Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Pamban Sethu - இது தான் நம்முடைய ராமர் சேது - Darnish C

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sat Sep 18 09:23:16 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 841038-0
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 4142386-0
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 4142386-0

TKYR/Tikaria (2 PFs)
     टिकरिया

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
MDR 11
State: Madhya Pradesh

Elevation: 283 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Jabalpur

No Recent News for TKYR/Tikaria
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 12
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 6 of 6 News Items  
Aug 12 2020 (11:40) रेल डिब्बे से फ्लाई ऐश की पहली रैक भेजकर रचा इतिहास (www.amarujala.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
23132 views

News Entry# 416229  Blog Entry# 4685980   
  Past Edits
Aug 12 2020 (11:40)
Station Tag: Tikaria/TKYR added by Rhythms of Rail/100643

Aug 12 2020 (11:40)
Station Tag: Anpara/ANPR added by Rhythms of Rail/100643
Stations:  Tikaria/TKYR   Anpara/ANPR  
बभनी/अनपरा। एनटीपीसी रिहंद ने बॉक्सन रेल डब्बों के माध्यम से एसीसी सीमेंट को एक रेक राख़ भेजकर राख़ उपयोगिता के क्षेत्र मे एक नए युग की शुरुआत की है। एनटीपीसी रिहंद, भारतीय रेलवे और एसीसी लिमिटेड के संयुक्त प्रयासों से 59 बॉक्सन वैगन की एक रैक सोमवार को एसीसी सीमेंट के टिकारिया संयंत्र को भेजकर इतिहास बनाया गया। इसमें 3450 मीट्रिक टन कंडीशंड फ्लाई ऐश एनटीपीसी रिहंद से सीमेंट संयंत्र को भेजा गया। कोविड के नाते नियमों के मद्देनजर भारतीय रेलवे के जीएम इसीआर (आईआर) ललित त्रिवेदी, विवेक सहाय- पूर्व अध्यक्ष रेलवे बोर्ड, सलिल झा पीसीओएम इसीआर, संजीव कुमार शर्मा, संजय कुमार सीएफएटीएम इसीआर, पंकज कुमार सीनियर डीओएम, सुरेश राठी प्रमुख आपूर्ति श्रृंखला एसीसी और अंबुजा सीमेंट, नीरज बंसल हेड रॉ मटेरियल इनबाउंड लॉजिस्टिक्स, मनोज जिंदल निदेशक संयंत्र एसीसी कैमूर, हमेंद्र राठौर निदेशक संयंत्र एसीसी टिकरिया, राम अवध प्रभारी रेलवे ऑपरेशन, एसीसी वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए। जबकि बालाजी अयंगर...
more...
कार्यकारी निदेशक (एनटीपीसी रिहंद), अनंत चरण साहू सीजीएम (ओएंडएम), एके चट्टोपाध्याय जीएम (ऑपरेशन) और एनटीपीसी रिहंद के अन्य विभागीय प्रमुख एनटीपीसी रिहंद फ्लाई ऐश साइलों क्षेत्र में मौजूद थे, जहां से रैक को रवाना किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत वीके अत्री, एजीएम (ईएमजी एयू), एनटीपीसी रिहंद ने की। बालाजी अयंगर ने कहा कि एनटीपीसी लिमिटेड, भारतीय रेलवे और एसीसी लिमिटेड के संयुक्त प्रयासों के बाद राख उपयोग के नए युग की शुरुआत हुई है। यह शत प्रतिशत राख उपयोग के विशाल लक्ष्य को प्राप्त करने में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। एसी साहू, सीजीएम (ओएंडएम) ने इस स्वप्न को मूर्तरूप करने के लिए एनटीपीसी रिहंद के पूरे ऑपरेशन और रखरखाव टीम का नेतृत्व किया है। बालाजी अयंगर, ईडी (रिहंद) और एसी साहू, सीजीएम (ओ एंड एम) ने हरी झंडी दिखाकर एनटीपीसी रिहंद से रेक को रवाना किया। इसके साथ ही भारतीय रेलवे और एसीसी लिमिटेड सहयोग के साथ नवाचार के माध्यम से राख का उपयोग बढ़ाने में लंबी यात्रा शुरू हो गई है।विज्ञापन.social-poll {margin:0px auto;width:300px;} .social-poll .poll-wrapper {box-sizing: border-box;}
पलपल संवाददाता, जबलपुर. पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर रेल मंडल अंतर्गत सतना-मानिकपुर रेलखंड के बीच रेल प्रशासन ने कॉसन ऑर्डर लगा दिया है. कॉशन ऑर्डर में यहां से गुजरने वाली सभी ट्रेनों को चालकों को ताकीद की गई है कि इस खंड पर सावधानी पूर्वक रेल चलाएं, क्योंकि यहां के जंगलों में शेरों का कुनबा है, जो लगातार ट्रेक पर आ रह हैं.
बताया जाता है कि पिछले कुछ माह से सतना-मानिकपुर रेल खंड के टिकरिया-चितहरा स्टेशनों के बीच लगातार शेरों की मूवमेंट देखी गई है. पिछले सप्ताह तो एक शेरनी अपने शावकों के साथ ट्रेक पर विचरण करती रेल कर्मियों को नजर आई.
वन
...
more...
विभाग ने रेल प्रशासन से किया अनुरोध
बताया जाता है कि वन विभाग द्वारा टिकरिया-चितहरा स्टेशनों के बीच लगातार शेरों की गतिविधियां देखीं तो उनकी सुरक्षा के प्रति गंभीर हो गई और एहतियाती उपायों के तहत उसने रेल प्रशासन से अनुरोध किया कि इस खंड पर ट्रेनों की गति सीमित की जाए, जिसके बाद रेल प्रशासन ने इन स्टेशनों के बीच लगभग 19 किलोमीटर रेल मार्ग पर रेल चालकों को कॉशन ऑर्डर जारी करना शुरू कर दिया है.
शेर की सुरक्षा पर गंभीर, रेलकर्मियों की सुरक्षा की चिंता नहीं
रेल प्रशासन के इस निर्णय पर कई कर्मचारियों का कहना है कि वन विभाग के कहने पर तो रेल प्रशासन शेरों की सुरक्षा के लिए गंभीर नजर आते एहतियाती कदम उठाये हैं, किंतु रेल कर्मचारियों की चिंता प्रशासन को नहीं है. खासकर लगातार चौबीसों घंटे ट्रेक की सुरक्षा व मरम्मत करने वाले ट्रेकमैनों को इन शेरों से बचाने के लिए कोई उपाय नहीं किये गये हैं. यदि भविष्य में शेर रेल कर्मचारियों पर हमला कर दे तो इसकी जवाबदारी किसकी होगी.

Rail News
12686 views
Mar 04 2020 (16:16)
Saurabh®
Saurabhdubey_86^~   26238 blog posts
Re# 4583674-1            Tags   Past Edits
life of tiger is more precious than that of gangman / trackman working in that section...!

12917 views
Mar 04 2020 (16:43)
Guest: 3b23552c   show all posts
Re# 4583674-2            Tags   Past Edits
They don't mean that we will not slow down trains
They meant that there should be some security arrangements for gangmens

12436 views
Mar 04 2020 (17:04)
Saurabh®
Saurabhdubey_86^~   26238 blog posts
Re# 4583674-3            Tags   Past Edits
That 's a sarcasm you missed..
सतना/ चित्रकूट जिले के मारकुंडी वनक्षेत्र में रेलवे ट्रैक पार करते समय ट्रेन की चपेट में आने से एक तेंदुए की मौत हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि तेंदुए का सिर धड़ से अलग हो गया। यह घटना बीती रात सतना-मानिकपुर रेलखंड के टिकरिया व मारकुंडी स्टेशन के बीच किमी क्रमांक1238/5-6 के डाउन ट्रैक की बताई जा रही है। मझगवां से मानिकपुर के बीच रेलवे ट्रैक के पास वन्यजीवों के मूवमेंट को देखते हुए वन विभाग द्वारा जारी अलर्ट के बावजूद हुई इस घटना से चित्रकूट एवं सतना वन मंडल के अधिकारियों में हड़कंप मच गया है।वन अमले की लापरवाही उजागरचितहरा और मारकुंडी वन क्षेत्र में एक सप्ताह पूर्व रेलवे ट्रैक के 500 मीटर क्षेत्र में बाघ-बाघिन के पगमार्क दिखाई देने पर मझगवां वन परिक्षेत्र अधिकारी ने मझगवां से मानिकपुर के बीच रेलवे ट्रैक पर पेट्रोलिंग बढ़ा दी थी। रेलवे ट्रैक पर वन्यजीवों की निगरानी के लिए सतना एवं चित्रकूट...
more...
वन मंडल के 100 से अधिक वनरक्षक निगरानी में लगाए गए थे लेकिन बाघ परिवार के पन्ना टाइगर रिजर्व वापस लौटते ही वन विभाग के कर्मचारी पेट्रोलिंग बंद कर दी। विभागीय कर्मचारियों की लापरवाही के कारण तेंदुआ हादसे का शिकार हो गया।वन्यजीवों की कब्रगाह बना रेलवे ट्रैकमझगवां से मानिकपुर के बीच लगभग 30 किमी. वन क्षेत्र से गुजरी रेलवे लाइन जंगल में विचरण करने वाले वन्य जीवों के लिए कब्रगाह बन चुकी है। बीते पांच साल में बाघ सहित एक दर्जन से अधिक वन्यजीव रेलवे ट्रैक पर ट्रेनों की चपेट में आकर अपनी जान गवां चुके हैं। इसके बावजूद ट्रेन हादसे से वन्यजीवों के बचाने वन विभाग द्वारा अभी तक कोई ठोस पहल नहीं की गई। वन विभाग द्वार मझगवां से मानिकपुर के बीच रेलवे लाइन के दोनों ओर फेंसिंग की योजना बनाई गई थी जो अभी तक धरातल पर नहीं उतर सकी।आधी रात को हुई घटनारेल ट्रैक पर तेंदुए का शव पड़ा होने की जानकारी रेलवे के पेट्रोलिंग दस्ते के कर्मचारियों से मिलते ही मझगवां आरपीएफ चौकी प्रभारी हरफूल सिंह व वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। घटना रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात लगभग 1 बजे की बताई जा रही है। मारकुंडी वन परिक्षेत्र के अधिकारियों ने तेंदुए के शव का पीएम कराने के बाद दाह संस्कार करा दिया।

Rail News
12553 views
Jan 08 2020 (08:53)
Guest: 2a435e2d   show all posts
Re# 4534226-1            Tags   Past Edits
Aisey hi wildlife barbaad hota rahega.. assam mein hota hi hain ..idhar bhi hota hi hain .. saurashtra mein bhi hota hi hain ..
Koi samaadhan nahi mil paya aajtak ..
Nov 10 2019 (00:23) इंटरलॉकिंग होगा टिकरिया रेलवे फाटक (www.amarujala.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
13205 views

News Entry# 394660  Blog Entry# 4483414   
  Past Edits
Nov 10 2019 (00:23)
Station Tag: Tikaria/TKYR added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Tikaria/TKYR  
चित्रकूट। मानिकपुर सतना रेलखंड के मध्य स्थित टिकरिया रेलवे फाटक संख्या 400 रेलवे इंटरलॉकिंग करेगा। जिसकी तैयारियां तेजी से की जा रही हैं। दिसंबर माह तक यह रेलवे फाटक इंटरलॉकिंग का कार्य पूरा हो जाएगा। जब तक यह रेलवे फाटक बंद नहीं होगा तब तक अप और डाउन की किसी भी ट्रेन को हरा सिंग्नल स्टेशन से नहीं मिलेगा।विज्ञापनगौरतलब है कि अभी तक इस गेट मे गेटमैन द्वारा मैन्युअल गेट को बंद और चालू करता है। कई बार असमाजिक तत्व गेटमैन के साथ मारपीट कर गेट खुलवाने के मामले प्रकाश मे आ चुके हैं। उत्तर मध्य रेलवे इलाहाबाद के पीआरओ सुनील कुमार ने बताया कि कई बार जबरदस्ती इस गेट को खुलवाया गया है। गेट नंबर 400 टिकरिया फाटक अतिसंवेदनशील क्षेत्र मे आता है। इस गेट मे रात मे दस्युओं द्वारा कई बार दखलंदाजी की गई है। डकैतों ने दो वर्ष पूर्व यहां से गेटमैन का अपहरण कर फिरौती लेने के...
more...
बाद छोड़ा था। ऐसे मे दुर्घटना होने की संभावना बढ जाती है। अब एसा नहीं होगा जब तक रेलवे फाटक बंद नहीं होगा तबतक स्टेशन से ट्रेन चलने के लिए ग्रीन सिंग्नल नहीं मिलेगा।
Mar 06 2016 (14:45) चित्रकूट के पास दस्युओं ने स्टेशन में की तोडफ़ोड़, यात्रियों को लूटा (m.jagran.com)
Major Accidents/Disruptions
CR/Central

News Entry# 260336   
  Past Edits
Mar 06 2016 (2:45PM)
Station Tag: Tikaria/TKYR added by Yash Mehrotra/617506
Stations:  Tikaria/TKYR  
मध्य प्रदेश सीमा से सटे चित्रकूट के टिकरिया रेलवे स्टेशन पर सशस्त्र डकैतों ने स्टेशन प्रबंधक कार्यालय में तोडफ़ोड़ की और दर्जनों यात्रियों को पीट कर मोबाइल व नगदी लूट ली। दो घंटे तक स्टेशन में लूटपाट करने के दौरान हवा में कई राउंड गोलियां भी दागी। दुस्साहसिक वारदात में ढाई लाख के इनामी डकैत बबली कोल का नाम सामने आया है। डकैतों की पिटाई से एक यात्री को गंभीर चोट आई है जबकि तीन घंटे तक इलाहाबाद-जबलपुर रेल खंड में ट्रेनों का संचालन ठप रहा।
पश्चिम मध्य रेलवे जोन में स्थित टिकरिया स्टेशन वर्षों से दस्यु प्रभावित रहा है। कुछ ही दूर त्रिवेणी मेला शबरी जल प्रपात में लगा था जिसके समाप्त होने पर दुकानदार अपना सामान समेट घर लौटने को
...
more...
ट्रेन के इंतजार में स्टेशन पर बैठे थे। रात करीब डेढ़ बजे एक दर्जन सशस्त्र डकैतों ने स्टेशन में धावा बोला और जो यात्री सामने मिला उसे ही पीटकर मोबाइल व नगदी लूट ली। कुछ डकैत स्टेशन प्रबंधक कार्यालय में घुसे और प्वाइंटमैन कृष्ण कुमार को बंदूक की बटों से पीटने के साथ शीशा तोड़ दिया। उस समय सहायक स्टेशन मास्टर हजारी लाल त्रिपाठी कुछ काम से आवास चले गए थे। डकैतों ने टिकट बुकिंग का कंप्यूटर, टेलीफोन आदि समान क्षतिग्रस्त कर दिया, जिससे स्टेशन का संचार तंत्र ध्वस्त हो गया। करीब दो घंटे तक डकैत स्टेशन में लूटपाट करते रहे। डकैतों की पिटाई से शाबिद निवासी मुस्लिम पुरवा सरैया की आंख और चेहरा लहुलुहान हो गया जबकि शाबिद के पुत्र मेराज अली, सेराज अली सहित हसनैन अली निवासी जौनपुर को गंभीर चोटें आई। शाबिद के मुताबिक डकैत उनके परिवार से बीस हजार रुपये और तीन मोबाइल लूट ले गए हैं। अन्य यात्रियों से लाखों की लूट की क्योंकि जिनके साथ उन्होंने लूटपाट की है वे तीन दिन मेले में कमाने के बाद घर लौट रहे थे। सुबह पुलिस पहुंची तो डरे सहमें आवास में दुबके सहायक स्टेशन प्रबंधक त्रिपाठी स्टेशन गए। उन्होंने बताया कि गोलियां चलने की आवाज सुनाई दी जिससे डर कर वह आवास में छिप गए थे। स्टेशन की संचार व्यवस्था ध्वस्त हो जाने से करीब तीन घंटे दर्जनों ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहा। वारदात की जीआरपी मानिकपुर में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।
Page#    Showing 1 to 6 of 6 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy