Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

RailFanning is our All-Rounder Glucose that gives us Instant Power in All Seasons - Kirti Solanki

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon May 17 00:15:55 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

UMR/Umaria (3 PFs)
     उमरिया

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
National Highway 78, Umaria
State: Madhya Pradesh

Elevation: 468 m above sea level
Zone: SECR/South East Central   Division: Bilaspur

No Recent News for UMR/Umaria
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 48
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.4/5 (8 votes)
cleanliness - excellent (1)
porters/escalators - good (1)
food - good (1)
transportation - good (1)
lodging - good (1)
railfanning - excellent (1)
sightseeing - excellent (1)
safety - excellent (1)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 35 News Items  next>>
May 09 (20:01) जिले के लिए आक्सीजन एक्सप्रेस से पहुंची 11 टन प्राणवायु (www.naidunia.com)
New/Special Trains
WCR/West Central
0 Followers
5988 views

News Entry# 451240  Blog Entry# 4958567   
  Past Edits
May 09 2021 (20:01)
Station Tag: Umaria/UMR added by Adittyaa Sharma/1421836

May 09 2021 (20:01)
Station Tag: Satna Junction/STA added by Adittyaa Sharma/1421836

May 09 2021 (20:01)
Station Tag: Rewa (Terminal)/REWA added by Adittyaa Sharma/1421836

May 09 2021 (20:01)
Station Tag: Katni Junction/KTE added by Adittyaa Sharma/1421836
रेलवे और जिला प्रशासन की टीम की उपस्थिति में झुकेही रेलवे स्टेशन में उतारा गया टैंकर
कटनी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना की इस विपदा में शासन-प्रशासन द्वारा जिले में जनस्वास्थ्य की दिशा में सार्थक प्रयास किए जा रहे हैं। इन प्रयासों के कारण ही स्वास्थ्य सुविधाओं को दुरुस्त करने में सुगमता हो रही है। जिले में आक्सीजन की आपूर्ति बनाए रखने के लिए जनप्रतिनिधि व प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सतत रुप से शीर्ष अधिकारियों से संपर्क और संवाद किया जा रहा है।
इसके मद्देनजर शनिवार को भी जिले में 11 टन लिक्विड मेडिकल
...
more...
ऑक्सीजन पहुंची। कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने बताया कि पहली बार रेलमार्ग के माध्यम से 11 टन लिक्विड ऑक्सीजन, ऑक्सीजन एक्सप्रेस के द्वारा जिले के लिए झुकेही रेलवे स्टेशन में आई है। यहां पर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में ऑक्सीजन टैंकर को सुरक्षित रुप से रेलवे के यार्ड में उतारा गया। इसके बाद ऑक्सीजन टैंकर को जिला प्रशासन की टीम को हैंडओवर किया गया। उल्लेखनीय कटनी जंक्शन के समीपी जिलों में टैंकर से एलएमओ पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन और रेलवे द्वारा विशेष व्यवस्था बनाई गई है। विगत दिनों झुकेही स्टेशन में ऑक्सीजन एक्सप्रेस से टैंकर उतारने की उचित व्यवस्था के लिए 8 घंटे में ही रैंप और एप्रोच रोड को तैयार किया गया था। इस सुविधा का लाभ पहली बार जिले को मिला। यहां ऑक्सीजन एक्सप्रेस के माध्यम से 11 टन ऑक्सीजन कटनी जिले में पहुंची।
एरिया मैनेजर प्रिंस विक्रम ने बताया कि झुकेही में ऑक्सीजन एक्सप्रेस से टैंकर उतारने लिए जो व्यवस्था बनाई गई है, इससे कटनी सहित रीवा, सतना, उमरिया व अन्य जिलों को भी इसका लाभ मिलेगा। आस-पास के जिलों के लिए आने वाले एलएमओ को यहीं पर उतारा जाएगा। इस अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा सहायक नोडल अधिकारी जितेंद्र सिंह बघेल, परियोजना अधिकारी मृगेंद्र सिंह, आबकारी उपनिरीक्षक महेंद्र शुक्ला सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।
Apr 11 (12:14) Coronavirus in Chhattisgarh: शहर अंदर बेड की मारामारी, बाहर धूल खा रहा आइसोलेशन कोच (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central
0 Followers
10923 views

News Entry# 448382  Blog Entry# 4936390   
  Past Edits
Apr 11 2021 (12:14)
Station Tag: Kalmitar/KLTR added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 11 2021 (12:14)
Station Tag: Umaria/UMR added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 11 2021 (12:14)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836
बिलासपुर। Coronavirus in Chhattisgarh: शहर के अंदर शासकीय व निजी अस्पतालों में कोरोना संक्रमितों को भर्ती करने के लिए बेड की मारामारी है। इसके बाद भी उस रैक का उपयोग नहीं कर रहे हैं जिसके कोच को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील किया गया है।
ताकि अपात स्थिति में इसका उपयोग हो सके। एक साल से 56 कोच बिलासपुर, उमरिया व कलमीटार में खड़े हैं। रेलवे राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का इंतजार कर रही है पर सरकार ने इसका उपयोग करने आदेश ही जारी नहीं किया है।
पिछले साल जब कोरोना की
...
more...
दस्तक हुई और हालात बेकाबू होने लगे तब रेलवे के कोच को आइसोलेशन वार्ड बनाने की योजना तैयार की गई। यह अपातकालीन स्थिति की व्यवस्था थी। इसके मद्देनजर रेलवे बोर्ड ने सभी जोन के साथ-साथ दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन को निर्देश दिए थे। जोन से दिशा-निर्देश मिलते ही बिलासपुर रेल मंडल कोच को सुधारने का प्रारंभ कर दिया।
मंडल को 56 कोच को वार्ड के रूप में तब्दील करने के लिए कहा था। इसके बाद अमला दिन-रात एककर तैयारी में जुट गया। बहुत कम समय में आइसोलेशन कोच को तैयार किया गया। इतनी तैयारी पूरी करने के बाद इसकी आवश्यकता नहीं पड़ी और कोच खड़े रहे। चूंकि यार्ड की क्षमता कम है।
इसलिए कुछ कोच ही जोनल स्टेशन के यार्ड में रखे गए। करीब 43 कोच उमरिया व कलमीटार में खड़े हैं। सालभर से रैक धूल खाती पड़ी है। अब जब इसकी आवश्यकता है उसके बाद भी उपयोग नहीं किया जा रहा है। जबकि शहर के सभी अस्पतालों के अलावा रेलवे अस्पताल में संक्रमितों के लिए बेड नहीं है।
75 बेड के रेलवे कोविड अस्पताल में एक भी बेड खाली नहीं है। रेलवे कर्मचारियों के अलावा बाहरी भी बेड के लिए इधर से उधर भटक रहे हैं। इसके चलते जिस उद्देश्य से कोच को आइसोलेशन वार्ड बनाया गया था वह पूरा ही नहीं हो रहा है।
यह सुविधा है कोच के अंदर
प्रत्येक कोच में बने आइसोलेशन वार्ड में पहला केबिन चिकित्सकों एवं पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए है। इसमें मरीजों के लिए आक्सीजन की सुविधा, दवा व उपकरण भी है। सभी कोचों में एक भारतीय शैली के शौचालय को स्नानागार के रूप में परिवर्तित किया है। मच्छरों से बचाने के लिए मच्छरदानी व उचित वेंटिलेशन की व्यवस्था भी की गई। प्रत्येक केबिन में सूखा कूड़ा, गीला कूड़ा व खतरनाक अपशिष्ट पदार्थ के निस्तारण के लिए अलग-अलग डस्टबीन रखे गए हैं।
448 संक्रमितों को कर सकते हैं आइसोलेट
एक कोच में आठ बेड हैं। इस लिहाज से रेलवे की इस व्यवस्था से 448 संक्रमितों को भर्ती कर उनका इलाज किया जा सकता है। वर्तमान में जहां एक-एक बेड को लेकर मारामारी है। वहीं 448 बेड की व्यवस्था के बाद भी उपयोग नहीं हो पा रहा है।
आइसोलेशन कोचों के उपयोग के संबंध में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय व रेल मंत्रालय का प्रोटोकाल बना हुआ है। इसके तहत इसका उपयोग किया जाएगा।
साकेत रंजन
मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन
Apr 01 (20:40) Umaria News: बड़ा हादसा टला, बंद होते रेलवे फाटक के बीच चालक ले गया बस (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central
0 Followers
6949 views

News Entry# 447545  Blog Entry# 4926570   
  Past Edits
Apr 01 2021 (20:41)
Station Tag: Nowrozabad/NRZB added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 01 2021 (20:40)
Station Tag: Umaria/UMR added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Umaria/UMR   Nowrozabad/NRZB  
Umaria News: उमरिया। नौरोजाबाद के देवगवां रेलवे फाटक में गुरुवार की शाम एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया। लापरवाह बस चालक की वजह से कई यात्रियों की जान जा सकती थी। रेलवे फाटक बंद हो रहा था और बस चालक तेजी से बस निकाल लेने के चक्कर में यात्रियों की जान की परवाह किए बिना बंद हो रहे फाटक के बीच बस ले गया। रेलवे फाटक तब तक बन्द होने के लिये झुक चुका था और बंद होने के लिए नीचे गिर रहा था। इस बीच फाटक के अंदर पहुंची बस एक तरफ के पोल से टकरा गई, जिससे फाटक का पाइप टेढ़ा हो गया।
नौरोजाबाद स्टेशन के आगे हुई इस घटना के दौरान यात्री भी बस में बैठे थे यह
...
more...
बस रीवा से चलकर बिरसिंहपुर पाली की ओर जा रही थी। रेलवे फाटक बंद होने की कगार में था और सायरन भी बज रहा था। इसके बावजूद ड्राइवर ने लापरवाही के साथ बस को दोनों तरफ के फाटक के बीच में फंसा दिया।
गेटमैन ने बताया कि वह नियमानुसार फाटक बंद कर रहा था तभी अचानक यह बस अन्दर आ गई और फाटक से टकरा गई। जब मैंने ड्राइवर से इस बारे में चर्चा की तो ड्राइवर हमसे बहस करने लगा। मैंने उसे बताया कि क्या तुम्हें सायरन सुनाई नहीं दे रहा था। ड्राइवर बहस करने लगा और बोला मुझे कोई सायरन नहीं सुनाई दिया। जब कर्मचारी ने उससे पूछा कि क्या यह फाटक तुम्हें बंद होता नहीं दिखाई दे रहा था जो तुम चले आ रहे थे। बस चालक अपनी गलती मानने को तैयार नहीं था और वह लगातार बहस किए जा रहा था।
फाटक बस में फंसा ना हुआ होता तो बस ट्रैक पर चली जाती और सामने से आ रही ट्रेन इसे रौंदती हुई निकल जाती। बस में सवार यात्रियों ने भी चालक को काफी भला-बुरा कहा। इसके बाद चालक ने अपनी गलती मानी और बोला कि उसे लगा कि गेट खुल रहा है और मुझसे धोखा हो गया। गेटमैन ने अपने अधिकारियों को इस घटना की सूचना दे दी। कुछ देर में ही मौके पर आरपीएफ के अधिकारी पहुंच गए और बस को अपनी कस्टडी में ले लिया। आरपीएफ ने इस मामले में मामला पंजीबद्ध कर लिया है और जांच शुरू कर दी है
Mar 29 (17:25) Railway News: नहीं ढूंढना पड़ेगा कोच, लग रहा डिस्प्ले बोर्ड (www.naidunia.com)
New Facilities/Technology
SECR/South East Central
0 Followers
21029 views

News Entry# 447308  Blog Entry# 4922935   
  Past Edits
Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Saktigarh/SKG removed by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Umaria/UMR added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Shahdol/SDL added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Akaltara/AKT added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Pendra Road/PND added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Kharsia/KHS added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Sakti/SKT added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Saktigarh/SKG added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2021 (17:25)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836
बिलासपुर।Railway News: रेल मंडल के छह रेलवे स्टेशनों में यात्रियों को प्लेटफार्म में ट्रेन आने के बाद कोच ढूंढने में परेशानी नहीं होगी। उनकी परेशानी दूर करने के लिए रेलवे ने अकलतरा, सक्ती, खरसिया, पेंड्रारोड, उमरिया व शहडोल में कोच गाइडेंस डिस्प्ले बोर्ड लगाने का काम शुरू कर दिया है। अप्रैल से सुविधा मिलने लगेगी।
किसी भी स्टेशन में कोच इंडीकेशन बोर्ड बेहद जरूरी होता है। इसी से पता चलता है कि ट्रेन का कौन सा कोच कहां पर आकर रुकेगा। इसे देखकर ही यात्री यात्री अपने आरक्षित कोच के सामने जाकर खड़े हो जाते हैं। जहां यह सुविधा नहीं है वहां यात्रियों को इधर-उधर भटकना पड़ता है।
इसके
...
more...
अलावा बार-बार रेल कर्मियों की मदद लेनी पड़ती है। जानकारी मिल जाती है तो दिक्कत नहीं होती। पर जानकार नहीं होने पर और अचानक ट्रेन आती है तो भारी भरकम सामान लेकर यात्री दौड़ते-भागते नजर आते हैं।
जिन स्टेशनों में यह सुविधा दी जा रही है वहां इसी तरह की परेशानी यात्रियों को होती थी। बिलासपुर सहित मंडल के प्रमुख स्टेशनों में यात्री सुविधाओं पर जोर दिया जा रहा है। कोच गाइडेंस डिस्प्ले बोर्ड के साथ ट्रेन इंडिकेशन बोर्ड एवं ट्रेन एट ग्लांस बोर्ड भी शामिल हैं। जिन स्टेशनों में इस तरह की सुविधाएं नहीं हैं अब उनमें भी इसकी उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है।
इसी के तहत अकलतरा, सक्ती, खरसिया, पेंड्रारोड व उमरिया स्टेशनों के दो-दो प्लेटफार्म में और शहडोल स्टेशन के एक प्लेटफार्म में कोच इंडीकेशन बोर्ड लगाए जा रहे हैं। अकलतरा, पेंड्रारोड, शहडोल व उमरिया स्टेशन में कार्य लगभग पूरा हो चुका है। सक्ती व खरसिया स्टेशनों में कोच गाइडेंस डिस्प्ले बोर्ड की भी जल्द सुविधा शुरू हो जाएगी। इससे यात्रा सरल, सुगम व सुविधाजनक होगी।
Mar 15 (11:26) Railway News: पहले दिन बिके 25 प्लेटफार्म टिकट, ज्यादातर बाहर से लौटे (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central
0 Followers
17640 views

News Entry# 444938  Blog Entry# 4907940   
  Past Edits
Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Ambikapur/ABKP added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Umaria/UMR added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Shahdol/SDL added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Anuppur Junction/APR added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Pendra Road/PND added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Korba/KRBA added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Champa Junction/CPH added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:27)
Station Tag: Raigarh/RIG added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 15 2021 (11:26)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836
बिलासपुर। Railway News: रेल मंडल के नौ रेलवे स्टेशन में रविवार से प्लेटफार्म टिकट मिलना शुरू हो गया है। पहले ही दिन बिलासपुर में 25 टिकट बिके। इनमें ज्यादातर स्वजन जो परिवार के ऐसे सदस्यों को छोड़ने आए थे जिनके पास भारी भरकम लगेज था या फिर बुजुर्ग थे। कुछ टिकट की कीमत सुनकर बाहर से छोड़कर लौट गए।
कोरोना वायरस के कारण प्लेटफार्म टिकट बिकना भी बंद हो गया था। इसके चलते स्वजन स्टेशन में प्रवेश नहीं कर पा रहे थे। केवल यात्रियों को भीतर जाने की अनुमति थी। इसके कारण स्वजनों को परेशानी होती थी। वे भी अंदर जा सके। इसलिए रेलवे ने प्लेटफार्म टिकट की सुविधा शुरू करने का निर्णय लिया। पर टिकट का कीमत 10 रुपये से बढ़ाकर
...
more...
30 रुपये कर दिया गया।
प्लेटफार्म टिकट महंगा करने के पीछे केवल एक मात्र वजह कोरोना वायरस है। इससे प्लेटफार्म पर ज्यादा भीड़ नहीं जुटेगी। इसके अलावा दो गज दूरी के नियमों का भी पालन होगा। टिकट की कीमत अधिक होने के कारण केवल वहीं स्वजन भीतर जाएंगे जिनका जाना बेहद जरूरी है। काफी हद तक यही हुआ। इसका अंदाजा पहले दिन बिके टिकट से लगाया जा सकता है।
प्लेटफार्म टिकट जनरल टिकट काउंटर से उपलब्ध कराया जा रहा है। गेट पर यात्रियों के अलावा स्वजनों की भी जांच की गई। इस दौरान केवल उन्हीं प्रवेश की इजाजत दी गई जिनके पास प्लेटफार्म टिकट थे। बिलासपुर के अलावा रायगढ़, चांपा, कोरबा, पेंड्रारोड, अनूपपुर, शहडोल, उमरिया व अंबिकापुर में भी यही स्थिति थे। कुछ स्वजन प्लेटफार्म टिकट महंगा होने से नाराज भी नजर आए।
Page#    Showing 1 to 20 of 35 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy