Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Gaya's Mahabodhi: Tumse Milne Ko Dil Karta hai, Tumhi Ho Jispe Dil Marta hai - Ashwani Kumar

Full Site Search
  Full Site Search  
Just PNR - Post PNRs, Predict PNRs, Stats, ...
 
Tue Aug 9 11:21:02 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRPost BlogAdvanced Search

ROZA/Roza Junction (4 PFs)
روضہ جنکشن     रोज़ा जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
National Highway 24,Shahjahanpur,Pin Code:-242001
State: Uttar Pradesh


Zone: NR/Northern   Division: Moradabad

No Recent News for ROZA/Roza Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 4
Number of Halting Trains: 12
Number of Originating Trains: 1
Number of Terminating Trains: 1
0 Follows
Rating: 4.6/5 (7 votes)
cleanliness - excellent (1)
porters/escalators - n/a (0)
food - average (1)
transportation - excellent (1)
lodging - excellent (1)
railfanning - excellent (1)
sightseeing - excellent (1)
safety - excellent (1)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 135 News Items  next>>
Apr 07 (09:48) लालफाटक ब्लॉक: बरेली-रोजा रहेगी निरस्त, कुछ गाड़ियां शाहजहांपुर से पीलीभीत होकर आएंगी बरेली (www.livehindustan.com)
0 Followers
128797 views

News Entry# 482657  Blog Entry# 5275600   
  Past Edits
Apr 07 2022 (09:51)
Station Tag: Dehradun Terminal/DDN added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:51)
Station Tag: Howrah Junction/HWH added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Shaktinagar (Terminal)/SKTN added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Singrauli/SGRL added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Tanakpur/TPU added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Kolkata/KOAA added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Roza Junction/ROZA added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Lalgarh Junction/LGH added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Dibrugarh/DBRG added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Saharsa Junction/SHC added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Amritsar Junction/ASR added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:50)
Station Tag: Jammu Tawi/JAT added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:48)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:48)
Station Tag: Bareilly City/BC added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:48)
Station Tag: Bareilly Junction/BE added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:48)
Station Tag: Shahjahanpur Junction/SPN added by Boss/2098471

Apr 07 2022 (09:48)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Boss/2098471
लालफाटक पर अंडरपास निर्माण के लिए रेलवे की ओर से 10 अप्रैल का दिन निर्धारित किया गया है। 10 अप्रैल को दिल्ली-लखनऊ रुट पर सात घंटे तक रेल यातायात बाधित रहेगा। इस अवधि में बरेली-रोजा पैसेंजर सहित दो ट्रेनों को निरस्त किया गया है। 7 गाड़ियों को   परिवर्तित मार्ग से चलाया जाएगा।  2 ट्रेनें रि-शेड्यूल और एक ट्रेन को रेग्युलेट किया गया है।
मुरादाबाद मंडल के सीनियर डीसीएम सुधीर सिंह ने बताया लाल फाटक पर जाम से निजात दिलाने के लिए अंडरपास बनाने का काम किया जा रहा है। इसके लिए वहां 10 अप्रैल को काम किया जाएगा। काम के चलते करीब सात घंटे तक संचालन बाधित रहेगा। उन्होंने बताया रोजा-बरेली पैसेंजर (04379-04380)अप-डाउन दोनों ट्रेनें पूरी तरह निरस्त रहेंगी।  नई दिल्ली
...
more...
-डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस (20506) गाजियाबाद-कानपुर सेंट्रल होकर लखनऊ को जाएगी। बरेली और मुरादाबाद में निरस्त रहेगी। अमृतसर-सहरसा गरीबरथ एक्सप्रेस (12204) 10 अप्रैल को गाजियाबाद-कानपुर सेंट्रल होकर चलेजी। हापुड़, मुरादाबाद, बरेली, हरदोई के बीच निरस्त रहेगी। 9 अप्रैल को जम्मूतवी से चलने वाली जम्मूतवी-गोरखपुर एक्सप्रेस  (12588) सहारनपुर-मेरठ-खुर्जा जंक्शन-कानपुर सेंट्रल-लखनऊ के रास्ते चलाई जाएगी। 9 अप्रैल को सिंगरौली से चलने वाली सिंगरौली-टनकपुर त्रिवेणी एक्सप्रेस (15073) शाहजहांपुर-पीलीभीत के रास्ते चलेगी। बरेली जंक्शन, बरेली सिटी, और इज्जतनगर स्टेशनों पर यह ट्रेन निरस्त रहेगी। 9 अप्रैल को हावड़ा से चलने वाली हावड़ा-देहरादून (12369) कुम्भ एक्सप्रेस शाहजहांपुर-पीलीभीत-बरेली जंक्शन के रास्ते चलाई जाएगी। 8 अप्रैल को डिब्रूगढ़ से चलने वाली लालगढ़-डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस (15909)शाहजहांपुर-पीलीभीत-बरेली जंक्शन के रास्ते चलाई जाएगी। 10 अप्रैल को टनकपुर से चलने वाली (15076) टनकपुर-शक्तिनगर एक्सप्रेस पीलीभीत-शाहजहांपुर के रास्ते चलेगी। ट्रेन बरेली जंक्शन, बरेली सिटी, इज्जतनगर नहीं आएगी। 9 अप्रैल को चलने वाली (13152) जम्मूतवी-कोलकाता एक्सप्रेस और लालगढ़-डिब्रूगढ़ अवध असम एक्सप्रेस रि-शेड्यूल कर चलाई जाएंगी। 10 अप्रैल को नई दिल्ली से चलने वाली ( 15128) नई दिल्ली-बनारस एक्सप्रेस देरी से चलेगी।
Apr 04 (08:59) रोजा-सीतापुर के बीच इंटरलॉकिंग का काम शुरू (www.amarujala.com)
Other News
NR/Northern
0 Followers
26404 views

News Entry# 482341  Blog Entry# 5268409   
  Past Edits
Apr 04 2022 (09:00)
Station Tag: Sitapur Junction/STP added by 😎😎BBS Raj 🚝 Purushottam Meri jaan😘😘❤ ❤/2086033

Apr 04 2022 (09:00)
Station Tag: Roza Junction/ROZA added by 😎😎BBS Raj 🚝 Purushottam Meri jaan😘😘❤ ❤/2086033
शाहजहांपुर। रोजा-सीतापुर रेल लाइन दोहरीकरण के लिए इंटरलॉकिंग का काम रविवार को शुरू हो गया। इसके लिए रेलवे ने मंडल में 11 अप्रैल तक मेगा ब्लॉक लिया है। इसके चलते कुछ ट्रेनें रद्द रहीं, तो कई को मार्ग बदलकर चलाया गया। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।विज्ञापनरविवार को पूर्वाह्न 11:30 बजे से दोपहर बाद 2:30 बजे तक अप और डाउन दोनों लाइन पर ब्लॉक लिया रहा। इस बीच रेल पटरियों को दुरुस्त किया गया। वहीं, कुछ जगह स्लीपर चेंज किए गए। इस कारण रोजा-सीतापुर के बीच किसी भी ट्रेन का आवागमन नहीं हुआ।यात्रियों का कहना था रेल प्रशासन पहले से सूचित नहीं करता है, जब रेलवे प्लेटफार्म पर टिकट लेने जाओ तो पता लगता है कि आज ब्लॉक है और कोई ट्रेन नहीं चलेगी। जिस कारण बस से यात्रा करना पड़ता है। स्टेशन अधीक्षक जेपी सिंह ने बताया कि सीतापुर तीन से 11 अप्रैल तक का कार्य किया जाएगा,...
more...
जिसके चलते कई ट्रेनें रद्द रहेंगी। संवाद
Apr 03 (06:52) मुरादाबाद: आज राज्यरानी, जन नायक सहित ये 14 ट्रेनें रहेंगी रद्द, कुछ बदले रूट से चलेंगी, यहां पढ़ें पूरी लिस्ट (www.livehindustan.com)
IR Affairs
NR/Northern
0 Followers
24052 views

News Entry# 482244  Blog Entry# 5265374   
  Past Edits
Apr 03 2022 (06:52)
Station Tag: Sitapur Junction/STP added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 03 2022 (06:52)
Station Tag: Roza Junction/ROZA added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 03 2022 (06:52)
Station Tag: Moradabad Junction/MB added by Adittyaa Sharma/1421836
रोजा-सीतापुर रेल लाइन दोहरीकरण के लिए नॉन इंटरलॉकिंग का काम रविवार से शुरू हो जाएगा। इसके लिए रेलवे ने मंडल में 11 अप्रैल तक मेगा ब्लॉक लिया है। इस दौरान मंडल में अलग-अलग तारीखों में कई ट्रेनें रद्द रहेंगी तो कई बदले मार्गों से चलेंगी। इसी क्रम में रविवार को यानि पहले दिन राज्यरानी, जन नायक समेत 14 ट्रेनें रद्द रहेंगी। साथ ही कामाख्या-श्रीमाता वैष्णो देवी समेत कई ट्रेनें बदले मार्ग से गुजारी जाएंगी।
इंटरलाकिंग का काम तीन से 11 अप्रैल तक चलेगा। मुरादाबाद मंडल में सीतापुर रूट पर डबलिंग को पूरा करने की तैयारी है। कल नैरी से सीतापुर के बीच दोहरी रेललाइन बनाने का काम होगा। तीस किमी लंबे ट्रैक को पूरा करने के लिए मेगा ब्लॉक लिया गया है।
...
more...
नौ दिन चलने वाले इंटरलाकिंग के पहले दिन चौदह ट्रेनों के पहिए थमेंगे। 
Jan 04 (11:25) दरभंगा-अमृतसर सहित इन तिथियों में निरस्त रहेंगी आधा दर्जन प्रमुख ट्रेनें, कई ट्रेनों का मार्ग बदला (m.jagran.com)
IR Affairs
NER/North Eastern
0 Followers
111792 views

News Entry# 473932  Blog Entry# 5181351   
  Past Edits
Jan 04 2022 (11:25)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Station Tag: Roza Junction/ROZA added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Avadh Assam Express/15910 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Anand Vihar Terminal - Saharsa Jan Sadharan Express/15530 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Shri Mata Vaishno Devi Katra - Kamakhya Express/15656 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: New Jalpaiguri - Amritsar Karmabhoomi Express/12407 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Satyagraha Express/15273 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Kamakhya - Anand Vihar Terminal Weekly Express/15621 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Saharsa - Anand Vihar Terminal Jan Sadharan Express/15529 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Champaran Satyagrah Express/14009 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Jan Nayak Express/15212 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092

Jan 04 2022 (11:25)
Train Tag: Jan Nayak Express/15211 added by Bundelkhand Expressway The Game Changer/2083092
Railway News विभिन्न तिथियों में ट्रेनों का संचालन प्रभावित रहेगा। तीन से छह जनवरी तक 15211 दरभंगाअमृतसर एक्सप्रेस तथा पांच से आठ जनवरी तक 15212 अमृतसर-दरभंगा एक्सप्रेस निरस्त रहेगी। पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार अलावा कई ट्रेनें मार्ग बदलकर चलाई जाएंगी।
गोरखपुर, जागरण संवाददाता। उत्तर रेलवे के मुरादाबाद मंडल के रोजा-बरतारा स्टेशन के बीच दोहीरकरण का कार्य चल रहा है। इसके चलते विभिन्न तिथियों में ट्रेनों का संचालन प्रभावित रहेगा। तीन से छह जनवरी तक 15211 दरभंगा-अमृतसर एक्सप्रेस तथा पांच से आठ जनवरी तक 15212 अमृतसर-दरभंगा एक्सप्रेस निरस्त रहेगी। पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार अलावा कई ट्रेनें मार्ग बदलकर चलाई जाएंगी।
चार
...
more...
जनवरी को चलने वाली 14009 बापूधाम मोतीहारी-आनन्द विहार टर्मिनस एक्सप्रेस।
बुढ़वल-लखनऊ-कानपुर सेन्ट्रल-गाजियाबाद के रास्ते।
पांच जनवरी को चलने वाली 15529 सहरसा-आनन्द विहार टर्मिनस एक्सप्रेस बुढ़वल-लखनऊ-कानपुर सेन्ट्रल-गाजियाबाद के रास्ते।
छह को चलने वाली 15621 कामाख्या-आनन्द विहार टर्मिनस एक्सप्रेस बुढ़वल-लखनऊ-कानपुर सेन्ट्रल-गाजियाबाद के रास्ते।
पांच और छह को चलने वाली 15273 रक्सौल-आनन्द विहार टर्मिनस एक्सप्रेस बुढ़वल-लखनऊ-रोजा के रास्ते।
पांच को चलने वाली 12407 न्यू जलपाईगुड़ी-अमृतसर एक्सप्रेस बुढ़वल-लखनऊ-कानपुर सेन्ट्रल-खुर्जा-मेरठ सिटी-सहारनपुर के रास्ते।
पांच जनवरी को चलने वाली 15656 श्रीमाता वैष्णोदेवी कटरा-कामाख्या एक्सप्रेस सहारनपुर-मेरठ सिटी-खुर्जा-लखनऊ-बुढ़वल के रास्ते।
छह जनवरी को चलने वाली 15530 आनन्द विहार टर्मिनस-सहरसा एक्सप्रेस गाजियाबाद-कानपुर सेन्ट्रल-लखनऊ-बुढ़वल के रास्ते।
छह जनवरी को चलने वाली 15910 लालगढ़-डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस गाजियाबाद-कानपुर सेन्ट्रल-लखनऊ के रास्ते।
छह जनवरी को चलने वाली 12557 मुज्फ्फरपुर-आनन्द विहार टर्मिनस एक्सप्रेस लखनऊ-कानपुर सेन्ट्रल-गाजियाबाद के रास्ते।
पांच और सात जनवरी को चलने वाली 12558 आनन्द विहार टर्मिनस- मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस गाजियाबाद-कानपुर सेन्ट्रल-लखनऊ के रास्ते।
ठंड में अपराध प्रभावित 10 ट्रेनों में बढ़ी चौकसी
जीआरपी ने गोरखपुर अनुभाग अपराध और आवेदन ट्रेनों में चौकसी बढ़ा दी है।एस्कोर्ट में चलने वाले पुलिसकर्मियों के अलावा थाना चौकी प्रभारी भी स्टेशन पर ट्रेन पर पहुंचने पर चेकिंग कर रहे हैं।चिन्हित ट्रेनों की सूची में चौरीचौरा एक्सप्रेस, कृषक, सप्तक्रांति, कुशीनगर, ग्वालियर- बरौनी, अवध, पवन व स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस का नाम है। दिल्ली, मुंबई, प्रयागराज, लखनऊ, ग्वालियर से आने वाली ट्रेनों में ठंड के समय चोरी, जहरखुरानी व लूट की घटना बढ़ने पर अपराध प्रभावित ट्रेनों को चिन्हित कर सुरक्षा बढ़ा दी है।एस्कोर्ट ड्रयूटी को लेकर कार्ययोजना तैयार की गई है जिसके अनुसार संबंधित ट्रेन में एस्कोर्ट करने वाले पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ा दी गई है।देर रात या भोर में स्टेशन पर ट्रेन के आने पर थाना, चौकी प्रभारी भी जांच कर रहे हैं।गोरखपुर अनुभाग में पहले 70 ट्रेनों में जीआरपी की एस्कोर्ट लगती थी। लेकिन अब यह संख्या 127 हो गई है।एस्कोर्ट में गोरखपुर, देवरिया, भटनी, मऊ, बलिया, आजमगढ़, बस्ती, गोंडा, आनंदनगर, बहराइच व गाजीपुर थाने पर तैनात 600 सिपाही और 50 दारोगा की रोस्टर से ड्यूटी लगती है।एसपी रेलवे अवधेश सिंह ने बताया कि अपराध प्रभावित 10 ट्रेनों में विशेष चौकसी बरती जा रही है।
Dec 27 2021 (14:46) शाहजहांपुर के रोजा शहर का क्या है असली नाम, यहां पढ़ें रोजा नाम पड़ने की दिलचस्प कहानी (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
13608 views

News Entry# 473247  Blog Entry# 5174914   
  Past Edits
Dec 27 2021 (14:46)
Station Tag: Roza Junction/ROZA added by Prakhar Yadav/622971
Stations:  Roza Junction/ROZA  
British went why not name ब्रिटिश शासन में अंग्रेजों ने कई भवनों व मार्गों का नामकरण अपने शासकों व अधिकारियों के नाम पर कर दिया। कई स्थानों के नाम भी बदल दिए गए। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जनपद का रोजा भी उनमें से एक है।
बरेली, जेएनएन। British went why not name : ब्रिटिश शासन में अंग्रेजों ने कई भवनों व मार्गों का नामकरण अपने शासकों व अधिकारियों के नाम पर कर दिया। कई स्थानों के नाम भी बदल दिए गए। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जनपद का रोजा भी उनमें से एक है। महानगर में शामिल हो चुके इस उपनगर का नाम रौसर था, लेकिन उच्चारण सही न होने के कारण अंग्रेज अफसर इसे रोसा (अंग्रेजी में अब भी रोसा ही लिखा
...
more...
जाता है) कहने लगे। जो बाद में रोजा हो गया। उसके बाद रेलवे से लेकर अन्य सरकारी अभिलेखों में अब तक यही नाम दर्ज है। हालांकि जब से यह क्षेत्र महानगर में शामिल हुआ है। यहां के लोग भी चाहते हैं कि क्षेत्र को अंग्रेजों की दी गई पहचान हटनी चाहिए। उनका दिया नाम रोजाबदलकर रोजा का नाम बदलकर किसी महापुरुष, स्वतंत्रता सेनानी या बलिदानी के नाम पर होना चाहिए। बरेली में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन प्रीमियर लीग में खेलेगीं 16 टीमें, काेविड प्राेटाेकाल का हाेगा पालन यह भी पढ़ें रोसर का अपभ्रंश है रोजाः एसएस कालेज के इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष डा. विकास खुराना ने बताया कि शाहजहांपुर सन 1803 में ब्रिटिश भारत का अंग बन गया था। जिले में ब्रिटिश सेटलमेंट तेजी से बढ़ा। हालांकि इसका ज्यादातर प्रभाव कैंट व लोदीपुर क्षेत्र में था। अंग्रेजो के प्रशासनिक नियंत्रण के बाद से जिले के कई हिस्सों के नामो में अपभ्रंश पैदा हो गए। रोजा रोसर का ही अपभ्रंश है। बरेली में तीमारदार ने चुराया महिला डॉक्टर का पर्स, जानिए कैसे पकड़ी गई चोरी यह भी पढ़ें शाहजहांपुर गजेटियर का हवाला देते हुए उन्होंने बताया कि उस समय रोसर गांव की आबादी मात्र 198 थी। अंग्रेजो ने इस जगह के पास ही पांच सौ एकड़ जमीन पर कब्जा कर केरु फैक्ट्री स्थापित कर दी। यहां कई बंगले, पोस्ट ऑफिस, डिस्पेंसरी, क्लब आदि खोले गए। तमाम अंग्रेज अफसर अपने परिवारों के साथ रहने लगे। सत्यप्रकाश महाराज बताते हैं कि रोजा जंक्शन के साथ नगर का नाम हनुमतधाम होना चाहिए। प्रशासन व शासन के स्तर से जो भी प्रक्रिया होती है उसे जल्द से जल्द पूरा कराया जाना चाहिए। हमारे क्षेत्र की पहचान किसी बड़ी शख्सियत पर होनी चाहिए। जानकी का कहना है कि देश गुलामी से दूर हो गया है। अब अंग्रेजों की दी गई पहचान खत्म होनी चाहिए। शहर में तमाम बलिदानी, स्वतंत्रता सेनानी व संत हुए हैं। उनमें से किसी के भी नाम पर यहां का नामकरण होना चाहिए। अनिल सिंह ने बताया कि बचपन से रोजा नाम सुनता आ रहा हूं, लेकिन यह कैसे पड़ा इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी। यह अंग्रेजों का दिया नाम है। इसलिए इसको परिवर्तित कर हनुमतधाम नगर रखा जाना चाहिए। अशोक शर्मा का कहना है कि यह क्षेत्र महानगर का अभिन्न अंग है। औद्योगिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है। ऐसे क्षेत्र की पहचान अंग्रेजों के दिए नाम से नहीं होनी चाहिए। यहां के जंक्शन व नगर का नाम किसी स्वतंत्रता सेनानी के नाम से हो। Omicron को लेकर पीलीभीत सांसद वरुण गांधी का ट्वीट, कहा- भयावह ओमिक्रोन को रोकना प्राथमिकता या चुनावी शक्ति परीक्षण यह भी पढ़ें क्या कहते हैं इतिहासकारः शाहजहांपुर के एसएस कालेज के इतिहास के विभागाध्यक्ष डा. विकास खुराना ने बताया कि अंग्रेजो के रोसर नाम के उच्चारण में स्पष्टता नही थी। इसलिए वे इसे रोजा के नाम से बुलाने लगे। लंदन तक के अखबारों में रोसर को इसी नाम से जाना जाने लगा। वध रुहेलखंड रेल का प्रसार शाहजहांपुर तक हुआ तब यहां स्टेशन के पास पड़ी भूमि का उपभोग कुमायूं-रुहेलखंड तथा अवध-रुहेलखंड के वृहद रेल सेटलमेंट में रोजा रेल सेटेलमेंट के रूप में किया जाता रहा और रेल प्रपत्रों में यही नाम शामिल हो गया। आजादी के इतने सालों बाद भी हम लोग क्षेत्र को इस जगह व जंक्शन को रोजा नाम से जानते है जबकि वस्तुतः इस नाम की कोई जगह थी ही नही। Edited By: Samanvay Pandey
बरेली, जेएनएन। British went why not name : ब्रिटिश शासन में अंग्रेजों ने कई भवनों व मार्गों का नामकरण अपने शासकों व अधिकारियों के नाम पर कर दिया। कई स्थानों के नाम भी बदल दिए गए। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जनपद का रोजा भी उनमें से एक है। महानगर में शामिल हो चुके इस उपनगर का नाम रौसर था, लेकिन उच्चारण सही न होने के कारण अंग्रेज अफसर इसे रोसा (अंग्रेजी में अब भी रोसा ही लिखा जाता है) कहने लगे। जो बाद में रोजा हो गया। उसके बाद रेलवे से लेकर अन्य सरकारी अभिलेखों में अब तक यही नाम दर्ज है। हालांकि जब से यह क्षेत्र महानगर में शामिल हुआ है। यहां के लोग भी चाहते हैं कि क्षेत्र को अंग्रेजों की दी गई पहचान हटनी चाहिए। उनका दिया नाम रोजाबदलकर रोजा का नाम बदलकर किसी महापुरुष, स्वतंत्रता सेनानी या बलिदानी के नाम पर होना चाहिए।

रोसर का अपभ्रंश है रोजाः एसएस कालेज के इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष डा. विकास खुराना ने बताया कि शाहजहांपुर सन 1803 में ब्रिटिश भारत का अंग बन गया था। जिले में ब्रिटिश सेटलमेंट तेजी से बढ़ा। हालांकि इसका ज्यादातर प्रभाव कैंट व लोदीपुर क्षेत्र में था। अंग्रेजो के प्रशासनिक नियंत्रण के बाद से जिले के कई हिस्सों के नामो में अपभ्रंश पैदा हो गए। रोजा रोसर का ही अपभ्रंश है।

शाहजहांपुर गजेटियर का हवाला देते हुए उन्होंने बताया कि उस समय रोसर गांव की आबादी मात्र 198 थी। अंग्रेजो ने इस जगह के पास ही पांच सौ एकड़ जमीन पर कब्जा कर केरु फैक्ट्री स्थापित कर दी। यहां कई बंगले, पोस्ट ऑफिस, डिस्पेंसरी, क्लब आदि खोले गए। तमाम अंग्रेज अफसर अपने परिवारों के साथ रहने लगे। सत्यप्रकाश महाराज बताते हैं कि रोजा जंक्शन के साथ नगर का नाम हनुमतधाम होना चाहिए। प्रशासन व शासन के स्तर से जो भी प्रक्रिया होती है उसे जल्द से जल्द पूरा कराया जाना चाहिए। हमारे क्षेत्र की पहचान किसी बड़ी शख्सियत पर होनी चाहिए।

जानकी का कहना है कि देश गुलामी से दूर हो गया है। अब अंग्रेजों की दी गई पहचान खत्म होनी चाहिए। शहर में तमाम बलिदानी, स्वतंत्रता सेनानी व संत हुए हैं। उनमें से किसी के भी नाम पर यहां का नामकरण होना चाहिए। अनिल सिंह ने बताया कि बचपन से रोजा नाम सुनता आ रहा हूं, लेकिन यह कैसे पड़ा इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी। यह अंग्रेजों का दिया नाम है। इसलिए इसको परिवर्तित कर हनुमतधाम नगर रखा जाना चाहिए। अशोक शर्मा का कहना है कि यह क्षेत्र महानगर का अभिन्न अंग है। औद्योगिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है। ऐसे क्षेत्र की पहचान अंग्रेजों के दिए नाम से नहीं होनी चाहिए। यहां के जंक्शन व नगर का नाम किसी स्वतंत्रता सेनानी के नाम से हो।

क्या कहते हैं इतिहासकारः शाहजहांपुर के एसएस कालेज के इतिहास के विभागाध्यक्ष डा. विकास खुराना ने बताया कि अंग्रेजो के रोसर नाम के उच्चारण में स्पष्टता नही थी। इसलिए वे इसे रोजा के नाम से बुलाने लगे। लंदन तक के अखबारों में रोसर को इसी नाम से जाना जाने लगा। वध रुहेलखंड रेल का प्रसार शाहजहांपुर तक हुआ तब यहां स्टेशन के पास पड़ी भूमि का उपभोग कुमायूं-रुहेलखंड तथा अवध-रुहेलखंड के वृहद रेल सेटलमेंट में रोजा रेल सेटेलमेंट के रूप में किया जाता रहा और रेल प्रपत्रों में यही नाम शामिल हो गया। आजादी के इतने सालों बाद भी हम लोग क्षेत्र को इस जगह व जंक्शन को रोजा नाम से जानते है जबकि वस्तुतः इस नाम की कोई जगह थी ही नही।
Page#    Showing 1 to 20 of 135 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy