Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

RailFans never grow old

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Mon Jan 17 16:14:58 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRAdvanced Search
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 4585717-0

SSKI/Sarsoki (2 PFs)
سرسوکی     सरसोकी

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Sarsoki, Orai, PIN - 285001, Dist. - Jalaun
State: Uttar Pradesh


Zone: NCR/North Central   Division: Virangana Lakshmibai

No Recent News for SSKI/Sarsoki
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 1
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
0 Follows
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 12 of 12 News Items  
विस्तार झांसी - कानपुर रेल लाइन पर 18 किलोमीटर डबल ट्रैक के कार्य का मुख्य संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) के निरीक्षण के बाद हरी झंडी मिलते ही इस खंड पर सौ किलोमीटर की रफ्तार से ट्रेनों को दौड़ाना शुरू कर दिया है। बृहस्पतिवार को गोरखपुर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस को सौ किलोमीटर की रफ्तार से निकाला गया।विज्ञापनबुधवार को सीआरएस मोहम्मद लतीफ ने झांसी- कानपुर रेल लाइन पर भुआ, उरई और सरसोकी रेलवे स्टेशन के मध्य 18 किलोमीटर रेल खंड का गहनता से निरीक्षण किया था। निरीक्षण के बाद शाम को इस रेलखंड पर सौ किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेनें दौड़ाने की अनुमति दे दी गई थी। अधिकारियों की देखरेख में बृहस्पतिवार को पहली ट्रेन 05067 गोरखपुर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस को सौ किलोमीटर की रफ्तार से निकाला गया। इसके बाद मालगाड़ियों को साठ किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से भी निकालना शुरू कर दिया गया है। अधिकारी भी ट्रेनों के संचालन पर नजर बनाए रहे।मई...
more...
तक पूरा होना है झांसी-उरई डबल ट्रैक का काम...206 किलोमीटर लंबे झांसी-कानपुर रेलवे ट्रैक पर डबल लाइन डालने के काम तेजी से चल रहा है। अभी तक 24 किलोमीटर लंबे झांसी से पारीछा, 19 किलोमीटर पारीछा से नंदखास, 27 किलोमीटर पिरौना-एट और भुआ व 17 किलोमीटर सरसोकी व ऊसरगांव का काम पूरा हो चुका है। माना जा रहा है कि मई में यह सेक्शन बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बाद पुन: सीआरएस निरीक्षण होगा। सीआरएस निरीक्षण में पास होने पर 118 किलोमीटर का दोहरा ट्रैक ट्रेन संचालन के लिए खुल जाएगा। मई तक पूरा होना है झांसी-उरई डबल ट्रैक का काम.
Mar 18 2021 (01:23) झांसी-कानपुर ट्रैक दोहरीकरण की अधूरी तैयारियां देख गुस्साए सीआरएस, लगाई फटकार (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
24977 views

News Entry# 445565  Blog Entry# 4910975   
  Past Edits
Mar 18 2021 (01:24)
Station Tag: Sarsoki/SSKI added by Pankaj/1718748

Mar 18 2021 (01:24)
Station Tag: Orai/ORAI added by Pankaj/1718748

Mar 18 2021 (01:24)
Station Tag: Bhua/BHUA added by Pankaj/1718748

Mar 18 2021 (01:24)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Pankaj/1718748

Mar 18 2021 (01:24)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Pankaj/1718748
उरई : बुधवार को मुख्य संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) एम. लतीफ खां ने कानपुर-झांसी रेलखंड के सरसौखी-भुआ रेलवे लाइन का निरीक्षण कर दोहरीकरण कार्यों की हकीकत देखी। इस दौरान एक के बाद कई खामियां देखने को मिली। जिन्हें तुरंत दुरुस्त कराने के निर्देश दिए।
--
सीआरएस ने सबसे पहले भुआ स्टेशन का निरीक्षण किया। इसके बाद क्रॉसिग नंबर 177 व 179 पर नवनिर्मित पुल को देखा। जहां कमियों को दुरुस्त कराने के लिए डीआरएम संदीप माथुर को निर्देश दिए। सरसौखी-भुआ में 20 किलोमीटर दूरी पर दोहरीकरण कार्य आधी-अधूरी तैयारियों के साथ कंप्लीट तो
...
more...
हो गया लेकिन खामियां नहीं दूर हो सकीं। राठ ओवरब्रिज से ठीक 200 मीटर पहले टर्निंग प्वाइंट बना हुआ था, यहां बड़ा कॉशन देख जिम्मेदार अधिकारियों को फटकार लगाई। साथ ही कहा कि हर समय कॉशन लगाने से यह तो जल्दी खराब हो सकता है। ऐसे में इसे तुरंत दुरुस्त करा दिया जाए।
--
निरीक्षण के दौरान भी चलता रहा कार्य
एनआई (नॉन इंटरलॉकिग) का काम पूरा नहीं हुआ। जबकि इसके लिए पहले से ही समय और दिन निर्धारित था। यार्ड में मानक की अनदेखी कर लगातार कार्य किया जा रहा है।
--
मानक की अनदेखी कर कराया कार्य
सीआरएस के निरीक्षण को लेकर आरबीएनएल के अधिकारी जल्दबाजी में काम को गति दे रहे हैं। जिससे अनियमितिता का भय बना हुआ है। ऐसा स्थित में कार्य का होना भविष्य में दुर्घटना को दावत देने जैसा है। फिर भी दोहरीकरण में जल्दबाजी दिखाई गई। जबकि सीआरएस दौरा तभी होता है जब पूरी तरह से सेक्शन में काम कंप्लीट हो जाता है।
--
नए पैनल कक्ष में भी कई कमियां
ए-श्रेणी के रेलवे स्टेशन पर सीआर ने बनाए गए नए पैनल कक्ष का निरीक्षण किया। उन्होंने टेलीफोन से गेटमैनों से बातचीत कर पूछताछ की। उनके पद पूछ कर जानकारी ली। स्टेशन अधीक्षक कुमार अंशुल से भी पैनल के बारे में बातचीत की। वहीं डिस्पले के माध्य से रेड, ग्रीन ब्लू सिग्नल को भी चेक किया। वहां पर सेक्शन चार्ट देखकर भी नाराजगी जताई। कहा कि इसके अक्षर को बढ़ा दिया जाए।
--
रास्ते को लेकर डीआरएम को सौंपा ज्ञापन
मोहल्ला इंदिरा नगर के निवासी अकरम, सलमा, रामदुलारी, सोनू, आशाराम, रेखा, विशाल, आनंद आदि ने रास्ते की मांग को लेकर डीआरएम संदीप माथुर को ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि पत्र बनाकर भेज दीजिए। इसके बाद मामला आगे बढ़ाकर एक साल के अंदर कार्य शुरू करा दिया जाएगा।
इन्हें खामियों को बिना देखे ही निकल गए सीआरएस
--
तस्वीर - 1
पूराने माल गोदाम के पास अधूरे पड़े रेलवे ट्रैक का कार्य 16 मार्च तक कंप्लीट होना था। लेकिन ऐसा न हो सका। फिर भी दोहरीकरण की जांच कराने के लिए सीआरएस को बुला लिया गया। उन्होंने ने भी सिर्फ तीसरी लाइन का निरीक्षण किया। जबकि प्लेट फार्म एक को जाने वाली अधूरे रेलवे ट्रैक को देखा ही नहीं।
--
तस्वीर - 2
राठ ओवरब्रीज के पास रेलवे ट्रैक की पैकिग प्रेशर मशीन की जा रही थी। जिससे ट्रैक में मजबूती आ सके। अगर यही काम सीआरएस से पहले कर दुरुस्त कर लिया जाता तो गुणवत्ता की बेहतर जांच हो सकती थी।
--
तस्वीर - 3
प्लेट फार्म नंबर एक को जाने वाली ट्रैक पर बुलडोजर से रेलवे ट्रैक को ठीक जा रहा है। साथ ही ट्रैक पर वेल्डिग का कार्य भी हो रहा था, और कई जगह अधूरा ट्रैक छूटा पड़ा था। वहीं डीआरएम संदीप माथुर का कहना था कि यह पांच बजे तक कंप्लीट कर हरी झंडी सीआरएस देंगे।
--
तस्वीर - चार
दोहरीकरण के दौरान एक भी प्लेटफार्म नंबर एक और दो दिव्यांगों के लिए रैंप का निर्माण कार्य भी अभी पूरा नहीं हुआ है। साथ ही न कोंच इंडीकेट चालू हुए है। जिससे यात्री डिस्पले देखकर अपनी बोगी में जा सके।
--
यान से 110 की स्पीड से किया ट्रायल
दोहरीकरण की जांच परख करने के लिए शाम पांच बजे यान से 110 की स्पीड से ट्रायल किया जाएगा। मानक के अनुरूप होने पर सीआरएस डबलिग कार्य को मंजूरी देंगे।
- संदीप माथुर, डीआरएम, झांसी
Mar 14 2021 (08:24) जायजा:संरक्षा आयुक्त बबीना झांसी तीसरी लाइन का 31 को करेंगे निरीक्षण (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
30522 views

News Entry# 444666  Blog Entry# 4907099   
  Past Edits
Mar 14 2021 (08:24)
Station Tag: Bhandai Junction/BHA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 14 2021 (08:24)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 14 2021 (08:24)
Station Tag: Sarsoki/SSKI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 14 2021 (08:24)
Station Tag: Orai/ORAI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 14 2021 (08:24)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 14 2021 (08:24)
Station Tag: Babina/BAB added by Anupam Enosh Sarkar/401739
तीन रेल खंड पर इलेक्ट्रिफिकेशन कार्य पूरा होने के बाद रेल संरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ खान (पूर्वोत्तर परिमंडल लखनऊ) ने निरीक्षण कार्यक्रम तय किया है। वे 31 मार्च को बबीना-झांसी तीसरी रेल लाइन (दूरी 25 किमी) का निरीक्षण करेंगे और रिपोर्ट रेलवे बोर्ड और उत्तर मध्य रेलवे को भेजेंगे। यदि सब कुछ ठीक रहता है तो अप्रैल से बबीना-झांसी रेल खंड पर गुड्स ट्रेनों को चलाना शुरू कर दिया जाएगा। रेल संरक्षा आयुक्त इससे पहले 17 मार्च को उरई से सर्सोकी (दूसरी 8 किमी) तक रेल मार्ग के दोहरीकरण का निरीक्षण करेंगे। अगले दिन 18 मार्च को इटावा से भांडई (दूरी 110 किमी) तक रेल मार्ग के इलेक्ट्रिफिकेशन का निरीक्षण करेंगे।
Mar 11 2021 (06:43) ट्रैक दोहरीकरण में मिली खामियां, सीएसटीई ने जताई नाराजगी (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
16629 views

News Entry# 443967  Blog Entry# 4903427   
  Past Edits
Mar 11 2021 (06:43)
Station Tag: Sarsoki/SSKI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 11 2021 (06:43)
Station Tag: Bhua/BHUA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Bhua/BHUA   Sarsoki/SSKI  
जागरण संवाददाता, उरई : झांसी-कानपुर रेलखंड पर भुआ से लेकर सरसौखी तक दोहरीकरण के कार्य को लेकर 17 मार्च को मुख्य संरक्षा आयुक्त का दौरा होना है। जिससे पहले रेलवे अधिकारी सभी खामियां दूर कर लेना चाहते हैं। इसी क्रम में गुरुवार को चीफ सिग्नल एवं टेलीकॉम इंजीनियर (सीएसटीइ) नीरज यादव ने कार्य की गुणवत्ता की जांच की। नॉन इंटरलॉकिंग के कार्य में कई तरह की खामियां देख उन्होंने नाराजगी जताते हुए इन्हें दूर करने के निर्देश दिए।
सीएसटीई नीरज यादव ने बताया कि बताया कि 17 को सीआरएस दौरा में तेजी से कार्य किया जा सके इसके लिए दो शिफ्ट से बढ़ाकर तीन शिफ्ट में कार्य शुरू किया जा रहा है। साथ ही बरसात के समय अक्सर सिग्नल फेल
...
more...
होने की संभावना बनी रहती है। उसको लेकर फैलुअर एक्सेल काउंटर अलग से बनाया जा रहा है। जिससे ट्रैक पर पानी भी आ जाएगा तो सिग्नल फेल नहीं हो सकता है। यह बरसात के समय बहुत ज्यादा होता था। लेकिन अब इस समस्या से निजात मिल जाएगा। वहीं स्टेशन अधीक्षक कक्ष में अभी बहुत छोटी-छोटी कमियां है। इसके बाद स्टेशन अधीक्षकों की ट्रेनिग भी होना है। ऐसे में छह दिन सीआरएस का निरीक्षण बचा हुआ है। कार्य कि प्रगति बहुत ही धीमी है।
सीएसई ने कहा कि इआई (इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिग) में लेटेस्ट सिग्नल उरई में स्थापित कराया गया है। जिससे किसी तरह की बाधा उत्पन्न नहीं होगी। साथ ही उच्च तकनीकी का यह मशीन अन्य स्टेशन से बेहतर स्थापित कराया जा रहा है। इस दौरान सीनियर डीएसटी आशीष कुमार सैनी, आरबीएनएल के जीएम रामेश्वर मीना आदि उपस्थित रहे।
Mar 11 2021 (06:00) रेलवे ट्रैक का देखा, सिग्नल व्यवस्था परखी, काम में तेजी लाने के निर्देश (www.amarujala.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
10162 views

News Entry# 443955  Blog Entry# 4903397   
  Past Edits
Mar 11 2021 (06:00)
Station Tag: Sarsoki/SSKI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 11 2021 (06:00)
Station Tag: Bhua/BHUA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Bhua/BHUA   Sarsoki/SSKI  
उरई। झांसी-कानपुर रेलवे ट्रैक के भुआ से सरसौखी के बीच दोहरीकरण व इंटरलॉकिंग के कार्य का चीफ सिग्नल एवं टेलीकॉम इंजीनियर ने निरीक्षण किया। काम की गुणवत्ता देखी और दो के बजाय तीन शिफ्टों में काम कराने के निर्देश दिए।विज्ञापनरेलवे ट्रैक के भुआ से सरसौखी तक 20 किलोमीटर का दोहरीकरण का कार्य जारी है। 17 मार्च को रेल संरक्षा आयुक्त का दौरा भी प्रस्तावित है। बुधवार को उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज के चीफ सिग्नल एवं टेलीकाम इंजीनियर (सीएसटीई) नीरज यादव ने रेलवे ट्रैक, क्रासिंग व स्टेशन आदि पर हो रहे काम को देखा। वार्ता के दौरान पत्रकारों को बताया कि17 मार्च को सीआरएस दौरा प्रस्तावित है। इसके लिए दो शिफ्ट से बढ़ाकर तीन शिफ्ट में कार्य शुरू किया जा रहा है। बरसात के समय अक्सर सिग्नल फेल होने की संभावना बनी रहती है। उसको लेकर फैल्योर एक्सेल काउंटर अलग से बनाया जा रहा है। जिससे ट्रैक पर पानी भी आ जाएगा...
more...
तो सिग्नल फेल नहीं हो सकता है। निरीक्षण के दौरान सीनियर डीएसटीई आशीष सैनी भी मौजूद रहे।16 तक चलेगा प्री नान इंटरलॉकिंग का कामउरई। भुआ सरसौखी सेक्शन में प्री नान इंटरलॉकिंग का काम 8 मार्च से शुरू हो गया है। इसके लिए अतिरिक्त स्टेशन मास्टर व प्वाइंट्स मैन की ड्यूटी लगाई गई है। तीन पालियों में सात सात स्टेशन मास्टरों की ड्यूटी निर्धारित कर दी गई है। उरई यार्ड में कानपुर व झांसी की तरफ गुमटी बना दी गई है। गुमटी में रहने वालों की ड्यूटी निर्धारित कर दी गई है। अधिकारियों के मुताबिक, प्री इंटरलॉकिंग का काम 16 मार्च तक चलेगा। जबकि नान इंटरलॉकिंग का काम 17 मार्च को होगा। इसके लिए ट्रेेनों को भी डायवर्ट किया गया है।
Page#    Showing 1 to 12 of 12 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy