Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Search Trains
 ↓ 
×
DOJ:
Dep:
SunMonTueWedThuFriSat
Class:
2SSLCCEx3AFC2A1A3EEA
Type:
 

Train Details
Words:
LHB/ICF:
Pantry:
In-Coach Catering/Pantry Car
Loco:
Reversal:
Rake Reversal at Any Stn
Rake:
RSA:
With RSA
Inaug:
 to 
# Halts: to 
Trvl Time: to  (in hrs)
Distance: to  (in kms)
Speed: to  (in km/h)

Departure Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Dep Between:    
Dep PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Dep Stn

Arrival Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Arr Days:
SunMonTueWedThuFriSat
Arr Between:    
Arr PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Arr Stn

Search
4-month Availability Calendar
  Go  

दौड़ती है हिमालय तट से सागर, हमसफ़र हर राह पर, हवाई जहाज़ों को त्याग कर, करो अक्सर, भारतीय रेल में सफर. - Arpit P

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Wed Jul 15 01:47:53 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search

58871/Balaghat - Nainpur NG Passenger
     बालाघाट - जबलपुर एनजी पैसेंजर

BTC/Balaghat Junction --> NIR/Nainpur Junction

Pantry/Catering
???
Latest News
(You need to double-check/verify this info yourself)
TRAIN IS CANCELLED
Dep:
Arr:
RSA - Rake Sharing
Rating: 4.7/5 (4 votes)
cleanliness - excellent (1)
punctuality - excellent (1)
food - n/a (0)
ticket avbl - n/a (0)
u/r coach - n/a (0)
railfanning - excellent (1)
safety - good (1)
Loco
ZDM 3A/4A.
ICF Rake

Rake/Coach Position

  0
  L
  1
SLR
  2
 GS
  3
 GS
  4
 GS
  5
 GS
  6
 GS
  7
 S1
  8
SLR
News
PNR
Forum
Time-Table
Availability
Fare Chart
Map
Arr/Dep History
Trips
Gallery
ΣChains
X/O
Timeline
Train Pics
Tips

Train News

Page#    8 News Items  
स्टार्टअप बायोटेक कंपनी बायोन ने कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच की किट विकसित की है, जिससे जांच घर पर ही की जा सकती है। कंपनी ने शुक्रवार को एक बयान में बताया कि 'रैपिड कोविड-19 एट-होम स्क्रीनिंग टेस्ट किट' की मदद से खुद ही घर पर कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच की जा सकती है। यह किट पांच-दस मिनट में परिणाम बताने में सक्षम है।
कंपनी ने कहा है कि वह अभी हर सप्ताह 20 हजार किट की आपूर्ति करने में सक्षम है। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. सुरेन्द्र चिकारा ने कहा, “हम लंबे समय से कोरोना वायरस का अध्ययन कर रहे हैं। हमने यह किट तैयार किया है ताकि इस महामारी के प्रकोप पर अंकुश लगाने के लिए प्रभावी साधन
...
more...
विकसित किया जा सके।”  कंपनी का कहना है कि अभी इसकी कीमत दो से तीन हजार रुपये के बीच है जो उत्पान बढ़ने पर कम भी हो सकती है।    
जरूरी चिकित्सा नियामक से मंजूरी के बाद यह किट कंपनी के प्लेटफॉर्म bione.in पर बिक्री के लिए उपलब्ध है। कंपनी के मुताबिक सामान्य हालातों में रेडी-टू-यूज किट प्लेटफॉर्म पर ऑर्डर देने के 2-3 दिनों में मिल जाएगी।  कंपनी ने कहा है कि कोविड-19 स्क्रीनिंग टेस्ट किट एक आईजीजी एंड आईजीएम (IgG & IgM) बेस्ड टूल है, जिसके नतीजे 5-10 मिनट में मिल जाते हैं। किट मिलने के बाद यूजर को अल्कोहल स्वैब से अपनी उंगली साफ करनी होती है और दी गई लैंसेट को उंगली पर चुभाना होता है। इसके बाद कार्ट्रेज इस तरह रक्त के नमूने से 5-10 मिनट में कोरोनावायरस होने या न होने का नतीजा बता देता है।
 हालांकि, कंपनी ने बयान में यह भी कहा है कि कोविड-19 स्क्रीनिंग किट के नतीजे जो भी हो, किसी व्यक्ति में अगर कोरोनावायरस के लक्षण नजर आते हैं तो लैब टेस्ट जरूर कराएं। पॉजीटिव टेस्ट रिजल्ट्स पर तुरंत और विस्तृत फॉलो-अप जरूरी है। कंपनी ने बताया कि इन प्रोडक्ट्स को उनके वैश्विक CE और FDA द्वारा अप्रूव किए गए पार्टनर्स से प्राप्त किया गया है और कड़े गुणवत्ता नियंत्रण सुनिश्चित करने के बाद बाजार में उतारा गया है। किट को ICMR से मंजूरी मिल गई है । कंपनी USFDA के और भी साझेदारों से मंजूरी पाने की प्रक्रिया में है।
दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात मामले से देश में कोरोना वायरस के मामलों में बड़ा इजाफा देखने को मिला है और शनिवार को यह आंकड़ा 2900 पार कर गया। वहीं, इस खतरनाक कोविड-19 महामारी से अब तक देशभर में जहां 68 लोग जान गंवा चुके हैं और 183 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह 9 बजे तक के अपडेटेड आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के कुल 2901 मामलों में से 2650 केस एक्टिव हैं। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 537 मरीज है। दिल्ली में मरकज मामले के बाद संक्रमितों की संख्या में बड़ा इजाफा हुआ है और यह आंकड़ा 400 पहुंच गया है। तमिलनाडु में 418, केरल में 338 कोरोना पॉजिटिव हैं। वहीं वर्ल्डोमीटर के मुताबिक दुनिया में कोरोना से 1,098,848 लोग संक्रमित हैं, जिनमें  226,106 मरीज ठीक हो चुके हैं। वहीं 58871 लोगों की मौत हो चुकी है।

Rail News
697 views
Apr 08 (01:34)
Shiv Ganga 130 mps ♥️
eXplorerDKG^~   84868 blog posts
Re# 4608129-1            Tags   Past Edits
IR related?

673 views
Apr 08 (01:37)
Jayashree^   40360 blog posts
Re# 4608129-2            Tags   Past Edits
Dec 01 2015 (11:14) दिनभर चला नैरोगेज के साथ सेल्फी लेने का सिलसिला (mp.patrika.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central

News Entry# 249523   
  Past Edits
Dec 01 2015 (11:14AM)
Station Tag: Nainpur Junction/NIR added by Ammar BTC 10001**/66616

Dec 01 2015 (11:14AM)
Station Tag: Balaghat Junction/BTC added by Ammar BTC 10001**/66616

Dec 01 2015 (11:14AM)
Train Tag: Balaghat - Nainpur NG Passenger/58871 added by Ammar BTC 10001**/66616

Dec 01 2015 (11:14AM)
Train Tag: Satpura Express (NG)/10002 added by Ammar BTC 10001**/66616

Dec 01 2015 (11:14AM)
Train Tag: Satpura Express (NG)/10001 added by Ammar BTC 10001**/66616
बालाघाट. आखिरकार जिस दिन का इंतजार था वह आ गया और नैरोगेज का सफर भी हमेशा के लिए थम गया। सोमवार को एशिया की सबसे छोटी रेल लाईन के सफर को अंतिम बिदाई दी गई। जिसे बिदाई देने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। आमजन के साथ भाजपाई और कांग्रेसियों ने भी बिदाई देने में होड़ लगी रही। प्रदेश शासन के कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन, सांसद बोधसिंह भगत, विधायक मधु भगत भी इस बिदाई समारोह के साक्षी बनें।
महाकौशल संघर्ष समिति के नेतृत्व में भाजपाईयों ने और ब्राडगेज संघर्ष समिति के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने नैनपुर तक रेल सफर भी किया।
ब्राडगेज
...
more...
का सफर मिलेगा शीघ्र
नैरोगेज इसलिए बंद हुई कि आगामी समय में ब्राडगेज बनने वाली हैं। आगामी दो साल में बड़ी रेल लाईन बिछाने का कार्य कर लिए जाने की बात रेल्वे अधिकारी कह रहे हैं। अगर ऐसा होता हैं तो यात्रियों को आगामी दो वर्ष बाद निश्चित ही बड़ी रेल लाईन का सफर मिल जाएगा।
ब्राडगेज संघर्ष समिति ने दी बिदाई
ब्राडगेज संघर्ष समिति द्वारा सोमवार दोपहर में 1.55 बजे नैनपुर जाने वाली छोटी टे्रन को बिदाई दी गई। परसवाड़ा विधायक मधु भगत की उपस्थिति में ब्रासंस ने बालाघाट रेल्वे स्टेशन में ढोल-ढमाकों के साथ यह बिदाई दी। ब्रांसस अध्यक्ष अनूपसिंह बैस के नेतृत्व में रेल्वे स्टेशन पहुंचें पदाधिकारियों, कांग्रेसियों ने ढोल ढमाके के साथ छोटी टे्रन को बिदाई दी। साथ ही पादरीगंज तक के 9 स्टेशनों तक रेल सफर भी किया गया। विधायक मधु भगत ने कहा कि नैरोगेज के बंद होने का दुख हैं साथ ही खुशी इस बात की हैं कि आगामी दो वर्ष बाद हमें ब्राडगेज मिलेगी।
महाकौशल रेल संघर्ष समिति ने भी दी बिदाई
छोटी रेल लाईन को 30 नवबर से बंद करने संबंधी दक्षिण मध्य रेल्वे का आदेश आने पर महाकौशल रेल संघर्ष समिति के अध्यक्ष पूरनकुमार आडवानी के नेत्त्व में बिदाई समारोह आयोजित किया गया। जिसमें प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन, सांसद बोधङ्क्षसह भगत, विधायक डॉक्टर योगेंद्र निर्मल, जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा बिसेन, पूर्व विधायक रमेश भटेरे, रामकिशोर कावरे, भगतसिंह नेताम, पूर्व मंत्री लोचनलाल ठाकरे, लता एलकर, भारती पारधी, शिव जायसवाल, गोपाल राव एलकर, रमेश रंगलानी, संयोग कोचर, सुरजीत सिंह ठाकुर सहित सैकड़ों भाजपाई व विविध संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल हुए। महाकौशल रेल संघर्ष समिति ने इस दौरान बड़ी रेल लाईन के लिए किए गए विविध अवधि में संघर्ष को याद किया और किस तरह से वर्तमान में ब्राडगेज को गति मिल रही उसका आमजन को अवगत कराया गया। इस अवसर पर महाकौशल रेल संघर्ष समिति से जुड़े लोगों का साल-श्रीफल से स्वागत भी किया गया। यहां बताया जाना लाजमी होगा कि महाकौशल रेल संघर्ष समिति की ओर से शाम पौने छह बजे वाली टे्रन को बिदाई दी गई। जिसमें इन पदाधिकारियों ने नैनपुर तक का सफर भी किया।
Dec 01 2015 (11:09) अलविदा कह गई नैरोगेज, अंतिम सफर के लिए बेताब नजर आए रेल यात्री (naidunia.jagran.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central

News Entry# 249522   
  Past Edits
Dec 01 2015 (11:09AM)
Station Tag: Balaghat Junction/BTC added by Ammar BTC 10001**/66616

Dec 01 2015 (11:09AM)
Train Tag: Balaghat - Nainpur NG Passenger/58871 added by Ammar BTC 10001**/66616

Dec 01 2015 (11:09AM)
Train Tag: Satpura Express (NG)/10001 added by Ammar BTC 10001**/66616
बालाघाट। नैरोगेज की पटरी पर 30 नवंबर को छोटी ट्रेनों को सफर हमेशा के लिए थम गया। एक सदी के नैरोगेज के सफर में छोटी लाइन की ट्रेनों की यादों को संजोने रेल यात्री बेताब नजर आए। वहीं इसे अंतिम बिदाई देने हर उम्र वर्ग के लोगों में उत्साह नजर आया। हर रोज की तरह सोमवार को भी अपने वक्त पर बालाघाट रेलवे स्टेशन ट्रेनें पहुंची । सुबह से आने वाली हर ट्रेनों का स्टेशनों में यात्रियों ने तहेदिल से स्वागत् किया। बालाघाट रेलवे स्टेशन में 30 नवंबर को रेल यात्रियों से ज्यादा भीड़ इसे अंतिम बिदाई देने वाले लोगों की रही। किसी ने गुलाब के फूल रेल यात्रियों को भेंट कर इसके सफर के सुखद अनुभव को बांटने की कोशिश की तो कुछ यात्री इंजन और बोगी के सामने खड़े होकर इस आखिरी पल को अपने कैमरों कैद करते नजर आए।
कुछ
...
more...
अलग रहा माहौल
एशिया की सबसे बड़ी नैरोगेज लाइन पर ट्रेनों का सफर आज थम गया। हर रोज की तरह यह ट्रेन सोमवार को भी 12.10 बजे दोपहर में बालाघाट रेलवे स्टेशन पहुंची। जहां 30 30 नवंबर को नजारा कुछ अलग ही देखने मिला। यहां रेलवे स्टेशन पर जमा भीड़ इसके अंतिम सफर के लिए ही नहीं, इसे भावभीनी अंतिम विदाई देते नजर आई। यहां परसवाड़ा विधायक व ब्रासंस के पदाधिकारियों व महाकौशल रेलवे संघर्ष समिति ने भी उत्साह पूर्व रेल यात्रियों को इस अंतिम सफर के लिए शुभकामनाएं दी। इस मौके पर कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन ,सांसद बोध सिंह भगत, पूरन कुमार आडवाणी, भगत नेताम पूर्व नपा अध्यक्ष रमेश रंगलानी समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।
बीत गया वक्त
नैरोगेज के 4 सेक्शन को बंद करने के लिए 30 नवंबर को 112 किमी का ट्रैक बंद करने की आखिरी तारीख बीत गई। इसके साथ ही नागपुर -छिंदवाड़ा , छिंदवाड़ा- नैनपुर और नैनपुर से मंडला और बालाघाट के बीच ट्रेक बंद हो गया।
ये भी रहा आलम
30 नवंबर को नैरोगेज की पटरी पर चलने वाली ट्रेनों का एक सदी का सफर गुजर गया है। कुछ चेहरों में नई सौगात मिलने की खुशी झलक रही थी,तो कुछ चेहरों में इसके बंद हो जाने का ग। कोई इसके अंतिम सफर को बेताव नजर आया तो कोई इसके आखिरी सफर के लिए इस ट्रेन पर चढ़ने की हिम्‍मत भी नहीं जुटा पाया। ग्रामीण क्रिकेट संघ की टीम नैरोगेज के आखिरी सफर को अपनी यादों में संजोने यात्रा के लिए स्टेशन तो पहुंची लेकिन इसके अंतिम सफर के दु:ख में कोई भी खिलाड़ी इसके सफर के लिए तैयार नहीं हुआ। इसलिए कि वे खिलाड़ी इस रूट में बिछने वाली नई रेल लाइन का स्वागत कर रहे हैं। लेकिन बालाघाट की लाइफ लाइन नैरोगेज व इस रूट में चलने वाली ट्रेन के बंद होने से उदास भी नजर आए।
जिंदगी का यादगार सफर
हुलक चंद्र चौहान ने नैनपुर से बालाघाट के तक सफर को बयां करते हुए बताया कि नैनपुर से बालाघाट तक पड़ने वाले सभी स्टेशनों में ट्रेन का लोगों ने जमकर स्वागत् किया। यहां रहने वाले लोगों ने रेल कर्मियों का फूल माला पहनाकर स्वागत् किया। साथ ही सभी ने शिकारा में राष्ट्रगान किया। इसे अंतिम सफर मानकर गार्ड वी भटनागर ने यहां लोगों के साथ खोवे की गुझिया भी खाई।
8.45 बजे चली आखिरी ट्रेन
बालाघाट से रात्रि 8.45 बजे बालाघाट से नैनपुर जाने वाली अंतिम ट्रेन इतिहास के पन्‍नों पर दर्ज हुई। इस ट्रेन ने भी नैनपुर के लिए सोमवार को अंतिम सफर किया। लेकिन पैसेंजर की खास पसंद एनजी को अंतिम विदाई देने भीड़ कम नजर आई।
अब नैनपुर के आगे नहीं जाएगी ट्रेन
बालाघाट से नैनपुर जाने वाली पैसेंजर ट्रेन क्रमांक 58871 नैनपुर से बालाघाट वापस नहीं लौटेगी।
नैरोगेज के पहिए थमते ही इसके मध्य लोगों की जिंदगी के लिए मुसीबत का सफर शुरू हो गया। पहले चरण में नैनपुर से जबलपुर के बीच रेल के रास्ते रोजगार की तलाश में शहर जाने वाले लोगों के लिए 01 अक्टूबर से मजबूरी का सफर हुआ शुरू हुआ था। दूसरे चरण में चार रूट एक साथ बंद हो गए । इनकी जिंदगी की राह को आसान करने बनाई जा रही रेल लाइन के लिए बंद की गई।
पटरी से इनकी जिंदगी की लाइन बेपटरी हो गई है। नैरोगेज ने आखिरी सायरन के शोर से नैनपुर से बिदाई ले ली है। रात को बालाघाट से नैनपुर जाने वाली पैसेंजर भी गुजर गई। इन ट्रेनों की थमी रफ्तार इतिहास बन जाएगी और इस रास्ते बसी आबादी के लिए याद।
नैरोगेज के पहिए थमते ही अब नैनपुर से हाऊबाग रेलवे स्टेशन तक रेल यात्रा करने वाली आबादी सफर को तरस जाएगी। इस रूट में बसी जनता के लिए छोटी लाइन के सफर की डगर कठिन हो जाएगी।
थम गया सफर
दिसंबर को नैनपुर-बालाघाट, नागपुर -छिंदवाड़ा, छिंदवाड़ा-नैनपुर व नैनपुर-मण्डला फोर्ट के पहिए अंतिम सफर के साथ थम गए। इन रूटों पर आखिरी सफर करने और सैल्फी के जरिए अपनी यादों को सहेजने लोगों में होड़ नजर आई।
- See more at: click here
Dec 01 2015 (11:07) किसी ने रूंधे गले तो किसी ने नम आंखों से कहा अलविदा नैरोगेज (naidunia.jagran.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central

News Entry# 249521   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
नैरोगेज की पटरी पर 30 नवंबर को छोटी ट्रेनों का सफर हमेशा के लिए थम गया। एक सदी तक लोगों की हमसफर रही नैरोगेज के अंतिम पलों को संजोने की बेताबी लोगों में साफ देखी गई। इसे अंतिम विदाई देने के लिए हर उम्र, वर्ग के लोगों में उत्साह नजर आया। हर रोज की तरह सोमवार को भी ट्रेनें अपने वक्त पर बालाघाट रेलवे स्टेशन पहुंची । सुबह से आने वाली हर ट्रेनों का स्टेशनों में यात्रियों ने तहेदिल से स्वागत और विदाई दी। इस दौरान कुछ ने रूंधे गले से तो किसी ने नम आंखों से कहा-अलविदा नैरोगेज। बालाघाट रेलवे स्टेशन में सोमवार को रेल यात्रियों से ज्यादा भीड़ इसे अंतिम विदाई देने वालों की रही। किसी ने गुलाब के फूल रेल यात्रियों को भेंटकर इसके सफर के सुखद अनुभव को बांटने की कोशिश की तो कुछ यात्री इंजन और बोगी के सामने खड़े होकर इस आखिरी पल को अपने...
more...
कैमरों कैद करते नजर आए।
कुछ अलग रहा माहौल
एशिया की सबसे बड़ी नैरोगेज लाइन पर ट्रेनों का सफर आज थम गया। हर रोज की तरह यह ट्रेन सोमवार को भी 12.10 बजे दोपहर में बालाघाट रेलवे स्टेशन पहुंची। जहां सोमवार अन्य दिनों की अपेक्षा नजरा अलहदा कुछ अलग था। यहां रेलवे स्टेशन पर जमा भीड़ इसके अंतिम सफर के लिए ही नहीं, इसे भावभीनी अंतिम विदाई देते नजर आई। यहां परसवाड़ा विधायक व ब्रासंस के पदाधिकारियों व महाकौशल रेलवे संघर्ष समिति ने भी उत्साह पूर्व रेल यात्रियों को इस अंतिम सफर के लिए शुभकामनाएं दी। इस मौके पर कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन, सांसद बोध सिंह भगत, पूरन कुमार आडवाणी, भगत नेताम पूर्व नपा अध्यक्ष रमेश रंगलानी समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।
बीत गया वक्त
नैरोगेज के 4 सेक्शन को बंद करने के लिए सोमवार को 112 किमी. का ट्रैक बंद करने की आखिरी तारीख बीत गई। इसके साथ ही नागपुर-छिंदवाड़ा, छिंदवाड़ा- नैनपुर और नैनपुर से मंडला और बालाघाट के बीच ट्रैक बंद हो गया।
ये भी रहा आलम
सोमवार को नैरोगेज की पटरी पर चलने वाली ट्रेनों का एक सदी का सफर गुजर गया है। कुछ चेहरों में नई सौगात मिलने की खुशी झलक रही थी,तो कुछ चेहरों में इसके बंद हो जाने का गम साफ देखा जा सकता था। कोई इसके अंतिम सफर को बेताब नजर आया तो कोई इसके आखिरी सफर के लिए इस ट्रेन पर चढ़ने की हिम्मत भी नहीं जुटा पाया। ग्रामीण क्रिकेट संघ की टीम नैरोगेज के आखिरी सफर को अपनी यादों में संजोने यात्रा के लिए स्टेशन तो पहुंची लेकिन इसके अंतिम सफर के दुःख में कोई भी खिलाड़ी इसके सफर के लिए तैयार नहीं हुआ। इसलिए कि वे खिलाड़ी इस रूट में बिछने वाली नई रेल लाइन का स्वागत कर रहे हैं। लेकिन बालाघाट की लाइफ लाइन नैरोगेज व इस रूट में चलने वाली ट्रेन के बंद होने से उदास भी नजर आए।
जिंदगी का यादगार सफर
हुलक चंद्र चौहान ने नैनपुर से बालाघाट के तक सफर को बयां करते हुए बताया कि नैनपुर से बालाघाट तक पड़ने वाले सभी स्टेशनों में ट्रेन का लोगों ने जमकर स्वागत किया। यहां रहने वाले लोगों ने रेलकर्मियों का फूल-माला पहनाकर स्वागत किया। साथ ही सभी ने शिकारा में राष्ट्रगान किया। इसे अंतिम सफर मानकर गार्ड वी भटनागर ने यहां लोगों के साथ गुझिया भी खाई।
8.45 बजे चली आखिरी ट्रेन
बालाघाट से रात 8.45 बजे बालाघाट से नैनपुर जाने वाली अंतिम ट्रेन इतिहास के पन्नों पर दर्ज हुई। इस ट्रेन ने भी नैनपुर के लिए सोमवार को अंतिम सफर किया। लेकिन पैसेंजर की खास पसंद एनजी को अंतिम विदाई देने भीड़ कम नजर आई।
अब नैनपुर के आगे नहीं जाएगी ट्रेन
बालाघाट से नैनपुर जाने वाली पैसेंजर ट्रेन क्रमांक 58871 नैनपुर से बालाघाट वापस नहीं लौटेगी। नैरोगेज के पहिए थमते ही इसके मध्य लोगों की जिंदगी के लिए मुसीबत का सफर शुरू हो गया। पहले चरण में नैनपुर से जबलपुर के बीच रेल के रास्ते रोजगार की तलाश में शहर जाने वाले लोगों के लिए 1 अक्टूबर से मजबूरी का सफर हुआ शुरू हुआ था। दूसरे चरण में चार रूट एक साथ बंद हो गए । इनकी जिंदगी की राह को आसान करने बनाई जा रही रेल लाइन के लिए बंद की गई । पटरी से इनकी जिंदगी की लाइन बेपटरी हो गई है। नैरोगेज ने आखिरी सायरन के शोर से नैनपुर से बिदाई ले ली है। रात को बालाघाट से नैनपुर जाने वाली पैसेंजर भी गुजर गई। इन ट्रेनों की थमी रफ्तार इतिहास बन जाएगी और इस रास्ते बसी आबादी के लिए याद।
नैरोगेज के पहिए थमते ही अब नैनपुर से हाऊबाग रेलवे स्टेशन तक रेल यात्रा करने वाली आबादी सफर को तरस जाएगी। इस रूट में बसी जनता के लिए छोटी लाइन के सफर की डगर कठिन हो जाएगी।
थम गया सफर
दिसंबर को नैनपुर-बालाघाट, नागपुर -छिंदवाड़ा, छिंदवाड़ा-नैनपुर व नैनपुर-मण्डला फोर्ट के पहिए अंतिम सफर के साथ थम गए। इन रूटों पर आखिरी सफर करने और सैल्फी के जरिए अपनी यादों को सहेजने लोगों में होड़ नजर आई।
मजदूरों की मनोदशा
रामभरोसे लिल्हारे का कहना है कि जब से यह सुना है छोटी लाइन बंद होने वाली है,लोग छोटी लाइन की ट्रेन के सफर की जरूरत की तकलीफ महसूस करने लगे हैं। खासकर गरीबों के लिए जीवनदायनी बनी नैरोगेज के बंद से संकट बढ़ गया है। सस्ते किराया में लोग गांव से शहर मजदूरी करने आते थे। अब उन्हें बस से आने-जाने में मजदूरी का आधा पैसा यात्रा में लग जाएगा। उन्हें नई रेल लाइन के बिछने की खुशी कम और अपनी यादों के सफर की पटरी उखड़ने का दर्द ज्यादा है।
15 स्टेशनों की आबादी होगी प्रभावित
एक-एक साल के अंतराल में शुरू हुई छोटी लाइन ट्रेन दो माह के अंतराल में बंद हो गया। 30 नवंबर को इसकी शुरुआत हो गई है। इससे हॉल्ट स्टेशन में बसी आबादी ही नहीं, बीच में पड़ने वाले स्टेशनों से जुड़ी बसाहट भी ट्रेन के सफर से वंचित हो जाएगी। हजारों लोगों के सामने न केवल सफर बल्कि रोजी -रोजगार का संकट भी गहरा जाएगा।
अब बढ़ेगा शहर में बसों का दबाव
नैरोगेज के रूट पर चलने वाली ट्रेन के पहिए हमेशा के लिए पटरी से नीचे उतर गए । अब इस रूट में जबलपुर- नैनपुर के बीच जब तक बड़ी रेल लाइन नहीं बिछ जाती तब तक ट्रेन नहीं दौड़ेगी। ऐसे में एक बड़ी आबादी का सफर मुसीबत भरा हो गया है। वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में नैनपुर-जबलपुर के बीच मौजूदा मार्गों से बसों के जरीए यात्रा का विकल्प कर रहे लोगों के लिए सफर न केवल जोखिम भरा होगा, बल्कि इससे जुड़े सभी मार्गों में यातायात व्यवस्था बे-पटरी हो जाएगी। नैनपुर से बालाघाट व बालाघाट से जबलपुर के ओर जाने वाले विभिन्न मार्गों में आधा सैकड़ा से अधिक गाड़ी के लिए जगह खाली है। जबकि दो दर्जन से अधिक यात्री बसों के परमिट के लिए आवेदन लगे हैं। ऐसे में यदि अधिक वाहनों को परमिट मिला तो इस रूट पर यात्री बसों का सफर जोखिम भरा हो जाएगा।
- See more at: click here
Nov 30 2015 (09:39) महाकौशल रेल्वे संघर्ष समिति देंगी नेरोगेज ट्रेन को बिदाई (mp.patrika.com)
Commentary/Human Interest
SECR/South East Central

News Entry# 249437   
  Past Edits
Nov 30 2015 (9:40AM)
Station Tag: Nainpur Junction/NIR added by Ammar BTC 10001**/66616

Nov 30 2015 (9:40AM)
Station Tag: Balaghat Junction/BTC added by Ammar BTC 10001**/66616

Nov 30 2015 (9:40AM)
Train Tag: Satpura Express (NG)/10001 added by Ammar BTC 10001**/66616

Nov 30 2015 (9:40AM)
Train Tag: Balaghat - Nainpur NG Passenger/58871 added by Ammar BTC 10001**/66616
बालाघाट. महाकौशल रेल्वे संघर्ष समिति द्वारा बालाघाट से जबलपुर तक चलने वाली नेरोगेज ट्रेन के सोमवार को अंतिम सफर होने पर बिदाई समारोह का भव्य आयोजन किया गया है। इस संबंध में समिति के पदाधिकारी पूरनकुमार आडवानी ने रविवार को पत्रकारों से चर्चा में बताया कि करीब सौ वर्षो से जनता को अपनी सेवा दे रही बालाघाट से जबलपुर नेरोगेज ट्रेन सोमवार से बंद हो रही है। अंतिम ट्रेन को पुष्प मालाओं से सजावट कर पूजा अर्चना कर बिदाई दी जाएगी। इस अवसर पर स्टेशन परिसर में आमसभा का भी आयोजन किया गया है। मंडला जिले के सांसद फग्गनसिंह कुलस्ते, बालाघाट सिवनी सांसद बोधसिंह भगत, भाजपा जिलाध्यक्ष उदयसिंह नगपुरे, विधायक डॉ. योगेन्द्र निर्मल, विधायक केडी देशमुख, नरेश दिवाकर सहित अन्य जनप्रतिनिधि व महाकौशल संघर्ष समिति के पदाधिकारी शामिल रहेंगे। उन्होंने बताया कि बालाघाट से जबलपुर ब्राडगेज के लिए संघर्ष समिति ने काफी आंदोलन व प्रयास किया है। इस अवसर पर...
more...
लता एलकर, अभय सेठिया, मंजय भंसाली, सुदीप जैन उपस्थित रहे।
Page#    8 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy