Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

चलती है (ग्वालियर-भोपाल वाया गुना बीना ICE) उड़ती है धूल जलते है दुश्मन खिलते है फूल - Adi Singh

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Mon Jan 17 22:06:02 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRAdvanced Search

KKN/Khirkiya (2 PFs)
     खिरकिया

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Guru Nanak Rd, Khirkiya, District-Harda, Pincode-461441.
State: Madhya Pradesh


Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for KKN/Khirkiya
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 25
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
0 Follows
Rating: 4.8/5 (8 votes)
cleanliness - excellent (1)
porters/escalators - excellent (1)
food - excellent (1)
transportation - excellent (1)
lodging - good (1)
railfanning - excellent (1)
sightseeing - excellent (1)
safety - excellent (1)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 25 News Items  next>>
Dec 27 2021 (21:02) रेलवे स्टेशन पर पर्याप्त सुविधाएं नहीं (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
5137 views

News Entry# 473286  Blog Entry# 5175360   
  Past Edits
Dec 27 2021 (21:02)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 27 2021 (21:02)
Station Tag: Khirkiya/KKN added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bhopal Junction/BPL   Khirkiya/KKN  
सेंटर पेज लीड
अनदेखीः डीआरएम के निर्देश के 28 महीने बाद भी सुविधाओं का नहीं हुआ विस्तार
फोटो- 27रचच-7-2712 खिरकिया। स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-2 के लंबे हिस्से में टीन शेड नहीं है।
फोटो-27रचच-8-2712 खिरकिया। रेलवे गेट से प्लेटफार्म नंबर-1 पर जाने के कच्चे रास्ते पर इस प्रकार पत्थर फैले रहते हैं।
खिरकिया।
...
more...
नवदुनिया न्यूज
स्थानीय रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा में बढ़ोत्तरी करने की दिशा में विभाग के अफसरों का कोई ध्यान नहीं है। यही कारण है कि सुविधाओं की कमी से यात्रियों को दिक्कत होती है। कोरोना की दूसरी लहर के बाद खत्म हुए लॉकडाउन के उपरांत खिरकिया स्टेशन पर एक्सप्रेस ट्रेनों का स्टॉपेज भी हो रहा है। ऐसे में स्टेशन पर समस्याओं का निराकरण भी होना जरूरी है। फिर भी यात्री सुविधाओं को बढ़ाने पर रेलवे अफसर कोई रूचि नहीं दिखा रहे हैं। खिरकिया स्टेशन पर ढाई साल पहले तत्कालीन डीआरएम ने जिन दो कामों को 2 माह में पूर्ण कराने की बात कही थी। उन्हें शुरू करने की प्रक्रिया 28 माह में भी अधर में है। डीआरएम के निर्देश का अभी तक रेलवे अफसरों ने पालन शुरू नहीं किया है। इसका खामियाजा स्टेशन पर ट्रेनों का इंतजार करने वाले यात्रियों को उठाना पड़ रहा है। ट्रेनों के स्टॉपेज की संख्या बढे के बाद यात्रियों की संख्या में भी इजाफा होगा। लेकिन स्टेशन पर समस्या जस की तस बनी हुई है।
डीआरएम ने यह दिए थे निर्देश
भोपाल रेल मंडल के तत्कालीन डीआरएम उदय बोरवानकर 24 जुलाई 2019 को स्थानीय स्टेशन का निरीक्षण करने पहुंचे थे। इस दौरान शहर के नागरिकों ने स्टेशन पर मूलभूत सुविधाएं और ट्रेनों का स्टॉपेज बढ़ाने की मांग रखी। जिस पर डीआरएम ने प्लेटफार्म से होकर रेलवे गेट तक निरीक्षण किया और स्टेशन के दोनों प्लेटफार्म पर टीन शेड की लंबाई बढ़ाने और प्लेटफार्म से रेलवे गेट तक सीमेंटीकरण के निर्देश दिए। यह दोनों कार्य दो माह में पूर्ण कराने के निर्देश डीआरएम ने संबंधित अफसरों को दिए थे। लेकिन डीआरएम के दौरे के 28 माह बाद भी स्टेशन पर यह दोनों कार्य शुरू नहीं हो सकें हैं।
कच्चा रास्ता होने से होती है दिक्कत
रेलवे स्टेशन के दोनों प्लेटफार्म से गेट की तरफ कच्चा रास्ता है। ऐसे में गेट की तरफ से प्लेटफार्म तक जाने वाले यात्रियों को परेशानी होती है। कच्चे रास्ते पर पत्थरों से राहगीरों को दिक्कत होती है। खासकर बारिश के दिनों में यात्रियों की दिक्कत बढ़ती है। गेट से प्लेटफार्म तक कच्ची सडक़ पर बारिश में कीचड़ और गंदा पानी फैला होने से यात्रियों का पैदल निकला मुश्किल हो जाता है। सालों से यह समस्या स्टेशन पर बनी हुई है। खासकर महिलाओं, बुजुर्गों एवं बच्चों को खासी परेशानी होती है।
धूप और बारिश में खड़े होकर ट्रेन का इंतजार करते हैं यात्री
स्टेशन के दोनों प्लेटफार्म पर शेड की लंबाई कम है। अप और डाउन साइड दोनों प्लेटफार्म पर आगे और पीछे की तरफ जहां जनरल बोगी खड़ी होती है। वहां टीन शेड नहीं है। ऐसे में तेज धूप और बारिश में खड़े होकर यात्रियों को ट्रेन आने का इंतजार करना पड़ता है। वहीं ट्रेन रूकने पर इसी स्थिति में अक्सर बैठना भी मजबूरी बना हुआ है। ट्रेन आने और रूकने के दौरान यात्रियों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।
रेलवे ने अभी तक शुरू नहीं किया काम
रेलवे ने स्टेशन के दोनों प्लेटफार्म पर शेड बढ़ाने और गेट से प्लेटफार्म तक सीसी रोड निर्माण की प्रक्रिया को अभी तक शुरू ही नहीं किया है। डीआरएम के मौके का निरीक्षण दौरान निर्देश दिए दो साल से अधिक समय बीत चुका है। लेकिन रेलवे के संबंधित अफसरों ने अभी तक प्राकल्लन तक नहीं किया है।
वर्जन
खिरकिया रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुविधाओं में वृद्धि के लिए नगर विकास समिति सदैव प्रयत्नशील रहती है। ढाई साल पहले जब तत्कालीन डीआरएम आए थे, तब उन्होंने बुनियादी सुविधाओं में बढ़ोतरी का आश्वासन दिया था, लेकिन उनके निर्देश के बावजूद रेलवे विभाग ने काम शुरू नहीं किया। अब वर्तमान डीआरएम को शीघ्र ही समस्याओं से अवगत कराया जाएगा।
-अनिल दरबार, अध्यक्ष, नगर विकास समिति, खिरकिया
वर्जन
निर्माण कार्य सहित अन्य सुविधाओं की वृद्धि के काम मंडल कार्यालय भोपाल स्तर से ही होते हैं। इसलिए इस संबंध में कुछ नहीं बात पाऊंगा।
-आरएन सिंह, स्टेशन अधीक्षक, खिरकिया
Nov 23 2021 (22:54) ट्रेनें स्पेशल से हुई सामान्य, लेकिन बुजुर्गों को नहीं दे रहे कोई रियायत (www.naidunia.com)
IR Affairs
CR/Central
0 Followers
6115 views

News Entry# 470754  Blog Entry# 5141836   
  Past Edits
Nov 23 2021 (22:54)
Station Tag: Khirkiya/KKN added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Khirkiya/KKN  
खिरकिया। नवदुनिया न्यूज
लगभग 20 महीने बाद रेल सेवाएं सामान्य हो गई है। सभी ट्रेनों से स्पेशल केटेगरी का दर्जा हटा लिया गया है। ट्रेनों के पुराने नंबर भी यथावत कर दिए गए हैं। लेकिन अभी भी सीनियर सिटीजन यात्रियों को किराए में मिलने वाली छूट शुरू नहीं हुई है। कोरोना महामारी व लॉकडाउन के बाद से ट्रेनों में बुजुर्गों को मिलने वाली किराए में छूट बंद है। लॉकडाउन खत्म होने व रेल सेवाएं बहाल होने के बाद भी यह छूट अब तक बहाल नहीं हुई है। जिसके चलते बुजुर्ग यात्रियों को ज्यादा किराया देकर यात्रा करना पड़ रहा है। मालूम हो कि मार्च 2020 में कोराना महामारी फैलने के बाद रेलवे ने बुजुर्गों को मिलने वाली रेल किराए में छूट स्थगित
...
more...
कर दी थी।
बुजुर्गों को इतनी मिलती थी छूटः वरिष्ठ नागरिकों या बुजुर्गों को रेलवे किराए में छूट प्रदान करता रहा था। 58 साल या इससे ज्यादा उम्र की महिलाओं को सभी श्रेणी के किराए में 50 फीसद रियायत दी जाती थी। जबकि 60 साल या इससे ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को 40 फीसद तक छूट मिलती थी। यह रियासत दो दशक पहले तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा दी गई थी। दो दशक से ज्यादा समय से रेलवे द्वारा दी जाने वाली रियायतें हमेशा चर्चित विषय रहा है। कई कमेटियों ने इन्हें खत्म करने की सिफारिश की थी। इस कारण जुलाई 2016 में रेलवे ने इसे स्वेच्छिक कर दिया था। तब टिकट बुक करते समय यात्री को इसका विकल्प चुनना होता था। इसके बाद जुलाई 2017 में रेलवे ने गिव इट अप स्कीम के तहत बुजुर्गों को उन्हें मिलने वाली छूट या रियायत आंशिक रूप से या पूरी तरह त्यागने का विकल्प भी दिया। लेकिन मार्च 2020 में कोविड के कारण इसे पूरी तरह से बंद कर दिया गया।
वरिष्ठ नागरिकों में है नाराजगीः एक बुजुर्ग देवेंद्र चंद्रवंशी ने बताया कि रेल सफर में बुजुर्गों को आरक्षण तो मिल रहा है, लेकिन यात्रा में मिलने वाली छूट को बंद कर दिया है। तालाबंदी के दिनों में जब छूट न देने का ऐलान किया गया तो उसी कारण कोरोना काल में बुजुर्गों को भारी निराशा का सामना करना पड़ा था। पहले रेलवे की ओर से 58 साल से ऊपर की महिलाओं को 50 और 60 साल से ऊपर के पुरुषों को 40 फीसद की छूट दी जाती थी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में इस उम्र के यात्रियों से पूरा किराया लिया जा रहा है। कोरोना काल में रेलवे की ओर से ट्रेनों को स्पेशल बनाकर चलाया जा रहा है। स्पेशल ट्रेनों का ही हवाला देकर बुजुर्ग यात्रियों को यह छूट बंद करने की बात कही गई थी। लेकिन अब जब सभी स्पेशल ट्रेनें सामान्य हो चुकी है। तब बुजुर्गों को मिलने वाली छूट को बहाल किया जाना चाहिए।
Nov 21 2021 (20:11) दिन में चलने वाली पैसेंजर ट्रेन को पूर्ववत चलाने की मांग (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
CR/Central
0 Followers
108342 views

News Entry# 470573  Blog Entry# 5138977   
  Past Edits
Nov 21 2021 (20:12)
Station Tag: Bhusaval Junction/BSL added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 21 2021 (20:12)
Station Tag: Chhatrapati Shivaji Maharaj Terminus/CSMT added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 21 2021 (20:11)
Station Tag: Bhusaval Junction/BSL added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 21 2021 (20:11)
Station Tag: Khirkiya/KKN added by Adittyaa Sharma/1421836
खिरकिया। दिन में चलने वाली पैसेंजर सवारी गाड़ी को पूर्ववत समय पर प्रारंभ किए जाने के लिए नगर विकास समिति के अध्यक्ष अनिल दरबार और सचिव राजेश मेहता ने रेलवे जीएम मुंबई और डीआरएम भुसावल को पत्र लिखा है। उन्होने मांग की है कि रात की तरह दिन की दो पैसेंजर ट्रेन भी चालू की जाएं। मध्य रेल भुसावल मंडल के तहत संचालित होने वाली यात्री पैसेंजर ट्रेन क्रमांक 51187 और 51188 भुसावल कटनी भुसावल पैसेंजर तथा 51157 और 51158 भुसावल इटारसी भुसावल पैसेंजर का संचालन जनहित में दोबारा शुरू किया जाए। मध्य रेल के भुसावल मंडल से वर्षो पुरानी यात्री पैसेंजर ट्रेन संचालित हो रही थी। इस सुविधा का बड़ी संख्या में गरीब व मध्यमवर्गीय जनता को लाभ मिल रहा था,लेकिन 20 माह पूर्व कोविड संक्रमण के चलते कई ट्रेनों का संचालन अस्थाई रोक दिया गया था। वर्तमान में बड़ी संख्या में कोविड का वैक्सीनेशन हो चुका है। वर्तमान स्थिति...
more...
में पहले से बहुत सुधार है। जनजीवन और विभिन्ना स्थितियां सामान्य हो रही है। जन जीवन पहले की तरह शुरू हो रहा है। इसको देखते हुए दूसरे शहर जाकर नौकरी, मजदूरी, व्यवसाय, व्यापारी, विद्यार्थियों का आना जाना प्रारंभ हो गया है। यात्री पैसेंजर ट्रेनों से यात्रा कर शाम को अपने घर आसानी से लौट आते थे। वर्तमान में ट्रेनों का संचालन प्रारंभ नहीं होने के कारण बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कई परिवारों को भी बहुत कठिनाइयां हो रही है। इसलिए पूर्व में संचालित होने वाली यात्री पैसेंजर ट्रेन क्रमांक 51187व 51188 भुसावल कटनी, भुसावल व पैसेंजर ट्रेन क्रमांक 51157 व51158 भुसावल इटारसी इलाहाबाद का संचालन वर्तमान स्थितियों को देखते हुए तत्काल प्रभाव से प्रारंभ करें। इससे गरीब व मध्यमवर्ग व्यक्तियों, अपडाउन करने वाले और जैसे छोटे व्यापारियों, मजदूरों, विद्यार्थी आदि को सुविधा होगी। वर्तमान में पैसेंजर ट्रेनों के न होने से मध्यमवर्गीय परिवारों को परेशानी के साथ साथ आर्थिक क्षति भी हो रही है।
Nov 13 2021 (20:55) 20 महीने बाद शुरू होगी रात की इटारसी-भुसावल पैसेंजर ट्रेन (www.naidunia.com)
New/Special Trains
CR/Central
0 Followers
21254 views

News Entry# 469908  Blog Entry# 5122063   
  Past Edits
Nov 13 2021 (20:55)
Station Tag: Bhusaval Junction/BSL added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 13 2021 (20:55)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 13 2021 (20:55)
Station Tag: Khirkiya/KKN added by Adittyaa Sharma/1421836
खिरकिया। नवदुनिया प्रतिनिधि
मध्य रेलवे ने 15 नवंबर से इटारसी-भुसावल पैसेंजर चालू करने का निर्णय लिया है। इसके आदेश शुक्रवार देर शाम जारी हुए, लेकिन भुसावल से खंडवा के बीच पांच छोटे स्टेशन सूची से गायब हैं। हालांकि जो ट्रेन चलेगी वह मेमू ट्रेन होगी। इसमें शौचालय की सुविधा नहीं होगी, लेकिन यात्रियों को किसी भी स्टेशन से अनरिजर्वड टिकट मिल सकेंगे। गौरतलब है कि 22 मार्च 2020 से कोरोना संक्रमण के चलते बुरहानपुर में इटारसी-भुसावल, भुसावल इटारसी पैसेंजर को स्थगित कर दिया गया था। करीब 20 महीने बाद पैसेंजर फिर मेमू के रूप में 15 नवंबर से चालू की जा रही है, लेकिन इसका टाइम टेबल भी बदल गया है। रेलवे ने अभी केवल रात की ही पैसेंजर चालू की
...
more...
है। इसका नंबर भी बदल दिया गया है। इसे स्पेशल ट्रेन के रूप में चलाया जाएगा।
ऐसे चलेगी पैसेंजर ट्रेनः ट्रेन नंबर 01183 भुसावल-इटारसी पैसेंजर प्रतिदिन रात 8.40 बजे भुसावल से रवाना होकर रात 2 बजे खिरकिया पहुंचेगी। और सुबह 6.05 बजे इटारसी पहुंचेंगी। जबकि वापसी में यह ट्रेन शाम 4.25 बजे इटारसी से रवाना होकर रात करीब 8.30 बजे खिरकिया आएगी। और सुबह 8 बजे भुसावल पहुंचेंगी।
इन स्टेशनों पर रूकेगी पैसेंजरः भुसावल, सावदा, निंभोरा, रावेर, वाघोड़ा, बुरहानपुर, नेपानगर, सागफाटा, डोंगरगांव, बोरगांव गुर्जर, खंडवा, मथेला, तलवड़िया, सुरगांव बंजारी, चारखेड़ा खुर्द, छनेरा, बरूड़, दगड़खेड़ी, खिरकिया, भिरंगी, मसनगांव, पलासनेर, हरदा, चारखेड़ा, टिमरनी, पगढ़ाल, भैंरोपुर, बनापुरा, धरमकुंडी, डुलरिया, इटाररसी। स्टेशन की सूची से असीरगढ़, चांदनी, मांडवा, कोहदड़ बगमार का नाम सूची में नहीं है।
यह हैं कमियों से होना पड़ेगा परेशान
- दिन की बजाए केवल रात की ही पैसेंजर ट्रेन चालू की गई है। जबकि दिन में सामान्य यात्री, अप डाउनर्स को फायदा होता।
- लंबा सफर होने के बावजूद ट्रेन में शौचालय की व्यवस्था नहीं होने से यात्रियों को खासी परेशानी होगी।
- सूची से पांच स्टेशन हटा दिए गए। ऐसे इन छोटे स्टेशनों के यात्रियों को अब भी बस से सफर करना मजबूरी होगी।
मेमू ट्रेन से यह होगा फायदा
- मेमू ट्रेन पूर्व में चल रही पैसेंजर से ज्यादा सुविधाजनक होगी। निर्धारित स्टेशन से ही स्पीड के साथ आगे बढ़ेगी।
- पैसेंजर ट्रेन को घंटों कहीं भी मेल, एक्सप्रेस निकालने के लिए खड़ी करके रखा जाता है, लेकिन मेमू को ज्यादा नहीं रोका जाता।
- अब तक टिकट खिड़की से जनरल टिकट नहीं मिल रहे थे, लेकिन इसमें जनरल टिकट किसी भी स्टेशन से ले सकेंगे।
Sep 04 2021 (22:04) ट्रेन में सामान बेचने वाले बच्चों को पढ़ाया शिक्षा का पाठ (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
6704 views

News Entry# 463973  Blog Entry# 5059142   
  Past Edits
Sep 04 2021 (22:04)
Station Tag: Khirkiya/KKN added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Khirkiya/KKN  
सुनील कुमार जैन, खिरकिया।
ब्लॉक में एक शिक्षक ऐसे भी है, जिन्होंने अपनी ड्यूटी टाइम से इतर भी बच्चों के भविष्य की चिंता की। बच्चों को शिक्षित करने के साथ गांव के लोगों को शिक्षा का पाठ पढ़ाया। ब्लॉक मुख्यालय से करीब 15 किमी दूर स्थित भिरंगी टोला में ज्यादातर लोग अशिक्षित थे। यहां के ज्यादातर लोगों को शराब की भी आदत थी। दस साल पहले यहां संतोष कुमार गौर की शिक्षक के रूप में पदस्थापना हुई। तब यहां की प्राथमिक शाला में महज 19 विद्यार्थी थे। शाला की व्यवस्था भी ठीक नहीं थी। ग्रामवासी शाला भवन में अपने मवेशी बांधते थे। जिससे शाला परिसर में रोजाना गंदगी फैलती थी।
ट्रेन
...
more...
में सामान बेचते थे बच्चेः गांव रेलवे स्टेशन के पास होने के चलते ज्यादातर बच्चे ट्रैन के टाइम पर स्टेशन पर पानी, चने टमाटर आदि बेचते थे। साल 2011 में पदस्थ हुए संतोष कुमार गौर ने पहले गांव के लोगों को शिक्षित होने का अर्थ समझाया। फिर बच्चों को स्कूल भेजने के लिए कवायद की। इसके बाद धीरे-धीरे ग्रामवासी अपने बच्चों को स्कूल भेजने लगे। शत प्रतिशत नामांकन भी हुआ। बालिकाओं को स्कूल भेजने के लिए पालकों को तैयार किया। नतीजा यह कि आज इस टोले की बड़ी संख्या में बालिकाएं हायर सेकंडरी स्कूल में पढ़ रही है। साथ ही ग्रामवासियों को शराब पीने से होने बाले नुकसान के बारे में समझाकर और शराब छोड़ने का संकल्प दिलाया।
जन सहयोग से जुटाए संसाधन
शिक्षक ने ग्रामवासियों के जन सहयोग से स्कूल भवन का कायाकल्प कराया। प्राथमिक विद्यालय में बच्चों को बैठने के लिए फर्नीचर की व्यवस्था कराई। कोरोना काल में बच्चों की डिजिटल पढ़ाई के लिए चुनिंदा पालकों के पास उपलब्ध एंड्राइड मोबाइल से सभी बच्चों की पढ़ाई संभव कराई। जन सहयोग से विद्यालय में रेडियो की भी व्यवस्था कराई। साथ ही विद्यालय परिसर में एक चबूतरा निर्माण कराया। शिक्षक गौर की मेहनत और लगन के बल पर शाला को लगातार दो बर्षों से दक्षता में कांस्य एवं सिल्वर प्रमाण पत्र भी प्राप्त हुआ है।
Page#    Showing 1 to 20 of 25 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy