum along with 10 per cent revenue sharing for the period of one year,” it said.
The firm will provide door-to-door service to railway passengers on a nominal fee for hassle-free and smooth handling and transportation of luggage from the passenger’s home to the passenger’s coach in the train and vice-versa.
Rajiv Chaudhry, General Manager Northern and North Central Railways, said the Railways has been regularly striving to enhance its revenue through innovative ideas.
“Working in the same direction, Delhi division has recently achieved a milestone by awarding a new innovative contract under New Innovative Non Fare Revenue Ideas Scheme (NINFRIS) for App-Based Bags-on-Wheels services. It would be the first of its kind service available for the railway passengers in India,” he said.
Using BOW APP (will be available for Android & iPhone users), passengers will raise their demand for carrying their luggage to railway station or to their home. Luggage will be picked up by the contractor in a secured manner and will be delivered to the coach/home as per booking preference of passenger, he said.
It would be very helpful for passengers, especially senior citizens, differently-abled and women passengers travelling alone, Mr. Chaudhry said.
The unique feature of this service would be that the delivery of the luggage would be ensured prior to departure of the train to provide ease of travelling experience to passengers,” the statement said.
Dec 07 2019 (19:01) रैपिड रेल का डिपो बनाने के लिए मधुबन-बापूधाम में मांगी जमीन (m-jagran-com.cdn.ampproject.org)
IR Affairs
NR/Northern
0 Followers
12849 views

News Entry# 396300  Blog Entry# 4507846   
  Past Edits
Dec 07 2019 (19:01)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by सब दिल्ली क्षेत्र के लिए रेल सेवा मांग रहे हैं😂^~/1833693

Dec 07 2019 (19:01)
Station Tag: New Ghaziabad/GZN added by सब दिल्ली क्षेत्र के लिए रेल सेवा मांग रहे हैं😂^~/1833693
जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल परियोजना में नया मोड़ आ गया है। नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (एनसीआरटीसी) ने दुहाई में प्रस्तावित डिपो को दूसरी जगह शिफ्ट करने पर मंथन शुरू कर दिया है। किसानों के विरोध के चलते वैकल्पिक योजना बनाई जा रही है। किसान अधिसूचना में निर्धारित की गई दरों पर जमीन देने को तैयार नहीं है। नौकरी दिए जाने समेत कई शर्तें किसानों ने रखी हैं। उसे पूरा करने के लिए एनसीआरटीसी सहमत नहीं है। इस पेंच को खत्म करने के लिए एनसीआरटीसी डिपो बनाने के लिए दूसरी जगह जमीन तलाश रहा है। शुक्रवार को इनके अधिकारियों ने जीडीए वीसी कंचन वर्मा से मुलाकात कर मधुबन-बापूधाम आवासीय योजना में डिपो के लिए 50 हेक्टेयर जमीन देने का मौखिक प्रस्ताव रखा। जीडीए वीसी ने उन्हें कहा है कि वह लिखित प्रस्ताव दें।
...
more...

रैपिड रेल परियोजना के दुहाई डिपो के लिए इसी वर्ष जुलाई में तीन गांवों की 67.0523 हेक्टेयर जमीन अधिसूचित की गई थी। दुहाई की 3.6725 हेक्टेयर, भिक्कनपुर गांव की 37.8798 हेक्टेयर और बसंतपुर सैंथली गांव की 25.50 हेक्टेयर जमीन डिपो के लिए चाहिए थी। दुहाई की सामान्य कृषि भूमि की दर 11 हजार रुपये, लिक मार्ग पर कृषि भूमि की दर 13200 रुपये और आबादी से सटी कृषि भूमि की दर 16500 रुपये प्रति वर्ग मीटर निर्धारित की गई थी। भिक्कनपुर के लिए सामान्य कृषि भूमि की दर छह हजार रुपये, लिक मार्ग पर कृषि भूमि की दर नौ हजार रुपये और आबादी में कृषि भूमि की दर 10 हजार रुपये प्रति वर्ग मीटर दर तय की गई थी। बसंतपुर सैंथली के लिए सामान्य कृषि भूमि की दर 8000 रुपये और लिक मार्ग पर स्थित कृषि भूमि के लिए 9200 रुपये प्रति वर्ग मीटर की दर निर्धारित हुई थी। एनसीआरटीसी को किसानों से इस दर पर जमीन की सीधी खरीद करनी थी। किसान इस दर पर जमीन को देने के सहमत नहीं हुए। किसानों का कहना था कि खेती ही उनकी आय का मुख्य स्त्रोत है। रैपिड रेल डिपो के लिए कृषि भूमि देने पर वह बेरोजगार हो जाएंगे। उन्होंने मांग रखी थी कि उनके परिवार से एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी भी दी जाए। किसान अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं। इस कारण एनसीआरटीसी डिपो बनाने का काम शुरू नहीं कर पा रहा। एनसीआरटीसी के सीपीआरओ सुधीर शर्मा का कहना है कि कॉरिडोर की कमिशनिग के लिए डिपो बनाना प्राथमिकता है। किसानों से जमीन खरीद की प्रक्रिया काफी धीमी है। इस परियोजना को समय से पूरा करने के लिए डिपो का निर्माण वक्त से करना होगा। उसी में रैपिड रेल खड़ी होगी, मेंटेंनेंस कार्य होगा। किसानों से बात नहीं बनती तो उसके लिए वैकल्पिक योजना बनाना जरूरी है। उसके लिए ही दूसरी जगह जमीन की तलाश की जा रही है। मधुबन-बापूधाम आवासीय योजना में जीडीए द्वारा अधिग्रहित जमीन है। उसमें जमीन मिल जाए तो प्रोजेक्ट को समय से पूरा करना आसान हो जाएगा। उसी सिलसिले में एनसीआरटीसी अधिकारी जीडीए वीसी कंचन वर्मा से वार्ता करने गए थे।
------
बदलना पड़ेगा मधुबन-बापूधाम का ले-आउट

रैपिड रेल के डिपो के लिए जमीन देने का फैसला लेने में जीडीए को वक्त लग सकता है। एक जगह 50 हेक्टेयर जमीन चिह्नित करने के लिए जीडीए को मधुबन-बापूधाम आवासीस योजना का ले-आउट बदलना होगा। कई औद्योगिक इकाईयों समेत कई तरह के भूखंड खत्म करने होंगे। केवल मूलभूत सुविधाओं के लिए ही जमीन रखी जाएगी। जीडीए अधिकारियों ने एनसीआरटीसी के अधिकारियों से कहा है कि वह 50 हेक्टेयर से कम भूमि पर डिपो बनाने की वैकल्पिक योजना भी बनाएं। जिससे कम जमीन मिलने पर भी वहां डिपो बनाया जा सके। जीडीए अधिकारियों ने बताया कि कॉमर्शियल रेट पर एनसीआरटीसी को जमीन दी जाएगी। जोकि, 65250 रुपये प्रति वर्ग मीटर है।
------
साहिबाबाद से दुहाई के बीच 2023 तक दौड़ानी है रैपिड रेल
दिल्ली से मेरठ तक रैपिड रेल कॉरिडोर 82 किलोमीटर लंबा है। पूरे कॉरिडोर को वर्ष 2025 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित है। मेरठ में इसी कॉरिडोर पर मेट्रो रेल दौड़ाने की योजना है। चार पैकेज में इस कॉरिडोर का निर्माण किया जा रहा है। एनसीआरटीसी के अधिकारियों ने बताया कि साहिबाबाद से दुहाई के बीच 17 किलोमीटर के कॉरिडोर का निर्माण वर्ष 2023 तक पूरा करके इस पर रैपिड रेल का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा। इतने हिस्से में साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर और दुहाई स्टेशन बनाए जाएंगे। एक डिपो भी इसी बीच बनेगा। जो अभी तक दुहाई में प्रस्तावित है।
रैपिड रेल के प्रस्तावित स्टेशन
दिल्ली : सराय कालेखां, न्यू अशोक नगर, आनंद विहार
गाजियाबाद : साहिबाबाद, गाजियाबाद (मेरठ तिराहा), गुलधर, दुहाई, मुरादनगर, मोदीनगर साउथ, मोदीनगर नॉर्थ
मेरठ : मेरठ साउथ, शताब्दी नगर, बेगमपुल, मोदीपुरम
प्रोजेक्ट से जुड़े फैक्ट्स
- कुल 30,274 करोड़ रुपये आएगी लागत
- रैपिड रेल में होंगे अधिकतम नौ कोच
- रैपिड रेल की अधिकतम स्पीड 180 किलोमीटर प्रति घंटा तक होगी, न्यूनतम 100 किलोमीटर
एनसीआरटी ने मधुबन-बापूधाम में रैपिड रेल का डिपो बनाने के लिए जमीन मांगी है। मौखिक प्रस्ताव रखा है। एनसीआरटीसी अधिकारियों को कहा गया है कि वह लिखित प्रस्ताव दें। एक जगह 50 हेक्टेयर जमीन देने के लिए ले-आउट में परिवर्तन करना पड़ेगा।
- कंचन वर्मा, वीसी, जीडीए
Oct 30 2016 (16:22) दिवाली के दिन कराने जा रहे हैं टिकट का रिजर्वेशन तो होने वाली है बड़ी मुश्किल, जानिए क्यों? (www.amarujala.com)
NR/Northern

News Entry# 284358   
  Past Edits
Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Jhajjar/JHJ added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Shamli/SMQL added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Deoband/DBD added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Nangloi/NNO added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Rohtak Junction/ROK added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Mansa/MSZ added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Jind Junction/JIND added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Kaithal/KLE added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Kurukshetra Junction/KKDE added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Karnal/KUN added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Panipat Junction/PNP added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Sonipat/SNP added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Narela/NUR added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Palwal/PWL added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Ballabgarh/BVH added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Faridabad/FDB added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Delhi Sarai Rohilla/DEE added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Delhi Cantt./DEC added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Palam/PM added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: Gurgaon/GGN added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: New Ghaziabad/GZN added by Subhash/746156

Oct 30 2016 (4:22PM)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Subhash/746156
दिवाली पर्व को लेकर रविवार को दिल्ली क्षेत्र के रेलवे आरक्षण केंद्र दोपहर 2 बजे से 8 बजे रात तक बंद रहेंगे। हालांकि करंट काउंटर इस दौरान खुला रहेगा। जबकि नई दिल्ली स्टेशन स्थित आईआरसीए भवन, पुरानी दिल्ली व हजरत निजामुद्दीन स्टेशन के आरक्षण केंद्रों पर आंशिक सेवा 6 बजे तक ही उपलब्ध रहेगी।
रेलवे के आदेश के अनुसार संसद भवन, प्रेस क्लब, हाईकोर्ट, डीयू, जेएनयू, आईआईटी, तीस हजारी, कश्मीरी गेट, रेलवे बोर्ड आरक्षण सेवा केंद्र पूरे दिन के लिए बंद रहेंगे। आनंद विहार, साहिबाबाद, नया गाजियाबाद, गुड़गांव, पालम, दिल्ली छावनी, दिल्ली सराय रोहिल्ला, फरीदाबाद, बल्लभगढ़, पलवल, नरेला, सोनीपत, पानीपत, करनाल, कुरुक्षेत्र, कैथल, जींद, मनसा, रोहतक, नांगलोई, देवबंद, शामली, झझर, ग्रेटर नोएडा शाम की पाली यानी दोपहर दो बजे के बाद बंद
...
more...
रहेंगे।
रविवार दोपहर 2 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक इंटरनेशनल टूरिस्ट ब्यूरो कार्यालय भी बंद रहेगा। इस दौरान नई दिल्ली स्टेशन के दोनों तरफ (पहाड़गंज व अजमेरी गेट), हजरत निजामुद्दीन, पुरानी दिल्ली, सराय रोहिल्ला स्टेशन स्थित करंट रिजर्वेशन काउंटर सामान्य दिनों की तरह ही खुला रहेगा।
Page#    Showing 1 to 6 of 6 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy