Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
Search Trains
 ↓ 
×
DOJ:
Dep:
SunMonTueWedThuFriSat
Class:
2SSLCCEx3AFC2A1A3EEA
Type:
 

Train Details
Words:
LHB/ICF:
Pantry:
In-Coach Catering/Pantry Car
Loco:
Reversal:
Rake Reversal at Any Stn
Rake:
RSA:
With RSA
Inaug:
 to 
# Halts: to 
Trvl Time: to  (in hrs)
Distance: to  (in kms)
Speed: to  (in km/h)

Departure Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Dep Between:    
Dep PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Dep Stn

Arrival Details
Include nearby Stations:      ONLY this Station:
Arr Days:
SunMonTueWedThuFriSat
Arr Between:    
Arr PF#:
Reversal:
Rake Reversal at Arr Stn

Search
4-month Availability Calendar
  Go  

Rockfort Express: திருச்சி அவனது கோட்டை, இரவில் சென்னை வரை வேட்டை, அவன் தான் மலைக்கோட்டை. - Vijay Baradwaj

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Jul 9 04:56:20 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search

09756/Jaipur Ajmer Express
     जयपुर अजमेर एक्सप्रेस

JP/Jaipur Junction --> AII/Ajmer Junction

Pantry/Catering
???
Latest News
(You need to double-check/verify this info yourself)
Extended to run till 30 Jun
Fri Feb 18, 2011 (08:56PM)
TRAIN IS CANCELLED
Dep:
Arr:
RSA - Rake Sharing
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
punctuality - n/a (0)
food - n/a (0)
ticket avbl - n/a (0)
u/r coach - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
safety - n/a (0)
Loco
ICF Rake

Rake/Coach Position

  0
 UR
  1
SLR
News
PNR
Forum
Time-Table
Availability
Fare Chart
Map
Arr/Dep History
Trips
Gallery
ΣChains
X/O
Timeline
Train Pics
Tips

Train News

Page#    3 News Items  
Dec 02 2013 (07:23) लखनऊ में टला एक बड़ा रेल हादसा (www.railnews.co.in)
Major Accidents/Disruptions
NR/Northern

News Entry# 158857   
  Past Edits
Dec 02 2013 (7:23AM)
Station Tag: Nigohan/NHN added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Station Tag: Lucknow Charbagh/LKO added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Neelanchal SF Express/12875 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Delhi Anand Vihar T-Varanasi Garib Rath Express/22408 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Varanasi Lucknow Passenger/54255 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Dehradun Varanasi Janta Express/14266 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Allahabad Haridwar Express/14115 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Lucknow-Vindhyachal InterCity/14210 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Padmavat Express/14208 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Nauchandi Express/14512 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Howrah - Amritsar (Punjab) Mail/13005 added by msr/708647

Dec 02 2013 (7:23AM)
Train Tag: Haridwar Allahabad Express/14116 added by msr/708647
लखनऊ: शुक्रवार देर रात हरिद्वार से इलाहाबाद जा रही ट्रेन 14116 हरिद्वार एक्सप्रेस निगोहां के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई।
ट्रेन की आखिरी की तीन बोगियां हवा में लहराते हुए एक पटरी से उतरकर दूसरी पटरी पर आ गईं।
इस हादसे में करीब एक दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए। घटना के दो घंटे बाद तीनों बोगियों के यात्रियों को इसी ट्रेन की बची हुई बोगियों में बैठाकर इलाहाबाद रवाना कर दिया गया।
बुरी
...
more...
तरह घायल हुआ गार्ड: हादसे में ट्रेन का गार्ड बुरी तरह घायल हुआ है। उसे उपचार के लिए रेलवे मंडल चिकित्सालय लाया जा रहा है। करीब 13 घंटे की मशक्कत के बाद इस रेलखंड पर रेल यातायात बहाल हो सका। इसके चलते एक दर्जन से अधिक ट्रेनों को परिवर्तित मार्ग से चलाया गया।
ट्रेन 14116 हरिद्वार-इलाहाबाद एक्सप्रेस लखनऊ से छूटने के बाद तेज गति से इलाहाबाद की ओर जा रही थी।
रात करीब 2:44 बजे ट्रेन कनकहा स्टेशन पार हुई और 90 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से वह 2:50 बजे निगोहां के आउटर पर पहुंच गई।
आउटर सिगनल के पास अचानक इसके गार्ड वाली बोगी (एनसी-09756) का एक्सल टूट गया और यह बोगी तेज झटके के साथ पटरी से नीचे आ गई।
सीट से नीचे जा गिरे यात्री: इस बोगी के पिछले हिस्से वाले दोनो पहिये दूर जा गिरे। जबकि बोगी रगड़ खाती हुई नीचे आ गई। रास्ते में दूरभाष बॉक्स सहित जो कुछ भी सामने आया उसे बोगी ने उड़ा दिया। जोरदार टक्कर के कारण गहरी नींद में सोए यात्री ऊपर की सीट से नीचे जा गिरे। इस बीच यात्रियों की चीख पुकार भी मच गई।
ट्रेन के गार्ड को भी कुछ समझ नहीं आया। करीब तीन सौ मीटर तक बोगी नीचे रगड़ते हुए एक सिगनल पोस्ट से जा टकरायी। टक्कर इतनी तेज थी कि सिगनल पोस्ट 100 मीटर दूर जा गिरा।
इस झटके के बाद यह बोगी फिर पटरी पर आ गई। इसके आगे की दो अन्य बोगियां मेन लाइन से हटकर लूप लाइन पर आ गईं। इस बीच ट्रेन के गार्ड ने इमरजेंसी ब्रेक का इस्तेमाल किया तब जाकर ट्रेन रूक सकी।
हड़बड़ाकर जब लोग बाहर उतरे तो उनको पता चला कि ट्रेन की तीन बोगियां दूसरी पटरी पर आ गई हैं। करीब 4:24 बजे आगे की 11 बोगियों में दुर्घटनाग्रस्त बोगियों के यात्रियों को बैठाकर आगे रवाना किया गया।
घटना के बाद डीआरएम जगदीप राय और वरिष्ठ मंडल अभियंता (दूरभाष) एके सिंह सहित कई अधिकारी मौके पर पहुंचे। लखनऊ से दुर्घटना बचाव ट्रेन को भी रवाना किया गया।
करीब 13 घंटे के बाद शाम चार बजे रेलखंड को बहाल किया जा सका। मालगाड़ी को गुजारने के बाद ट्रेन 13005 पंजाब मेल को यहां से चलाया गया। इस ट्रेन से कुछ ही देर पहले बरेली-प्रयाग एक्सप्रेस गुजरी थी।
सीवीसी कपलर ने बचाया हादसा: हरिद्वार-इलाहाबाद एक्सप्रेस की बोगियों में लगे सीवीसी कपलर के कारण इतना बड़ा हादसा होने के बावजूद दर्जनों यात्रियों की जान बच सकी। सीवीसी कपलर के कारण ही आखिरी बोगी के पटरी से उतरकर जमीन पर रगड़ने के बावजूद वह अलग नहीं हो सकी।
यदि यह बोगी अलग हो जाती तो यहां के एक नाले से टकराकर कई यात्रियों की जान तक जा सकती थी। इतना ही नहीं अंतिम व उसके आगे की दो और बोगियां भी मेन लाइन से हटकर लूप लाइन पर पहुंचने के बावजूद आपस में जुड़ी रहीं। इन बोगियों को कटर से काटकर ही अलग किया जा सका।
बच गई टक्कर: निगोहां स्टेशन के लूप लाइन पर तीन बोगियां उतरकर पहुंच गई थी, जिस जगह पटरियां जाकर रुकीं वहां से चंद मीटर की दूरी पर चार हजार हार्सपावर की क्षमता वाला एक डीजल इंजन भी खड़ा था। चंद मीटर से बची टक्कर ने बड़े हादसे को टाल दिया।
ट्रेन संचालन प्रभावित: हादसे के कारण लखनऊ-रायबरेली रेलखंड पर ट्रेनों का संचालन बुरी तरह प्रभावित हुआ। लखनऊ-प्रतापगढ़ डीएमयू को रद कर दिया गया। ट्रेन 14512 नौचंदी एक्सप्रेस को सुल्तानपुर-प्रतापगढ़ होकर इलाहाबाद रवाना किया गया। ट्रेन 14208 पद्मावत एक्सप्रेस को सुल्तानपुर के रास्ते प्रतापगढ़ रवाना किया गया।
ट्रेन 14210 इलाहाबाद इंटरसिटी कानपुर होकर रवाना हुई। इलाहाबाद से आने वाली ट्रेन 14115 इलाहाबाद-हरिद्वार एक्सप्रेस कानपुर होकर लखनऊ आयी।
ट्रेन 14266 देहरादून-वाराणसी जनता एक्सप्रेस सुल्तानपुर-प्रतापगढ़ के रास्ते वाराणसी गई। ट्रेन 54255 वाराणसी-लखनऊ पैसेंजर को रायबरेली में समाप्त कर दिया गया।
ट्रेन 22408 वाराणसी-आनंद विहार गरीब रथ रायबरेली-कानपुर होकर चलायी गई। ट्रेन 12875 नीलांचल एक्सप्रेस भी लखनऊ न आकर रायबरेली-कानपुर होकर दिल्ली रवाना हो गई।
शुक्रवार देर रात हरिद्वार से इलाहाबाद जा रही ट्रेन 14116 हरिद्वार एक्सप्रेस निगोहां के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई।ट्रेन की आखिरी की तीन बोगियां हवा में लहराते हुए एक पटरी से उतरकर दूसरी पटरी पर आ गईं।इस हादसे में करीब एक दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए। घटना के दो घंटे बाद तीनों बोगियों के यात्रियों को इसी ट्रेन की बची हुई बोगियों में बैठाकर इलाहाबाद रवाना कर दिया गया।
बुरी तरह घायल हुआ गार्ड हादसे में ट्रेन का गार्ड बुरी तरह घायल हुआ है। उसे उपचार के लिए रेलवे मंडल चिकित्सालय लाया जा रहा है। करीब 13 घंटे की मशक्कत के बाद इस रेलखंड पर रेल यातायात बहाल हो सका। इसके चलते एक दर्जन से अधिक ट्रेनों� को परिवर्तित मार्ग से
...
more...
चलाया गया।
हादसे की तस्वीरों के लिए ‌क्लिक करें
ट्रेन 14116 हरिद्वार-इलाहाबाद एक्सप्रेस लखनऊ से छूटने के बाद तेज गति से इलाहाबाद की ओर जा रही थी।
रात करीब 2:44 बजे ट्रेन कनकहा स्टेशन पार हुई और 90 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से वह 2:50 बजे निगोहां के आउटर पर पहुंच गई।
आउटर सिगनल के पास अचानक इसके गार्ड वाली बोगी (एनसी-09756) का एक्सल टूट गया और यह बोगी तेज झटके के साथ पटरी से नीचे आ गई।
सीट से नीचे जा गिरे यात्री इस बोगी के पिछले हिस्से वाले दोनो पहिये दूर जा गिरे। जबकि बोगी रगड़ खाती हुई नीचे आ गई। रास्ते में दूरभाष बॉक्स सहित जो कुछ भी सामने आया उसे बोगी ने उड़ा दिया। जोरदार टक्कर के कारण गहरी नींद में सोए यात्री ऊपर की सीट से नीचे जा गिरे। इस बीच यात्रियों की चीख पुकार भी मच गई।
ट्रेन के गार्ड को भी कुछ समझ नहीं आया। करीब तीन सौ मीटर तक बोगी नीचे रगड़ते हुए एक सिगनल पोस्ट से जा टकरायी। टक्कर इतनी तेज थी कि सिगनल पोस्ट 100 मीटर दूर जा गिरा।
इस झटके के बाद यह बोगी फिर पटरी पर आ गई। इसके आगे की दो अन्य बोगियां मेन लाइन से हटकर लूप लाइन पर आ गईं। इस बीच ट्रेन के गार्ड ने इमरजेंसी ब्रेक का इस्तेमाल किया तब जाकर ट्रेन रूक सकी।
हड़बड़ाकर जब लोग बाहर उतरे तो उनको पता चला कि ट्रेन की तीन बोगियां दूसरी पटरी पर आ गई हैं। करीब 4:24 बजे आगे की 11 बोगियों में दुर्घटनाग्रस्त बोगियों के यात्रियों को बैठाकर आगे रवाना किया गया।
घटना के बाद डीआरएम जगदीप राय और वरिष्ठ मंडल अभियंता (दूरभाष) एके सिंह सहित कई अधिकारी मौके पर पहुंचे। लखनऊ से दुर्घटना बचाव ट्रेन को भी रवाना किया गया।
करीब 13 घंटे के बाद शाम चार बजे रेलखंड को बहाल किया जा सका। मालगाड़ी को गुजारने के बाद ट्रेन 13005 पंजाब मेल को यहां से चलाया गया। इस ट्रेन से कुछ ही देर पहले बरेली-प्रयाग एक्सप्रेस गुजरी थी।
सीवीसी कपलर ने बचाया हादसा
हरिद्वार-इलाहाबाद एक्सप्रेस की बोगियों में लगे सीवीसी कपलर के कारण इतना बड़ा हादसा होने के बावजूद दर्जनों यात्रियों की जान बच सकी। सीवीसी कपलर के कारण ही आखिरी बोगी के पटरी से उतरकर जमीन पर रगड़ने के बावजूद वह अलग नहीं हो सकी।
यदि यह बोगी अलग हो जाती तो यहां के एक नाले से टकराकर कई यात्रियों की जान तक जा सकती थी। इतना ही नहीं अंतिम व उसके आगे की दो और बोगियां भी मेन लाइन से हटकर लूप लाइन पर पहुंचने के बावजूद आपस में जुड़ी रहीं। इन बोगियों को कटर से काटकर ही अलग किया जा सका।
बच गई टक्कर निगोहां स्टेशन के लूप लाइन पर तीन बोगियां उतरकर पहुंच गई थी, जिस जगह पटरियां जाकर रुकीं वहां से चंद मीटर की दूरी पर चार हजार हार्सपावर की क्षमता वाला एक डीजल इंजन भी खड़ा था। चंद मीटर से बची टक्कर ने बड़े हादसे को टाल दिया।
ट्रेन संचालन प्रभावित हादसे के कारण लखनऊ-रायबरेली रेलखंड पर ट्रेनों का संचालन बुरी तरह प्रभावित हुआ। लखनऊ-प्रतापगढ़ डीएमयू को रद कर दिया गया। ट्रेन 14512 नौचंदी एक्सप्रेस को सुल्तानपुर-प्रतापगढ़ होकर इलाहाबाद रवाना किया गया। ट्रेन 14208 पद्मावत एक्सप्रेस को सुल्तानपुर के रास्ते प्रतापगढ़ रवाना किया गया।
ट्रेन 14210 इलाहाबाद इंटरसिटी कानपुर होकर रवाना हुई। इलाहाबाद से आने वाली ट्रेन 14115 इलाहाबाद-हरिद्वार एक्सप्रेस कानपुर होकर लखनऊ आयी।
ट्रेन 14266 देहरादून-वाराणसी जनता एक्सप्रेस सुल्तानपुर-प्रतापगढ़ के रास्ते वाराणसी गई। ट्रेन 54255 वाराणसी-लखनऊ पैसेंजर को रायबरेली में समाप्त कर दिया गया।
ट्रेन 22408 वाराणसी-आनंद विहार गरीब रथ रायबरेली-कानपुर होकर चलायी गई। ट्रेन 12875 नीलांचल एक्सप्रेस भी लखनऊ न आकर रायबरेली-कानपुर होकर दिल्ली रवाना हो गई।
हरिद्वार से इलाहाबाद आने वाली हरिद्वार एक्सप्रेस के तीन डिब्बे शुक्रवार की देर रात पटरी से उतर गए। लखनऊ और रायबरेली के बीच निगोहा स्टेशन के पास हुई इस दुर्घटना में ट्रेन के एसएलआर और दो जनरल डिब्बों के उतरने से हड़कंप मच गया। इसमें दर्जनभर यात्री भी घायल हो गए। साथ ही पूरा रूट 13 घंटे तक बंद रहा। इसके कारण इलाहाबाद और प्रतापगढ़ से लखनऊ की ओर जाने और आने वाली ट्रेनों को मार्ग बदलकर चलाया गया। इससे बड़ी संख्या में यात्री बीच के स्टेशनों पर ही फंस गए। इसे लेकर शनिवार दोपहर तक यात्रियों में अफरातफरी रही। लखनऊ इंटरसिटी और गंगा-गोमती एक्सप्रेस के यात्रियों ने ट्रेन छोड़कर बस पकड़ ली। गाड़ी संख्या 14116 हरिद्वार-इलाहाबाद एक्सप्रेस शुक्रवार रात में लखनऊ से छूटी तो यात्री गहरी नींद में सो गए। निगोहा स्टेशन के पास रात 2.45 बजे ट्रेन के पिछले हिस्से का एसएलआर और दो साधारण डिब्बे तेज आवाज के...
more...
साथ पटरी से उतर गए। बताते हैं कि 90 किमी की रफ्तार होने से तेज झटका लगने पर दर्जनों यात्री अपनी सीटों से नीचे गिर गए। यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। इसमें राहुल सचान (12), नितिन गोस्वामी (23), मंजू लता (19), सावित्री शर्मा (23), राम आसरे विश्वकर्मा (46), घनश्याम (51), राम नारायन मिश्र (56) और पवन कुमार (24) व फूलबदन चौहान (29) सहित एक दर्जन यात्री बुरी तरह घायल हो गए। सुबह करीब 4:24 बजे आगे की 11 बोगियों में दुर्घटनाग्रस्त बोगियों के यात्रियों को बैठाकर ट्रेन रवाना कर दी गई। रेलकर्मियों के मुताबिक निगोहा आउटर सिग्नल के पास गार्ड वाली बोगी (एनसी-09756) का एक्सल टूटने से यह घटना हुई। बोगी के पिछले हिस्से वाले दोनों पहिए टूटकर दूर जा गिरे और बोगी रगड़ खाती हुई पटरी से उतर गई। इसके रगड़ खाने से टेलीफोन बॉक्स सहित जो कुछ भी सामने आया उसे बोगी ने क्षतिग्रस्त कर दिया। करीब तीन सौ मीटर तक बोगी जमीन से रगड़ते हुए एक सिग्नल पोस्ट से जा टकराई। टक्कर इतनी तेज थी कि सिग्नल पोस्ट 100 मीटर दूर जा गिरा। इस झटके के बाद यह बोगी दूसरी पटरी पर चढ़ गई। इसके आगे की दो अन्य बोगियां भी मेन लाइन से हटकर लूप लाइन पर आ गईं। इस बीच ट्रेन के गार्ड ने इमरजेंसी ब्रेक का इस्तेमाल किया तब जाकर ट्रेन रुकी। घटना की जानकारी पाकर लखनऊ डीआरएम जगदीप राय मातहतों के साथ मौके पर पहुंचे। शाम चार बजे रेल यातायात बहाल किया जा सका। हरिद्वार एक्सप्रेस की बोगियों में लगे सीवीसी कपलर से दर्जनों यात्रियों की जान बच गई। अफसरों के अनुसार सीवीसी कपलर के कारण ही आखिरी क्षणों में भी बोगी के पटरी से उतरने और जमीन पर रगड़ने के बावजूद वह शेष ट्रेन से अलग नहीं हो सकी। आखिरी व उसके आगे की दो और बोगियां भी मेन लाइन से हटकर लूप लाइन पर पहुंचने के बावजूद आपस में जुड़ी रहीं। इन बोगियों को कटर से काटकर ही अलग किया जा सका। यह डिब्बे अलग हो जाते तो बड़ा हादसा हो सकता था।
दुर्घटना के कारण प्रयाग स्टेशन से रात में गई गाड़ी 14307 प्रयाग-बरेली एक्सप्रेस, 54377 प्रयाग-बरेली पैसेंजर और प्रतापगढ़ से छूटी 14208 पदमावत एक्सप्रेस को रायबरेली में ही रोक दिया गया। बाद में तीनों ट्रेनें यहीं से लौटा दी गईं। गाड़ी 12183 भोपाल-प्रतापगढ़ एक्सप्रेस को कानपुर-उन्नाव-डलमऊ-रायबरेली, 14512 सहारनपुर-इलाहाबाद नौचंदी एक्सप्रेस लखनऊ-सुल्तानपुर-प्रतापगढ़ के रास्ते चलाई गईं। गाड़ी 14210 लखनऊ-विन्ध्याचल इंटरसिटी एक्सप्रेस कानपुर के रास्ते इलाहाबाद पहुंची। गाड़ी 14215 गंगा-गोमती एक्सप्रेस को वाया कानपुर, 24369 शक्ति नगर-बरेली त्रिवेणी एक्सप्रेस को प्रतापगढ़-सुल्तानपुर के रास्ते गई। इसके साथ ही गाड़ी 54254/54253 लखनऊ-प्रयाग पैसेंजर और प्रतापगढ़-कानपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस को रद्द कर दिया गया। लखनऊ-प्रतापगढ़ डीएमयू को रद कर दिया गया। ट्रेन 54255 वाराणसी-लखनऊ पैसेंजर को रायबरेली में समाप्त कर दिया गया। ट्रेन नंबर 22408 वाराणसी-आनंद विहार गरीब रथ रायबरेली-कानपुर होकर चलाई गई। ट्रेन नंबर 12875 नीलांचल एक्सप्रेस भी लखनऊ न आकर रायबरेली-कानपुर होकर दिल्ली रवाना की गई।
Page#    3 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy